Ad

Category: Crime

योग बाबा के मंच पर विवादों का जमावड़ा

कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ रामलीला मैदान में चल रहे बाबा रामदेव के तीन दिनों के सांकेतिक उपवास के आज दूसरे दिन भी विवादों से मंच भरा रहा
शुक्रवार को बाबा रामदेव के उपवास का दूसरा दिन भी विवादों से दूर नहीं रहा।[१] बाबा रामदेव की समर्थक रहीं राजबाला का पोस्टर रानी लक्ष्मी बाई समेत अन्य वीरांगनाओं और महापुरुषों के पोस्टर के साथ लगाने पर विवाद हो गया। जब यह मामला वहां मौजूद मीडिया ने उठाया तो बाबा रामदेव के समर्थकों ने उसे हटा लिया।[२] गुरुवार को इसी तरह आचार्य बालकृष्‍ण की तस्‍वीर भी महापुरुषों के साथ लगाई थी। मीडिया में दिखाए जाने पर उस पोस्‍टर को भी हटवा लिया गया था। मालूम हो कि बाबा के पिछले आंदोलन के दौरान हुई पुलिसिया कार्रवाई में राजबाला घायल हो गई थीं और कई महीने बाद उनकी मौत हो गई थी। रामदेव ने राजबाला के परिजनों को मंच पर बुलाकर उनका अभिनंदन किया और राजबाला को ‘शहीद’ का दर्जा दिया। पूर्व राष्ट्रपति ऐ पी जे अब्दुल कलाम के चित्र पर भी ऐतराज़ जताया जा चुका है|

हरियाणा के भगौड़े मंत्री को कानून का सामना करना चाहिए = हुड्डा

हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने आज कहा की गोपाल कांडा अब उनकी सरकार में मंत्री | नहीं है इसके साथ ही उन्होंने नसीहत भी दे डाली की अब भगौड़े मंत्री को क़ानून का सामना करना चाहिए|श्री हुड्डा एक प्रेस कांफ्रेंस में पत्रकारों के प्रश्नों का उत्तर दे रहे थे|
उन्होंने कहा की वह स्वयम क़ानून का पालन करने वाले हैं और किसी को बचाना नहीं चाहेंगे |गोपाल के मामले में भी कानून अपना काम कर रहा है ऐसे में गोपाल को स्वयम कानून का सामना करने के लिए सामने आ जाना चाहिए|
पूर्व एयर होस्टेस गीतिका शर्मा सुसाइड मामले में वांछित हरियाणा के पूर्व मंत्री और एम् डी एल आर एयर लाइंस के मालिक गोपाल कांडा फरार चल रहे हैं |बीते दिन उनके द्वारा दायर अग्रिम जमानत की अर्जी भी खारिज हो गई है| फरार चल रहे हरियाणा के पूर्व मंत्री गोपाल गोयल कांडा की तलाश में दिल्ली पुलिस द्वारा सिरसा के गोपाल निवास में छापा मारने के बाद एक टीम को गोवा में भेजा गया है।
दिल्ली पुलिस ने कहा है कि वह कांडा की कई जगहों पर तलाश कर रही है, उसके पास छिपने के कई ठिकाने हैं। गीतिका की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के बारे में पूछने पर बताया गया कि पुलिस को यह रिपोर्ट कल शाम ही मिली है जिसे पढ़ कर जानकारी दी जाएगी। वहीं गोपाल कांडा के भाई ने मीडिया में उसके बारे में जानकारी दी कि वह सोमवार सुबह साढ़े 11 बजे रोहिणी कोर्ट में सरेंडर कर देगा।
इससे पहले, कांडा की तलाश में उसके दिल्ली व हरियाणा स्थित दफ्तरों व आवासों पर गुरुवार को भी पुलिस की छापेमारी जारी रही। दिल्ली पुलिस ने कांडा को जल्द गिरफ्तार करने का दावा करते हुए मामले की एक अन्य आरोपी अरुणा चड्ढा को गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया। वहीं स्थानीय अदालत ने कांडा की अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी। गुरुवार को भी कांडा के गुड़गांव, फरीदाबाद और दिल्ली स्थित आवासों व दफ्तरों पर छापेमारी की कार्रवाई जारी रही। वह अभी भी फरार हैं। कांडा देश से भाग न जाए इसलिए देश के हवाई अड्डों पर उसके खिलाफ पुलिस ने आउटलुक नोटिस भी जारी कर दिया है।

