Ad

Archive for: March 2013

दिल्ली सरकार की बिजली ,पानी नीति के विरोध में हस्ताक्षर करने वालों की संख्या ५ लाख से ऊपर हुई

दिल्ली सरकार की बिजली ,पानी नीति के विरोध में हस्ताक्षर करने वालों की संख्या ५ लाख से ऊपर हुई

दिल्ली सरकार की बिजली ,पानी नीति के विरोध में हस्ताक्षर करने वालों की संख्या ५ लाख से ऊपर हुई

दिल्ली में बिजली पानी के बिलों का भुगतान करने से इंकार करने वालों की संख्या पञ्च लाख क्रास कर गई है|यह संख्या आन्दोलन के आठवें दिन की शुरुआत के हैं | उपवास के सातवें दिन असहयोगियों की संख्या में १३६२३४ की बढोत्तरी बताई गई है|इससे आन्दोलनके समर्थकों की संख्या ५११२७४ पर जा पहुंची है|यह आंकड़ा अपने आप में उत्साहवर्धक है इसके साथ ही अन्ना बाबू राव हजारे की विजिट से आन्दोलन कारियों के उत्साह में दोगुनी व्रद्धि हुई है|
आम आदमी पार्टी प्रवक्ता अस्वति मुरलीधरन के अनुसार आन्दोलन के सातवें दिन में ही नार्थ वेस्ट और ईस्ट दिल्ली के पीड़ित उपभोक्ताओं ने भरपूर समर्थन दिया है|यहाँ दिल्ली की मुख्य मंत्री की बिजली पानी नीति के विरुद्ध २५००० प्रोटेस्ट साईन की गई है|साउथ &वेस्ट दिल्ली से २०००० प्रोटेस्ट साईन की गई है|
बीती रात अन्ना बाबू राव हजारे ने सुन्दर नगरी में समर्थकों को संबोधित भी किया|अन्ना ने कहा के बेशक अन्ना और अरविन्द के रास्ते अलग अलग हो गए हैं मगर दोनों का लक्ष्य एक ही है| अन्ना ने अरविन्द के आन्दोलन का समर्थन करते हुए कहा के अरविन्द केजरीवाल गरीबों की लड़ाई लड़ रहा है|आम आदमी बिजली पानी के हज़ारों रुपयों के बिल कहाँ से भरेगा| इसीलिए अरविन्द अपने लिए नहीं बल्कि गरीबों के लिए लड़ाई लड़ रहा है|जब भी देश हित में जरुरत होगी वोह[अन्ना] साथ आएंगे और सहयोग करेंगे|

बेनी प्रसाद वर्मा के शाब्दिक बाणों को भाजपा ने अमर्यादित और अप्रासंगिक बता कर टिपण्णी के भी लायक नहीं समझा

कांग्रेस के केन्द्रीय इस्पात मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा के तीखे शाब्दिक बाणों से उत्तर प्रदेश में सत्ता रुड समाज वादी पार्टी बेशक विचलित नज़र आ रही है लेकिन प्रदेश में भाजपा न्रेतत्व बेनी के ब्यानों को अमर्यादित और अप्रासंगिक बता कर टिपण्णी के भी लायक नहीं समझ रही है|बेनी प्रसाद वर्मा ने अपने पूर्व पार्टी समाजवादी की आलोचना करते हुए भाजपा को भी लपेट लिया |मीडिया के समक्ष बेनी ने कहा कि १६ वी लोक सभा में उत्तर प्रदेश की ८० सीटों में से कांग्रेस को ४० और समाजवादी की अर्थी उठाने के लिए सपा के ४ सांसद ही आयेंगे |अपनी वर्तमान सहयोगी बसपा को उन्होंने ३६ सीट तो केंद्र में मुख्य विपक्षी पार्टी के लिए मात्र १० सीटों के लिए भविष्यवाणी की |इस पर प्रतिक्रिया देने के लिए जब भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डाक्टर लक्ष्मी कान्त वाजपई से संपर्क किया गया तो उन्होंने बेनी प्रसाद वर्मा की टिपण्णी को अमर्यादित और अप्रसांगिक बताया और कहा कि यह टिपण्णी के लायक भी नहीं है|उन्होंने कहा कि यह जनता तय करेगी कि किसको कितनी सीटें मिलेगी|

