Ad

Category: Murder

1984 के सिख दंगों के दोषियों को सजा की संभावना फिर जीवित हो उठी है:सीबीआई की क्लोजर रिपोर्ट खारिज

1984 के सिख दंगों के मामले के दोषियों को सजा दिलाने की संभावना एक बार फिर जीवित हो उठी है| दिल्ली की कड़कड़डूमा अदालत ने आज १० अप्रैल बुधवार को सीबीआई द्वारा दाखिल क्लोजर रिपोर्ट को खारिज कर दिया है|इस मामले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जगदीश टाइटलर मुख्‍य अभियुक्‍त हैं। । इस फैसले के बाद कांग्रेस पार्टी और उसके नेता जगदीश टाइटलर के लिए मुश्किलें खड़ी हो गई हैं। अब सीबीआई को इस केस में दोबारा जांच करनी होगी|। अदालत ने अपने फैसले में कहा है कि सीबीआई उन सभी गवाहों के बयान दर्ज करें, जिन्‍होने खुद को चश्‍मदीद बताया और टाइटलर को दंगा भड़काते देखा।
अतिरिक्‍त सत्र न्‍यायाधीश अनुराधा शुक्‍ला भारद्वाज ने इस केस में अपना अहम फैसला सुनाया है। इससे पहले कोर्ट परिसर के बाहर सिख समुदाय के लोगों ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया और टाइटलर के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।
दिल्‍ली सिख गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी के महासचिव सिरसा ने कहा है कि अदालत के इस फैसले से न्‍याय की आस जगी है।
गौरतलब है कि सीबीआई ने 1984 के केस में टाइटलर को क्लीन चिट देकर कोर्ट में क्लोजर रिपोर्ट दाखिल की थी।
दिल्ली के पुलबंगश इलाके में तीन सिखों की नृशंस हत्या कर दी गई थी| जिसकी जांच कर रही सीबीआई ने सितंबर 2007 में क्लोजर रिपोर्ट दाखिल की थी।

मंत्री पुत्र पर हत्या और संपत्ति कब्जाने का आरोप

मंत्री पुत्र पर हत्या और संपत्ति कब्जाने का आरोप

मंत्री पुत्र पर हत्या और संपत्ति कब्जाने का आरोप

[मेरठ] उत्तर प्रदेश सरकार के एक मंत्री के बेटे पर डेढ़ करोड़ की संपत्ति को कब्जाने का आरोप लगाया गया है |उसकी गिरफ्तारी के लिए एसएसपी दफ्तर पर पीड़ितों द्वारा प्रदर्शन किया गया । आरोप लगाया गया है कि पुलिस भी मंत्री के बेटे की मदद कर रही है।
३ अप्रैल बुधवार को थाना देहली गेट क्षेत्र के खैरनगर निवासी शिराज अहमद अपने कुछ साथियों के साथ बैनर लिए एसएसपी दफ्तर पहुंचे। शिराज ने आरोप लगाया है कि कुछ दबंगों ने उसके मकान तथा दुकान का फर्जी बैनामा कराकर अवैध कब्जा कर लिया। इसमें इंस्पेक्टर देहली गेट ने भी आरोपियों का साथ दिया। शिराज ने मंत्री पुत्र पर हत्या करवाने का आरोप लगाते हुए कहा कि इस संपत्ति के विवाद को लेकर 2001 में उसके पिता की हत्या कर दी गई थी । । उन्होंने एसएसपी से गुहार लगाई कि मामले की निष्पक्ष जांच कराकर अवैध कब्जा हटवाया जाए। [शाहीद मंजूर]

जेल के बाहर नागरिक और जेल के अन्दर अंडर ट्रायल कैदी भी सुरक्षित नहीं हैं यह व्यवस्था पर बड़ा प्रश्न चिन्ह है Ram Singh Suicide

हाई प्रोफाईल ट्रायल के मुख्य अभियुक्त राम सिंह ने देश की सबसे बड़ी, आधुनिक व सुरक्षित मानी जाने वाली राजधानी स्थित तिहाड़ जेल में रहस्यमय तरीके से फांसी लगाकर अपनी जान दे दी | परिवार जन और अन्य अनेकों विशेषग्य इस मौत के पीछे किसी साजिश को देख रहे हैं | रहस्यमय तरीके से हुई इस मौत से केंद्र सरकार के लिए एक बार फिर शर्मिदगी का कारण बन गई है। मेंटल नाम से कुख्यात 35 वर्षीय बस ड्राइवर राम सिंह का शव सोमवार सुबह तिहाड़ जेल में फंदे से लटकता पाया गया। तिहाड़ प्रशासन के मुताबिक उसने अपने कपड़ों की रस्सी बनाकर फांसी लगाई,मामले की गंभीरता को देखते हुए मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने मजिस्ट्रेटी जांच के आदेश दे दिए हैं। उन्होंने इस मसले पर गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे से मुलाकात भी की। गृह मंत्रालय ने तिहाड़ जेल प्रशासन से पूरे मामले में रिपोर्ट तलब कर ली है|।