गोपाल कांडा की दिल्ली रोहिणी कोर्ट से अग्रिम जमानत खारिज होने के बाद दिल्ली पुलिस ने गोपाल कांडा की तलाश और तेजी से शुरू की। इसी के तहत गुरुवार को दूसरी बार दिल्ली पुलिस [की हरिदर्शन दहिया के नेतृत्व में पांच सदस्यीय टीम] ने सिरसा स्थित कांडा के महल पर छापेमारी की और घर में मोजूद गोपाल कांडा की मां मुन्नी देवी से कांडा के बारे में पूछताछ की।
मां से हुई पूछताछ में जानकारी मिली कि गोपाल कांडा रक्षाबंधन के दिन हेलीकॉप्टर से यहां आया था, उसके बाद कांडा सिरसा नहीं आया। एसीपी दहिया ने कहा कि गोपाल कांडा के मोबाइल को लोकेट किया जा रहा है। टीम लगातार कांडा की गिरफ्तारी का प्रयास कर रही है।
वहीं कांडा समर्थकों ने दिल्ली पुलिस की टीम को रात में रेड करने से मना किया और दिन में अपनी कार्यवाही करने की बात कही।

भ्रष्टाचार में गोल्ड मेडल भारत को ही मिलेगा =बाबा राम देव

योग गुरु बाबा राम देव ने आज राम लीला मैदान में अपने सांकेतिक उपवास के दूसरे दिन शब्दों में तीखापन लाते हुए कहा है कि अगर ओलंपिक्स में भ्रष्टाचार का एक इवेंट होता तो उसमे गोल्ड मेडल भारत को ही मिलता |
भ्रष्टाचार के विरुद्ध राम लीला मैदान में हज़ारों समर्थकों के बीच तीन दिन का सांकेतिक उपवास कर रहे बाबा राम देव ने कहा कि अगर ओलंपिक्स में भ्रष्टाचार पर कोई कम्पटीशन होता तो भारत को ही गोल्ड मेडल मिलता|
योगा केम्प से शुरू किये गए आज के संबोधन में जब बाबा ने भ्रष्टाचार पर गोल्ड मेडल मिलाने कि बात कही तब हज़ारों श्रोताओं ने तालिय बजा कर इसका समर्थन किया तब बाबा ने कहा कि यह तालियाँ बजाने का अवसर नहीं है वरन गंभीरता से सोचने का विषय है|
योग गुरु ने भ्रष्टाचार के खात्मे+ विदेशों से काला धन वापिस लाने +शिक्षा में सदाचार+सी बी आई ,सी वी सी,ई सी और सी ऐ जी कि नियुक्ति में पारदर्शिता कि मांग के साथ ९ अगस्त से अपना तीन दिन का उपवास शुरू किया है | आज उसका दूसरा दिन है