 बेनी प्रसाद वर्मा के शाब्दिक बाणों को भाजपा ने अमर्यादित और अप्रासंगिक बता कर टिपण्णी के भी लायक नहीं समझ

बेनी प्रसाद वर्मा के शाब्दिक बाणों को भाजपा ने अमर्यादित और अप्रासंगिक बता कर टिपण्णी के भी लायक नहीं समझ


लोक सभा के चुनावों के लिए भाजपा की तैय्यारियों के विषय में पूछे जाने पर पहले उन्होंने कांग्रेस और सपा की नकारत्मक उपलब्धियों का ब्योरा दिया|उन्होंने बताया कि[१] महंगाई जनक+भ्रष्टाचार पोषक+कांग्रेस[२] बसपा की जातिवादी नीति और सपा के कुशासन से जनता तंग आ चुकी है| इसीलिए जनता अब बदलाव चाहती है|इस संधर्भ में अपनी सकारत्मक उपलब्धियों का वर्णन करते हुए डा. वाजपई ने बताया कि भाजपा के सुशासन+राष्ट्रवाद+अटल बिहारी वाजपई सरकार की स्वछ छवि के आधार पर जनता के बीच जायेंगे और देश में सात भाजपा शासित प्रदेशों में आये क्रांतिकारी विकास से जनता को जागरूक किया जाएगा|
उन्होंने बताया कि[१] लाडली लक्ष्मी यौजना के अंतर्गत बिना धर्म और जाति के भेद भाव किये कन्यायों को १८०००/- दिए जा रहे हैं और १८ साल होने पर १०००००/= दिए जा रहे हैं|[२]गावं से स्कूल जाने वाली छात्रा को एक साईकिल दी जा रही है[३]किसानो को जीरो प्रतिशत ब्याज पर लोन दिया जा रहा है|
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और मेरठ शहर[वरिष्ठ] विधायक डाक्टर वाजपई ने गर्व से बताया कि संयुक्त राष्ट्र द्वारा विकास की द्रष्टि से भाजपा शासित राज्य गुजरात को विश्व में दूसरा और मध्य प्रदेश को ४२वा राज्य घोषित किया है |इनके अलावा किसी भी और राज्य को शामिल नहीं किया गया है|
डाक्टर वाजपई ने दावा किया है कि उत्तर प्रदेश में भी लाडली लक्ष्मी +१८ साल पूरे होने पर एक लाख की राशि+ छात्राओं को साईकिल और किसानों को बिना ब्याज के ऋण उपलब्ध कराया जाएगा|

