Ad

Archive for: April 2018

रालोद के निष्काषित [एकमात्र]विधायक ने भाजपा का दामन थामा

[लखनऊ,यूपी] रालोद के निष्काषित [एकमात्र]विधायक ने भाजपा का दामन थामा| किसी समय छपरौली को च चरण सिंह की छपरौली कहा जाता था लेकिन अब यह गढ़ भी ढह गया |च. चरण सिंह के पुत्र च. अजित सिंह की पार्टी रालोद के एक मात्र विधायक
सहेंद्र सिंह रमालाअपने सैंकड़ों समर्थकों सहित भाजपा में शामिल हो गये।
बागपत जिले की छपरौली सीट से चुने गये रालोद विधायक सहेंद्र सिंह रमाला भाजपा के प्रदेश कार्यालय में प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय के समक्ष पार्टी में शामिल हुये। इस पाला बदलने से रालोद की बची खुची छवि को ठेस पहुँच सकती है
भाजपा की प्रदेश इकाई के प्रवक्ता मनीष शुक्ला के अनुसार ‘कैराना और नूरपुर का उपचुनाव घोषित हो चुका है। सहेंद्र सिंह रमाला के पार्टी में शामिल होने से इन दोनों सीटों पर पार्टी को मजबूती मिलेगी और पार्टी दोनों सीटों पर निश्चित ही विजय हासिल करेगी।’ कैराना लोकसभा सीट और नूरपूर विधानसभा सीट पर 28 मई को उपचुनाव होगा और 31 मई को मतगणना होगी।
मालूम हो के विधायक रमाला को राज्यसभा में क्रास वोटिंग के कारण पहले ही पार्टी से निकाला जा चुका है।

Two Girl Students Injured In Road Accident In Hoshiarpur

[Hoshiarpur,Pb] Two Girl Students Injured In Road Accident In Hoshiarpur
Two girl students were among three injured when a school bus rammed into a tree near village Talhi in this district today,
The Injured were identified as Jaline Kaur of Salempur and Simranjit Kaur of Begowal village,
The third injured was identified as Nirmal Kaur of Talhi village,

पंजाब में नया विवाद,पाठ्यक्रम से सिख इतिहास गायब करने का आरोप

[चंडीगढ़,पंजाब]पंजाब में नया विवाद,पाठ्यक्रम से सिख इतिहास गायब करने का आरोप
पूर्व शिक्षा मंत्री +अकाली दल के प्रवक्ता डॉ दलजीत सिंह चीमा ने मुख्य मंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह को पत्र लिख कर सिख इतिहास को बारहवीं कक्षा के पाठ्यक्रम से हटाए जाने की उच्च स्तरीय जांच की मांग की है |सरकारी हलकों में कहा जा रहा है के सिख इतिहास को बारहवीं के बजाय अब ग्यारवी कक्षा में पढ़ाया जाएगा लेकिन अकालियों का कहना हे के सिख इतिहास से छेड़ छाड़ः करके दूसरी किताब छपाई गई है |उन्होंने इस किताब को मीडिया के समक्ष पेश करने की भी मांग की है|

15 Lawmakers ask Trump to Reconsider Decision on H4 Visas

[Washington]15 Lawmakers ask Trump to Reconsider Decision on H4 visas
A group of 15 lawmakers asserted that the existing H-4 rule was a matter of both economic competitiveness and maintaining family unity.
“The H-4 rule lessened the burden on thousands of H1-B recipients and their families while they transition from non-immigrants to lawful permanent residents by allowing their families to earn dual incomes. Many entrepreneurs used their EADs to start businesses that now employ US citizens,” they said in a letter to the Homeland Security Secretary Kirstjen M Nielsen.
H-4 rule was implemented three years ago for spouses of highly skilled immigrants, over 100,000 workers,
With the future of thousands of Indian professional, mostly women, at stake, the Indian Embassy is believed to have taken up the matter very strongly with the Trump Administration and US lawmakers.
US President Donald Trump signed an executive order for tightening the rules of the H-1B visa programme to stop “visa abuses” last year.

Kejriwal Has no Experts for his Ambitious WiFi Project

[New Delhi]Kejriwal Has no Experts for his Ambitious WiFi Project.
Provision of free Wi-Fi across the national capital was one of the key poll promises of the Aam Aadmi Party. However, more than three years after it came to power, the AAP is yet to realise the promise.
In February this year, Chief Minister Arvind Kejriwal said the government was working on three-four models for providing free Wi-Fi and would soon take a decision.
Now Public Works Department has expressed inability to implement the scheme of Wi Fi citing a lack of expertise.
Earlier this month, the project-in-charge wrote to the PWD engineer-in-chief in this connection.
A government official said that the Information Technology department of the Delhi government should execute the project as it has the expertise required to implement it.
In the 2018-19 Budget, Deputy Chief Minister Manish Sisodia allocated Rs 100 crore to provide free Wi-Fi facility and handed over the project to the PWD from the IT department.