ब्यान को तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया =शिव पाल यादव

उत्तर प्रदेश के पीडब्ल्यूडी मंत्री शिवपाल यादव ने अपने पहले दिए चोरी सम्बन्धी ब्यान से पलट कर आज कहा है की उनके बयानको आधा अधूरा और तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया है|
गौर तलब है की बीते दिन शिव पाल सिंह यादव ने एक मीटिंग के दौरान किसी संदर्भ में कहा था कि मेहनत करने पर थोड़ी बहुत चोरी चल सकती है मगर लूट नहीं चलेगी|इस बात को मीडिया ने जम कर उछाला|बसपा ने तो मंत्री से माफ़ी या फिर इस्तीफे कि मांग करनी शुरू कर दी|
खबर छापी गई है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के चाचा राज्य के पीडब्ल्यूडी मंत्री शिवपाल यादव ने अफसरों को सलाह दी है कि यदि वे मेहनत से काम करते हैं तो थोड़ी-बहुत चोरी कर सकते हैं , लेकिन लूटने की अनुमति नहीं है।
एटा में गुरुवार को एक कार्यक्रम के दौरान शिवपाल ने कहा कि मैंने पीडब्ल्यूडी अधिकारियों से कहा है कि वे अगर आप मेहनत करते हो तो थोड़ी चोरी कर सकते हो, लेकिन डाकुओं जैसा बर्ताव न करें
इस ब्यान से पलटते हुए पी डब्लू डी मंत्री ने अज प्रेस कांफ्रेंस करके कहा कि मीटिंग में बहस चल रही थी मीडिया को मना करने के बावजूद भी कुछ लोग अन्दर घुस गए और आधी अधूरी खबर ले कर निकल आये किसी पदाधिकारी से पुष्ठी तक नहीं की गई|
उन्होंने बताय की पुरानी सरकार में भ्रष्टाचार पर चर्चा हो रही थी उस काल में हुई लूट के सन्दर्भ में यह कहा गया था इसके साथ ही इस सरकार के कार्यकाल में १००%काम भी मांगा गया था |अब जब १००% काम माँगा जा रहा है तब चोरी की गुंजाईश कहाँ रह जाती है| उन्होंने कहा की सपा सारकार में चोरी लूट के लिए कोई जगह नहीं है काम इमानदारी से किये जायेंगे |

पंजाब के बड़े बादल अमेरिका में मुकद्दमे में फंसे

पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल अमेरिका में गए तो थे शादी की दावत खाने मगर एक मुकदमे के घेरे में आ गए |
मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के खिलाफ एक सिख संगठन ने मुकदमा दायर किया है। आरोप है कि बादल ने राज्य में सिखों के उत्पीड़न की अनदेखी की।
अपने अमेरिकी प्रवास के दौरान विस्कांसिन गुरूद्वारे में हत्याकांड हो गया श्री बादल वहाँ पीड़ितों के प्रति सम्वेदना व्यक्त करने जा पहुंचे\ सिख फॉर जस्टिस संगठन के कोआर्टिनेटर न्यूयॉर्क के अवतार सिंह द्वारा दायर 30 पन्नों की शिकायत में कहा गया है कि पंजाब में बादल ने ऐसे पुलिस अधिकारियों को संरक्षण दिया था, जिन्होंने हिरासत के दौरान सिख समुदाय के लोगों पर जुल्म ढहाए थे। साथ ही न्यायिक हिरासत के दौरान मारे गए सिखों की मौत के लिए जिम्मेदार हैं। ये अधिकारी सिख समुदाय के खिलाफ लगातार मानवाधिकारों का उल्लंघन कर रहे हैं। अवतार सिंह ने दावा किया है कि यह मामला टार्चर विक्टम प्रोटेक्शन एंड एलियन टॉर्ट ला के तहत संघीय अदालत के क्षेत्राधिकार में आता है क्योंकि बादल फिलहाल विस्कांसिन में हैं।
बादल 1997 से 2002 और 2007 से वर्तमान में भी पंजाब के मुख्यमंत्री हैं। अदालत ने उन्हें 21 दिनों के भीतर जवाब देने के लिए कहा है। एसएफजे के अधिवक्ता गुरपतवंत पन्नू ने कहा, इस शिकायत से राजनेताओं को कड़ा संदेश जाएगा कि अब जो भी अमेरिका आएगा उसे मानवाधिकार उल्लंघन को लेकर अंतरराष्ट्रीय कानून के मुताबिक जवाब देना होगा। साथ ही इस मुकदमे से अंतरराष्ट्रीय समुदाय को पंजाब में सुरक्षा बलों द्वारा सिखों को दी जा रही यातना और उनकी न्यायिक हिरासत में मौतों के बारे में पता चलेगा।
उल्लेखनीय है कि रविवार को ओक क्रीक गुरुद्वारे में हमले के बाद बादल मंगलवार को मिलवोकी में पहले से तय कार्यक्रम के अनुसार बिजनेसमैन दर्शन धालीवाल की पुत्री की शादी में भाग लेने यहां पहुंचे हैं। श्री बादल के साथ उनकी केबिनेट के कई भारी भरकम लोग भी शामिल हैं| बुधवार को बादल ने हमले के पीड़ित परिवारों से भी मुलाकात की और अपनी संवेदनाएं व्यक्त की।