५ साल पहले ३ दिन विलंभ से सामान पहुंचाने के लिए एयर इंडिया पर ५०००० का जुर्माना

५ साल पहले ३ दिन विलंभ से सामान पहुंचाने के लिए एयर इंडिया पर ५०००० का जुर्माना

५ साल पहले ३ दिन विलंभ से सामान पहुंचाने के लिए एयर इंडिया पर ५०००० का जुर्माना

पांच साल पहले यात्री का सामान तीन दिन विलंभ से पहुंचाने पर कैरियर एयर इंडिया[Air India] को 50,000 रुपये का जुर्माना अदा करने के आदेश दिए गए हैं|
नई दिल्ली के [Consumer Forum] जिला उपभोक्ता विवाद निस्तारण फोरम ने वर्ष 2007 के एक मामले में यह फैसला सुनाया है। संध्या शर्मा नाम की एक महिला एयर इंडिया की फ्लाईट्स से नई दिल्ली से अबू धाबी गई थी।संध्या को उनका[Luggage] सामान तीन दिन बाद मिला था। फोरम ने कहा कि इससे महिला को काफी परेशानी हुई और इसके हर्जाने के रूप में एयरलाइंस उन्हें 50,000 रुपये का भुगतान करे।
उस समय एयरलाइंस द्वारा मामले को रफा दफा करने के लिए पीड़ित यात्री को 300 दिर्हम्स दिए थे, लेकिन फोरम ने इस रकम को कम माना और कहा कि इतने पैसे में कपड़ों का इंतजाम नहीं हो सकता था।
एक तरफ तो सरकार एयर लाइन्स में सुधार लाने के लिए आये दिन कमीशन बैठा कर पैसा खर्च किया जा रहा है जस्टिस धर्माधिकारी के बाद अब प्रो. ढोलकिया की रिपोर्ट भी आ चुकी है लेकिन इन्हें लागू करने की हिम्मत नहीं जुटाई जा सकी है जिसके फलस्वरूप नागरिक उड्डयन के गवर्नेंस पर प्रश्न लग रहे हैं

मन मोहन सिंह ने हवाई जहाज़ में एक हुंकार क्या भरी धरती पर मुलायम सिंह यादव के सुर बदल गए

डाक्टर मन मोहन सिंह ने हवाई जहाज़ में एक हुंकार क्या भरी धरती पर मुलायम सिंह यादव के सुर बदल गए|पी एम् ने हवाई जहाज़ में समाजवादी के समर्थन वापिसी और अपने लिए पी एम् पद की हैट्रिक बनाने के सवालों के जवाब में थोड़ा सा मुस्कुराए तो समाज वादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने शुक्रवार को कह दिया कि फिलहाल केंद्र की संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार से समर्थन वापस लेने का और प्रधान मंत्री की रेस में भाग लेने का उनका कोई इरादा नहीं है।
मुलायम यादव ने ने दिल्ली में वरिष्ठ पत्रकार प्रभु चावला के समक्ष टी वी चैनल पर एक विशेष बातचीत में कहा कि वह संप्रग सरकार से समर्थन वापस नहीं लेंगे, क्योंकि साम्प्रदायिक ताकतों को सत्ता से दूर रखने के लिए यह उनकी राजनीतिक मजबूरी है।
मुलायम ने कहा, ”यह (कांग्रेस को समर्थन देना) एक राजनीतिक मजबूरी है। हम साम्प्रदायिक ताकतों (भाजपा) के खिलाफ लड़ रहे हैं। जब हम साम्प्रदायिक ताकतों से अकेले लड़ रहे थे

मन मोहन सिंह ने हवाई जहाज़ में एक हुंकार क्या भरी धरती पर मुलायम सिंह यादव के सुर बदल गए

मन मोहन सिंह ने हवाई जहाज़ में एक हुंकार क्या भरी धरती पर मुलायम सिंह यादव के सुर बदल गए

