Ad

Category: Unrest Strikes

मुम्बई लोकल ट्रेन हड़ताल वापिस

मुंबई की लोकल ट्रेन स्ट्राईक वापिस ले ली गई है\सी पी आर ओ शरत चान्द्रायण ने अभी अभी एन दी टी वे को बताया है कि हड़ताल वापिस ले ली गई है|
उल्लेखनीय है कि सहायक ड्राइवर और अवकाश आदि कि मांगों पर व्यस्थापकों के टालम टोल रवैये से तंग आकर १८० ड्रायवर छुट्टी पर चले गए इससे विरार से चर्च गेट तक कि लोकल ट्रेन ठप्प हो गई हज़ारों कि संख्या में यात्री रेलवे स्टेशनों पर फंस गए |सडकों पर अतिरिक्त बसें चलाने का प्रयास किया गया मगर सडकों पर ट्रेफिक जाम लगने लगे अर्थार्त मुम्बई थम सी गई |स्टेशनों पर भीड़ के उग्र तेवरों से कानून व्यवस्था की समस्या होने की नौबत आ गई इतने में ही सी पी आर ओ शरत की शाम सवासात बजे के बाद आवाज़ एन डी टी वी चेनल पर सुनाई दी उन्होंने बताया की हड़ताल वापिस हो गई है लगभग ८ बजे तक ट्रेन चलने लगेंगी

मुम्बई में लोकल ट्रेन व्यवस्था ठप्प हो गई है

मुम्बई में लोकल ट्रेन व्यवस्था ठप्प हो गई है |हज़ारों यात्री विरार से चर्च गेट तक फंसे हुए हैं|आफिस से लौटने वल्ले यात्रियों की तादाद स्टेशनों पर बड़ती जा रही है \एक ट्रेन में यात्री ठूस्से हुए है मगर ट्रेन अपनी जगह ही खड़ी है|
सहायक ड्रायवर की मांग को लेकर पुरानी मांगे ना माने जाने से १८० ड्रायवरों ने हड़ताल कर दी है इससे वेस्टर्न रेलवे की लोकल ट्रेन व्यवस्था ठप्प हो गई है\यद्यपि मेनेजमेंट और हडतालियों के बेच बात चीत चल रही है मगर मेनेजमेंट पहले हड़ताल वापिस लिए जाने पर अड़ा है |लोकल बस सेवा बी ई एस टी ने अपने चक्कर बड़ा दिए हैं मगर यह अपर्याप्त दिखाई दे रहे हैं|
इससे पूर्व पायलटों की हड़ताल तोड़ने के लिए भी हड़ताल वापिस लेने की शर्त रखी गई थी जिसके कारण आज तक समस्या बनी हुई है\

मारुती सुजुकी का शेयर गिरा

मारुती सुजुकी देश की सबसे बड़ी और अब तक की सफल मोटर कंपनी है|इसके शेयर आज १०९.३० पैसे गिर कर बंद हुए |ऐसा मानेसर स्थित कंपनी में हड़ताल और आगजनी के कारण हुआ |बीते दिन एक वर्कर और सुपरवाईज़र के बीच किसी काम को लेकर गर्म बहस के बाद एक वर्कर को बर्खास्त किये जाने से वर्कर भड़क गए और कंपनी के मानेसर स्थित प्लांट में चार जगह आग लगा दी गई इससे एक वरिष्ठ अधिकारी अवनीश कुमार देव की जलने से मौत हो गई और ८०के लगभग घायल हो गए\
पोलिस ने अब तक ९९ दोषिओं को अरेस्ट कर लिया है और शेष के लिए दबिश जारी है|
हरियाणा सरकार के मंत्री आर सुरजेवाला और चीफ सेक्रेटरी ने कड़ी कार्यवाही का आश्वासन दिया है|फिलहाल ५.५ लाख यूनिट प्रोडक्शन में सक्षम यह प्लांट फ़िलहाल बंद कर दिया गया है\

अन्ना हजारे को पी एम् ओ ने भेजा धन्यवाद[बधाई] सन्देश

अन्ना हजारे टीम को पी एम् ओ ने जन लोक पल पर धन्यवाद भेजी है |पी एम् ओ राज्यमंत्री सामी ने आज पत्रकारों को बताया कि जन लोक पल बिल पर काम जारी है इसे पास करने का अधिकार केवल संसद के पास ही है|२५ जुलाई को अन्ना हजारे टीम के जंतर मंतर पर अनशन से पहले ही इस बधाई [धन्यवासन्देश को भिजवा दिया गया है\इसके अलावा टीम कि महत्वपूर्ण सदस्या किरण बेदी को भी क्लीन चिट दी जा चुकी है

