Ad

Category: Politics

चिदम्बरम ने यशवंत और परिजनों के फोन टैप कराये

कांग्रेस के आक्रामक रुख को देखते हुए अब भाजपा ने भी कोयले के साथ साथ दुसरे मुद्दो पर भी दबाब बनाना शुरू कर दिया है|
भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने आक्रामकता के साथ कहा है कि जब उन्होंने वित्त मंत्री पी चिदंबरम से जुड़े एयरसेल-मैक्सिस मामले को उठाया था तब तत्कालीन सरकार ने उनके तथा उनके परिजनों के फोन टैप कराये थे|
एक संवाददाता सम्मेलन में यह गंभीर आरोप लगाते हुये श्री सिन्हा ने कहा कि फोन टैप जैसी इन हरकतों से वह डरते नहीं हैं और कांग्रेस लाख प्रयास कर ले, लेकिन उनकी पार्टी भ्रष्टाचार के खिलाफ यह लड़ाई जारी रखेगी।
उन्होंने कहा कि यह कांग्रेस की आदत है कि वह अपने खिलाफ बोलने वालों के विरुद्ध किसी भी हद तक जा सकती है।
उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी ने लाखों करोड़ रुपये के कोयला खदान घोटाले में अपनी सरकार के घिरने के बाद शर्मिंदगी महसूस करने की बजाय अपने सांसदों को भाजपा पर पलटवार करने की नसीहत दी है। यह कैसी राजनीति है।
यशवंत सिन्हा ने सोनिया गांधी पर घमंडी होने का आरोप लगाया है | इसी कारण कांग्रेसी सांसदों और नेताओं को भाजपा पर पलटवार करने को कहा गया है। श्री सिन्हा ने पूछा कि क्या लोकतंत्र में विपक्ष से बात करने का यही तरीका है।
वाजपेयी सरकार की याद दिलाते हुये उन्होंने कहा कि उनके समय में ऐसी स्थिति में वाजपेयी स्वयं विपक्ष को साथ लाने की बात कहते थे, लेकिन यहां तो सब उलट है। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस इस घोटाले के पूरे मामले पर पर्दा डालने का प्रयास कर रही है, लेकिन भाजपा ऐसा होने नहीं देगी।
उन्होंने 2जी मामले में मुरली मनोहर जोशी के साथ कांग्रेस के व्यवहार की याद दिलाते हुये कहा कि वहीं कांग्रेस का असली चरित्र है। वह तो वास्तव में ऐसे मुद्दों पर बहस ही नहीं चाहती है। सिन्हा ने कांग्रेस पर बदले की भावना से काम करने और अपने विरोधियों के खिलाफ सीबीआई का दुरूपयोग करने का आरोप लगाया।
उनहोंने कहा कि किस प्रकार कांग्रेस सरकार ने भाजपा के केन्द्रीय मंत्री अरुण शोरी तथा अन्य के खिलाफ समय-समय पर सीबीआई जांच का प्रयास किया लेकिन उन्हें क्या हासिल हुआ। उन्होंने आरोप लगाया कि देश के इतिहास में पहली बार कोई प्रधानमंत्री सीएजी की संस्था को खत्म करने और उसका महत्व कम करने का प्रयास कर रहा है इसके नतीजे लोक तंत्र के लिए अच्छे नहीं होंगें|

राज ठाकरे अब बिहार सरकार पर बरसे

मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने अब बिहार सरकार को धमकी दे डाली है कि अगर अमर जवान ज्योति तोड़ने वाले युवक को बिहार से गिरफ्तार कर लाई मुंबई पुलिस पर बिहार सरकार ने कानूनी कार्रवाई की तो वह महाराष्ट्र में रह रहे सभी बिहारियों को घुसपेठिया करार दे देंगे और उन्हें महाराष्ट्र से बाहर खदेड़ देंगे।
इससे पहले ठाकरे ने मशहूर गायिका महाराष्ट्रियन आशा भोंसले को पाकिस्तानी कलाकारों के साथ शो न करने की धमकी दी है|
गौरतलब है कि अमर जवान ज्योति तोड़ने वाले युवक को बिहार से गिरफ्तार कर लाई मुम्बई पोलिस के विरुद्ध बिहार सरकार द्वारा मुंबई के पुलिस कमिश्वर से नाराजगी जताई है। बिहार के चीफ सेक्रेटरी नवीन कुमार ने मुम्बई पोलिस के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की धमकी दी है।इसीके फलस्वरूप ठाकरे की यह धमकी आई है|
ठाकरे ने कहा, कि अगर बिहार सरकार मुम्बई पुलिस की जांच में रोड़े अटकाएगी तो उनकी मनसे पार्टी महाराष्ट्र में हर बिहारी को घुसपैठिया करार देगी और उन्हें भागने के लिए मजबूर कर देगी।

