Ad

Category: Glamour

रंग मंच सिक्वेल ५ में प्रबंध शिक्षा के मेधावी छात्रों ने अनेकों आकर्षक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये

पंडित दीन दयाल उपाध्याय मैनेजमेंट कालेज में आयोजित रंग मंच सिक्वेल ५ में प्रबंध शिक्षा के मेधावी छात्रों ने अनेकों आकर्षक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये | ऐ आर आई एम् टी+सी पी आई+फोर्ट कालेज+ बी आई एम् टी आदि के छात्रों ने भाग लिया|प्रबंध निदेशक मयंक अग्रवाल द्वारा दीप प्रज्वलित करने के पश्चात शुरू किये गए समारोह में विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित की गई|
[१] लाक़ & की में आई आई एम् टी मेरठ की ऋतू और मेघा प्रथम रही|
[२]पिरामिड आफ कार्ड्स में ऐ आर आई एम् टी के आदित्य औरखुशबू फर्स्ट घोषित किये गए|
[३]शर्ट मेकिंग में आयोजक संस्थान की ट्विंकल मंगा+श्वेता अग्रवाल+कनिका छाबडा+ छवि बिंदल प्रथम रहे|
इसके अलावा रेसिंग स्पून+टेराकोटा क्ले आर्ट्स+पावर प्रेजेंटेशन +ख़बरें आज तक+सी प्रोग्रेमिंग+प्रश्नोत्तरी आदि भी हुए|डा. निर्देश वशिष्ठ ने सबको धन्यवाद दिया|डा. मनोज शर्मा+रॉबिन्स रस्तौगी+आयुषी जैन+आशुतोष भटनागर+शिवानी सक्सेना+ऋषिराज भारद्वाज+डा. शैलेश गुप्ता+पवन+अमित जैन+अमोल मल्हौत्रा+अजय दीपक+शिवानी+रुद्रानी आदि ने सराहनीय योगदान दिया|

आल माईटी लेडीज क्लब की आज की सभा में होली की मस्तियाँ लुटाई गई

आल माईटी लेडीज क्लब की आज की सभा में होली की मस्तियाँ लुटाई गई

आल माईटी लेडीज क्लब की आज की सभा में होली की मस्तियाँ लुटाई गई

आल माईटी लेडीज क्लब की आज की सभा में होली की मस्तियाँ लुटाई गई| आई एम् ऐ हाल में गान और फनी[मजाहिया ] ऐनक कम्पटीशन का आयोजन भी किया गया |
अनीवता के डांस और वन्दना के गीत के साथ प्रारम्भ इस इस होली सभा में पारुल+नताशा+अंशु ने भी होली के मस्ती भरे गीतों पर नृत्य किये| संगीता मक्कड़[अध्यक्षा]+ शालू गुप्ता [सचिव]+अरुणा अग्रवाल[केशियर ]+अलका गुप्ता+रेशमा+मधु+कनक+तारा+आशा+अंशु+पारुल+नताशा+आदि सदस्यायों ने तम्बोला आदि अनेकों खेलों में भाग लिया

दलाई लामा आधी शताब्दी से भारतीय में शरण हैं और अब पूर्णतय भारतीय रंगों में रंगे दिखाई देते हैं

दलाई लामा को भारत में शरण लिए अब ५० से अधिक साल हो गए हैं शायद इसीलिए अपने हाव भाव और व्यवहार से पूर्णतय भारतीय रंग में रंगे दिखाई देते हैं|मेरठ आगमन पर उन्होंने भारतीय मूल्यों की सार्थकता को वर्तमान परिवेश में प्रमाणित करने का भी प्रयास किया | बेशक तिबत्ती धर्म गुरुओं वाली पोशाक पहने हुए थे मगर उन्होंने किसी भारतीत विशेषग्य की भांति देश में व्याप्त विसंगतियों ,विषमताओं पर चिंता जताई |युवाओं को भौतिक सुखों की प्राप्ति के साथ साथ मन की प्रसन्नता पाने के लिए भी प्रेरित किया| ११ मार्च सोम वार को गंगा नगर स्थित आइआइएमटी इंस्टीट्यूट में तिबत्ती धर्म गुरु दलाई लामा ने पत्रकारों और छात्रों से खुल कर बात की| बातचीत में दलाई लामा ने कहा कि छोटे-छोटे स्वार्थो की खातिर राजनेताओं और धर्मगुरुओं ने अपने सिद्धांतों से समझौता किया है और इसी के प्रतिफल में बड़े-बड़े घोटाले हुए और भ्रष्टाचार की बेल बढ़ी है।यहाँ तक के राजनीति के दखल ने शिक्षा के अहम् स्तर को भी गिराया है।

