Ad

Archive for: May 2013

शिक्षा विभाग और स्कूल प्रशासन में संवाद हीनता के चलते बी टी सी के सैकड़ों परीक्षार्थी गर्मी में परेशान हुए

[मेरठ]अध्यापक बनने की चाह लिए बी टी सी की परीक्षा देने आये सैकड़ों युवाओं को भीषण गर्मी/धूप में घंटों भटकाया गया|प्रतिभागियों का कहना है कि उन्हें पीने के लिए पानी तक मुहैय्या नहीं करवाया गया |
गवर्नमेंट इंटर कालेज में बेसिक टीचिंग कोर्स [बी टी सी] परिक्षण की परीक्षा का आयोजन किया गया|बेच २०११ [सेकेण्ड सेमेस्टर] औरस्नातक शिक्षा मित्र पत्राचार के ४०० से अधिक परीक्षार्थी शामिल थे
प्राप्त जानकारी के अनुसार परीक्षा का समय दस बजे का था लेकिन ग्यारह बजे तक वहां ना तो बैठने के लिए कोई व्यवस्था थी और परीक्षा कराने वाला कोई भी मौजूद नही था|
बताया गया है कि शिक्षा विभाग और स्कूल प्रशासन में संवाद हीनता के चलते परीक्षा की पूर्व सूचना स्कूल तक नहीं पहुंची|स्कूल प्रशासन द्वार यह भी आरोप लगाया जा रहा है कि शिक्षा विभाग द्वारा पिछले छह साल से लगातार जी अई सी को परीक्षा का केंद्र बनाया जा रहा है लेकिन एक भी पैसा खर्चे के लिए नहीं दिया जा रहा इसीलिए व्यवस्था कराने में कठिनाई आ रही है|

भूत पूर्व प्रधान मंत्री चौधरी[बड़े] चरण सिंह की २६ वी पुण्य तिथि पर कृतघ्न राष्ट्र ने श्रधा सुमन अर्पित किये

भारत के भूत पूर्व प्रधान मंत्री किसान मसीहा चौधरी[बड़े] चरण सिंह की २६ वी पुण्य तिथि पर आज कृतघ्न राष्ट्र ने श्रधा सुमन अर्पित किये | दिल्ली स्थित किसान घाट पर श्रधांजली सभा का आयोजन किया गया |केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री चौधरी[छोटे]अजित सिंह ने दिवंगत राष्ट्रीय नेता की समाधि पर पुष्पांजलि अर्पित की|
इसके पश्चात दिवंगत नेता की राजनीतिक विरासत के भावी वारिस युवा सांसद जयंत चौधरी ने अपने दादा को भावभीनी श्रधांजली अर्पित की |इस अवसर पर रास्ट्रीय लोक दल के सांसद+विधायक+पूर्व विधायक+पार्टी पदाधिकारियों ने पुष्प अर्पित करके अपने मसीहा के आदर्शों के प्रति अपने समर्पण भाव को प्रदर्शित किया|
राष्ट्रपति डा. प्रणव मुखर्जी के तरफ से मेजर शैलेश मिश्रा ने पुष्प चड़ाए|
समाधि स्थल पर प्रत्येक वर्ष की भांति भक्ति संगीत और हवन का आयोजन किया गया| चौधरी चरण सिंह अमर रहे के नारों के साथ सैंकड़ों अनुयाईयों ने हवन की पवित्र अग्नि में आहुति समर्पित की|
१३ ऐ फिरोज शाह रोड स्थित दिल्ली प्रदेश रालोद के पार्टी कार्यालय में श्रधांजली समारोह का आयोजन किया गया|प्रदेश अध्यक्ष के एस मान + मन मोहन सिंह+प्रहलाद सिंह शौकीन +दिलशादमालिक +सुभाष तोमर अदि ने भाग लिया|
उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनयु [ Lucknow ] में विधान सभा भवन के सामने चौधरी चरण सिंह की मूर्ती का माल्यार्पण किया गया| रालोद के प्रदेश अध्यक्ष मुन्ना सिंह चौहान+पूर्व अध्यक्ष बाबा हरदेव सिंह+ विधान मंडल दल के नेता दलबीर सिंह+ सच्चिदानंद गुप्ता आदि सैंकड़ों कार्यकर्ताओं ने श्रधांजली अर्पित की|इसके पश्चात रालोद क प्रदेश कार्यालय में गोष्ठी का भी आयोजन किया गया जिसमे वक्ताओं ने दिवंगत नेता की जीवनी और आदर्शों से प्रेरणा लेने का संकल्प दोहराया|
मेरठ कमिश्नरी पार्क स्थित दिवंगत नेता की विशाल के मूर्ती के नीचे हवन किया गया