मुलायम सिंह यादव का यह यु टर्न वाला बयान ऐसे समय में आया है, जब एक दिन पहले ही गुरुवार को दक्षिण अफ्रीका के डरबन से लौटते समय प्रधानमंत्री डाक्टर मनमोहन सिंह ने मीडियाकर्मियों से बातचीत में कहा था कि केंद्र सरकार पूरी तरह से स्थिर है और वह अपना कार्यकाल पूरा करेगी।
मुलायम ने यहां लखनऊ में मीडियाकर्मियों से बातचीत के दौरान कहा, ”संबंधों में कड़वाहट नहीं आई है। मुझे नहीं पता कि प्रधानमंत्री ने इस तरह का बयान क्यों दिया है। केंद्र सरकार से समर्थन वापसी को लेकर पार्टी के भीतर कोई चर्चा नहीं हुई है। अभी केंद्र सरकार से फिलहाल समर्थन लेने का कोई इरादा नहीं है।”
मुलायम ने कहा, ”हम समर्थन वापस लेकर सरकार क्यों गिराएं जब महज आठ-नौ महीने ही बचे हैं।”
मुलायम ने एक तरफ तो केंद्र से समर्थन वापस न लेने की बात कही, वहीं दूसरी ओर उन्होंने केंद्र सरकार को घोटालों की सरकार भी कहा के अगर समय पर वह केंद्र सरकार को नहीं बचाते तो यह सरकार कब की गिर गई होती।
उन्होंने कहा, ”सभी घोटाले केंद्र सरकार की देन हैं। चुनाव के बाद अगली सरकार बिना हमारे सहयोग की नहीं बनेगी। मैंने किसी को धोखा नहीं दिया, बल्कि हमेशा मुझे ही धोखा दिया गया है।”
मुलायम ने हालांकि इस दौरान बेनी प्रसाद वर्मा प्रकरण की याद दिलाते हुए कांग्रेस की अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गांधी द्वारा माफ़ी मांगे जाने की तारीफ भी की।
सपा सुप्रीमो ने आगे कहा, ”जब भी तीसरा मोर्चा अस्तित्व में आया है, इसके गठन के बारे में किसी को भी अंदाजा नहीं रहा। यह अपने आप बना है। मैं समझता हूं कि इस बार भी ऐसा ही होगा। कई पार्टियां हमारे साथ आएंगी।”
मुलायम ने कहा, ”चुनाव बाद यदि स्थिति की मांग होती है, तो पार्टियां एकजुट हो सकती हैं और तीसरा मोर्चा बन सकता है। तीसरा मोर्चा हमेशा चुनाव बाद अस्तित्व में आया है।”

गुनाहगारों के गुनाह माफ़ करने के लिए प्रभु यीशु सलीब पर चढ़ गए :Good Friday

गुनाहगारों के गुनाह माफ़ करने के लिए प्रभु यीशु सलीब पर चढ़ गए :Good Friday

गुनाहगारों के गुनाह माफ़ करने के लिए प्रभु यीशु सलीब पर चढ़ गए :Good Friday

O God Thou Art Is Great
गुनाह गारों के गुनाह माफ़ करने के लिए प्रभु यीशु सलीब पर चढ़ गए और दुनिया को प्रेम भी चारे का सन्देश दे गए| इसीलिए इस फ्राईडे को प्रेम और प्रार्थना का दिन माना जाता है | गुड फ्राइडे पर दुनिया के गिरजाघरों में प्रभु यीशु के बलिदानों को भी याद किया गया| शुक्रवार को मेरठ के गिरजाघरों में भी विशेष प्राथना सभाएं हुई |केथोलिक्स+प्रोटेसटेंट +मेथोडिस्ट+फ्रांसिस आदि में प्रभु का भाव पूर्ण सिमरन किया गया| बीते दिनों साकेत स्थित हेवार्ड प्लास्तेड से जुलुस भी निकाला गया
गिरजाघरों में बताया गया कि यीशु के धार्मिक और समाजसेवी कार्यो से जहां लाखों लोग उनके अनुयायी हो गए वहीं कुछ लोगों यह सब रास नहीं आया। इसलिए फ्राइडे को उन्हें क्रास पर चढ़ा दिया गया था।इससे पूर्व धर्मावलम्बियों द्वारा उपवास+ , तपस्या आदि कर अपने को आप को आध्यात्मिक रुप से दृढ़ बनाते हैं। पाम सन्डे को खजूर की टहनियां लेकर जुलुस भी निकाला जाता है|
सूली पर चढ़ते समय प्रभु यीशु ने महान वचन बोले थे।इनमे से कुछ इस प्रकार हैं [१]हे पिता इन्हें क्षमाकर क्योंकि ये नदान हैं
[२] आज ही तू मेरे साथ स्वर्ग में होगा
[३]देख यह तेरा पुत्र है यूहन्ना
[४] हे मेरे परमेश्वर तूने मुझे क्यों छोड़ दिया
[५] मैं प्यासा हूं यूहन्ना और हे पिता मैं अपनी आत्मा तेरे हाथ में सौंपता हूं