 दलाई लामा आधी शताब्दी से भारतीय में शरण हैं और अब पूर्णतय भारतीय रंगों में रंगे दिखाई देते हैं

दलाई लामा आधी शताब्दी से भारतीय में शरण हैं और अब पूर्णतय भारतीय रंगों में रंगे दिखाई देते हैं


उन्होंने कहा के भारत ही एक ऐसा लोकतांत्रिक देश है जहां अनगिनत धर्म और संप्रदाय वास करते हैं और इनमें समरसता है।
तिब्बत-चीन संबंध पर दलाई लामा ने कहा कि चीन में लोकतंत्र और संविधान दोनों ही हैं, लेकिन तिब्बत में इनका लाभ आज तक नहीं मिला। इसकी वजह कुछ वर्ग का स्वार्थ है। उन्होंने यह भी कहा कि अब चीन में भी हजारों की संख्या में बुद्धिजीवी तिब्बत के समर्थन में उतर आए हैं।
बौद्ध धर्म के भविष्य के बारे में धर्म गुरु ने कहा कि मौजूदा युवा पीढ़ी इस धर्म के अध्ययन के प्रति रुचि दिखा रही है, शोध पर फोकस कर रही है। यह एक सकारात्मक संकेत है और हो भी क्यों न, यह तो भारत का ही धर्म है। लेकिन इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा के संसार की सभी सुविधाए हासिल करो मगर पहले मानसिक शांति जरूर प्राप्त करो|उनके शब्दों में आधी शताब्दी से जयादा तिब्बत बिछोह का दर्द भी झलका उन्होंने कहा के भारत ने १९५६ में तिब्बत को समर्थन देने का वायदा किया था लेकिन जरुरत पड़ने पर १९५९ में सहयोग नहीं दिया
धर्म गुरु ने भारतीय समस्यायों को चिन्हित करते हुए कहा के भ्रष्टाचार भारत की सबसे बड़ी समस्या हैइसके साथ नसलवाद+दहेज़ +आतंकवाद से देश कमजोर हो रहा है| तिब्बती बौद्ध गुरू ने कहा कि भारतीय राजनीति में सुधार की जरूरत है और गलत राजनीति के साथ ही यहां कई धर्म गुरुओं के घोटालो का उजागर होना चिंताजनक है।उन्होंने भारतीय संस्कृति की प्रशंसा की।
दलाई लामा ने ये भी स्पष्ट किया कि वह अलग राष्ट्र या आजादी की नहीं बल्कि तिब्बत का स्वशासन चाहते हैं। उन्होंने कहा कि भारत तो पहले से ही उनके समर्थन में था। लेकिन अब न केवल चीन बल्कि दुनिया के बाकी देश भी उनके समर्थन में आ रहे हैं।

ऋतू राज वसंत के स्वागत में आयोजित फ्लावर शो में आरवीसी को गार्डेन और कंपाउंड श्रेणी में बेस्ट घोषित किया गया

 ऋतू राज वसंत के स्वागत में आयोजित फ्लावर शो में आरवीसी को गार्डेन और कंपाउंड श्रेणी में बेस्ट घोषित किया गया

ऋतू राज वसंत के स्वागत में आयोजित फ्लावर शो में आरवीसी को गार्डेन और कंपाउंड श्रेणी में बेस्ट घोषित किया गया

