Ad

Category: Glamour

निकिता निगम ने स्वर लहरियां बिखेर कर सभी को मन्त्र मुग्ध किया

निकिता निगम ने स्वर लहरियां बिखेर कर सभी को मन्त्र मुग्ध किया

निकिता निगम ने स्वर लहरियां बिखेर कर सभी को मन्त्र मुग्ध किया

[मेरठ]दी अध्ययन स्कूल के प्रांगण में संगीत शाला का आयोजन किया गया|जिसमे सोनू निगम की बहन निकिता निगम ने स्वर लहरियां बिखेर कर सभी को मन्त्र मुग्ध किया |संजय मिश्रा+ऋषिता भट्ट की प्रस्तुति भी सराही गई|स्कूल के चेयर मेन श्री राम निवास +श्री मति शशि ने कलात्मक बोर्ड का अनावरण भी किया|
प्राचार्या श्रीमती शर्मिला वसु राम ने आतिथियों का आभार व्यक्त किया|आरती गुरुमंत्र सुनाया| डी पी एस की प्रधानाचार्या श्रीमती रीता + प्रिया अग्रवाल+प्रियांशु+दिव्या+सुनील त्यागी+अनुज आदि भे उपस्थित थे

भारतीय पत्रकार बॉबी घोष बने टाइम इंटरनेशनल पत्रिका के नए संपादक

 भारतीय पत्रकार बॉबी घोष बने टाइम इंटरनेशनल पत्रिका के नए संपादक

भारतीय पत्रकार बॉबी घोष बने टाइम इंटरनेशनल पत्रिका के नए संपादक

भारतीय पत्रकार बॉबी घोष को टाइम इंटरनेशनल पत्रिका का नया संपादक नियुक्त किया गया है। समाचार एजेंसी भाषा द्वारा जारी एक समाचार के अनुसार भारतीय पत्रकार बॉबी घोष को समाचार पत्रिका टाइम्स इंटरनेशनल का अंतरराष्ट्रीय संपादक 15 मार्च 2013 को नामित किया गया. इन्होंने जिम फ्रेडरिक का स्थान लिया| टाइम्स इंटरनेशनल के सम्पादक नियुक्त होने के पूर्व बॉबी घोष टाइम्स के उपसंपादक, अंतरराष्ट्रीय (डिप्टी इंटरनेशनल एडिटर) थे. इस पत्रिका के इतिहास में पहली बार गैर अमरीकी बॉबी घोष को संपादक बनाया गया.
श्री घोष ने अपने करियर की शुरुआत विशाखापट्नम में डेक्कन क्रॉनिकल से की थी| भारत में 10 वर्षो तक पत्रकार रहे|

भूतपूर्व सैनिक रैली का शुभारंभ: जांबाजों की शहादत को सम्मान :अफसरों की कमी लेकिन चिंता नहीं :मेरठ के आस पास खुल सकेगा सैनिक स्कूल

[मेरठ ] एतिहासिक माल रोड स्थित सेना के कुलवंत सिंह स्टेडियम में १५ मार्च शुक्रवार को दो दिवसीय भूतपूर्व सैनिक रैली का शुभारंभ हुआ |इसमें सेना के जवानो की वीरता और देश की रक्षा में अपने प्राणों का बलिदान करने वाले वीरों की स्मृति में उनके परिजनों को सम्मान दिया गया | 47 महिलाओं को वीर नारी पुरस्कार दिया गया। इसमें से 21 लोगों के अपनों ने भारत पाक युद्ध में शहादत दी है| छह पूर्व विकलांग और ११ आर्थिक रूप से पिछड़े सनिकों को सम्मानित किया गया|
वीर नारियों को स्टेशन कमांडर की मेजर जनरल वी के यादव की पत्‍‌नी पूनम यादव एवं आरवीसी कमांडेंट की पत्‍‌नी ने सम्मानित किया। अंत में सेना की परंपरा के अनुसार बड़ा खाना हुआ|यूं बी एरिया कमांडर जी ओ सी लेफ्टी.जनरल एन एस बावा ने पूर्व सैनिको को सम्मानित किया और प्रेस को संबोधित भी किया |