अब प्रदेश की राजधानी की कचहरी परिसर में भी बम्ब मिले

आगरा में यमुना में तैरते मिले जिन्दा बमों की जांच अभी पूरी भी हुई नहीं कि अब प्रदेश की राजधानी लखनऊ में शरारती तत्वों ने कचहरी परिसर में केतली में पांच सुतली बम रखकर सनसनी फैला दी है|
गृह विभाग ने पूरे प्रदेश को अलर्ट कर दियाहै|
मेरठ में इस सरकारी फरमान का कोई असर नजर नहीं आया। परंपरागत रूप से जिन वीवीआइपी क्षेत्रों में भी पुलिसकर्मी नजर नहीं आए।
जिला जज कोर्ट के बाहर लगे मेटल डिटेक्टर खराब थेसिक्योरिटी केमरा कहीं नहीं दिखाई दिए सिटी स्टेशन व भैंसाली रोडवेज बस स्टैंड पर भी कोई पुलिसकर्मी नजर नहीं आया अगर मेरठ में भी अलर्ट का किया जाता तो शायद दिन रत कि गश्त में दो चार चोरियों कि वारदात ही खुल जाती

गंगा सागर में एक सप्ताह में दूसरी चोरी

गंगा सागर कालोनी में एसडीएम से चोरों ने सेफ के ताले तोड़ते हुए 20 हजार की नगदी और हजारों रुपये के गहने गायब कर दिए।
गंगा नगर में गंगा सागर कालोनी के एफ 55 निवासी जगमोहन सिंह मुरादाबाद में एसडीएम हैं। वह दो दिन पहले परिवार के साथ हरिद्वार घूमने गए थे। गुरुवार दोपहर जब वापस लौटे तो घर के बाहर खिड़की की ग्रिल टूटी हुई थी। भीतर जाकर देखा तो पूरा सामान खुर्द बुर्द किया हुआ था।प्राप्त जानकारी के अनुसार 20 हजार रुपये नगद और करीब 70 हजार रुपये की सोने और चांदी के जेवरात की चोरी हुई है\
[१] भावनपुर थाने में चोरी की रिपोर्ट दर्ज करा दी गई है। कालोनी के लोगों ने बताया कि चोरी की आहट पर कालोनी में जाग हो गई थी। पड़ोसियों ने शोर भी मचाया, जिस पर गार्ड ने फायरिंग भी की। लेकिन पुलिस मौके पर नहीं पहुंची। गौरतलब है की इसी माह एक जुलाई की रात बदमाशों ने कालोनी में शिक्षिका के घर से लाखों रुपये की नकदी और जेवरात चुरा लिए थे।
वहीं दूसरी ओर टीपी नगर क्षेत्र की देवलोक कालोनी में भी चोरों ने दो जगह धावा बोल दिया। जिसमें एक जगह निर्माणाधीन मकान से जेनरेटर के पार्टस और [२]दूसरी जगह एक मकान में हजारों का सामान चोरी कर ले गए।