 जेल के बाहर नागरिक और जेल के अन्दर अंडर ट्रायल कैदी भी सुरक्षित नहीं हैं यह व्यवस्था पर बड़ा प्रश्न चिन्ह है Ram Singh Suicide

जेल के बाहर नागरिक और जेल के अन्दर अंडर ट्रायल कैदी भी सुरक्षित नहीं हैं यह व्यवस्था पर बड़ा प्रश्न चिन्ह है Ram Singh Suicide


प्राप्त जानकारी के अनुसार तिहाड़ की जेल नंबर तीन में राम सिंह का शव १० फिट ऊंची रोशनदान की ग्रिल से सुबह पांच बजे लटका देखा गया। सोमवार को ही उसकी स्थानीय साकेत कोर्ट में पेशी थी। उसके साथ तीन अन्य कैदी भी बैरक में थे, लेकिन आश्चर्य जनक रूप से उन्हें कुछ पता नहीं लगा। इसके अलावा एन डी टी वी के एंकर रवीश कुमार ने राम सिंह के हाथों में राड पड़ी होने की तरफ इशारा किया है|
गत 16 दिसंबर की रात नशे में धुत इन आरोपियों ने फिजियोथेरेपिस्ट युवती व उसके दोस्त को बस में धोखे से बैठाया था। इसके बाद चलती बस में फिजियोथेरेपिस्ट के साथ सामूहिक दुष्कर्म हुआ और उसके दोस्त की पिटाई। आरोपी खून से लथपथ युवती व उसके दोस्त को निर्वस्त्र कर मरणासन्न अवस्था में चलती बस से फेंककर फरार हो गए थे।युवती का इलाज पहले दिल्ली व उसके बाद सिंगापुर में हुआ था इसके पश्चात भी उसे बचाया नहीं जा सका | उसकी मौत हो गई। इसके बाद देश भर में घटना को लेकर एतिहासिक आंदोलन हुए।
राम सिंह के वकील वीके आनंद का कहना है कि उनका मुवक्किल कभी आत्महत्या जैसा कदम नहीं उठा सकता। वहराम सिंह से मिलते थे तो उसे कभी तनाव में नहीं देखा। राम सिंह के पिता मांगे लाल ने कहा है कि 2009 में एक सड़क हादसे में राम सिंह का एक हाथ खराब हो चुका था, उसके हाथ में लोहे की राड लगाई गई थी। जिस व्यक्ति का एक हाथ ठीक से काम नहीं कर रहा हो वह खुदकुशी कैसे कर सकता है? उन्होंने आरोप लगाया कि उनके बेटे के साथ जेल में मारपीट होती थी। उन्होंने पहले भी राम सिंह पर ब्लेड से हमला किए जाने का आरोप लगाया था। सत्यता का पता तो जांच की रिपोर्ट के आने के बाद ही चल पायेगा लेकिन इतना तो तय है कि जेल के बाहर नागरिक और जेल के अन्दर अंडर ट्रायल कैदी भी सुरक्षित नहीं हैं यह व्यवस्था पर बड़ा प्रश्न चिन्ह है

विक्की डोनर नामक फिल्म से लाईम लाईट में आये अभिनेता आयुष्मान खुराना के घर से नौकर की लाश बरामद

 विक्की डोनर नामक फिल्म से लाईम लाईट में आये अभिनेता आयुष्मान खुराना के घर से नौकर की लाश बरामद

विक्की डोनर नामक फिल्म से लाईम लाईट में आये अभिनेता आयुष्मान खुराना के घर से नौकर की लाश बरामद

विक्की[शुक्राणु] डोनर नामक फिल्म से मशहूर हुए अभिनेता आयुष्मान खुराना के गोरेगावं स्थित निवास से उनके नौकर शिव प्रसाद का शव मिला है। पुलिस को लाश सड़ी हुई हालत में मिली|शव पंखे से लटका हुआ मिला था। इस हादसे के बाद आयुष्मान ने एक बयान जारी करते हुए इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया और कहा कि मामले की जांच में सभी नियमों का पालन किया जाएगा।पुलिस के अनुसार शिव प्रसाद ने गोरेगांव में खुदकुशी की है। 17 फरवरी से आयुष्मान और उनकी पत्नी घर से बाहर बताये गए हैं| आयुष्मान शूटिंग के सिलसिले में दिल्ली में हैं,जबकि उनकी पत्नी चंडीगढ़ में बताई गई है |पुलिस के मुताबिक 26 साल का शिव प्रसाद करीब 10 सालों से आयुष्मान खुराना के घर में नौकरी कर रहा था

