Ad

Category: Crime

हरियाणा के गृह राज्य मंत्री के उत्पीडन से घबराकर एयर होस्टेस ने आत्महत्या की

हरियाणा के गृह राज्य मंत्री गोपाल कांडा के उत्पीडन से तंग घबराकर एक एयर होस्टेस ने पंखे से लटक कर आत्म ह्त्या कर ली |
एम् डी एल आर की पूर्व एयर होयेस्टेस और निदेशक गीतिका शर्मा का आज अशोक विहार स्थित निवास पर पंखे से लटका हुआ शव मिला है वहां से प्राप्त एक सुइसाईद नोट के आधार पर हरियाणा के एक मंत्री गोपाल कांडाके विरुद्ध आई पी सी की धारा ३०६ के अंतर्गत[ आत्महत्या करने के लिए मजबूर करने का] मुकद्दमा दर्ज़ किया गया है
गीतिका के परिवार वालों ने हरियाणा के गृह राज्य मंत्री गोपाल कांडा के ऊपर उत्पीडन के आरोप लगाए हैं| गीतिका एम् बी ऐ है और एम् डी एल आर[सुपरसोनिक] में उसे निदेशक बनाया गया था कुछ समय पूर्व गीतिका ने एम् डी एल आर छोड़ कर दूसरी नौकरी कर ली थी इसीलिए उस पर लगातार वापिस आने के लिए दबाब बनाया जा रहा था एम् डी एल आर एयर लाईन्स गोपाल कांडा की बताई जा रही है

कर्नाटक के ४००० सरकारी डॉक्टरों ने सामूहिक इस्तीफे दिए

कर्नाटक के चार हजार से अधिक सरकारी डॉक्टरों ने शनिवार को सामूहिक इस्तीफे दे दिए हैं । कर्नाटक राज्य मेडिकल ऑफिसर्स एसोसिएशन के सचिव श्रीनिवास के अनुसार , ‘राज्य के विभिन्न हिस्सों में काम करने वाले करीब 4500 डॉक्टरों ने संबंधित जिला स्वास्थ्य अधिकारी को अपने इस्तीफे सौंप दिए हैं। इनकी मांग है कि [१]जिला अस्पतालों को अपने अधीन लेने वाले चिकित्सा शिक्षा विभाग [एमईडी] द्वारा इन्हें वापस जिलों को सौंप दिया जाए।’ इसके अलावा [२]इंसेंटिव को मूल वेतन में जोड़ने के अलावा उनके[३] वेतन को एमईडी के तहत नियुक्त डॉक्टरों के वेतन के बराबर करने की मांग भी की गई है।
प्रदेश के स्वास्थ्य शिक्षा मंत्री अरविंद लिंबाबाली ने एसोसिएशन के सदस्यों को आश्वस्त किया है कि नौ अगस्त की बैठक में उनकी मांगों को मुख्यमंत्री जगदीश शेट्टार के समक्ष रखा जाएगा। लिंबाबाली ने डॉक्टरों से अपने इस्तीफे वापस लेने की अपील भी की है |