विदेश मंत्रालय की एक माह में छह नियुक्तियों में से चार महिला अधिकारियों को राजदूत बनाया गया है

सलमान खुर्शीद ने जबसे विदेश मंत्रालय का चार्ज संभाला है तभी से बेशक विदेश निति की आलोचना हो रही है लेकिन एक बात सकारात्मक नोट की गई है के विदेश मंत्रालय ने विदेशों में अपने राजदूत नियुक्त करते समय महिला अधिकारियों के साथ पूर्ण न्याय कराने का प्रयास किया है|
विदेश मंत्रालय की वेबसाईट के अनुसार मई माह में ६ नियुक्तियों में से चार महिला अधिकारी हैं|
[१] सुश्री मंजू सेठ (वाईओए: 1996), वर्तमान में मेडागास्कर में भारत के राजदूत को अंटानानारिवो में निवास के साथ संयुक्‍त रूप से कोमोरोस संघ में भारत के राजदूत के रूप में अधिकृत किया गया है।
[२]श्रीमती राधिका लोकेश को आयरलैंड में भारत के अगले राजदूत के रूप में नियुक्त किया गया है
श्रीमती राधिका लोकेश (आईएफएस: 1982) को आयरलैंड में भारत के अगले राजदूत के रूप में नियुक्त किया गया है।
उनके शीघ्र ही कार्यभार ग्रहण करने की उम्मीद है।श्रीमती प्रीति सरन को समाजवादी गणराज्य वियतनाम में भारत के अगले राजदूत के रूप में नियुक्त किया गया है।
[३]श्रीमती प्रीति सरन (भारतीय विदेश सेवा: 1982) को समाजवादी गणराज्य वियतनाम में भारत के अगले राजदूत के रूप में नियुक्त किया गया है।
उनके शीघ्र ही कार्यभार ग्रहण करने की संभावना है।
[४]श्रीमती नरिन्दर चौहान, सर्बिया गणराज्य के लिए भारत की अगली राजदूत नियुक्त
श्रीमती नरिन्दर चौहान (भाविसे: 1985), सर्बिया गणराज्य के लिए भारत की अगली राजदूत नियुक्त की गई हैं।
[अ]श्री नीरज श्रीवास्तव (भाविसे: 1983), डेनमार्क के लिए भारत के अगले राजदूत नियुक्त किए गए हैं।
[आ]श्री के. जीव सागर (भाविसे: 1991), घाना गणराज्य के लिए भारत के अगले उच्चायुक्त नियुक्त किए गए हैं।महिलाओं के लिए सत्ता में आरक्षण के बिल को यद्यपि पास कराने में केंद्र सरकार विफल रही है लेकिन नियुक्तियों में न्याय एक सकारात्मक कदम कहा जा सकता है|

उत्तर प्रदेश में स्मारकों के व्यवसाईक उपयोग और उसके विरोध को लेकर वोट बैंक की राजनीती शुरू हो गई है