ग्राम प्रधानो की लडाई में गोलियां चली :पोलिस डी एस पी मार डाला गया

ग्रामीणों की भीड़ द्वारा कुंडा[यूं पी] के पोलिस के डी एस पी जिया उल हक की ड्यूटी पर हत्या कर एक एएसआई और एक गनर को भी बुरी तरह से जख्मी कर दिया गयाहै । डीएसपी हथिगवां क्षेत्र के बलीपुर में शनिवार २ मार्च की रात भड़की हिंसा पर काबू पाने के लिए फोर्स के साथ वहां ड्यूटी पर गए थे।
बताया जा रहा है कि पुलिस और ग्रामीणों के बीच संघर्ष और फायरिंग में प्रधान के भाई की भी मौत हो गई। मरने वाला प्रधान प्रदेश सरकार के चर्चित दबंग मंत्री रघुराज प्रताप सिंह[ राजा भैया] का समर्थक बताया गया है।

ग्राम प्रधानो की लडाई में गोलियां चली :पोलिस डी एस पी मार डाला गया

ग्राम प्रधानो की लडाई में गोलियां चली :पोलिस डी एस पी मार डाला गया


प्राप्त जानकारी के अनुसार बलीपुर के प्रधान चालीस वर्षीय नन्हें यादव शनिवार रात गांव के चौराहे पर चाय की दुकान पर समर्थकों के साथ बैठे थे। बातचीत के बाद जब घर जाने के लिए उठे तो सामने से आया एक युवक उनके सीने में गोली मारकर भाग निकला। फायरिंग की आवाज सुनकर आसपास के लोग दौड़ पड़े। उन्हें अस्पताल लाया गया जहां डॉक्टरों ने प्रधान को मृत घोषित कर दिया। प्रधान की हत्या की जानकारी मिलते ही राजा भैया समर्थकों ने पाल बस्ती स्थित आरोपी के घर पर हमला बोल कर उसे फूंक दिया।
इसके बाद हालात काबू करने के लिए बड़ी मात्रा पुलिस बल भेजा गया। पुलिस ने लोगों को हटाना चाहा, तो लोग उससे भिड़ गए। पुलिस और ग्रामीणों के बीच संघर्ष में प्रधान के भाई सुरेश कुमार की मौत हो गई। कहा जा रहा है कि प्रधान पर दो दिन पहले भी हमला हुआ था। इसके बाद भी पुलिस ने कार्रवाई नहीं की। इससे लोगों का गुस्सा अधिक थाआनन फानन में गांव में तीन कंपनी पीएसी तैनाती कर दी गई। एडीजी लॉ एंड ऑर्डर हालात का जायजा ले रहे हैं।

पोलिस चौकी और कांग्रेस कार्यालय के समीप स्थित प्रहलाद वाटिका में वृद्धा की घर में ही गला घोंटकर हत्या

पोलिस चौकी और कांग्रेस कार्यालय के समीप स्थित [बुढ़ाना गेट] प्रहलाद वाटिका में वृद्धा की घर में ही गला घोंटकर हत्या

पोलिस चौकी और कांग्रेस कार्यालय के समीप स्थित प्रहलाद वाटिका में वृद्धा की घर में ही गला घोंटकर हत्या

बुढ़ाना गेट पोलिस चौकी से और कांग्रेस कार्यालय के समीप स्थित प्रहलाद वाटिका में 75 वर्षीय एक महिला की लूटपाट के बाद घर में ही गला घोंटकर हत्या कर दी गई है| बुधवार सुबह परिजनों को वृद्धा की लाश घर में पड़ी मिली। जेवरात गायब थे, जिसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस इसे प्रॉपर्टी विवाद से जोड़ कर देख रही है।
कोतवाली क्षेत्र में बुढ़ाना गेट के पास स्थित 585-प्रहलाद वाटिका में श्रीमती जावित्री देवी (75) पत्नी स्व. जगदीश प्रसाद संतान न होने के कारण अकेले रहती थीं। हालांकि वह ज्यादातर अपने भाइयों के पास ही रहती थीं। पास में ही भतीजे का मकान है। एक सप्ताह पूर्व वृद्धा अपने घर आई थी। बुधवार सुबह करीब 9:30 बजे भतीजा अनुराग जावित्री के घर पहुंचा तो गैलरी में खून बिखरा देखा। कमरे का दरवाजा खोला तो अंदर जावित्री का शव बेड और चारपाई के बीच फर्श पर पड़ा था। उनके गले में दुपट्टे का फंदा था । पूरे घर का सामान बिखरा पड़ा था और अलमारी खुली पड़ी थी। अनुराग ने कंट्रोल रूम को सूचना दी, जिसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। अनुराग ने बताया कि उनकी चाची के करीब सात से आठ लाख रुपये के जेवर गायब हैं। मुकदमा दर्ज करा दिया है।
मौके पर जांच पड़ताल के लिए पुलिस की फारेंसिक टीम तक नहीं पहुंची। न अंगुलियों के निशान उठाए गए और न ही कोई नमूना लिया गया।