पी एम् की प्लेन में प्रेस कांफ्रेंस

डाक्टर सिंह ने कमजोर पी एम् का चौला उतार कर कहा में इस्तीफ़ा नहीं दूंगा
डाक्टर मन मोहन सिंह ने ईरान की यात्रा से लौटते समय कमजोर प्रधान मंत्री की छवि को उतार फैंका और विपक्षी भाजपा को कड़ी चुनौती दे डाली|
श्री सिंह ने कोयला घोटाले पर भाजपा के दबाब पर इस्तीफा देने से मना कर दिया|उन्होंने कहा की वोह तू तू में में की राजनीति नहीं करते पी एम् की अपनी भी मर्यादा होती है|
ईरान की चार दिवसीय यात्रा के बाद प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह शुक्रवार को स्वदेश रवाना हो गए। एयर इंडिया के प्लेन में उन्होंने पत्रकारों के सवालों के जवाब भी दिए|डाक्टर सिंह ने बी जे पी के प्रति आक्रामक रुख दिखाते हुए कहा कि बी जे पी के सारे आरोप बेबुनियाद हैं|संसद को नहीं चलने दिया जा रहा है|भाजपा को चाहिए कि वोह जल्दी बाजी न करे २०१४ तक प्रतीक्षा करे जनता अपने आप इसका जवाब दे देगी|
पाकिस्तान के राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी से मुलाकत के विषय में मनमोहन सिंह ने कहा कि 26/11 के मुंबई हमले के षडयंत्रकारियों के खिलाफ जल्द से जल्द अदालती कार्यवाही पूरी करना दोनों पड़ोसी मुल्कों के बीच विश्वास बहाली का सबसे बड़ा उपाय होगा।उन्होंने बताया की उन्हें[पी एम्] पाकिस्तान जाने का न्यौता मिल; गया है मगर इसके लिए उचित माहौल का होना जरुरी है |उन्होंने २६/११ के मुम्बई हत्याकांड के आरोपियों को सजा देने की आवश्यकता पर बल दिया| पी एम् ने कहा कि राहुल गांधी को सरकार में शामिल होने के लिए न्यौता दिया जा चुका है|
पी एम् ने अपनी सरकार कि मजबूरियों कि तरफ भी ध्यान आकर्षित कराया |उन्होंने कहा कि बी जे पी कोयले मुद्दे पर सरकार के काम में बाधा दल रही है ध्यान भटका रही है|इसके अलावा गठबंधन की भी मजबूरियां होती हैं मगर इसके बावजूद भी हमारी आर्थिक स्थिति कई विकसित देशों से बेहतर है|

मुलायम ने संसद के बाहर कोयला मोर्चा खोला

सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव ने भी आज कैग के कोयले में अपने हाथ डाल दिए हैं|कोयला घोटाले की जांच और संसद में जारी गतिरोध की समाप्ति को लेकर आज मुलायम सिंह यादव अज सुबह लेफ्ट और टी डी पी के साथ मिल कर संसद के बाहर धरने पर बैठ गए हैं|भवन की सीडियों पर बैठे ये लोग मुलायम सिंह को मुद्दे पर न्रेत्त्व करने के नारे भी लगा रहे थे|
संसद के अन्दर सरकार के संकट मौचक बने हुए मुलायम सिंह यादव और लेफ्ट पार्टियाँ कोयले के भ्रष्टाचार की जांच की मांग कर रहे हैं|इसे राजनीतिक विशेषज्ञों द्वारा भाजपा के विरुद्ध तीसरे मोर्चे के रूप में देखा जा रहा है|
लेफ्ट इस मुद्दे पर अपने बंगाल में कांग्रेस के माध्यम से अपनी विरोधी ममता सरकार ,[जो की वर्तमान में केंद्र की सहयोगी भी है] पर निशाना साध सकते हैं जबकि मुलायम सिंह भ्रष्टाचार के मुद्दे को भाजपा से छीन कर कांग्रेस को कुछ राहत दे सकते हैं|
गौरतलब है की अभी कुछ दिन पहले ही संसद में यूं पी ऐ अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गाँधी ने मुलायम सिंह से उनकी सात पर जा कर संक्षिप्त मुलाक़ात की थी तभी से यह कयास लगाये जा रहे थे की अब मुलायम सिंह पुनः कांग्रेस को राहत देने के लिए बी जे पी का विरोध करेंगे|और वोही हुआ भी |एक तरफ मीडिया का सारा ध्यान भजपा से भटक कर सपा के इस कथित तीसरे मोर्चे की तरफ हो गया है|संसद चलाने के लिए अब भाजपा पर दबाब बन रहा है|इसके अलावा उनकी पूर्व में की गई मध्यावधि चुनावों की घोषणा के चलते तीसरे मोर्चे का न्रेत्त्व मिलता दिखाई दे रहा है|