व्यवस्था परिवर्तन के लिए बाबा और अन्ना छेड़ेंगे अगस्त क्रान्ति

लोक पाल बिल और काला धन मुद्दे पर आज फिर बाबा राम देव और अन्ना हजारे ने क्रांति की युगल तान छेड़ी| पुणे में एक प्रेस कांफ्रेंस में इन दोनों समाज सेविओं ने सधी हुई संक्षिप्त भाषा में सरकार को भ्रष्ट और धोके बाज़ बता कर व्यवस्था परिवर्तन के लिए देशव्यापी आन्दोलन छेड़े जाने का ऐलान कर दिया है|आज कि इओस प्रेस कांफ्रेंस में बाबा रामदेव ही हावी रहे अन्ना हजारे थोड़ा बैक फुट पर ही दिखाई दिए
इस उद्देश्य की प्राप्ति के लिए २५ जुलाई को जंतर मंतर पर प्रदर्शन होगा उसके पश्चात ९ अगस्त के क्रान्ति शुरू की जायेगी|इन दोनों अवसरों पर बाबा राम देव और अन्ना हजारे साथ साथ होंगे|अगस्त क्रान्ति के लिए पूरे देश से समर्थन जुटाने कि बात भी कही गई |
भ्रष्टाचार और काले धन के विषय में सरकार कि नियत भी साफ़ नहीं है
अपने सभी पुराने आरोपों को दोहराते हुए अन्ना हजारे ने कहा की कमेटियों से लेकर संसद तक में लोक पाल बिल पर धोका दिया गया \प्रधान मंत्री ने लिखित में आश्वासन दिया मगर बाद में अपने वादे से पलट गए |पहले १४ मंत्री भ्रष्ट थे अब प्रधान मंत्री भी भ्रष्ट मंत्रिओं की सूची में शामिल हो गए है| इसीलिए कोई कार्यवाही नहीं हो रही यदि जन लोकपाल बिल लाया गया तो सरकार की आधी केबिनेट जेल में होगी | भ्रष्टाचार और काले धन के विषय में सरकार कि नियत भी साफ़ नहीं है इसीलिए निष्पक्ष संस्था से जांच नहीं कराई जा रही सी बी आई को उन्होंने जेबी संथा बताया
|भ्रष्टाचार और काले धन से ही देश में महंगाई भी बढ रही है
बाबा रामदेव ने बताया कि ऍफ़ डी आई के माध्यम से काला धन देश में आ रहा है |भ्रष्टाचार और काले धन से ही देश में महंगाई भी बढ रही है|आदिवासियों कि उपजाऊ जमीन कब्जा कर उन्हें बर्बाद किया जा रहा है|इन दोनों समाज सेविओं ने सरकार को धोके बाज़ बताते हुए सरकार पर से भरोसा उठ जाने कि भी बात कही |
व्यवस्था परिवर्तन के लिए आन्दोलन या क्रान्ति बेहद आवश्यक बताते हुए बाबा रामदेव और अन्ना हजारे ने कहा कि २५ जुलाई को प्रदर्शन किया जा रहा है और अगर सरकार नहीं चेती तो अगस्त क्रान्ति होगी
चुनाव लड़ने पर अगस्त में स्थिति स्पष्ट कि जायेगी
आज इस प्रेस कांफ्रेंस में दोनों विशेष कर बाबा राम देव किसी भी विवादस्त ब्यान या स्पष्टीकरण से बचते रहे | यहाँ तक की चुनावों में सक्रिय भूमिका पर पूछे गए प्रश्न का उत्तर देने से बचते रहे | भी बाबा बचते रहे\राजनीती में चुनाव लड़ने के प्रश्न को उन्होंने अगस्त तक टाल दिया एक पत्रकार ने जब एक प्रशन को टाले जाने पर पारदर्शिता अपनाने कि बात कही तो अन्ना ने हसंते हुए कहा कि हर जगह पारदर्शिता का ढिंढोरा पीटने से जेल हो जाते है समय आने पर पारदर्शिता भी अपनाई जायेगी

दिल्ली हाई कोर्ट=४ सप्ताह में बर्खास्त १०१ पायलटों की समस्या का समाधान करो

अदालत के आदेश पर एयर इंडिया के पायलटों की हड़ताल तो खत्म हो गई मगर बर्खास्त किये गए १०१ पायलटों की वापिसी पर कोई निर्णय नहीं हुआ हैइस पर दिल्ली की हाई कोर्ट ने इस पर कड़ी आपत्ति जताते हुए ४ सप्ताह में इशु को सेटल करने को कहा है|
जस्टिस रेवा खेत्रपाल ने खेद व्यक्त करते हुए कहा है की कोर्ट को आश्वासन देने के बावजूद अभी तक इसका निबटारा नहीं किया गया है
इसके लिए समय सीमा तय की जानी चाहिए |जस्टिस की टिपण्णी के अनुसार सिविल एविअशन केक लेकर खुद ही खाना चाहते है
इससे पूर्व ९ जुलाई को दिल्ली हाई कोर्ट ने दोनों पक्षों से डिप्टी लेबर कमिश्नर से समस्या के हल होने तक रोज़ाना बात चीत करने को भी कहा था

१०१ बर्खास्त पायलटों की वापिसी पर अभी तक कोई निर्णय नहीं

न्यायालय के आदेश से एयर इंडिया के पायलटों की ५८ दिन पुराने रिकार्ड मेकिंग स्ट्राईक तो कब की खत्म हो गई मगर अभी तक १०१ बर्खास्त पायलटों के विषय में कोई निर्णय नहीं लिया जा सका है जिसके फलस्वरूप अन्तराष्ट्रीय फ्लाइट्स पर असर पड़ना स्वाभाविक है|
वर्तमान में यह राष्ट्रीय केरियर ४५ में से केवल ३८ फ्लाईट्स ही ओपरेट कर पा रही है अब अक्टूबर से शरद ऋतू में अच्छा सीजन शुरू होगा ऐसे में पायलटों की कमी से व्यापार पर प्रभाव पड़ना लाजमी है|सिविल एविअशन नियमों के अनुसार शरद ऋतू में कमसे कम एक माह पूर्व पायलट को फ्लाईट्स के विषय में जागरूक किया जाना जरुरी है इसीलिए बर्खास्त पायलटों के विषय में जल्द निर्णय लिया जाना जरुरी हो गया है\घाटे में चल रही और बैल आउट पैकेज पर निर्भर इस एयर इंडिया के मेनेजमेंट से कार्यवाही में तेज़ी की उम्मीद तो की ही जानी चाहिए |