भूतपूर्व सैनिक रैली का शुभारंभ: जांबाजों की शहादत को सम्मान :अफसरों की कमी लेकिन चिंता नहीं :मेरठ के आस पास खुल सकेगा सैनिक स्कूल

भूतपूर्व सैनिक रैली का शुभारंभ: जांबाजों की शहादत को सम्मान :अफसरों की कमी लेकिन चिंता नहीं :मेरठ के आस पास खुल सकेगा सैनिक स्कूल


मध्य कमान के जीओसी-इन-सी ले. जनरल अनिल चैत ने लखनऊ से सीधा संबोधन करके कार्यक्रम को प्रारम्भ किया| अपने सन्देश में उन्होंने कहा कि मध्य कमान द्वारा अपनी स्थापना की स्वर्ण जयंती को वेटरंस ऑफ द इयर के रूप में मनाया जा रहा है ।

सेना में अफसरों की आठ सालों से कमी

लेफ्टिनेंट जनरल एन एस बावा ने प्रेस से बात करते हुए सेना में अधिकारीयों की कमी पर चिंता व्यक्त की|उनके अनुसार पिछले आठ सालों से अफसरों की कमी चली अ रही है और अब यह कमी १२००० है|सुपात्रों को सेना की तरफ से अनेकों आकर्षक यौज्नाएं भी बनाई जा रही हैं इनमे से एक आवास सुविधा भी है| बताते चलें केइसी विषय पर इससे पूर्व बीते दिनों सोफिया और सेंट् मैरी आदि कान्वेंट स्कूलों में सैनिक अफसरों ने कार्यक्रम भी किये थे|

सैनिक स्कूल

जनरल बावा ने उत्तर प्रदेश में सैनिक स्कूल खोले जाने के निर्णय को भी शेयर किया उन्होंने कहा के हमारी इच्छा है के मेरठ के आस पास सैनिक स्कूल खोल जाए मगर इसके लिए जमीन राज्य सरकार द्वारा दी जानी है जहाँ जमीन दी जायेगी वहीं स्कूल खोला जाएगा|
इस अवसर पर प्रकाश और ध्वनी कार्यक्रम के माध्यम से मेरठ के इतिहास को भी दिखाया गया||इससे पूर्व सूर्यकिरण रैली का स्वागत भी किया गया|

शाहिद मंज़ूर ने पार्टी के चुनावी चिन्ह साइकिल पर रैली निकाल कर सरकार की पहली वर्षगांठ मनाई

शाहिद मंज़ूर ने पार्टी के चुनावी चिन्ह साइकिल पर रैली निकाल कर सरकार की पहली वर्षगांठ मनाई

शाहिद मंज़ूर ने पार्टी के चुनावी चिन्ह साइकिल पर रैली निकाल कर सरकार की पहली वर्षगांठ मनाई

[मेरठ]शाहिद मंज़ूर ने पार्टी के चुनावी चिन्ह साइकिल पर रैली निकाल कर सरकार की पहली वर्षगांठ मनाई |उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव की सरकार ने आज एक साल पूरा कर लिया है इस अवसर पर समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता और मंत्री शाहिद मंज़ूर ने अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ पार्टी के चुनावी चिन्ह साइकिल पर रैली निकाली और पार्टी की उपलब्धियों का प्रदर्शन किया | जेल चुंगी स्थित पार्टी कार्यालय से निकाली गई इस रैली को कचहरी+साकेत+बेगम पुल +बच्चा पार्क आदि छेत्रों से निकल गया | आयु के पांच दशक पूरे कर चुके शाहिद मंज़ूर किठौर विधान सभा से एम् एल ऐ हैं|और पार्टी के कद्दाव र नेता आज़म खान से राजनितिक अदावत के लिए प्रसिद्द हैं|इनके पिता मंज़ूर अहमद [अब स्वर्गीय] भी एम् एल ऐ रह चुके हैं|

संसद ने पाकिस्तान के विरुद्ध निंदा प्रस्ताव पास किया और कहा ,पी ओ के सहित सम्पूर्ण जे & के भारत का अभिन्न अंग है

 संसद ने पाकिस्तान के विरुद्ध निंदा प्रस्ताव पास किया और कहा ,पी ओ के सहित सम्पूर्ण जे & के भारत का अभिन्न अंग है:

संसद ने पाकिस्तान के विरुद्ध निंदा प्रस्ताव पास किया और कहा ,पी ओ के सहित सम्पूर्ण जे & के भारत का अभिन्न अंग है:

पकिस्तान के निचले सदन में कल पास किये गए भारत के विरुद्ध निंदा प्रस्ताव के जवाब में भारतीय संसद ने भी कडा रुख अख्तियार करते हुए पाकिस्तान के विरुद्ध निंदा प्रस्ताव पारित किया | स्पीकर मीरा कुमार ने निंदा प्रस्ताव पडा और सभी ने मेजें थपथपा कर इसका समर्थन किया|इस प्रस्ताव में पाकिस्तान को चेतावनी दी गई है कि भारत के विरुद्ध आतंकवादी गतिविधियों से अलग रह कर आतंकवाद के विरुद्ध जंग की अपनी वचनबद्धता का पालन करे |इसके अलावा पूरे विस्श्व को भी यह सन्देश दिया गया कि पाक के कब्जे वाले काश्मीर सहित जे &के भारत का अभिन्न अंग है और रहेगा|
इससे पूर्व राज्यसभा में नेता विपक्ष अरुण जेटली ने सरकार से पाकिस्तान के इस प्रस्ताव के खिलाफ संसद में बहस की मांग की |श्री जेटली ने राज्यसभा में कहा कि आधिकारिक तौर पर ये पुष्ट हो गया है कि पाकिस्तान क्या चाहता है| अब समय आ गया है| भारत सरकार को कड़ा फैसला लेना चाहिए। पाकिस्तान से बातचीत का कोई फायदा नहीं है। इस तरह के प्रस्ताव पास करने से दोनों देशों के बीच शांति नहीं बहाल हो सकती है। इसलिए इस मुद्दे पर चर्चा के लिए किसी एक तारीख का चयन कर चर्चा करा लेनी चाहिए। वहीं नेता विपक्ष के चर्चा की मांग पर कांग्रेस के राजीव शुक्ला ने कहा कि सरकार विदेश मुद्दे को लेकर बहस को तैयार है।उन्होंने कहा कि विपक्ष द्वारा तय तारीख पर सरकार बहस के लिए तैयार है। उधर समाजवादी पार्टी के नेता कमाल फारूकी का कहना है कि पाकिस्तान को भारत के अंदरूनी मसले पर दखल देने का कोई हक नहीं है।
वहीं लोकसभा की प्रारम्भिक कार्यवाही को हंगामे के बाद स्थगित करना पड़ा।सपा +बसपा+शिव सेना+भाजपा आदि ने भी मीरा कुमा के प्रस्ताव का समर्थन किया
बीजेपी ने मांग की कि संसद में पाकिस्तान के प्रस्ताव का विरोध होना चाहिए और इस मुद्दे पर बहस कराई जानी चाहिए। यशवंत सिन्हा के अलावा प्रकाश जावडेकर ने भी दोनों सदनों में प्रश्नकाल स्थगित करने का नोटिस दिया।
गौरतलब है कि पाकिस्तान ने अपनी संसद में अफजल को फांसी दिये जाने की निंदा करते हुए एक प्रस्ताव पास किया है |पाकिस्तान की इस हरकत को बीजेपी ने भारत के आंतरिक मामले में हस्तक्षेप बताया है और और संसद से पाकिस्तान को जवाब देने की मांग की है|

मुलायम सिंह के उत्तराधिकारी युवा अखिलेश यादव की समाजवादी सरकार ने ३६५ दिन पूरे कर भी लिए

 मुलायम सिंह के उत्तराधिकारी युवा अखिलेश यादव की समाजवादी सरकार ने ३६५ दिन पूरे कर भी लिए

मुलायम सिंह के उत्तराधिकारी युवा अखिलेश यादव की समाजवादी सरकार ने ३६५ दिन पूरे कर भी लिए

समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के फ़िलहाल राजनीतिक उत्तराधिकारी युवा अखिलेश यादव की सरकार ने आज ३६५ दिन पूरे भी कर लिए | सरकार दवारा मंहगे अखबारों में पहले पेज से लेकर अन्दर तक महंगे पेड और अनपेड विज्ञापन से छपवाए गए हैं |इनमे सरकार की उपलब्द्धियों के सभी ड्रम जोर से पीटे गए हैं| साईकिल रैली निकाली जा रही हैं| कन्याधन+बेरोजगारी भत्ता+वूमेन पावर लाईन+समाजवादी एम्बुलेंस सेवा+लैपटॉप वितरण यौजना के बाद अंत में अवस्थापना और ओद्यौगिक विकास को रखा गया है| वैस इस दिशा में केंद्र भी पीछे नहीं हैअमेठी में विकास के लिए ३ नए राजमार्गों का आज उदघाटन करवाया जाना है|यानि तू डाल डाल तो मे पात पात |
क्योंकि आज कल केंद्र और राज्य विकास की दौड़ में एक दूसरे को पछाड़ने में लगे हैं सो बस इसी श्रेणी पर नज़र टिक कर रह गई|इसमें सूचना एवं प्रोद्यौगिक निति+ उत्तर प्रदेश खाद्य प्रसंस्करण उद्यौग यौजना+चीनी उद्योग + सौर ऊर्जा+कुक्कुट प्रोत्साहन को रखा गया है| आश्चर्यजनक रूप से इसमें एयर पोर्ट्स के विकास की बात नहीं कही गई है| इस सरकार में कानून व्यवस्था और महंगाई की दुहाई देने का कोई फायदा नहीं है |
अब इसे तो सभी मानेंगे कि मौजूदा दौर में किसी भी उद्योग को बढावा देने के लिए यातायात की सुविधा का होना जरुरी है |ट्रेन से लोगों का मोह भंग होता जा रहा है|दशकों पहले मेरठ केतत्कालीन जिलाधिकारी दीपक अग्रवाल ने ड्राई पोर्ट की घोषणा की थी जिसके लाभ से अभी तक लोग वंचित हैं|अब आते हैं हवाई यात्रा की सुविधा पर तो मेरा मानना है कि विकास के लिए एयर ट्रेफिक को बढावा दिया जाना जरुरी है| लेकिन दुर्भाग्य से उत्तर प्रदेश में नागरिक उड्डयन मंत्री की चौधराहट खत्म करने के लिए प्रदेश में इस दिशा में कोई कदम उठते नहीं दिख रहे|समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोक दल में वर्चस्व के लिए राजनीतिक लड़ाई जारी है| जैस जैसे २०१४ के चुनावों से नजदीकी बाद रहे है वैसे ही उत्तर प्रदेश कोई सरकार और केंद्र के नागरिक उड्डयन मंत्रालय के बीच कागजी घोड़ों के साथ साथ जुबानी तेवर बगावती रुख अख्तियार करने लगे हैं| प्रदेश सरकार अधिग्रहण के ग्रहण से मुक्त रहने का रौना रो रही है तो केन्द्रीय मंत्रालय मुफ्त में जमीन का अधिग्रहण प्रदेश सर्कार के हाथों ही करवाने पर तुली है| बेशक मौजूदा हवाई पट्टी प्रदेश सर्कार कि मिलकियत है और उसे केंद्र सरकार को देने को राजी है लेकिन अतिरिक्त भूमि के लिए किसानो से ओउने पौने दामो पर जमीन अधिग्रहण करके केंद्र को देने में आना कानी की जा रही है|
इस टालमटोली इसमें एक पेंच बताया जा रहा है| अगर प्रदेश सरकार भूमि अधिग्रहण करती है तो छेत्र के सर्किल रेट्स जो शायद ९०० से १५०० रुपयों तक है ही देय होगा जबकि किसान अपनी भूमि के लिए कम से कम पांच हज़ार रुपये प्रति वर्ग मीटर की उम्मीद लगाये बैठे हैं|किसानो और प्रदेश सरकार को यह ज्ञान प्राप्त हो चूका है कि केंद्र सरकार के नागरिक उड्डयन मंत्रालय द्वारा किसानो से कोडियों के भाव भूमि लेकर बहु राष्ट्रीय कंपनियों को सोने के भाव दी जायेंगी|अब बताईये अपने सोने को कौन कोडियों के भाव दूसरों को देगा ?
अब ज़रा चीनी उद्योग के विकास का दावा भी देख लिया जाए तो मेरठ में ही गन्ना किसानो के उत्पीडन को लेकर चल रहे धरने को आज तीसरा सप्ताह हो चला है| गन्ना किसानों की इस उपेक्षा का दोष केंद्र और राज्य दोनों सरकारों को कहीं ना कहीं जोडती जरुर हैं|