सिब्बल जी देसी छात्रों के साथ अमेरिका में वीजा खिलवाड़ बंद कराईये

अमेरिका के कैलिफोर्निया में सन्नीवेल स्थित हरगुआन विश्वविद्यालय के सीईओ जेरी वैंग पर वीजा धोखाधड़ी का आरोप लगाया गया है इससे विश्वविद्यालय के करीब 450 छात्रों का भविष्य अंधकारमय हो गया है। इनमें से अधिकांश भारतीय हैं।एक वर्ष पहले प्रवास संबंधी घोटाले के चलते एक और ट्राई वैली विश्वविद्यालय को अमेरिकी अधिकारियों द्वारा इसी आरोप में बंद किया जा चुका है[ भारत में मानव संसाधन विकास मंत्रालय से इस विषय में हस्तक्षेप करके भारतीय छात्रों का भविष्य बचाने की उम्मीद भी की जा रही है
अमेरिका के संघीय अधिकारियों ने गुरुवार को कैलिफोर्निया में सन्नीवेल स्थित हरगुआन विश्वविद्यालय पर छापा मारकर इसके सीईओ जेरी वैंग को गिरफ्तार कर लिया। उन पर वीजा धोखाधड़ी संबंधी 15 आरोप लगाए गए हैं। ‘द सैन जोस मर्करी न्यूज’ अखबार के मुताबिक जांच अभी जारी है। हरगुआन में दाखिला लेने वाले करीब 450 छात्रों के प्रवास को लेकर अनिश्चितता की स्थिति बनी हुई है। विश्वविद्यालय ने अपनी बेवसाइट पर लिखा है कि श्री वेंग ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है
34 वर्षीय वैंग पर वीजा की खातिर फर्जी दस्तावेज का प्रयोग कर बिना मान्यता वाले विश्वविद्यालय में छात्रों को पढ़ने के लिए लुभाने का आरोप है। आरोपों के साबित होने पर उन्हें 85 वर्ष की जेल हो सकती है और करीब 10 लाख डॉलर [लगभग साढ़े पांच करोड़ रुपये] जुर्माना देना पड़ सकता है। वैंग के माता-पिता पर भी आरोप लगाए गए हैं। उन पर 2007 से 2011 के बीच जाली वीजा दस्तावेज तैयार करने के आरोप हैं। वैंग ने विश्वविद्यालय के छात्रों का नकली वीजा रिकॉर्ड रखने के लिए उनसे टयूशन फीस और अन्य शुल्क लिए थे।
पिछले साल भी इसी तरह के एक मामले में ट्राई वैली विश्वविद्यालय के प्रेसिडेंट सुसान जिआओ-पिंग को विदेशी छात्रों को दाखिला देने के लिए जाली दस्तावेज प्रस्तुत करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। इसमें भी दाखिला लेने वाले अधिकांश छात्र भारत के थे। जांच में पता चला था कि सुसान छात्रों से ट्यूशन फीस ले रहे थे, लेकिन उनके लिए कक्षा में जाना जरूरी नहीं था। वास्तव में इस विश्वविद्यालय के छात्र अमेरिका के विभिन्न हिस्सों में फैले हुए थे। ट्राई वैली में करीब 1500 भारतीय छात्र पढ़ते थे और बाद में इसे बंद कर दिया गया था|
भारत में मानव संसाधन विकास मंत्रालय से इस विषय में हस्तक्षेप करके भारतीय छात्रों का भविष्य बचाने की उम्मीद भी की जा रही है

मूक बधिर बच्चों के लिए ग्रांट नहीं बच्चों का उत्पीडन

मेरठ कैंट के मूकबधिर विद्यालय के कुछ मूकबधिर बच्चों ने हास्टल में उत्पीड़न का आरोप लगाया है।
गूंगे-बहरे कुछ बच्चे मेरठ के बड़े अख़बार दैनिक जागरण के कार्यालय में लिखित शिकायत लेकर पहुंचे जिसमें कहा गया है कि स्कूल में उनसे साफ-सफाई करवाई जाती है। मना करने पर उनकी पिटाई होती है। खाना भी अच्छा नहीं मिलता है। उन्हें कोई मदद करने वाला नहीं है। कुछ बच्चों ने खुद को हास्टल से निकालने की बात कही। कुछ दिन पूर्व कुछ बच्चों के साथ पोलिस द्वारा मारपीट भी की गई थी
ग्रांट चाहिए
स्कूल मेनेजमेंट के अनुसार स्कूल में में इस समय करीब 200 बच्चे हैं। सेंट्रल गर्वनमेंट के करीब 75 फीसदी ग्रांट काफी दिनों से नहीं मिली है। इसकी वजह से हास्टल चलाना मुश्किल हो गया है। स्टाफ को वेतन देने के भी लाले पड़े हुए हैं

टेलीकाम स्पेट्रम की रिसर्व प्राईस २२% कम है =भाजपा

भाजपा ने आज टेलिकाम स्पेक्ट्रम के दामो को टी आर ऐ आई द्वारा घोषित दामों से २२% कम तय किये जाने पर सरकार को कटघरे में घसीटा है \
स्पेक्ट्रम के दाम १८००० करोड़ से घटा कर १४००० करोड़ तय किये जाने को २२% कम दाम बताया गया है राजीव प्रताप रूडी ने आज की प्रेस कांफ्रेंस में केबिनेट के निर्णय पर सवाल उठाये
श्री रूडी ने कहा की प्रधान मंत्री और गृह मंत्री द्वारा ५ एम् एच जेड एयर वेज को [१८०० एम् एच जेड बेंडमें ] के लिए १४००० करोड़ रिसर्व प्राईस तय किया जाना उचित नहीं है| इसके लिए टी आर ऐ आई ने १८००० करोड़ रुपये तय किये हैं|
श्री रूडी ने टेलिकाम मिनिस्टर कपिल सिब्बल से पुछा कि श्री सिबल ने पूर्व में स्पेक्ट्रम वितरण में जीरो लॉस बताया था अगर वोह जीरो लोस था तब अब १४००० करोड़ तय करने का क्या अर्थ है|
२००८ में ऐ राजा द्वारा तय दामो से यह ७ गुना अधिक है|