पाकिस्तान में 11 हिंदू कारोबारियों के बाद अब किशोरी का अपहरण

पाकिस्तान में 11 हिंदू कारोबारियों के अपहरण के बाद अब एक किशोरी को अगवा कर लिया गया है| वहा के अल्पसंख्यक समुदायों की चिंता बढ गई है| पाकिस्तान के कुछ क्षेत्रों से हिंदुओं के पलायन करने की खबर है। पाकिस्तान के सिंध प्रांत से 14 वर्षीय हिंदू लड़की का अपहरण कर लिया गया। रिपोर्ट के मुताबिक हिंदू परिवार भारत में बसने की योजना बना रहे हैं। अमर उजाला ने इसे प्रमुखता से छापा है|
पाकिस्तान हिंदू परिषद के अध्यक्ष जेथानंद डूंगर माल कोहिस्तानी के अनुसार मंगलवार को सिंध के जकोबाबाद से मनीषा कुमारी को अगवा कर लिया गया। यह हिंदुओं की घनी आबादी वाला इलाका है| कोहिस्तानी ने पीटीआई को फोन पर बताया है कि सिंध के मुख्यमंत्री कैम अली शाह ने मामले को गंभीरता से लेते हुए प्रांत के अल्पसंख्यक मंत्री मोहन लाल को जकोबाबाद भेजा है।
पिछले कु़छ महीनों में बलूचिस्तान और सिंध प्रांत से 11 हिंदू कारोबारियों का अपहरण और अब किशोरी को अगवा किए जाने की घटना ने समुदाय के लोगों की चिंता बढ़ा दी है। उन्होंने कहा, ‘हिंदुओं के लिए यह दुखद है कि पाक में कानून और व्यवस्था लगातार बिगड़ती जा रही है। केवल हिंदू ही नहीं मुसलिम भी इससे प्रभावित हो रहे हैं।
उधर, टीवी चैनलों ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया है कि जकोबाबाद से कई हिंदू परिवारों ने भारत में बसने का निर्णय लिया है। जबकि पाकिस्तान के मानवाधिकार कार्यकर्ता अमरनाथ और कोहिस्तानी ने साफ कहा कि इस रिपोर्ट की पुष्टि के लिए कोई साक्ष्य मौजूद नहीं है। हिंदू पंचायत के प्रमुख बाबू महेश लखानी ने दावा किया है कि कई हिंदू परिवारों ने भारत में बसने का निर्णय लिया है।
उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में हिंदू खुद को असुरक्षित महसूस करने लगे हैं। कुछ हिंदू नेताओं ने दावा किया है कि करीब 60 हिंदू परिवारों ने पाकिस्तान छोड़ दिया है और कुछ परिवार इसी सप्ताह वाघा सीमा के रास्ते भारत पहुंचेंगे। हालांकि इसलामाबाद मेें भारतीय उच्चायोेग के सूत्रों ने वाघा बार्डर के रास्ते हिंदू परिवारों के भारत में दाखिल होने जैसी खबर से इनकार किया है।

मणि शंकर एय्यर ने बाबा राम देव को जोकर कहा

योग गुरु बाबा राम देव यूं पी ऐ २ के खिलाफ अपनी दूसरी पारी में बेशक फूंक फूक कर कदम रख रहे हैं मगर सत्तानशीन बाबा को उकसाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ रहे|
दिग्विजय सिंह+सलमान खुर्शीद+बेनी प्रसाद वर्मा आदि के बाद अब मणि शंकर अय्यर जैसे पूर्व पत्रकार और कांग्रेस के नेता भी अन्ना हजारे और बाबा राम देव को जोकर कहने लग गए हैं|बीती रात आई बी एन ७ पर राजदीप सरदेसाई के कार्यक्रम में बिना किसी मतलब+ बिना किसी सन्दर्भ + बिना किसी उकसावे के ही श्री मणि शंकर ने कहा एक बार नहीं कई बार जोर जोर से रिपीट किया की अन्ना हजारे और बाबा राम देव दोनों जोकर हैं |उनके हाव भाव बाडी लेंगुएज देख कर ऐसा लग रहा था कि श्री मणि शंकर अपने बात कहीं और पहुंचाना चाहते हैं|