श्रीमति सोनिया गांधी ने कांग्रेस के अध्यक्ष पद पर १५ साल पूरे किये

देश कि सबसे शक्तिशाली महिला श्रीमति सोनिया गांधी ने आज १४ मार्च ,गुरुवार को सबसे बड़े और पुराणी पार्टी कांग्रेस के अध्यक्ष पद पर १५ साल पूरे कर लिए हैं| श्रीमति सोनिया गांधी ने पार्टी प्रमुख के तौर पर न सिर्फ कांग्रेस को दो बार केंद्र की सत्ता में वापस लौटाया बल्कि भारतीय राजनीति में एक दमदार भूमिका भी निभाई। 66 वर्षीया श्रीमति गांधी ने 1998 में 127 साल पुरानी इस पार्टी के अध्यक्ष पद को संभाला था और तब से वह लगातार इस पद पर बनी हुई हैं। लगातार सबसे अधिक समय तक पार्टी अध्यक्ष रहने का रिकॉर्ड अब उनके नाम के साथ जुड़ गया है।
इस दौरान परीक्षाओं की घड़ी कई बार आयीं लेकिन उन्‍होंने हमेशा उनका डट कर सामना किया,|लेकिनअनेकों परीक्षाएं ऐसी है जिन्‍हें वो कभी उतीर्ण नहीं कर पायीं।

श्रीमति सोनिया गांधी ने कांग्रेस के अध्यक्ष पद पर १५ साल पूरे किये

श्रीमति सोनिया गांधी ने कांग्रेस के अध्यक्ष पद पर १५ साल पूरे किये


[१]:नेतृत्व के लिए पार्टी हमेशा गांधी परिवार की मोहताज रही है। 1998 में भी कांग्रेस गांधी परिवार के नेतृत्व की मोहताज थी और 15 साल बाद भी पार्टी गांधी परिवार के ही वर्चस्व में है|
[ २]: 1998 में सीताराम केसरी के बाद से ज्यादातर प्रदेशों में कांग्रेसी नेता चुनावी जीत के लिए आलाकमान पर ही निर्भर हैं|अर्थार्त पार्टी में जी हुजूरी की परंपरा को खत्म नहीं किया जा सका है|।
[३]: ट्रांसपैरेंसी इंटरनेशनल के 2004 के करप्शन परसेप्शन इंडेक्स के आंकड़ों के मुताबिक भारत ईमानदार देशों की सूची में चार पायदान नीचे गिर कर 2012 में ९४ वें स्थान पर चला गया।
[ 4]: 1998 में लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की हार के बाद सोनिया ने पार्टी की कमान संभाली और 2004 में कांग्रेस जब कांग्रेस सत्ता में आई उस समय देश में महंगाई दर 3.77 % थी। फरवरी, 2013 में यही आंकड़ा तीन गुना बढ कर 10.91 % पर पहुंच गया। [५] : सोनिया का अनुभवी नेतृत्व पार्टी को इस बीमारी से नहीं बचा पाया है । [ ६] हिंदी बेल्‍ट वाले राज्यों में इसकी पकड़ लगातार कमजोर होती जा रही है|1998 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस का एक भी सांसद यूपी से संसद तक नहीं पहुंच पाया था। वहीं 2009 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को यूपी में 21 सीटें मिली थीं। लेकिन 2012 के विधानसभा चुनाव में पार्टी की हालत फिर खराब हो गई। पार्टी सपा,+बसपा और यहाँ तक की बीजेपी से भी पीछे रही।
बेशक अनेकों परीक्षाओं में सोनिया फेल हुई हैं मगर यह भी सत्य है कि राजीव गाँधी की आकस्मिक दुखद मृत्यु के पश्चात [१]विदेशी भारत में रहने का निर्णय लिया [२]कांग्रेस की लगातार झुकती जा रही रीड की हड्डी को सीधा किया [३] केंद्र में दूसरों की सरकार गिराई [४] अपने विरोधियों तक को कांग्रेस के साथ, [बेशक बाहर से ही] ,जोड़ा और सरकार बनाई[५] लगातार ९ साल तक सरकार चलाई और अभी भी चल रही है| |हाँ इस दौरान कांग्रेस के डी एन ऐ में भ्रष्टाचार और राजनीतिक मजबूरी का दोष आ गया है शायद ऐसा इसीलिए हुआ है कि पालिसी बनाने के पश्चात उसके कार्यान्वन के लिए सुपरविजन की तरफ ध्यान नहीं दिया जा रहा| इससे अब आगे आने वाले समय में विशेष कर २०१४ के चुनावों में परेशानी आ सकती है|