प्री नर्सरी के बच्चों के लिए दीक्षांत समारोह मनाया

किड्स गार्डन प्ले स्कूल[ब्रह्म पुरी ] में आज प्री नर्सरी के बच्चों का दीक्षांत समारोह मनाया गया इस अवसर पर संजय शर्मा ने बच्चों को प्रोग्रेस कार्ड वितरित किये|और एक ट्राफी देकर ब

प्री नर्सरी के बच्चों के लिए दीक्षांत समारोह मनाया

प्री नर्सरी के बच्चों के लिए दीक्षांत समारोह मनाया

च्चों का हौंसला बढाया

आम आदमी पार्टी के बिजली+ पानी आन्दोलन के साथ आम के साथ ख़ास[वी आई पी] भी जुड़ने लगे हैं

आम आदमी पार्टी के बिजली+ पानी आन्दोलन के साथ अब आम आदमी के साथ ख़ास लोग भी जुड़ने लगे हैं|पार्टी प्रवक्ता के अनुसार अति विशिष्ठ लोगों ने भी सविनय अवज्ञा आन्दोलन को समर्थन देना शुरू कर दिया है|अति विशिष्ठ लोगों की जारी की गई लिस्ट में निम्न लोग शामिल हैं:
[१]जस्टिस कृष्णा अय्यर [२]एडमिरल[पूर्व] रामडॉस[३]एडमिरल [पूर्व]ताहिलियानी[४] पूर्व मुख्य चुनाव अधिकारी जे एम् लिग्दोह[५]डा.पी एम् भार्गव [एन के सी][६]पूर्व चीफ सेक्रेटरी एम् पी एस सी बेहर[७] पुर्व चेयर मैन ऐ ई आर बी डा. ऐ के गोपाल कृष्णन[८]पूर्व पावर सचिवई ऐ एस सरमा [९]डा. बिनायक सेन [१०]एस पी उदयकुमार[११]जे एन यु के अमित भादुरी[१२] ग्रीन पीस से जुड़ी ललिता राम दास[१३] पूर्व राजदूत मधु भादुरी[१४] पीपल साईंस के रवि चोपड़ा[ १५] कमल जसवाल और प्रफ़ुल्ल|
अरविन्द केजरीवाल द्वारा छेड़ा गया सविनय अवज्ञा आन्दोलन के साथ जुड़ने वाले असहयोगियों द्वारा जो