[मेरठ] मेरठ को सदैव हरा भरा रखने का सन्देश लिए आयोजित किये गए फ्लावर शो में प्रत्येक वर्ष की भांति अनेक बगिया प्रेमियों ने भाग लिया और ऋतू राज वसंत का स्वागत किया गया |इस आयोजन में विभिन्न प्रजातियों के रंग-बिरंगे फूल-पौधों के साथ अनेकों सैन्य संस्थाओं+ बंगलों + घरों के उद्यानों[लान] व किचन गार्डन के रख रखाव को सराहा गया| रिमाउंट&वेटनरी कोर [आरवीसी] को बेस्ट गार्डेन और बेस्ट कंपाउंड का सम्मान दिया गया
कंपनी बाग़ [गांधी बाग] में पश्चिमी यूपी सब एरिया +छावनी परिषद के संयुक्त तत्वावधान में केंद्रीय सैन्य पशु चिकित्सा प्रयोगशाला (सीएमवीएल) द्वारा १० मार्च, रविवार को गाधी बाग में वसंतोत्सव पुष्प प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। समारोह का शुभारंभ जनरल ऑफिसर कमाडिंग मेजर जनरल वीके यादव की पत्नी श्रीमति पूनम यादव ने किया। दोपहर में जादूगर वी. सम्राट के हाथों की सफाई के अलावा आरवीसी सेंटर एवं कालेज की ओर से आयोजित डॉग + हॉर्स शो +विभिन्न सैन्य इकाइयों के म्यूजिक बैंड मुख्य आकर्षण रहे। मुख्य अतिथि मेजर जनरल वीके यादव, चार्जिग रैम डिव के जीओसी मेजर जनरल एकेएस सेंगर, ब्रिगेडियर नीरेश राठौर, ब्रि. जेएस धर्माधीरन ने इस आयोजन के लिए सीएमवीएल के कमांडेंट सीपी चूड़ामणि व उनकी टीम तथा छावनी परिषद के प्रयासों की सराहना की।पाइन डिव के जीओसी आर. रवींद्रन और उनकी पत्नी ने भी प्रतियोगिता का अवलोकन किया |इससे पूर्व पांच मार्च को सैन्य संस्थाओं, बंगलों एवं घरों के उद्यानों व किचन गार्डन का निरिक्षण किया गया | पुरुस्कार पाने वालों में सी एम् वी एल [सेन्ट्रल मिलिट्री वेटनरी लैब]प्रथम रहे
सीएमवीएल ने सर्वाधिक 40 इनाम जीते, इसमें 27 प्रथम पुरस्कार हैं।व्हीलर्स क्लब ९ पुरुस्कार प् कर सेकण्ड रहा| मेजर जनरल वीके यादव का बंगला और ईगल ऑफिसर्स मेस को संयुक्त रूप से तीसरा स्थान मिला। दोनों को सात-सात पुरस्कार मिले। सिविल पर्सस में शिखा नाथ को सर्वाधिक इनाम मिले।

रेलवे से बेरोजगार हुए विकलांगों की रोज़ी रोटी के लिए प्रयासरत सांसद राजेन्द्र अग्रवाल को सम्मानित किया गया

 रेलवे से बेरोजगार हुए विकलांगों की रोज़ी रोटी के लिए प्रयासरत सांसद राजेन्द्र अग्रवाल को सम्मानित किया गया

रेलवे से बेरोजगार हुए विकलांगों की रोज़ी रोटी के लिए प्रयासरत सांसद राजेन्द्र अग्रवाल को सम्मानित किया गया

[मेरठ]विकलांगों ने आज मेरठ के सांसद राजेन्द्र अग्रवाल को सम्मानित किया|
गौरतलब है कि भारतीय रेल वे द्वारा रेलवे स्टेशनों से पी सी ओ की समाप्ति से विकलांगों का रोज़गार छिन्न गया है |इन्हें रोज़गार दिलाने के लिए सांसद ने संसद में इस मुद्दे को जोर शोर से उठाया था जिसके फलस्वरूप रेल मंत्री पवन बंसल ने बेरोजगार हुए विकलांगों को वैकल्पिक रोज़गार मुहैय्या करवाने के लिए आश्वासन दिया है| इसके लिए धन्यवाद देने आये विकलांगों ने सांसद राजेन्द्र अग्रवाल का माल्यापर्ण कर स्मृति चिन्ह भेंट किया|इस अवसर पर विकलांगों ने अन्य दूसरी समस्यायों से भी श्री अग्रवाल को अवगत कराया | ट्राई साइकिल की जरुरत भी बताई गई|इस पर सांसद ने विकलांगों की समस्यायों के निवारण के लिए भरसक प्रयास करने का आश्वासन दिया| उन्होंने विकलांगों को ट्राई साइकिल दिलवाने के लिए भरोसा दिया|

