Ad

Category: Unrest Strikes

पंजाब में कांग्रेसी सरकार के खिलाफ एक नवंबर से अकालियों का धर्मयुद्ध

[चंडीगढ़,पंजाब]पंजाब में कांग्रेसी सरकार के खिलाफ एक नवंबर से अकालियों का धर्मयुद्ध|पंजाब में एक बार फिर धर्म असंतोष उभरने लगा है|इस बार कक्षा १२ के पाठ्यक्रम में शामिल किताब में सिख धर्म गुरुओं के इतिहास को तोड़ने मरोड़ने के आरोप लगाए गए हैं |
पंजाब में कांग्रेस की सरकार के खिलाफ अकालियों ने एक नवम्बर से धर्म युद्ध छेड़ने का एलान किया है
सुखबीर सिंह बादल ने प्रेस कांफ्रेंस में प्रदेश में कांग्रेस के कैप्टेन अमरिंदर सिंह की सरकार पर सिख गुरुओं के इतिहास को तोड़ने मरोड़ने के आरोप लगाए हैं |इस प्रेस कांफ्रेंस में पार्टी प्रवक्ता वरिष्ठ अकाली डॉ दलजीत सिंह चीमा ने कक्षा १२ में पढ़ाये जाने वाले सिख गुरुओं के इतिहास से की गई छेड़छाड़ का चैप्टर+पेज ब्योरा भी दिया |उन्होंने बताया के इस इतिहास में गुरु अर्जुन देव की शहादत को ही नकार दिया गया है ||अकाली न्रेतत्व ने मुख्य मंत्री को माफ़ी मांगने और दोषी इतिहास कारों को दंडित करने की मांग की है इसके लिए दो दिन का अल्टीमेटम दिया गया है|
पंजाब के पूर्व उप मुख्य मंत्री और एस ऐ डी के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने अपने ट्विटर हैंडल पर भी अंग्रेजी में लिखा है
“Sikh qoum demands apology from CM @capt_amarinder & arrest of experts who wrote &govt officials who released class 12 history book with distorted references to Sikh Gurus & Granths.If this not done & book not withdrawn in 2 days qoum will start agitation against Cong sin on Nov1.”

Ravi Shanker Prasad Hits Out at Tharoor Over Shiv Linga Remarks

[New Delhi]Ravi Shanker Prasad Hits Out at Tharoor Over Shiv Linga Remarks
The BJP’s this reaction came a day after Tharoor reportedly claimed an unnamed RSS source had told a journalist that Prime Minister Modi was like a scorpion sitting on a Shiv Linga who cannot be removed by hand or hit with a chappal (slipper).
Prasad said while he would not like to comment on Tharoor’s remarks “against whom a charge sheet has been filed in a murder case”, but he would like to know where Rahul Gandhi, who claims to be a Shiv Bhakt, stands on the issue.
Tharoor had made these remarks Saturday while speaking at the Bengaluru Literature Festival on his recently launched book “The Paradoxical Prime Minister: Narendra Modi And His India”.

सुखबीर बादल ने अजनाला के विरुद्ध नीवांसोगौरां”का प्रदर्शन किया

[चंडीगढ़,जालंधर, अमृतसर]अकाली दल के अध्यक्ष #सुखबीरसिंहबादल ने नए असन्तुष्ट टकसाली रत्न सिंह अजनाला की उग्रता के जवाब में जो “नीवांसोगौरां” के उपदेश का प्रदर्शन किया और वरिष्ठ नेता के विरुद्ध विनम्रता से यह कहते हुए इनकार कर दिया के अजनाला उनके बुजुर्ग हैं और वे[सुखबीर] खुद उनके पास जा सकते हैं|अजनाला सीनियर हैं यदि कहेंगे तो एसऐडी की अध्यक्षता छोड़ने को भी तैयार हैं |गौरतलब हे के कांग्रेसी केबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू शुरू से ही टकसाली नेताओं को बादलों के विरुद्ध उकसा रहे हैं
और चीफ मिनिस्टर कैप्टेन अमरिंदर सिंह एस जी पी सी से बादलों के वर्चस्व को खत्म करने की मुहीम छेड़े हुए हैं| सम्भवत इसीलिए
टकसाली अकाली रत्न सिंह अजनाला के भी बादल परिवार के खिलाफ सुर बुलंद होने लगे हैं
इसके एक दिन पश्चात् स्थिति को संभालने के प्रयास में शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने धार्मिक स्थल से पत्रकारों के समक्ष कहा के अजनाला उन परिवार के बजुर्ग सदस्य हैं अगर कहेंगे तो वह अपनी प्रधानी छोड़ने को भी तैयार हैं |सुखदेव सिंह ढींडसा+रंजीत सिंह ब्रह्मपुरा भी बादलों का साथ छोड़ चुके हैं बादल ने इस नाराजगी को दूर करने के लिए शीघ्र टकसाली नेताओं से बातचीत करने के भी संकेत दिए
बीते दिन टकसाली अजनाला ने बादल पर परिवारवाद बढ़ाने के आरोप लगते हुए कहा था के वर्करों के बजाय राज्य और केंद्र में पुत्र +पुत्रवधु को ही मंत्री पद दिए गए |इसे लेकर उन्होंने माझा+मालवा+दोआबा में अकाली बचाओ मुहीम छेड़ने की चेतावनी दी है