प्रपत्र साईन किया जा रहा है उसका हिंदी रुपंतार्ण इस प्रकार है

:अरविन्द केजरीवाल बिजली पानी के मुद्दों पर सविनय अवज्ञा और असहयोग आन्दोलन का आह्वान करते हुए 23 मार्च से अनिश्चितकालीन उपवास पर हैं। दिल्ली में बिजली-पानी के बिल निजी कंपनियों और सरकार की मिली-भगत से बढ़ाये गए है।
अरविन्द केजरीवाल ने दस्तावेज़ों के जरिये ये खुलासा किया भी किया है। ये कंपनियां बिजली उपकरण अपनी ही सहयोगी कंपनियों से ऊंचे दामों पर खरीद रही है और इससे होने वाले नुकसान की भरपाई लोगों के बिल बढ़ाकर की जा रही है, बिजली बिलों के भुगतान से हुई कमाई को कम करके दिखाया जा रहा है और अतिरिक्त बिजली को अपनी ही कंपनियों को कम दाम पर बेचकर बनावटी नुकसान दिखाया जा रहा है। (जानकारी के लिए :
इस अंधी लूट पर सत्ता पक्ष और निजी कंपनियों के इस भ्रष्ट गठबंधन पर विपक्ष भी बरसो से चुप्पी साधे था। इस निर्मम लूट पर अकेले पड़े आम आदमी का मनोबल बढ़ने के लिए सितम्बर में आम आदमी से आवाहन किया था कि बिजली पानी दिल्ली की जनता का है इसलिए ये नाजायज़ बिल देने बंद किये जाये.
जब इस भ्रष्टाचार को रोकने की हर कोशिश बेकार रही तो अरविन्द केजरीवाल ने असहयोग आन्दोलन शुरू कर दिल्ली के लोगों से अपील की कि वो बिजली और पानी के नाजायज़ बिल तब तक न भरें जब तक बिजली और पानी की सप्लाई में हुए घोटाले की CAG से जांच न कराई जाय और बिजली के बढ़े हुए दामों को कम करके जायज़ स्तर पर नहीं लाया जाए। गाँधी जी ने कहा था कि जब नियम और कानून नाजायज़ और आम लोगों को दमन करने वाले हों तो ये जनता का अधिकार भी है और कर्तव्य भी है कि वो ऐसे नियम और कानूनों को मानने से इंकार कर दें। दिल्ली की जनता पहले ही महंगाई की मार झेल रही है और बढ़े हुए बिल चुकाने में असमर्थ हैं इसलिए उन्हें भी कानून की अवमानना के अपने अधिकार का इस्तेमाल करना चाहिए। जनता अपने इस अधिकार का इस्तेमाल अहिंसात्मक तरीके से कर रही है और इसके नतीजे और जुर्माना भुगतने के लिए तैयार है।
इन परिस्तिथियों में हम इस असहयोग आन्दोलन को अपना समर्थन देते हैं। हम दिल्ली सरकार और सम्बंधित विभागों से मांग करते हैं कि इस आन्दोलन के जरिये सामने लाई गई बिजली और पानी के बिलों की समस्या पर ध्यान दें और उन्हें सुधारने की दिशा में तुरंत कार्यवाही करें।

पार्टी द्वारा जारीउपवासी नेता के स्वास्थ्य रिपोर्ट

के अनुसार स्वास्थय में गिरावट जारी है मगर यूरिन में कीटोन की मात्रा संतोषजनक होने से हेल्थ स्टेबल है |
==========================================================================================

[ २९ मार्च२०१३] [२८ मार्च 2013] [ २७ मार्च २०१३]
=============================================================================
[१] ब्लड प्रेशर १०८/66 ======== ==== १२० /७४ ======== ११४ /७०
==================================================================================
[२]पल्स===========६७ === ==== =६६ ==== ७४
=================================================================================
[३]शुगर=========== १२३=== ===== 106 === १०८
===================================================================================
[४] यूरिन में कीटों[ketone] २+========== ===== =३+ === ४+
===============================================================================
[५]वजन ============५९ क ग ============== ====== ५९.५ क ग ======
================================================================================

आम आदमी पार्टी की आवाज पर दिल्ली सरकार के विरुद्ध आवाज उठाने वालों की संख्या पौने चार लाख हुई

आम आदमी पार्टी की आवाज पर दिल्ली सरकार के विरुद्ध आवाज उठाने वालों की संख्या पौने चार लाख हुई

आम आदमी पार्टी की आवाज पर दिल्ली सरकार के विरुद्ध आवाज उठाने वालों की संख्या पौने चार लाख हुई

आम आदमी पार्टी की मुहीम रंग लाने लगी है|पार्टी के सर्वोच्च नेता अरविन्द केजरीवाल के उपवास के सातवें दिन में प्रवेश के साथ ही दिल्ली की सरकार के विरुद्ध असहयोगियों की संख्या 3,75,040. हो गई है|पार्टी प्रवक्ता ऐ, मुरलीधरण के अनुसार असहयोग केन्द्रों पर सव्यम सेवकों[वालंटीयर्स] की संख्या निरंतर बढ रही है|२६४ केन्द्रों के अलावा ३००० वालंटीयर्स ने अपने घरों को मिनी असहयोग केंद्र बनाने की घोषणा कर दी है| इन घरों में भी दिल्ली सरकार के विरुद्ध भरे जाने वाले फार्म उपलब्ध होंगे|गौरतलब है कि दिल्ली में बिजली पानी के बिलों में बेतहाशा वृद्धि के विरुद्ध अरविन्द केजरीवाल २३ मार्च से सुन्दर नगरी में उपवास पर है|