धरना शुरू होने के कुछ समय पश्चात पहुँची राज्य सभा सदस्या ज्या भादुड़ी बच्चन ने क्षणिक देर में ही अपनी शरारती गुड्डी वाले अंदाज़ भी दिखा दिए |धरने पर आये सांसदों को पेपर प्लेकर्ड्स दिए गए एक कार्ड ज्या को भी दिया गया ज्या ने उसे अपनी नाक पर शरारतन रख लिया उनके साथ खड़े प्रोफ़ेसर रामगोपाल यादव हंस पड़े और ज्या को संभवत चेहरा भी दिखाने की डायरेक्शन दी जिसके पश्चात ज्या ने अपने चेहरे से प्लेकार्ड हटाया

जनरल सिंह देश के युवाओं की कमान संभालने को तैयार

बाबा रामदेव और अन्ना हजारे के साथ लोक तंत्र की लड़ाई लड़ने से मना कर चुके पूर्व थल सेनाध्यक्ष जनरल वीके सिंह देश की युवा सेना की कमान संभालने को तैयार हो गए हैं|
इसके लिए उन्होंने युवा शक्ति देश को आगे बढ़ने का जज्बा दिखाने को उत्साहित किया है|वाराणसी में उन्होंने बीते दिन डीएवी कालेज में संगोष्ठी के उपरांत पत्रकारों से बातचीत में कहा कि युवाओं में देश की तकदीर बदलने का माद्दा है सिर्फ उनके आगे बढ़ने की देर है।

गौरतलब है कि जनरल सिंह बाबा रामदेव और अन्ना हजारे के मंचों पर जा चुके हैं और डाक्टर बी एम् सिंह के साथ किसानों के हक़ के लिए आवाज़ उठा चुके हैं|

पूर्व थल सेनाध्यक्ष ने कहा कि देश जब आजाद हुआ था उस समय युवाओं को जो अवसर नहीं मिला वह अब दिया जा रहा है।
उन पर किसी तरह का दबाव नहीं है। वे राष्ट्रहित में निर्णय करने में सक्षम हैं। । इस समय नई सोच विकसित करने की जरूरत है। इसके लिए युवाओं को पूरा मौका दिया जाना चाहिए।
एक प्रश्न के उत्तर में जनरल सिंह ने कहा कि न तो मैं अन्ना के साथ हूं और न ही बाबा रामदेव के। इन दोनों लोगों के पास मुद्दे बहुत अच्छे हैं और मैं उन मुद्दों के साथ हूं। उन्होंने कई प्रश्नों के उत्तर कुशल राजनीतिज्ञ की भांति दिए। यह पूछने पर कि बार-बार कहा जाता है कि अच्छे लोग राजनीति में आएं तो फिर आप चुनाव क्यों नहीं लड़ते? इस पर उन्होंने उल्टा सवाल किया कि आप लोग क्यों नहीं चुनाव लड़ते।
घोटालों और राजनीतिक सवालों पर कहा कि इसका सही जवाब इससे जुड़े लोग ही दे सकते हैं। प्रधानमंत्री के इस बयान पर कि मेरी खामोशी बयानों से अच्छी है के बारे में पूछने पर वे मुस्कुराते हुए अगले कार्यक्रम में जाने की बात कहते हुए खामोशी से बाहर निकल गए।

राज ठाकरे ने आशा भोंसले पर आँखें तरेरी

मनसे प्रमुख राज ठाकरे आये दिन प्रसिद्धि प्राप्त करने के लिए किसी न किसी विवादित मुद्दे या फिर किसी सेलेब्रेटी को निशाना बनाते रहते हैं|असाम दंगों के विरोध में मुम्बई को घंटों बंधक बनाने के बाद अब महाराष्ट्रियन आशा भोंसले को धमकी दे डाली है| महान गायिका आशा भोसले को पत्र लिखकर कहा गया है कि वह पाकिस्तानी कलाकारों के साथ काम न करें।
श्री ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) ने कलर्स टीवी चैनल को इस मामले में धमकाने की भी कोशिश की है।
आगामी 8 सितंबर को आशा भोसले कलर्स चैनल पर पाकिस्तानी गायकों के साथ गाएंगी। मनसे ने धमकी दी है कि अगर कार्यक्रम का प्रसारण करने की कोशिश की गई तो मुंबई में चैनल की कोई शूटिंग नहीं होने दी जायेगी |
और प्रायोजकों के उत्पादों को भी बैन कर दिया जाएगा |
महाराष्ट्र नवनिर्माण चित्रपट कर्मचारी सेना ने आशा भोसले को भी पत्र लिखकर इस कार्यक्रम में भाग न लेने के लिए कहा है।
पाकिस्तान में सलमान खान की फिल्म ‘एक था टाइगर’ पर बैन लगाने का हवाला देते हुए कहा कि जब पाकिस्तान हमारा सम्मान नहीं कर रहा है, तो हम भला क्यों उनके कलाकारों को तवज्जो दें।’ उन्होंने लोगों से भी इस तरह के शो नहीं देखने की अपील की।