रंग मंच सिक्वेल ५ में प्रबंध शिक्षा के मेधावी छात्रों ने अनेकों आकर्षक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये

पंडित दीन दयाल उपाध्याय मैनेजमेंट कालेज में आयोजित रंग मंच सिक्वेल ५ में प्रबंध शिक्षा के मेधावी छात्रों ने अनेकों आकर्षक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये | ऐ आर आई एम् टी+सी पी आई+फोर्ट कालेज+ बी आई एम् टी आदि के छात्रों ने भाग लिया|प्रबंध निदेशक मयंक अग्रवाल द्वारा दीप प्रज्वलित करने के पश्चात शुरू किये गए समारोह में विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित की गई|
[१] लाक़ & की में आई आई एम् टी मेरठ की ऋतू और मेघा प्रथम रही|
[२]पिरामिड आफ कार्ड्स में ऐ आर आई एम् टी के आदित्य औरखुशबू फर्स्ट घोषित किये गए|
[३]शर्ट मेकिंग में आयोजक संस्थान की ट्विंकल मंगा+श्वेता अग्रवाल+कनिका छाबडा+ छवि बिंदल प्रथम रहे|
इसके अलावा रेसिंग स्पून+टेराकोटा क्ले आर्ट्स+पावर प्रेजेंटेशन +ख़बरें आज तक+सी प्रोग्रेमिंग+प्रश्नोत्तरी आदि भी हुए|डा. निर्देश वशिष्ठ ने सबको धन्यवाद दिया|डा. मनोज शर्मा+रॉबिन्स रस्तौगी+आयुषी जैन+आशुतोष भटनागर+शिवानी सक्सेना+ऋषिराज भारद्वाज+डा. शैलेश गुप्ता+पवन+अमित जैन+अमोल मल्हौत्रा+अजय दीपक+शिवानी+रुद्रानी आदि ने सराहनीय योगदान दिया|

आल माईटी लेडीज क्लब की आज की सभा में होली की मस्तियाँ लुटाई गई

आल माईटी लेडीज क्लब की आज की सभा में होली की मस्तियाँ लुटाई गई

आल माईटी लेडीज क्लब की आज की सभा में होली की मस्तियाँ लुटाई गई

आल माईटी लेडीज क्लब की आज की सभा में होली की मस्तियाँ लुटाई गई| आई एम् ऐ हाल में गान और फनी[मजाहिया ] ऐनक कम्पटीशन का आयोजन भी किया गया |
अनीवता के डांस और वन्दना के गीत के साथ प्रारम्भ इस इस होली सभा में पारुल+नताशा+अंशु ने भी होली के मस्ती भरे गीतों पर नृत्य किये| संगीता मक्कड़[अध्यक्षा]+ शालू गुप्ता [सचिव]+अरुणा अग्रवाल[केशियर ]+अलका गुप्ता+रेशमा+मधु+कनक+तारा+आशा+अंशु+पारुल+नताशा+आदि सदस्यायों ने तम्बोला आदि अनेकों खेलों में भाग लिया

दलाई लामा आधी शताब्दी से भारतीय में शरण हैं और अब पूर्णतय भारतीय रंगों में रंगे दिखाई देते हैं