:उत्तर प्रदेश में जाति धर्म के आधार पर राजनीती करने वाली सत्ता रुड समाज वादी [एस पी]और विपक्षी बहुजन समाज वादी[बी एस पी] पार्टियां लगता है अब जातियों को आपस में लड़ाने की तैय्यारी में लग गई है तभी दलित उत्थान के नाम पर बनाए गए स्मारकों को लड़ाई का मैदान बनाया जा रहा है| प्रदेश के युवा मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की सरकार ने दलित महापुरुषों की याद में बने १० अरब की लागत के विशाल स्मारकों से अतिरिक्त आय अर्जित करने के लिए स्मारकों के खाली हिस्सों को मैरिज होम्स [शादी-ब्याह] की तरह प्रोफेशनल उपयोग की इजाजत दे दी है जिसके विरोध में बी एस पी ने दलितों के सड़क पर उतरने की चेतावनी देते हुए सरकार को बर्खास्त करने की मांग की है|मुख्य मंत्री का कहना है कि स्मारकों में जनता का पैसा खर्च हुआ है। वहां शादी होने से शादी करने वालों की नहीं, स्मारकों की ख्याति ही बढे़गी। उनका प्रचार भी होगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि चुनाव के समय स्मारकों में अस्पताल खोलने और बेहतर इस्तेमाल की बात हुई थी, तब उसे अंदर से नहीं देखा था। यहां के एक स्मारक में अष्टधातु के जानवर और पेड़ लगे हैं। वहां के खाली स्थानों में शादी-ब्याह होने से कौन सी दिक्कत है। मुख्यमंत्री बिना नाम लिए हुए कहा कि एक सरकारी स्थान की बुकिंग के लिए लाइन रहती है, क्योंकि सब जानते हैं कि अच्छे स्थान पर कम पैसों में शादी हो जाएगी। ऐसे में स्मारक का बेहतर इस्तेमाल हो जाएगा। शादी ब्याह होगा तो उनका प्रचार भी हो जाएगा। स्मारकों की ख्याति भी फैल जाएगी।
इस सरकारी घोषणा के विरुद्ध बी एस पी कड़ी हो गई है|सत्ता मुक्त हुई बी एस पी ने इस मुद्दे को सडकों पर ले जाने की बात कह दी है और जाति वादी युद्ध की भूमिका की तरफ इशारा भी कर दिया है|पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने राष्ट्रपति से मुलाकात करके प्रदेश सरकर के निर्णय को दलित विरोधी बताते हुए सरकार को तत्काल बर्खास्त किये जाने के मांग भी कर दी है|
लगता है के २०१४ में होने वाले लोक सभा के चुनावों में अपने अपने वोट बैंक को जोड़े रखने के लिए दोनों पार्टियों को एक मुद्दा मिल गया है|

भारतीय जनता पार्टी ने अपने वयोवृद्ध “राम” को छह साल के लिए बाहर निकाला: B J P Ousted Own” Ram”