साच कहूँ सुन लेहो सबै जिन प्रेम कियो तिनही प्रभु पायो

साच कहूँ सुन लेहो सबै जिन प्रेम कियो तिनही प्रभु पायो

साच कहूँ सुन लेहो सबै जिन प्रेम कियो तिनही प्रभु पायो

हमारे जीवन में प्रेम का विशेष महत्त्व है मन मंदिर में प्रेम भाव उत्पन्न करके ही प्रभु को पाया जा सकता है|इस विषय पर हमारे महा पुरुषों ने भी कहा है कि हमारी आत्मा प्रेम का स्वरूप है और प्रभु को पाने का साधन भी प्रेम है । जितने साधन , पूजा – पाठ आदि हम करते हैं , इसीलिए करते हैं कि हमारे अंतर में प्रभु के लिए प्यार बने। यह सब करते हुए प्रभु का प्यार नहीं जागा तो क्या फायदा ?
” सद साल इबादत कुनद नमाज़ी नेस्त
कसे को इश्क नदारद खुद राज़ी नेस्त ”
अर्थात सौ साल इबादत करता रहे , वह सही मायनों में नमाजी नहीं बन सकता । जिसके अंतर में प्रभु का प्रेम नहीं उभरा , वह प्रभु के भेद को कैसे पा सकता है ?
दसम गुरु साहब ने फ़रमाया –
” साच कहूँ सुन लेहो सबै जिन प्रेम कियो तिनही प्रभु पायो ।
गुरु गोबिंद सिंह जी की वाणी ,
प्रस्तुति राकेश खुराना

गुजरात में अमेरिकी आये नरेन्द्र मोदी की मेहमाननवाजी की तारीफ़ की फिर खाए पीये और खिसक लिए

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

एक भाजपाई चीयर लीडर

ओये झल्लेया मुबारकां| ओये अमेरिका भी आ ही गया अपने नरेन्द्र मोदी के नीचे |भारत भ्रमण पर आये अमेरिकियों ने अपना झुकाव गुजरात के मुख्‍यमंत्री मोदी की तरफ दर्शा दिया|इस अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल में आये यूएस कांग्रेस के सदस्‍य ऐरन शॉक ने हसाड़े स्टार नेता मोदी को अमेरिका आने के लिये न्‍योता भी दे दिया है |ऐरन इलि‍नोइस के प्रतिनिधि ऐरन शॉक ने मीडिया से बातचीत में भी कहा कि मोदी ने गुजरात के शैक्षिक एवं सामाजिक स्‍तर को काफी ऊपर उठाया है, इसकी उन्होंने सराहना भी की है| ओये अब तो हो जायेगी बल्ले बल्ले और बाकि सारे थल्ले थल्ले

 गुजरात में अमेरिकी आये नरेन्द्र मोदी की मेहमाननवाजी की तारीफ़ की फिर खाए पीये और खिसक लिए

गुजरात में अमेरिकी आये नरेन्द्र मोदी की मेहमाननवाजी की तारीफ़ की फिर खाए पीये और खिसक लिए


झल्ला

हाँ सेठ जी कहा गया है कि घर का जोगी जोगना ही रहता है जबकि बाहर का सिद्ध कहलाता है|अब बाहर देश बोले तो अमेरिका ने भी मोदी के लेस गवर्नमेंट मैक्सिमम गवर्नेंस के सिद्धांत को मान लिया है नेशनल इंडियन अमेरिकन पब्लिक पॉलिसी संस्‍थान द्वारा आयोजित टूर में आये इन अमेरिकियों ने आप जी के नरेन्द्र मोदी को न्यौता देकर मोदी का मान बेशक बढाया है लेकिन अमेरिका से न्यौता के साथ वीजा मिलने पर ही मोदी को सिद्ध कहा जा सकेगा| वरना तो यही कहा जाएगा कि

अमेरिकी आये खाए पीये और खिसक लिए