Rahul Gandhi Tweets Modi With “CBI”

[New Delhi]Rahul Gandhi Hits Modi With “CBI”
In an unprecedented move, the agency has booked its special director for allegedly receiving bribes from middlemen to give relief to a businessman being probed by him in a case involving meat exporter Moin Qureshi, officials had said Sunday.
Congress president Rahul Gandhi Monday alleged the CBI was being used as a “weapon of political vendetta” under the Modi government and that the premier investigation agency was on a terminal decline and “at war with itself”.
Taking to Twitter, he cited a media report where the Central Bureau of Investigation’s (CBI) second in command Rakesh Asthana has been named as an accused in a bribery case.
Congress chief and his party has been attacking PM over the appointment of Asthana as CBI special director.

Onion Rising to Topple Govt? :Wholesale Market SkyRocketing

[New Delhi] Onion Rising Again to Topple Govt? :Wholesale Market Shoots Up
Wholesale onion prices in the national capital have shot up to Rs 23 per kg in last ten days on tight supplies from producing states
A similar increase was seen in the retail markets, where the kitchen staple was quoted in the range of Rs 30-40 per kg depending on the quality and locality.
Meanwhile at Lasalgoan in Nasik district of Maharasthra, Asia’s largest wholesale market for onion, prices skyrocketed to Rs 21-22 per kg on reports of a possible drop in the kharif output of the bulb crop because of heat wave in the state.
Their are Eleven major onion producing states