[नई दिल्ली] भाजपा के बगावती वयोवृद्ध नेता राम जेठमलानी के निलंबन को ६ साल के निष्कासन में परिवर्तित कर दिया गया है| अवकाश पर न्यूयार्क गए :जेठमलानी ने इसे अपने साथ धोका और पार्टी के लिए आत्मघाती कदम बताया है|
भाजपा नेतृत्व के खिलाफ बगावती तेवर अपनाने वाले पार्टी के सांसद वयोवृद्ध राम जेठमलानी को अनुशासनहीनता’ के आरोप में छह साल के लिए दल की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया गया है। पार्टी की शीर्ष नीति निर्णायक इकाई केन्द्रीय संसदीय बोर्ड ने सर्वसम्मति से यह फैसला किया। इस समिति में गुजरात के मुख्य मंत्री भी शामिल थे और श्री मोदी के लिए जेठमलानी लगातार आवाज उठाते आ रहे हैं|
गडकरी की कपंनी पूर्ती समूह पर अनियमितताओं के आरोप लगने पर उनके विरूद्ध मुहिम छेड़ने के चलते पिछले साल नवंबर में पार्टी से निलंबित किए जाने पर भी जेठमलानी हाल में संपन्न संसद के बजट सत्र के दौरान पार्टी की संसदीय दल की बैठक में चले गए और पार्टी नेतृत्व को खूब खरी खोटी सुनाई।
पार्टी से निष्कासित किए जाने संबंधी आज जारी पत्र में भाजपा महासचिव अनंत कुमार ने कहा, ‘‘पार्टी अध्यक्ष राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में 27 मई को हुई संसदीय बोर्ड की बैठक में आपको पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से छह वर्ष के लिए निष्कासित किए जाने का सर्वसम्मति से निर्णय किया गया है।’’
जेठमलानी पर यह आरोप लगाया गया कि 6 मई 2013 को उन्होंने सार्वजनिक उपक्रमोंे पर संसदीय समिति के सदस्यों के निर्वाचन पर पार्टी के व्हिप का पालन नहीं किया।जेठमलानी को पार्टी से उस समय निलंबित किया गया था जब वह गडकरी को अध्यक्ष पद का दूसरा कार्यकाल दिए जाने के खिलाफ यह कह कर मुहिम चला रहे थे कि (गडकरी की) पूर्ती समूह कंपनियों में कथित अनियमितताओं के आरोपों में पाक-साफ होकर निकलने तक उन्हें भाजपा के शीर्ष पद से हट जाना चाहिए|
टी वी चेनल टाइम्स नॉव में एंकर अरनव गोस्वामी को न्युयोर्क से दिए अपने इंटरव्यू में राम जेठमलानी ने भाजपा के सभी आरोपण का खंडन किया है|उनका कहना है कि १० मई को भारत से अमेरिका जाते समय उन्हें आश्वासन दिया गया था कि अब उनके[जेठमलानी] विरुद्ध पार्टी में कुछ नही है|उसके बाद धोका किया गया | उन्होंने बताया कि भाजपा से व्हिप मिलने के बाद ही पार्टी कि बैठक में गए थे और कहे जाने पर ही वहां बोले भी थे|
इस इंटरव्यू से दीखता है कि पार्टी से निष्कासन की सूचना से राम जेठमलानी की अमेरिका में छुट्टियाँ खटाई में पड़ गई हैं लेकिन इस वयोवृद्ध नेता के तेवर देख कर कहा जा सकता है कि भारत लौटने के पश्चात ये चुप बैठने वाले नहीं है और काले धन को वापिस मंगाने वाले अपने पुराने मुद्दे को जीवंत कर सकते हैं| अर्थार्त ब्लैक मनी पर बेक फुट पर बैटिंग कर रही भाजपा ने एक नया भीतर घाटी मोर्चा खोल लिया है|

जय नंगई +जय दबंगई +जय जय बी सी सी आई +जय श्रीनिवासन + जय श्रीकांत +सबसे बड़ा पैसा राम

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

बी सी सीआई का चीयर लीडर

ओये झल्लेया देखा हसाडे चेयर मैन एन श्रीनिवासन ने दरियादिली+न्यायप्रियता का कैसा सराहनीय प्रदर्शन किया है |एक तरफ तो अपने प्रिय दामाद को अलग किया दूसरे तुम लोग जो स्पॉट फिक्सिंग का भोंपू बजा रहे हो उसकी भी जांच करवाने के लिए कमेटी का गठन कर दिया गया है|कानून की बात करते हो तो हसाडे उपाध्यक्ष के साथ आई पी एल के चेयर मैन राजीव शुक्ला ने कड़े कानून बनाने की बात कर दी है| ओये अब तो हो जाना है दूध का दूध और पानी का पानी |श्रीनिवासन का इस्तीफा माँगने वालों को याद आ जायेगी उनके आस पास वालों की नानी वानी के साथ मामी शामी |

झल्ला

अरे मेरे चतुर सुजाण जी बकौल पूर्व कप्तान बिशन सिंह बेदी क्रिकेट मनोरंजन के लिए बनाया गया था लेकिन अब इसे पैसे के लिए खेला जाता है और पैसे अगर लोगों को नचाता है तो अनेको को चुप भी कराता है|बी सी सी आई और आई पी एल के अनेकों पदाधिकारी दोषियों को आउट करने लिए अपनी उंगली को छुपाये फिर रहे हैं| आई ओ ऐ की नाक में दम करने वाले स्पोर्ट्स मिनिस्टर+कानून मंत्री [पूर्व कौंसिल ]भी वाईड बालिंग कर रहे हैं |अब जहाँ तक जाँच की बात है तो श्रीमान रवि शास्त्री जी [क्रिकेट के खेलों में ] बरसों से कमेंट्री के मोटे +चहेते कांट्रेक्ट से दबे हुए हैं| माफ़ कीजिएगा मुजरिम को अभी तक अपने लिए वकील माँगने की इजाजत थी लेकिन अब आपके श्रीनिवासन अपने लिए मुंसिफ भी खुद ही चुन रहे हैं
इसीलिए जय नंगई +जय दबंगई +जय जय बी सी सी आई +
जय हो आई पी एल ,जय जय जय मयपन्न गुरुनाथ+
जय गवास्कर+ जय श्रीनिवासन जय जय जय श्रीकांत +
जय सी एस के +जय मुम्बई + सबसे बड़ा पैसा राम