अमेरिका के फ्लोरिडा में एक सिख को गोलियां बरसा कर घायल किया

अमेरिका के फ्लोरिडा में एक सिख को गोलियां बरसा कर घायल किया

अमेरिका के फ्लोरिडा में एक सिख को गोलियां बरसा कर घायल किया

अमेरिका में अज्ञात हमलावरों ने एक सिख व्यक्ति पर गोलियां बरसा कर घायल कर दिया | .घायल कंवलजीत सिंह (46) को अस्पताल में भर्ती कराया गया है यह हमला बीते सप्ताहं रात को डेटोना बीच पर किया गया गया.
कँवल जीत के साथ जा रहा उनका बेटा हमले में बच गया.| लोकल डेली डेटोना न्यूज पत्रिका ने पुलिस विभाग अधिकारी वायने मिलर के हवाले से हमले के पीछे मकसद के प्रति अज्ञानता प्रकट की है|, . सिख अमेरिकन लीगल डिफेंस एंड एजुकेशन फंड तथा सिख कोलेशन ने इस हमले की निंदा करते हुए कानून प्रवर्तन अधिकारियों से घटना की गहन जांच करने का अनुरोध किया है.भारत में भी पंजाबी कल्चरल सोसायटी मेरठ महानगर ने भी इस घटना की घृणा अपराध के पहलू से भी जांच किये जाने को आवश्यक बताया है|

समाजवादी पार्टी के अधिवक्ता संघ के नेता की गाज़ियाबाद में गोली मार कर हत्या:Planned Murder Of Leader Of Ruling Party In U P

[गाजियाबाद] के कविनगर थाना क्षेत्र के बम्हैटा गांव में एक अधिवक्ता व युवा सपा नेता की गोलीमारकर हत्या कर दी गई है इससे इलाके के आक्रोशित लोगों ने

समाजवादी पार्टी के अधिवक्ता संघ के नेता की गाज़ियाबाद में गोली मार कर हत्या:

समाजवादी पार्टी के अधिवक्ता संघ के नेता की गाज़ियाबाद में गोली मार कर हत्या:

एनएच-24 पर जाम लगा दिया। हमलावरों ने अधिवक्ता के निजी गनर को मारपीटकर घायल भी कर दिया।
बताया जा रहा है कि हमलावरों ने वकील की लाइसेंसी रिवाल्वर व गनर की रायफल लूट ली है|
प्राप्त जानकारी के अनुसार बम्हैटा निवासी सपा अधिवक्ता सभा के महानगर अध्यक्ष यशवीर यादव उर्फ बुद्धपाल सोमवार सुबह करीब साढ़े नौ बजे घर पर कचहरी जाने के लिए तैयार हो रहे थे, जबकि उनके दो भाई सिल्ली व लाला नीचे बैठे थे। इसी दौरान घर के पास ही रहने वाला श्यामवीर उर्फ मिट्ठन ने अपने कई साथियों के साथ यशवीर के घर पहुंचकर गाली-गलौज और फायरिंग शुरू कर दी। यशवीर के निजी सुरक्षा गार्ड श्रीनिवास ने भी जवाबी फायरिंग की। बचाव के लिए दोनों भाई दूसरी मंजिल पर भागे, लेकिन हमलावरों ने वहां पर पहुंचकर ताबड़तोड़ गोली चलाई। गंभीर
रुप से घायल यशवीर को लेकर परिजन कोलंबिया एशिया अस्पताल गए। जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। घटना में सिल्ली व निजी सुरक्षा गार्ड श्रीनिवास भी घायल हुए हैं|पुलिस के अनुसार हमलावर मिट्ठन जेल से छूटकर अभी हाल ही में बाहर आया है। वह पहले से ही कई मामलों में वांछित चल रहा है।। इस घटना ने यूपी की लगातार बिगड़ रही कानून व्यवस्था की पोल खोल दी है। यशवीर यादव समाजवादी पार्टी के अधिवक्ता संघ के नेता थे।