नन्हे मुन्नों ने आकर्षक सांस्कृतिक कार्यक्रमों से अपनी भावी उड़ान का सराहनीय प्रदर्शन किया

नन्हे मुन्नों ने आकर्षक सांस्कृतिक कार्यक्रमों से अपनी भावी उड़ान का सराहनीय प्रदर्शन किया

नन्हे मुन्नों ने आकर्षक सांस्कृतिक कार्यक्रमों से अपनी भावी उड़ान का सराहनीय प्रदर्शन किया

सिटी वोकेशनल पब्लिक स्कूल में नन्हे मुन्नों ने अनेकों सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से सबके मन को मोह लिया|कार्यक्रम का शुभारम्भ डा.सरोजिनी अग्रवाल ने दीप प्रज्वल्लित करके किया| सर्वप्रथम गायत्री मन्त्र के स्वरों का उच्चारणकिया गया| के जी से लेकर दूसरी कक्षा के नन्हे मुन्नों ने मन मोहक नृत्य भी प्रस्तुत करके अपनी उड़ान का सराहनीय प्रदर्शन किया |
प्रधानाचार्य प्रेम मेहता ने बच्चों के उज्जवल भविष्य के लिए आशीर्वाद दिया| उन्होंने कहा कि बच्चे हमारे आने वाले कल का आधार हैं|इसीलिए इस बगिया को सही तरीके से पल्लवित करना ही हमारा प्रथम कर्तव्य होना चाहिए| संचालन आकांक्षा ग्रोवर ने किया |श्रीमती ऋतू केला+संतोष मेहता आदि ने भे बच्चों को आशीर्वाद दिए|

राजनीतिक हाथियों के दांत खाने और दिखाने के अलग अलग ही हैं:अन्तराष्ट्रीय महिला दिवस

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

महिला उत्थान गैर सरकारी संस्था की स्वयम्भू प्रेजिडेंट

ओये झल्लेया देखा हसाड़े प्रयासों का नतीज़ा ओये ८ मार्च के अन्तराष्ट्रीय महिला दिवस पर संसद से लेकर सड़क तक केंद्र से लेकर राज्यों तक केवल नारे बाज़ी ही नहीं हुई अनेकों हमारे वेल फेयर के काम भी किये गए हैं|[१]सोनीपत में भगत फूल सिंह महिलाविश्व विद्यालय में आज़ाद भारत का पहला [सरकारी]महिला अस्पताल खोल गया[२]दिल्ली के शास्त्री भवन में पहला महिला डाक खाना खोला गया ओये हसाडी कोउशिशोन का असर यूं पी में भी दिखाई दिया है| [३]यूं पी की विधानसभा में महिला सशक्तिकरण के लिए प्रस्ताव पारित कर दिया गया और [४] मेरठ में महिलाओं के लिए विशेष बस को भी हरी झंडी दिखा कर महिलाओं को समर्पित किया गया है|
अन्तराष्ट्रीय महिला दिवस

झल्ला

हाँ जी वाकई केंद्र +हरियाणा और उत्तर प्रदेश में नारी सम्मान बढाने के सराहनीय कार्य किये गए हैं |लेकिन दुर्भाग्य से राष्ट्र की सबसे बड़ी संस्था संसद में भाषणबाजी के बाद ज्यादातर अधिकाँश सीटें खाली ही रही| सदन चल रहे थे और माननीय सदस्य कार्यक्रमों में व्यस्त थे | यूं पी ऐ के चेयर पर्सन श्रीमती सोनिया गांधी हरियाणा के सोनीपत में महिला अस्पताल का उद्घाटन करने में व्यस्त दिखी तो माननीय मानव एवं कल्याण संसाधन विकास मंत्री कपिल सिब्बल पोस्ट आफिस में रहे|सपा के महासचिव प्रो.राम गोपाल यादव मेरठ में शिक्षण संस्थान में डिग्रियां बाँट रहे थे |लेकिन आश्चर्यजनक रूप से विपक्षी दलों के भी अधिकांश खाली लाईनों पर राज्य सभा टी वी का कैमरा घूमता रहा|झल्लेविचारानुसार हाथी के दांत खाने और दिखाने के अलग अलग ही हैं वरना बलात्कारियों को हतोत्साहित करने वाला बिल संसद में पास हो चूका होता|दिल्ली की मुख्य मंत्री श्रीमती शीला दीक्षित को दुष्कर्म के आरोपियों की सिफारिश करने के लिए अपने ही प्रदेश में विरोध नहीं झेलना पड़ता