दलाई लामा को भारत में शरण लिए अब ५० से अधिक साल हो गए हैं शायद इसीलिए अपने हाव भाव और व्यवहार से पूर्णतय भारतीय रंग में रंगे दिखाई देते हैं|मेरठ आगमन पर उन्होंने भारतीय मूल्यों की सार्थकता को वर्तमान परिवेश में प्रमाणित करने का भी प्रयास किया | बेशक तिबत्ती धर्म गुरुओं वाली पोशाक पहने हुए थे मगर उन्होंने किसी भारतीत विशेषग्य की भांति देश में व्याप्त विसंगतियों ,विषमताओं पर चिंता जताई |युवाओं को भौतिक सुखों की प्राप्ति के साथ साथ मन की प्रसन्नता पाने के लिए भी प्रेरित किया| ११ मार्च सोम वार को गंगा नगर स्थित आइआइएमटी इंस्टीट्यूट में तिबत्ती धर्म गुरु दलाई लामा ने पत्रकारों और छात्रों से खुल कर बात की| बातचीत में दलाई लामा ने कहा कि छोटे-छोटे स्वार्थो की खातिर राजनेताओं और धर्मगुरुओं ने अपने सिद्धांतों से समझौता किया है और इसी के प्रतिफल में बड़े-बड़े घोटाले हुए और भ्रष्टाचार की बेल बढ़ी है।यहाँ तक के राजनीति के दखल ने शिक्षा के अहम् स्तर को भी गिराया है।

 दलाई लामा आधी शताब्दी से भारतीय में शरण हैं और अब पूर्णतय भारतीय रंगों में रंगे दिखाई देते हैं

दलाई लामा आधी शताब्दी से भारतीय में शरण हैं और अब पूर्णतय भारतीय रंगों में रंगे दिखाई देते हैं


उन्होंने कहा के भारत ही एक ऐसा लोकतांत्रिक देश है जहां अनगिनत धर्म और संप्रदाय वास करते हैं और इनमें समरसता है।
तिब्बत-चीन संबंध पर दलाई लामा ने कहा कि चीन में लोकतंत्र और संविधान दोनों ही हैं, लेकिन तिब्बत में इनका लाभ आज तक नहीं मिला। इसकी वजह कुछ वर्ग का स्वार्थ है। उन्होंने यह भी कहा कि अब चीन में भी हजारों की संख्या में बुद्धिजीवी तिब्बत के समर्थन में उतर आए हैं।
बौद्ध धर्म के भविष्य के बारे में धर्म गुरु ने कहा कि मौजूदा युवा पीढ़ी इस धर्म के अध्ययन के प्रति रुचि दिखा रही है, शोध पर फोकस कर रही है। यह एक सकारात्मक संकेत है और हो भी क्यों न, यह तो भारत का ही धर्म है। लेकिन इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा के संसार की सभी सुविधाए हासिल करो मगर पहले मानसिक शांति जरूर प्राप्त करो|उनके शब्दों में आधी शताब्दी से जयादा तिब्बत बिछोह का दर्द भी झलका उन्होंने कहा के भारत ने १९५६ में तिब्बत को समर्थन देने का वायदा किया था लेकिन जरुरत पड़ने पर १९५९ में सहयोग नहीं दिया
धर्म गुरु ने भारतीय समस्यायों को चिन्हित करते हुए कहा के भ्रष्टाचार भारत की सबसे बड़ी समस्या हैइसके साथ नसलवाद+दहेज़ +आतंकवाद से देश कमजोर हो रहा है| तिब्बती बौद्ध गुरू ने कहा कि भारतीय राजनीति में सुधार की जरूरत है और गलत राजनीति के साथ ही यहां कई धर्म गुरुओं के घोटालो का उजागर होना चिंताजनक है।उन्होंने भारतीय संस्कृति की प्रशंसा की।
दलाई लामा ने ये भी स्पष्ट किया कि वह अलग राष्ट्र या आजादी की नहीं बल्कि तिब्बत का स्वशासन चाहते हैं। उन्होंने कहा कि भारत तो पहले से ही उनके समर्थन में था। लेकिन अब न केवल चीन बल्कि दुनिया के बाकी देश भी उनके समर्थन में आ रहे हैं।