Ad

Category: Economy

मनरेगा यौजना गावों में स्टेबिलाईज़र का काम करेगी= मोंटेक

डाक्टर मन मोहन सिंह के मुख्य प्लानर मोंटेक सिंह अहलुवालिया ने भी मानसून की बेरुखी का रोना रोते हुए विकास दर ६% तक रहने की बात कही है|बेशक कृषि में हालत ठीक नहीं होंगे मगर इंडस्ट्रियल विकास की अच्छी उम्मीद है|
प्लानिंग कमीशन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री मोंटेक ने देश को भरोसा दिलाया है की बेशक मानसून की कमी से कृषि पर प्रभाव पडेगा मगर मनरेगा यौजना गावों में स्टेबिलाईज़र का काम करेगी इससे गावों में बेरोजगारों को काफी राहत मिलेगी|
गौरतलब हे की सरकारी छेत्रों में बारिश में १९ % की कमी स्वीकार की जारही है इसका असर कृषि पर पड़ना लाज़मी है बेशक आगामी दो माह में पर्याप्त बारिश के अनुमान लगाये जा रहे हैं मगर बुआई का समय तो निकल ही जाएगा

I

एयर इंडिया के बेड़े में नए २७ बोईंग ड्रीम लाईनर्स शामिल होंगें

केबिनेट कमिटी ने २७ बोईंग ७८७ ड्रीम लाईनर को खरीदे जाने के नागरिक उड्डयन मंत्रालय के प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी है जबकि पुराने करार पर खरा नहीं उतरने पर कंपनी से हर्जाना वसूले जाने पर अभी तक कोई सहमती नहीं बन पाई है|पहले जहाजों की डिलीवरी ९/२००८ से १०/२०११ के बीच दी जानी थी अब ६/२०१२ से ३/२०१६ की अवधि तय की गई है|

सेंसेक्स 26 अंक और निफ्टी 12 अंक गिरकर बंद हुए।

सेंसेक्स 26 अंक गिरकर 17,197.93 और निफ्टी 12 अंक गिरकर 5215.70 पर बंद हुए।
आज अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में कमजोरी के चलते बाजार गिरावट के साथ खुले। निफ्टी ने 5200 के स्तर के नीचे शुरुआत की। शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स ने 100 अंक का गोता लगाया। अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये के 56 के नीचे फिसलने से भी बाजारों का खराब रेस्पोंस दी
खराब अंतर्राष्ट्रीय संकेतों के अलावा घरेलू अर्थव्यवस्था से जुड़ी निराशाजनक खबरों से भी बाजारों का हौसला कम हुआ। यूरोपीय बाजारों के हल्की मजबूती पर खुलने से घरेलू बाजार निचले स्तरों से संभलते दिखे। उम्मीद से बेहतर सर्विस पीएमआई की वजह से यूरोपीय बाजारों में जोश नजर आया

जेट एयरवेज ने लाभ दर्ज कराया

लगातार घाटे में जा रही निजी विमानन कंपनी जेटएयरवेज ने जून समाती की तिमाही के लिए ३६.४ करोड़ का शुद्ध लाभ दर्ज कराया है|पिछले वर्ष इसी तिमाही के लिए सवा सौ करोड़ से अधिक की हानि दर्ज कराई गई थी |कंपनी के अनुसार रुपये के अवमूल्यन के कारण लाभ कम हुआ है|

पाकिस्तान द्वारा भारत में बैंकिंग की इच्छा जताई गई

भारत और पाकिस्तान में आर्थिक और व्यापारिक सम्बन्ध सुधारने की दिशा में पाकिस्तान द्वारा भारत में बैंकिंग छेत्र में परिचालन की इच्छा जताई गई है |
पाकिस्तान बैंक गवर्नर यासीन अनवर द्वारा नॅशनल बैंक आफ पकिस्तान और यूनाईटेड बैंक लिमिटेड को भारत में परिचालन की इजाज़त दे दी गई है
भारत में पाकिस्तानी निवेश को इज्ज़ज़त दिए जाने के बाद यह सकारत्मक जवाब पाकिस्तान से आया है|
अभी हाल ही में अमेरिकी बैंक एच एस बी सी के प्रकरण से सीख लेते हुए आर बी आई द्वारा विदेशी बैंको पर वाच डॉग का कार्य करना लाज़मी होगा

रुपया और सेंसेक्स शुरुआती बाज़ार में लुडके

बाज़ार के शुरूआती व्यवसाय में भारतीय रुपया और सेंसेक्स दोनों ही गच्चा खा गए हैं|
बैंकों और आयातकों द्वारा अमेरिकी डालर की मांग बढ जाने से भारतीय रुपया ३१ पैसे [५६.१५]नीचे आ गया है बीते दिन रुपया ५५.८४ पर बंद हुआ था
जबकि बी एस ई का बेंच मार्क सेंसेक्स भी ०.६७% या ११५.९५ पईन्ट्स लुडक कर १७.१०८.४१ पर आया

.