ड्राईविंग सीट पर बैठ कर कानून बनाने के बाद उसका कडाई से पालन कराने में अधिकाँश सरकारें बैक सीट पर आ जाती हैं| खैर इंटरनेशल वूमेन डे की बधाईयाँ

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

महिला उत्थान समिति की दुखी प्रेजिडेंट

ओये झल्लेया एक तरफ तो ये सोसायटी हमें देवी मानती है निर्भया कहती है | राष्ट्रीय संसद ने भी हमारे उत्थान के लिए २०१३-१४ के बजट में १००० करोड़ रुपयों का प्रावधान रख छोड़ा है| दायें बाएं से विदेशी इमदाद आती रहते है लेकिन कल संसद में पेश किये गए बलात्कार को हतोत्साहित करने वाले प्रस्ताव को स्वीकार करने के लिए सभी बिदक गए |ओये देश में लगातार रेप के केस का ग्राफ बढता जा रहा है और ऐसे में हमें शक्ति प्रदान करने के बजाये हमें सिर्फ बजट का पैसा दिखा कर खुश करने का प्रयास किया जा रहा है| इंटरनेशल वूमेन डे के एक दिन पहले हसाडे साथ ऐसा भद्दा मजाक और दूसरा नहीं हो सकता |

ड्राईविंग सीट पर बैठ कर कानून बनाने के बाद उसका कडाई से पालन कराने में अधिकाँश सरकारें बैक सीट पर आ जाती हैं| खैर इंटरनेशल वूमेन डे की बधाईयाँ

ड्राईविंग सीट पर बैठ कर कानून बनाने के बाद उसका कडाई से पालन कराने में अधिकाँश सरकारें बैक सीट पर आ जाती हैं| खैर इंटरनेशल वूमेन डे की बधाईयाँ


झल्ला

हाँ जी यह तो आप जी की बात सही लगती है लेकिन पतनाला तो वहीँ गिरना है|अब देखो बीते बजट में आप लोगों के उत्थान के लिए सरकारी खर्च में बीते खर्च में .०१% बड़ा कर ५.९% की व्यवस्था की गई थी इस वर्ष केन्द्रीय वित्त मंत्री पी चिदम्बरम [शायद अगली बार पी एम् ]ने १००० करोड़ रुपयों का प्रावधान रखा है|इसके अलावा सत्ता रुड यूं पी ऐ और विपक्षी एन डी ऐ ने अपने शीर्ष पदों पर महिलाओं को ही सुशोभित किया हुआ है|इस सबके बावजूद आप का रोना किसी न किसी अन्दर की बात की तरफ इशारा जरूर कर रहा है|झल्लेविचारानुसार एक हज़ार करोड़ के खर्चे की पोल तो पांच साल बाद कैग की रिपोर्ट में खुलेगी लेकिन अगर बलात्कार को हतोत्साहित करने वाला कानून बन गया तो उसकी पोल रोजाना खुलनी शुरू हो जायेगी|क्या कहा ऐसा क्यूं होगा तो इतिहास गवाह है के ड्राईविंग सीट पर बैठ कर कानून बनाने के बाद उसका कडाई से पालन कराने में अधिकाँश सरकारें बैक सीट पर आ जाती हैं| खैर इंटरनेशल वूमेन डे की बधाईयाँ