बाबा राम देव का उपवास नहीं आ रहा सत्ता को रास

अन्ना टीम के पलायन के पश्चात अब बाबा रामदेव ने रामलीला मैदान में तीन दिन के सांकेतिक उपवास शुरू कर दिया है| इस आन्दोलन में एक आज खास किस्म की सावधानी बरती जा रही है |बाबा ने बार बार अपने संबोधन में सत्ता से सीधे सीधे टकराव को टालने का भरसक प्रयास किया |यहाँ तक की शतप्रतिशत लोक पाल के बजाय ९९% पर ही समझौते को तैयार दिखे|
कांग्रस के नेताओं द्वारा बाबा पर लगाये जा रहे काले धन के संग्रह और और बाल कृषण की हत्या के षड्यंत्र के आरोपों के चलते किसी भी संभावित गिरफ्तारी से बचने के लिए गुजरात में तीन दिन का एकांत वास अपनाया | लेकिन राम लीला मैदान के मंच पर आचार्य बाल कृषण को देश भक्तों की श्रेणी में रख कर पोस्टर टांग दिए गए मीडिया के विरोध के बाद बेशक ये पोस्टर वहां से हटा दिए गए मगर मेसेज तो सत्ता पक्ष तक चला ही गया |
उसके बाद राम लीला मैदान में आज योग गुरु ने आमरण अनशन या अनिश्चित कालीन धरना प्रदर्शन जैसे सत्ता को भड़काने वाले कदम त्याग कर ३ दिन के सांकेतिक उपवास की घोषणा की|कांग्रेस के लिए अपने दरवाजे खुले बताये|
सी बी आई +सी वी सी+सी ऐ जी+और ई सी जैसे महत्वपूर्ण पदों पर नियुक्ति के लिए सत्ता और विपक्ष से सहमति की मांग की| लोक पाल को कानून बनाने के लिए अब कहा की लोक पल बनाओ तो सही बेशक ९९% बनाओ बाकी के संशोधन आते रहेंगे|अन्ना टीम वाली अड़ियल रुख से भी बचते रहे |पूर्व घोषित स्वभिमान पार्टी की घोषणा से भी पलट कर गैर राजनितिक आन्दोलन की बात कर रहे है|अर्थार्त बाबा सभाल संभाल कर फूंक फूंक कर कदम रख रहे हैं
बेशक काले धन का मुद्दा हो +सी बी आई आदि की नियुक्ति हो+लोक पाल हो ये सभी सत्ता पक्ष को सालों से सालते आ रहे हैं ये सारे मुद्दे सरकार में बैठे लोगों को अपने विरुद्ध साजिश लगते रहे हैं तभी अब सत्तानशीनों ने बाबा पर खुल कर हमले करके अपनी मंशा जाहिर कर दी है
कांग्रेस के प्रवक्ता सत्यव्रत चतुर्वेदी ने पूछा है की ये बाबा कौन हैं ? अर्थार्त बाबा को कोई भाव देने की कोई इच्छा नहीं है|
कानून मंत्री ने कहा की राम लीला मैदान पर रामलीला तो हर साल होते है स्क्रिप्ट बदल जाती है|अर्थार्त जैसे पहले की बाबा राम देव की रामलीला को लाठी डंडों से भंग किया गया था वह आप्शन अभी भी खुला है|
दिग्विजय सिंह पहले ही बाबा पर अपने सहयोगी बाल कृषण की ह्त्या के लिए षड्यंत्र रचाने का आरोप लगा कर जेल के दरवाजे खोल चुके हैं