बिजली मेनेजर्स देखो दिन में भी स्ट्रीट लाईट्स जल रही हैं

सयानो के लिए कहा गया है कि जल बाड़े नाव में या घर में दाम बाड़े तो दोनों हाथों से उसे बाहर उलीचना चाहिए शायद इसी उपदेश का पालन करने के लिए प्रदेश का बिजली विभाग दिन में भी स्ट्रीट लैम्प्स जला कर रखता है | यूं पी पर अक्सर कोटे से अधिक बिजली लेने का आरोप लगाया जाता है और सोमवार की रात तीनो ट्रिप ग्रिडों के ट्रिप हो जाने के लिए भी यही दलील दी जा रही है यूं पी में उद्योगों की बिजली तीन दिन के बाद बुधवार को दोपहर दो बजे ही नसीब हुई लगातार तीन दिन बिजली कटौती से मात्र औद्योगिक इकाइयों को ही करोड़ों रुपये का नुकसान हुआ है।
ग्रिड फेल होने के बाद यूपी पावर कारपोरेशन ने पूरे प्रदेश में औद्योगिक इकाइयों को बिजली देना बंद कर दिया। बुधवार को दोपहर बाद उन्हें थोड़ी सी राहत दी गई। मेरठ की औद्योगिक इकाइयों में केवल मोहकमपुर फीडर की बिजली सही हो पाई। उद्योगपुरम, परतापुर फीडर की बिजली आई, लेकिन पांच- पांच मिनट के अतंराल पर जाती रही।
इस सब के बावजूद दिन में लेम्प्स को जला कर रखना किसी भी द्रष्टि से दानिशमंदी नहीं कहा जा सकता |
फोटो में दिखाया गया लेम्प एक उदहारण मात्र है यह २६-०८-२०१२ मेरठ के पाश इलाके में बुद्धिजीवियों के बिजली विभाग से सटे इलाके में सारे दिन जलता पाया गया है

उद्द्योगों को हो गई नसीब बिजली

: तीनो ट्रिप ग्रिडों को ठीक कर लिए जाने के तमाम दावों के बावजूद यूं पी में उद्योगों की बिजली बुधवार को दोपहर दो बजे ही नसीब हुई लगातार तीन दिन बिजली कटौती से मात्र औद्योगिक इकाइयों को ही करोड़ों रुपये का नुकसान हुआ है।
ग्रिड फेल होने के बाद यूपी पावर कारपोरेशन ने पूरे प्रदेश में औद्योगिक इकाइयों को बिजली देना बंद कर दिया। बुधवार को दोपहर बाद उन्हें थोड़ी सी राहत दी गई। मेरठ की औद्योगिक इकाइयों में केवल मोहकमपुर फीडर की बिजली सही हो पाई। उद्योगपुरम, परतापुर फीडर की बिजली आई, लेकिन पांच- पांच मिनट के अतंराल पर जाती रही।
काफी संख्या में उद्दमी मुख्य अभियंता केएन उपाध्याय से मिले और बिजली कटौती पर शिकायत दर्ज कराई। शहर में शाम छह से रात दस बजे कटौती न करने, उद्योगों की तरह व्यापारियों को भी 24 घंटे बिजली देने, शहरी क्षेत्र में एकमुश्त जमा योजना लागू करने, नए कनेक्शन देते समय उपभोक्ताओं को उत्पीड़न न करने सहित तमाम मांगे रखीं।शहर के कई हिस्सों में ट्रांसफार्मर फुंकने से बिजली की आपूर्ति ठप रही। बिजली कर्मचारियों को फाल्ट सही करने में काफी वक्त लगा

एविएशन फ्यूल हुआ अब ६५००५.५९ प्रति के. लीटर

इन्डियन आयल कंपनी द्वारा वायुयान के ईंधन[ऐ टी ऍफ़]की दरें साडे चार परसेंट बड़ा दी है |इससे हवाई यात्रा के और महंगे हो जाने के आसार हो गए हैं|
२७९७.४१ बड़ा कर एविएशन फियुल की कीमत दिल्ली में अब ६५००५.५९ प्रति के. लीटर हो गई है|इससे पूर्व पंद्रह दिन पहले ही १.७%की बढोत्तरी की गई थी

मारुती सुजुकी के १० फरार नेताओं को गिरफ्तार किया

मारुती सुजुकी मानेसर में १८ जुलाई को की गई आगजनी के दोषी यूनियन के १० नेताओं को आज हरियाणा पोलिस ने गिरफ्तार कर लिया है \११४ गिरफ्तारी दिखाई जा चुकी हैं|आज गिरफ्तार होने वाले नेताओं में राम मेहर और सरबजीत सिंह भी हैं|
एक सुपरवाईजर और वर्कर में कहासुनी पर वर्कर्स ने मारुती सुजुकी में आग लगा दी थी वरिष्ठ अधिकारी अश्विनी कुमार देव की जलने से मृत्यु हो गई और १०० लोग घायल हो गए |२१ जुलाई को कंपनी में ताला बंदी की घोषणा कर दी गई
इस घटना से निवेशकों में भय और देश में असंतोष व्याप्त हो गया था |कंपनी के जापानी अधिकारियों ने दोषिओं को सजा दिए जाने की मांग की थी|तभी से हरियाणा पोलिस कडाई से दोषियों की पकड़धकड़ में लगी रही इसी कड़ी में आज १० की गिरफ्तारी हुई है