यूपीएससी परीक्षा प्रणाली में अब अंग्रेजी भाषा की परीक्षा देना अनिवार्य होगा

 यूपीएससी परीक्षा प्रणाली में अब अंग्रेजी भाषा की परीक्षा देना अनिवार्य होगा

यूपीएससी परीक्षा प्रणाली में अब अंग्रेजी भाषा की परीक्षा देना अनिवार्य होगा

यूपीएससी परीक्षा प्रणाली में अब अंग्रेजी भाषा की परीक्षा देना अनिवार्य होगा जिसके नंबर मेरिट में भी जुड़ेंगे। पहले अंग्रेजी के साथ-साथ किसी एक भारतीय भाषा की परीक्षा में न्यूनतम अंक पाना भी अनिवार्य था लेकिन इसके नंबर मेरिट में नहीं जुड़ते थे।इस नए फैसले पर सियासी उबल आ गया है| शिवसेना ने इस फैसले को मराठी अस्मिता के खिलाफ बताते हुए आंदोलन छेड़ दिया है।शिव सेना ने महाराष्ट्र में यूपीएससी की परीक्षाओं को नहीं होने देने का एलान कर दिया है| शेष विपक्ष भी सरकार के इस नए भाषाई फैसले का पुरजोर विरोध कर रहा है।
यूपीएससी की परीक्षा में पास होने वाले ही आईएएस+ आईपीएस+आईएफएस +आईआरएस आदि बनकर देश का प्रशासन संभालते हैं। आयोग की परीक्षा पद्धति में लगभग बीस साल बाद अब कुछ ऐसे परिवर्तन हुए हैं जिससे भाषाई माहौल गर्मा गया है| शिवसेना ने खासतौर पर मराठी की उपेक्षा का मुद्दा उठाते हुए चेताया है कि अगर मराठी को वैकल्पिक विषय के रूप में मान्यता नहीं दी गई तो वो महाराष्ट्र में आईएएस की परीक्षा होने ही नहीं देगी। आज ७ मार्च गुरुवार को शिवसेना ने राज्यसभा में भी इस मुद्दे को जोरशोर से उठाया।
नई अधिसूचना के अनुसार 2013 की परीक्षा होगी। इसके मुताबिक अब अंग्रेजी की परीक्षा अनिवार्य होगी। अंग्रेजी परीक्षा में मिलने वाले अंक फ़ाईनल मेरिट में भी जोड़े जाएंगे। इसके अलावा किसी भाषा के साहित्य को बतौर वैकल्पिक विषय वही लोग चुन सकेंगे, जिन्होंने बीए में वो विषय पढ़ा होगा।
उल्लेखनीय है कि पुराने पाठ्यक्रम में अंग्रेजी के साथ-साथ एक भारतीय भाषा में न्यूनतम अंक पाना ही जरूरी था। इन परीक्षाओं के नंबर मेरिट में नहीं जुड़ते थे।
विपक्ष इसे जनविरोधी फैसला बता रहा है।

सामूहिक विवाह समारोह में २१ जोड़ों को परिणय सूत्रों में बांधा गया

सामूहिक विवाह समारोह में २१ जोड़ों को परिणय सूत्रों में बांधा गया

सामूहिक विवाह समारोह में २१ जोड़ों को परिणय सूत्रों में बांधा गया

[मेरठ]ॐ सेवा समिति के तत्वाधान में आयोजित सामूहिक विवाह समारोह में २१ जोड़ों को परिणय सूत्रों में बांधा गया|९ दिन तक चली श्रीराम कथा के पश्चात आयोजित इस विवाह समारोह में २१ दुल्हों की गाजे बाजों के साथ पारंपरिक बारात भी निकाली गई|इसमें शहर के अनेकों गण्य मान्य लोग शामिल हुए|मेजर जनरल यादव+पूज्य श्री नीरज मणि ऋषि ने नव विवाहित जोड़ों को आशीर्वाद दिया| गृहस्थी चलाने के लिए दान दहेज़ की ओपचारिकता भी निभाई गई|
कैंट बोर्ड की उपाध्यक्षा श्रीमती शिप्रा रस्तोगी की अध्यक्षता में हुए इस समारोह में ॐ पाल सिंह+महेश सिंघल+जुगल किशोर गर्ग+जगमोहन शाकाल+परषोत्तम लाल+संजय अरोड़ा+आदि उपस्थित रहे|