लालकिले का रखरखाव डालमिया को ही क्यों दे दिया

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

पर्यटन मंत्रालय के चेयर लीडर

औए झल्लेया ये क्या हो रहा है? हमने इतनी मेहनत करके लाल किले की धरोहर को सहेजने के लिए डालमिया जैसे देश सेवक ढूढ़ निकाले लेकिन ये कांग्रेसी हुए उनके सहयोगी वामपंथी बात का बतंगड़ बनाने पे तुले हुए हैं| औए २५ करोड़ रु लगा कर डालमिया साहिब लालकिले में पांच साल तक स्वच्छ पेयजल+बैठने के लिए बेंच+गाइड मेप+और ना जाने क्या क्या सुविधाएँ देने जा रहे हैं |इस पर भी लालकिले पे झंडा तो हमने ही फहराना है |इससे हसाड़े मुल्क का नाम विश्व भर में रौशन होगा के नहीं होगा?

झल्ला

ओ मेरे चतुर बादशाहो!बेशक यह अच्छा प्रयास है हो सकता है के कांग्रेस का झुकाव दूसरे बिडर इंडिगो की तरफ हो लेकिन इसके साथ ही अपने ऑफिस के डस्टबिन में भी झांक लो उसमे न जाने कितने ऐसे ही प्रपोजल डंप पढ़े हुए हैं |

सिद्धू के विवादों की नवजोत:आचार संहिता का उल्लंघन

[जालंधर, पंजाब] सिद्धू के जीवन में विवादों की नवजोत आये दिन प्रज्वलित होती रहती है शायद इसीलिए विवाद उनका पीछा नहीं छोड़ रहे |अब उन्होंने कॉलेज को ग्रांट देकर अपने विरुद्ध कार्यवाही को आमंत्रित कर लिया है|
नवजोत सिंह सिद्धू पंजाब सरकार में स्थानीय निकाय मंत्री हैं उन्होंने आचार संहिता का उल्लंघन करते हुए जालंधर के एक निजी कॉलेज की कंप्यूटर लेब के लिए १० लाख रु की ग्रांट देने की घोषणा की है जबकि शाहकोट उपचुनाव के चलते जिले में आचार संहिता लगी हुई है जिसके चलते ग्रांट की घोषणा संहिता का उल्लंघन माना जा सकता है |
स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू एक नई मुसीबत में फंस गए हैं। इस बार सिद्धू ने आचार संहिता का उल्लंघन किया है।
शाहकोट उपचुनाव के चलते आचार संहिता लगी हुई है। सरकार द्वारा की गई कोई भी घोषणा आचार संहिता का उल्लंधन है|

मंत्री, राजभर के निवास पर आज अंडे और टमाटर बरसे

[लखनऊ,यूपी] मंत्री ,राजभर के लखनऊ स्थित निवास पर आज अंडे और टमाटर बरसे |बीते दिन वाराणसी में मिनिस्टर ॐ प्रकाश राजभर ने यह कह कर विवाद उतपन्न कर दिया था के राजपूत और यादव ज्यादा शराब पीते हैं|जबकि राजभर समाज को बदनाम किया जाता है|इसी के फलस्वरूप आज असंतुष्टों ने हजरत गंज स्थित सुहेलदेव भारतीय समाज के कोटे से बने मंत्री के निवास पर अंडे और टमाटर बरसा कर अपना विरोध दर्ज कराया|”

Phagwara Mayor khosla Claims Threat to his Life

[Phagwara,Pb]Phagwara Mayor Arun khosla Claims Threat to his Life
Phagwara Mayor Arun Khosla said today he has received death threats on social media for stating that the authority to rename the city’s Gol Chowk was with the municipal corporation, not the chief minister.
Khosla, a BJP leader, told reporters that he received threatening messages on social media,
He said he has brought it to the notice of Jalandhar Zone IGP Naunihal Singh yesterday
Addressing a protest by General Samaj Manch and shopkeepers on April 24-25, Khosla said the authority to name and rename an intersection in the city lies with the corporation and not with Chief Minister Amarinder Singh.
On April 13, clashes erupted in Phagwara between members of Dalit outfits and Hindu rightwing groups after the Dalit members allegedly put up a board with a picture of B R Ambedkar at Gol Chowk. They also tried to rename the intersection as Samvidhan Chowk.

पंजाब सरकार का खजाना खाली मगर मंत्रियों को देंगे लग्जरी कारें

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

पंजाबी कांग्रेस का चेयर लीडर

औए झल्लेया मुबारकां!ओये हसाड़े सोणे मुख्यमंत्री हिज हाइनेस कैप्टेन अमरिंदर सिंह साहिब ने दरियादिली दिखाते हुए केबिनेट मंत्रियों को सरकारी खजाने से फॉर्चूनर कर देने का फैंसला कर लिया है|

झल्ला

ओ मेरे चतुर सुजान ! पंजाब सरकार का खजाना खाली मगर मंत्रियों को देंगे लग्जरी कारें
एक तरफ तो आपलोग जनहित के कामों के नाम पर खजाना खाली होने के दावे करते नहीं थकते तो दूसरी तरफ वर्तमान में उपलब्ध महंगी केमरी+बहुपयोगी जिप्सी को गैराज में कबाड़ बनाने को आमादा हो और सीएम के लिए २ -२ बुलेट फ्रूफ लैंड क्रूजर+महिंद्रा+इन्नोवा और मंत्रियों के लिए फॉर्चूनर जैसी लग्जरी गाड़ियां खरीदने पर तुले हुए हो|
फाइल फोटो