महात्मा गाँधी को श्रद्धांजलि देने के लिए १९४७ के बंटवारे में हुई गलती को सुधारो

महात्मा गाँधी को श्रद्धांजलि देने के लिए १९४७ के बंटवारे में हुई गलती को सुधारो

महात्मा गाँधी को श्रद्धांजलि देने के लिए १९४७ के बंटवारे में हुई गलती को सुधारो

[नई दिल्ली ] महात्मा गाँधी को श्रद्धांजलि देने के लिए १९४७ के बंटवारे में हुई गलती को सुधारो
महात्मा गांधी बने मोहन दास की आज जयंती है सो सबको बधाई| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी+विपक्ष के श्रीमती सोनिया गाँधी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी इनकी समाधि पर श्रद्धा सुमन अर्पण कर स्वयं को धन्य कर रहे हैं |
विलायत पास मोहन दास ने आधी धोती और एक कमजोर सी लाठी लेकर अपने मुल्क में शक्तिशाली अंग्रेजों के खिलाफ आजादी की मुहीम छेड़ी |
लेकिन इसके साथ ही 1947 में एक गलत निर्णय लेकर बिना किसी तैयारी के देश का बंटवारा स्वीकार कर लिया
यह विभाजन सबसे बढ़ी त्रासदी के रूप में सामने आया| बंटवारे से दोनों तरफ के लाखों भारत वासियों के जान माल को हानि पहंची | दोनों तरफ के दबंगों ने संपत्ति की लूट मचाई लेकिन इसके पश्चात् भारत में पुनर्वास के लिए तैनात अधिकारीयों ने भी कोई कसर नहीं छोड़ी |दोनों तरफ के विस्थापितों द्वारा अपनी चल अचल सम्पत्ति को त्याग कर दूसरे अनजान देश में असहाय जाना पढ़ा
इनको अचल सम्प्पति को एक दुसरे की संपत्ति से एडजस्ट किया गया |मसलन पाकिस्तान में छोड़ कर आये हिन्दुओं की सम्पत्ति को भारत में छोड़ी गई मुस्लिमों की सम्पत्ति से एडजस्ट किया गया |यह सब सरकारी स्तर पर हुआ |लुटे पिटे आये हिन्दुओं ने अपनी रोजी रोटी के जुगाड़ में जुट गए ऐसे अधिकांश लोगों को केवल कागजों में ही संपत्ति दी गई और कुछ समय पश्चात् उसे भी कागजों में ही निरस्त कर दिया गया |पकिस्तान में छोड़ी गई सम्पत्ति की एवज में भारत में मुआवजा लेने के पश्चात् भी पीड़ितों को नहीं दिया जाना किसी भी सामाजिक आर्थिक और कानूनी अपराध से कम नहीं आंका जा सकता मगर दुर्भाग्य से इस अपराध पर पर्दा डालने के लिए २००५ में काला एक्ट ला कर इस व्यवस्था को ही समाप्त कर दिया गया| प्रधान मंत्री और हरियाणा +पंजाब के मुख्य मंत्रियों द्वार संचालित ग्रीवांस सेल्ल भी कोई न्याय नहीं दिला पा रहे हैं |इसी के नतीजतन शिकायतें केवल कम्प्यूटरों में रखे हैं और आज भी बढ़ी संख्या में पीड़ित अदालतों और ओल्ड लैंड रिकॉर्ड कार्यालय में चक्कर लगा रहे हैं |
गलती पर पर्दा डालने को आज भी हजारों पीड़ितों को उनके हक के रिहैबिलिटेशनक्लेम से वंचित रखा जा रहा है
इसी एक महा गलती को सच्चे मन से सुधार कर बापू को सच्ची श्रद्धांजलि देनी होगी |
फाइल फोटो

सुषमा स्वराज के पाक के खिलाफ तीखे तेवर:विदेश मंत्रियों की बैठक बीच में छोड़ी

[न्यूयोर्क] सुषमा स्वराज के पाक के खिलाफ तीखे तेवर:विदेश मंत्रियों की बैठक बीच में छोड़ी
भारत की विदेश मंत्री श्रीमती सुषमा स्वराज पाकिस्तान की उपेक्षा करते हुए दक्षेस देशों के विदेश मंत्रियों की बैठक बीच में ही छोड़ कर चली गईं। बैठक में पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी भी आए थे।
विदेश मंत्री अपना बयान देने के बाद बैठक से जल्दी चली गई। इसके बाद कुरैशी ने उनकी आलोचना करते हुए पत्रकारों से कहा, ‘‘नहीं, मेरी उनसे (स्वराज) कोई बात नहीं हुई। सकारात्मक तौर पर मैं कह सकता हूं कि वह बैठक के बीच से ही चली गयीं, शायद उनकी तबीयत ठीक नहीं रही होगी।’’
अफगानिस्तान और बांग्लादेश के विदेश मंत्री भी चले गए थे।
भारत ने जम्मू कश्मीर में तीन पुलिसकर्मियों की क्रूर हत्या और इस्लामाबाद द्वारा कश्मीरी आतंकवादी बुरहान वानी का ‘‘महिमामंडन’’ करने वाली डाक टिकटें जारी करने का हवाला देते हुए गत सप्ताह बैठक रद्द कर दी थी।