भीषण गर्मी की मार के बाद अब जबर्दस्त आंधी रुला रही है

भीषण गर्मी की मार झेल रहे मेरठ वासियों को अब जबर्दस्त आंधी रुला रही है| आंधी के जोर से जगह जगह पेड और बिजली के खम्बे गिर गए जिससे ट्रेफिक तो प्रभावित हुआ ही है लेकिन बिजली भी गुल हो गई है|बिजली के तारों के टूटने से बिजली आपूर्ति ठप्प हो गई है|आउटर कालोनियों में अन्धकार का साम्राज्य है|लोगों के इनवर्टर भी बैठने लगे हैं|
मौसम विभाग ने यद्यपि तपते मौसम में बदलाव आने की सूचना कीराहत दी थी और उसके मुताबिक सुबह कुछ हलकी फुहारों ने कुदरती राहत भी बक्षी लेकिन दोपहर तक मौसम ने अपने उग्र तेवर दिखाए और आंधी के प्रकोप का अहसास भी करा दिया|

सी बी एस ई १२वी के ८०.१% नतीजों में लड़कियों ने ८७.५% सफलता प्राप्त की

सी बी एस ई १२वी कक्षा के ८०.१% नतीजों से छात्र ख़ुशी से उछल पड़े |छात्राओं ने हमेशा की तरह बाजी मारते हुए ८७.५% सफलता प्राप्त की|वेस्टर्न रोड स्थित सी बी एस ई स्कूलों की लेन में एक दूसरे को बधाई देने का तांता लगा रहा|छात्र अपने अविभावकों के साथ अपने अध्यापकों के चरण छु कर उज्व्वल भविष्य के लिए आशीर्वाद लेते देखे गए|
दीवान पब्लिक स्कूल ह्युमेनीटीज स्ट्रीम की छात्रा वैष्णवी यादव को ओवर आल टापर घोषित किया गया |प्रिंसिपल एच एम् राउत नेआशीर्वाद देकर बधाई दी|

हवाई अड्डे के निर्माण के लिए केंद्र और राज्य सरकारें तैयार लेकिन पतनाला पुराणी जगह ही गिर रहा है