बेंगलोर में ६०० डाक्टरों ने इस्तीफा दिया

बेंगलोर में ६०० डाक्टरों ने इस्तीफा दे दिया है \वेतन और सेवा सुविधाओं में सुधार को लेकर यह कदम उठाया गया है \अभी अगले हफ्ते तक डियूटी पर रहेंगे

तीन दिन की महामंडलेश्वर राधे माँ निलंबित

गुपचुप तरीके से बनाई गई महामंडलेश्वर राधे माँ को महज़ तीन दिनों के बाद ही इस प्रतिष्ठित पद से निलंबित कर दिया गयाहै |जूना अखाड़े ने आज राधे मां को महामंडलेश्वर पद से निलंबित कर दिया। अखाड़े ने इस बात की जांच के आदेश दिए हैं कि वे इस पद के योग्य हैं या नहीं। जांच पूरी होने तक वह पद से निलंबित रहेंगी। गौरतलब है कि मंगलवार रात को राधे मां को गुपचुप तरीके से जूना अखाड़े का महामंडलेश्वर बना दिया गया था। उनके अचानक महामंडलेश्वर बनने से कई सवाल उठ खड़े हुए थे। आरोप यहां तक लगे कि जूना अखाड़ा ने मोटी रकम लेकर राधे मां को य‌ह पद दिया है।
राधे मां मंगलवार की रात बेहद गुपचुप तरीके से हरिद्वार आई थीं। जूना अखाड़े में आचार्य महामंडलेश्वर और संत अवधेशानंद गिरि की उपस्थि‌ति में उन्हें महामंडलेश्वर पद पर आसीन किया गया था। राधे मां की नियुक्ति के कार्यक्रम को भी जूना अखाड़े ने गुप्त रखा था। माना जा रहा था कि राधे मां प्रयाग महाकुंभ में जूना अखाड़े के महामंडलेश्वर के रूप में भाग भी ले सकती हैं।
पद की महिमा
अखाड़ा परंपरा में महामंडलेश्वर का पद काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। उससे ऊपर सिर्फ आचार्य महामंडलेश्वर होते हैं। कुंभ और दूसरे धार्मिक आयोजनों में महामंडलेश्वर को काफी महत्व दिया जाता है। वे हाथी अथवा रथ पर सवार होकर अपने शिष्यों के साथ स्नान के लिए निकलते हैं। उन्हें संतों के साथ स्नान करने का अवसर भी मिलता है। हरिद्वार में लगभग 20 महिला महामंडलेश्वर हैं। पिछले कुंभ में कुछ विदेशियों को भी अखाड़ों द्वारा महामंडलेश्वर का सम्मान दिया गया था
राधे मां’ की सच्चाई
राधे मां को महामंडलेश्वर बनाए जाने के बाद जूना अखाड़ा सवालों के घेरे में आ गया था। मीडिया से बातचीत में अखाड़े के राष्ट्रीय मंत्री श्रीमहंत हरि गिरि महाराज ने कहा था कि राधे मां को अखाड़ों की परंपरा के अनुसार महामंडलेश्वर बनाया गया है।रात में नियुक्ति की बाबत उन्होंने कहा था कि अखाड़े पहले भी रात में महामंडलेश्वर बनाते रहे हैं। इसके लिए केवल शुभ मुहूर्त देखा जाता है। केवल कुंभ में ही महामंडलेश्वर बनाने की परंपरा नहीं है। उन्होंने बताया था कि किसी भी संत को महामंडलेश्वर की उपाधि देने से पहले उससे हलफनामा लिया जाता है, जिसमें वह अपने जीवन की सभी बातें बताता है। राधे मां के मामले की जांच के लिए अखाड़े ने 11 संतों की जांच कमेटी बनाई है।