पश्चिमी विक्षोभ एक बार फिर अपने रोद्र बारिश का रूप धरे लौट आया है

पश्चिमी विक्षोभ एक बार फिर अपने रोद्र रूप के साथ लौट आया है रात से ही बारिश और तेज़ हवाएं जन जीवन को प्रभावित करने में लगी हैं| उत्तर प्रदेश में बारिश का पैमाना ढाई के अंक को छू गया है| सामाजिक और धार्मिक आयोजनों में बेहद परेशानी का सामना करना पडा |कंकर खेडा में प्रभु दयाल ढल्ला के निवास पर आयोजित माता के जागरण के बीच लग भाग तीन बजे यकायक पंडाल कांप उठे|भक्तों ने छाते हाथ में लेकर जय माता दी के जय कारे लगाने शुरू कर दिए| इसके अलावा आज सुबह लाला लाज पत राय मेडिकल कालेज में सफेदे का एक पेड गिरने से एक विवाहिता नर्स की मृत्यु हो गई| डाक्टर ऋषि पाल की पत्नी फार्मेसिस्ट श्री मति रेखा ड्यूटी पर जाते समय पेड के नीचे आकर दब गई | घायल अवस्था में निकाली गई फार्मेसिस्ट को जीवन दान देने के लिए इमरजेंसी के उपकरण काम नहीं कर पाए| इससे परिसर स्थित चिकित्सा जगत में असंतोष व्याप्त हो गया| मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार यह पूरा सप्ताह प्रभावित रहेगा| उधर पहाडी छेत्रों में बर्फबारी की सूचना है |

दिल्ली में ज्वाइंट सीपी सत्येंद्र गर्ग और डीसीपी प्रेमनाथ को हरियाणा के रेत ट्रक ड्राइवर ने कुचलने का प्रयास किया

दिल्ली में ज्वाइंट सीपी सत्येंद्र गर्ग और डीसीपी प्रेमनाथ को एक ट्रक ड्राइवर ने कुचलने का प्रयास किया |प्राप्त जानकारी के अनुसार ज्वाइंट सीपी सत्येन्द्र गर्ग और डीसीपी ट्रैफिक प्रेमनाथ चेकिंग के लिए खड़े थे। तभी एक तेज़ रफ़्तार ट्रक को चेकिंग के लिए रुकने को कहा गया, लेकिन ट्रक ड्राइवर ने ट्रक नहीं रोका। उलटे अधिकारियों को कुचलने की कोशिश की |मामला दिल्ली−नोएडा को जोड़ने वाले डीएनडी फ्लाईओवर का बताया जा रहा है, | फिलहाल ट्रक ड्राइवर फरार है, जबकि ट्रक के मालिक को हिरासत में ले लिया गया है। ट्रक पर हरियाणा के पंजीकरण प्लेट लगी है |

दिल्ली में ज्वाइंट सीपी सत्येंद्र गर्ग और डीसीपी प्रेमनाथ को हरियाणा के रेत ट्रक ड्राइवर ने कुचलने का प्रयास किया


असफल होने पर ट्रक ड्राइवर खुद को घिरा देखकर मौके से फरार हो गया जबकि ट्रक के मालिक को गिरफ्तार कर लिया गया है।ट्रक पर रेत लदा था | पुलिस को शक है कि इस घटनाक्रम के पीछे हरियाणा के मेवात स्थित रेत माफिया का हाथ हो सकता है।
बताया जा रहा है की संयुक्त आयुक्त गर्ग रात डीएनडी फ्लाईओवर पर रोजाना लगने वाले ट्रैफिक जाम का जायजा लेने आए थे। जिससे वे जाम को कम करने के उपाय खोज सकें। उसी दौरान उन्होंने रेत से भरे एक ट्रक को रोक लिया। ट्रक पर हरियाणा की नंबर प्लेट थी। पुलिसकर्मियों ने दो वाहनों से ट्रक का पीछा किया। पुलिस को अपने पीछे देख चालक ट्रक को किनारे खड़ा कर अपने साथी समेत यमुना किनारे के खेतों में कूद कर फरार हो गया। पुलिस ने ट्रक को जब्त कर उसके मालिक का पता लगा उसे गिरफ्तार कर लिया। साउथ ईस्ट दिल्ली के सन लाइट थाने में सरकारी कर्मी के काम में बाधा पहुंचाने, गलत बर्ताव करने और हत्या के इरादे से ट्रक चढ़ाने की धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है।