कांग्रेस के साथ ही चुनाव आयोग भी पंजाब में लोक तंत्र का हत्यारा:वरिष्ठ बादल

[चंडीगढ़,पंजाब] कांग्रेस के साथ ही चुनाव आयोग भी लोक तंत्र का हत्यारा:वरिष्ठ बादल
पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री [बाबा बोड] प्रकाश सिंह बादल ने राज्य में बुधवार को हुए जिला परिषद और पंचायत समिति के चुनावों को ‘लोकतंत्र की नृशंस और दिन दहाड़े हत्या’ करार दिया।
बादल ने कहा कि 19 सितंबर 2018 को पंजाब में लोकतंत्र के लिए ‘सबसे काले दिनों में से एक’ रूप में याद किया जाएगा जब कांग्रेस ने ‘बिहार के सबसे बुरे समय के जैसी’ स्थितियां राज्य में भी पैदा कर दीं।
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि यह ‘‘बेहद दर्दनाक और खेदजनक’’ था कि राज्य चुनाव आयोग ने कल अपनी संवैधानिक जिम्मेदारी पूरी तरह त्याग दी।
गौरतलब हे के २२ जिला परिषद और १५० पंचायत समितियों के लिए हुए चुनावों में बढ़ी संख्या में गड़बड़ियों के आरोप लगे हैं
जिसके फलस्वरूप ८ जिलों की परिषद और पंचायत समितियों के ५० बूथों पर पुनः मतदान करवाया जा रहा है|अमृतसर +मोगा+फाजिल्का+पटिआला + फरीदकोट +बठिंडा+
लुधियाना+मुक्तसर आदि में चुनाव दुबारा होने हैं |इससे पूर्व अकाली नेताओं ने नामांकन के समय अपने नुमायंदे निर्विरोध चुनवाने के लिए कांग्रेस पर धक्केशाही का भी आरोप लगाया है

Cong Demands Withdrawal Of Stamp Duty Hike in Haryana

[Chd,Haryana] Congress Demands Withdrawal Of Hike in 65 Stamp Duty
Randeep Singh Surjewala has demanded immediate withdrawal of “steep hike” in 65 types of stamp duty services in Haryana.
He said recently “massive hike” has been effected in
agreement deed,
power of attorney and partnership deed.
“By effecting massive hike in the stamp duty rates for 65 types of deeds
This, the MLA from Kaithal claimed, was due to fallacious policies of the BJP governments at the state and the Centre.
Notably, the Indian Stamp (Haryana Amendment) Bill, 2018 was passed by the state Assembly recently to revise the rates of stamp duty of small denominations fixed since 1967.
Congress Spokesperson Surjewala said the Khattar government has imposed a massive 267 per cent increase in partnership deed stamp duty while increasing it from Rs 3.75 to Rs 1,000 and 889 per cent increase in stamp duty for agreement deeds by increasing it from Rs 2.25 to Rs 2,000.
“Similarly, the stamp duty for power of attorney has been increased by 333 per cent by increasing this duty from Rs 300 to Rs 1,000. For power of attorney, a person will now have to shell out Rs 100 instead of Rs 37.50,”

BJP Cuts Sidhu,s Laugh For Speaking as Pak Agent

[New Delhi]BJP Cuts Sidhu,s Laugh For Hugging Pak General Bajwa
The BJP Tuesday accused Congress leader Navjot Singh Sidhu of demeaning India and speaking as an agent of Pakistan by attempting to “justify” hugging Pakistani Army chief Qamar Javed Bajwa and claiming that Pakistan is willing to allow Sikh pilgrims access to a gurudwara on its territory.
At a press conference, BJP spokesperson Sambit Patra also demanded a response from Congress president Rahul Gandhi over the issue, saying Sidhu has been speaking on the matter with his permission as Punjab Chief Minister Amarinder Singh has already condemned him over his conduct in Pakistan during the swearing-in ceremony of Imran Khan recently.
He also accused Sidhu of meeting External Affairs Minister Sushma Swaraj deceptively as she had given appointment to former Union minister M S Gill with whom, Patra alleged Sidhu tagged along.
The BJP spokesperson said Swaraj reprimand Sidhu in their meeting on Monday for his conduct in Pakistan.
Defence Minister Nirmala Sitharaman said Tuesday that Sidhu’s gesture of hugging Pakistan’s army chief impacted soldiers back home and asserted that the Punjab minister could have “avoided it”.
Sidhu had courted controversy by hugging Bajwa during his visit to Pakistan for the swearing-in of Imran Khan as Prime Minister. He had claimed that he did so as Bajwa told him that the Pakistan government was working for opening of the Kartarpur corridor for Sikh pilgrims from Indian state of Punjab.
Sidhu Monday met Swaraj and urged her to help initiate dialogue with Pakistan on the opening up of the Kartarpur Sahib corridor.
Union minister and Akali leader Harsimrat Kaur Badal, however, claimed that Swaraj “reprimanded” Sidhu for “messing up” the issue of the Kartarpur Sahib corridor dialogue and accused him of “misusing” the political clearance granted to him in visiting Pakistan recently.