घर में देसी घी की पेकिंग

शुक्रवार देर रात मेरठ के कंकर खेडा श्रधा पूरी ई ब्लॉक स्थित एक घर पर छापा मारते हुए सीओ कैंट ने देसी घी की फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है। मौके से बरामद लगभग 125 किलो देसी घी नकली बताया जा रहा है।
इस मामले में एक दंपति को हिरासत में लिया गया है।
मकान में नकली घी बनाकर उनकी नामी कंपनियों के नाम से पैकिंग की जाती है। प्राप्त सूचना के आधार पर मारे गए इस छापे में लगभग 125 किलो नकली देसी घी बरामद किया गया, जिनकी तीन बड़ी कंपनियों के नाम से पैकिंग की जा रही थी। घर से एक दंपति को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। खाद्य विभाग को इस संबंध में जानकारी दे दी गई है। जांच के बाद ही आधिकारिक रूप से पता चल पाएगा कि बरामद घी नकली है या असली।

आर एस एस ने पी एम् पर साधा निशाना

राष्ट्रीय स्वयम सेवक संघ [आर एस एस] ने आज प्रधान मंत्री डाक्टर मन मोहन सिंह पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाये हैं
राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ने अपने मुखपत्र ‘आर्गेनाइजर’ के संपादकीय में लिखा गया है कि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की नाकामियों की फेहरिश्त लंबी होती जा रही है और वह अपनी असफलताओं का जश्न मनाने में व्यस्त हैं। संघ ने कहा कि इंतहा यह है कि देश में बदइंतजामी, भ्रष्टाचार और कुप्रबंधन के दोषी नेताओं को दंडित करने का कोई जरिया नहीं रह गया है |सुशील कुमार शिंदे को गृहमंत्री और पी चिदंबरम को वित्‍तमंत्री बनाए जाने पर नाराजगी जताते हुए कहा गया है कि 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले में संदेह के घेरे में आए चिदंबरम को वित्त मंत्री और देश की बत्‍ती गुल होने के तुरंत बाद सुशील कुमार शिंदे को गृहमंत्री बनाए जाने से यह सच्चाई सामने आ गई है कि प्रधानमंत्री खुद भ्रष्टाचार में शामिल हैं।
संघ का मानना है कि भ्रष्टाचार केवल व्यक्तिगत लाभ प्राप्त करना ही नहीं होता बल्कि सार्वजनिक जीवन में कोई भी ऐसा कार्य जिससे देश को आर्थिक, सामाजिक, राजनीतिक एवं नैतिक रूप को नुकसान पहुंचे, भ्रष्टाचार के दायरे में आता है।
संघ के अनुसार ऊर्जा मंत्री के रूप में शिंदे का कार्यकाल बहुत ही खराब रहा है लेकिन राजनीतिक हथकंडों का इस्तेमाल कर वह ऊंची कुर्सियां हासिल करने में सफल रहे।

सत्तर हज़ार पाकिस्तानी कर्मियों को वेतन नहीं मिला

भारत और पकिस्तान के लेखा परीक्षकों का भविष्य लगता है की समान ही है भारत में समान वेतन के लिए लड़ाई जारी है तो पडोसी मुल्क में वेतन के लिए ही मारामारी है |भारत में अभी हाल ही में पी एम् ओ एक ज्ञापन दिया गया था जिसमे वेतन विसंगतियों को दूर किये जाने की मांग की गई थी अब पाकिस्तान में लेखा परीक्षकों की हड़ताल के कारण करीब 70,000 सरकारी कर्मचारियों को सैलरी नहीं मिला। समाचार पत्र डॉन के अनुसार, ऑडिटर जनरल ऑफ पाकिस्तन रेवेन्यू (एजीपीआर) कर्मचारियों के हड़ताल पर चले जाने के कारण ऐसा हुआ है|
इस महीने एजीपीआर ने सैलरी की शीट नहीं बनाई है।
कि रमजान का महीना शुरू हो गया है, जिसके कारण लोगों को अतिरिक्त खाद्य पदार्थ और फल खरीदना पड़ रहा है। इससे लोगों पर अतिरिक्त वित्तीय बोझ बढ़ रहा है, लेकिन इस महीने का सैलरी नहीं मिलने के कारण हम अधिक समस्याओं का सामना कर रहे हैं