मेरठ में हवाई पट्टी को हवाई अड्डा बनाने के लिए केंद्र और राज्य सरकारें पूरी तरह तैयार हैं लेकिन इस सबके बावजूद दोनों सरकारों में अभी तक कोई समझौता नहीं हो पाया है|इस आपसी लड़ाई में १३३ एकड़ वाली हवाई पट्टी का तक इस्तेमाल भी बंद पडा हुआ है|
सेन्ट्रल सिविल एविएशन मिनिस्ट्री द्वारा ४३३ एकड़ लैंड की मांग की गई है जिसे गावं गगोल+कांशी+ कंचन पुर घोपला से अधिग्रहित की जानी है|
जिस भूमि का ग्रहण किया जाना है उसके लिए साड़े ग्यारह एकड़ भूमि वन विभाग की है|इसके लिए वन विभाग से एन ओ सी[ NOC ] ली जा चुकी है| इसके बदले में सी जाने वाली भूमि की खरीद के लिए एम् डी ऐ [ MDA ] द्वारा कार्यवाही की जानी है|यह अभी फाईलों में ही है|
सरकार के कब्जे में सत्ताईस एकड़ जमीन/ एम् डी ऐ की ढाई एकड़ / गगोल डेरी की दो एकड़ जमें के लिए भी कोई समस्या नही है|ग्राम पंचायत की साड़े सात एकड़ के अलावा प्राईवेट १३४ एकड़ और के लिए भी कोई समस्या नही है लेकिन इसकी रजिस्ट्री अभी लंबित है|
इस सबके अतिरिक्त मुख्य समस्या केंद्र द्वारा ४३३ एकड़ भूमि की मांग को लेकर हुआ है|जिसे पूरा करने के लिए भूमि अधिग्रहित की जानी है| टोटल खर्चा का आधा राज्य सरकार उठाने को तैयार हैं लेकिन इसके साथ आधा खर्चा केंद्र को उठाने की शर्त भी लगा रखी है| इस पर दोनों पक्षों में बातचीत जारी है|
एन सी आर / महानगर में हवाई अड्डे के बनने से दिल्ली के हवाई अड्डे का लोड भी कम होगा।
प्रमुख सचिव नागरिक उड्डयन अनिता सिंह ने मेरठ के डीएम व कमिश्नर को भेजे पत्र में कहा है कि हवाई अड्डे के लिए आवश्यक 433 एकड़ जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू की जाए डीएम के आदेश पर एसडीएम सदर ने प्रक्रिया शुरू कर दी है। वह जमीन का सर्वे करके किसानों के नाम व जमीन का ब्यौरा धारा 4 के लिए नागरिक उड्डयन विभाग को भेजेंगे, जिसमें एक माह लगेगा। नागरिक उड्डयन विभाग ने हरी झंडी दी तो जमीन की कीमत की 10 फीसदी राशि जमा करानी होगी।
गौरतलब है कि दिल्ली स्थित इंटरनेशनल एयरपोर्ट मेरठ से मात्र ७० किमी दूर है,लेकिन मेरठ और आस पास से जाने वाला ट्राफिक यहाँ डायवर्ट हो सकेगा|सिविल एविएशन मिनिस्टर चौधरी अजित सिंह भी इसी छेत्र से हैं २०१४ के चुनावों में उतरने से पहले यहाँ कुछ करके दिखाना चाहते हैं लेकिन सूत्रों की माने तो केंद्र द्वारा ४३३ एकड़ भूमि कि मांग कुछ ज्यादा समझी जा रही है|दबी जुबान में यह भी कहा जाता रहा है कि जरुरत से अधिक अधिग्रहित भूमि का इस्तेमाल बहुराष्ट्रीय कंपनियों के माध्यम से किया जाना है इसीलिए केंद्र सरकार को बाज़ार भाव से जमीन की कीमत का आधा खर्च उठाना चाहिए |अब इस सब से ऊपरी टूर से दीखता तो यही है कि केंद्र और राज्य सरकार दोनों तैयार हैं मगर हवाई पट्टीका भविष्य अभी भी उजाले को तरस रहा है|कहा जा सकता है कि सारी बातें सर मात्थे लेकिन पतनाला वहीं पुरानी जगह ही गिर रहा है|

आर एस एस के महानगर सम्मलेन में निष्ठा से संघ के कार्यों का प्रचार करने की प्रेरणा

[मेरठ]राष्ट्रीय स्वयम सेवक संघ[ RSS ] द्वारा महानगर सम्मलेन का आयोजन किया गया|इसमें संघ के कार्यों की जानकारी दी गई और संघ के कार्यों को निष्ठा से आगे बढाने को प्रेरित किया गया|दिल्ली रोड स्थित राम लीला मैदान में आयोजित इस सम्मलेन में पांच राज्यों के दाईत्व से अलंकृत बजरंग लाल मुख्य अथिति थे|प्रांत संचालक सूर्यप्रकाश+महानगर संचालक विनोद भारती+गौरव आदि ने भी भाग लिया|
इस महानगर सम्मलेन में मेरठ हापुड़ से भाजपा के सांसद राजेंद्र अग्रवाल+छावनी विधायक सत्य प्रकाश अग्रवाल+सुरेश जैन ऋतू राज+अमित अग्रवाल+सुनील भराला+रविन्द्र भडाना+अलोक सिशोदिआ+आदि ने संघ की ड्रेस गणवेश में बतौर संघ कार्यकर्ता उपस्थिति दर्ज़ कराई|