चचा आजम ने भतीजे अखिलेशी सरकार पर दबाव बनाया

नगर विकास मंत्रालय में अनुशासनहीनता को लेकर कद्दावर मंत्री मुहम्मद आजम खां आज कल हड़ताल पर हैं|
उन्होंने नगर विकास विभाग के काम से फिलहाल हाथ खींच लिए हैं। उन्होंने अफसरों को कोई फाइल न भेजने की हिदायत दी है। उन्होंने कहा है कि जब तक विभाग में अनुशासनहीनता रहेगी तब तक उनके लिए विभागीय पत्रावलिया देखना संभव नहीं होगा।
अखिलेश यादव की सरकार में पहला केस है जब किसी भारी भरकम कैबिनेट मंत्री ने विभाग का काम देखना ही बंद कर दिया है।
सूत्रों के मुताबिक आजम के निर्देश पर उनके निजी सचिव ने प्रमुख सचिव नगर विकास को एक पत्र लिखा है। पत्र में मंत्री के हवाले से कहा गया है कि विभाग में अनुशासनहीनता है। जब तक विभाग में अनुशासनहीनता रहेगी तब तक उनके लिए विभागीय पत्रावली देखना संभव नहीं होगा। इस पत्र को प्रमुख सचिव नगर विकास प्रवीर कुमार द्वारा विभाग के सभी अधिकारियों को भेजा गया है।
कहा जा रहा है कि है। उन्होंने इसके जरिए लखनऊ के नगर आयुक्त प्रकरण को लेकर अपनी उपेक्षा के प्रति नाराजगी भी व्यक्त कर दी है| यह रवैया
सपा

मोदी के कुपोषण के जवाब पर उठ रहे हैं सवाल

: गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर से भारत और इंडिया के बीच खाई खोद कर राजनितिक हलचल मचा दी है|महिलाओं में कुपोषण के मुद्दे पर पूछे गए एक सवाल परउन्होंने कहा कि मध्य वर्ग (मिडिल क्लास) सुंदरता के प्रति स्वास्थ्य से कहीं अधिक सचेत है और यह एक चुनौती है। अमेरिका की एक पत्रिका वाल स्ट्रीट जर्नल से बातचीत में मोदी के इस तरह के जवाब से सवाल उठने शुरू हो गए हैं|
गुजरात में कुपोषण संबंधी जब एक सवाल उनसे किया गया तो उन्होंने कहा कि मिडिल क्लास की लड़कियों और को सेहत से ज्यादा सुंदरता की फिक्र है। उन्होंने कहा कि यदि कोई मां अपनी बेटी से दूध पीने को कहती है, तो उनमें कहा सुनी हो जाती है। बेटी अपनी मां से कहती है कि मैं दूध पीने से मोटी हो जाऊंगी।
इस पर कांग्रेस के राजीव शुक्ला+अम्बिका सोनी आदि ने आलोचना करते हुए गुजरात में होने वाले चुनावों में मोदी का बहिष्कार करने की बात कही है|
२००२ के दंगों पर माफ़ी
एक अन्यं सवाल पर राज्य में 2002 में हुए दंगों के लिए माफी मांगने से इनकार कर दिया है। मोदी ने कहा कि किसी से माफी मांगने के लिए तब कहना चाहिए जब वह किसी अपराध के लिए दोषी हो। यदि आपको लगता है कि यह कोई बड़ा अपराध है तो दोषी को क्यों छोड़ दिया जाए?
मुख्यमंत्री से पूछा गया कि क्या उन्हें २००२ के साम्प्रदाईक दंगों के लिए माफी मांगनी चाहिए, जैसा कि उनके आलोचक मांग कर रहे हैंतब उन्होंने प्रश्न कर्ता से अपने पुराने उतर को दोहराते हुए कहा कि केवल इसलिए कि मोदी मुख्यमंत्री हैं। उन्हें क्यों छोड़ा जाना चाहिए। मुझे लगता है कि यदि मैं दोषी हूं तो मुझे अधिकतम सजा मिलनी चाहिए। दुनिया को जानना चाहिए कि इस तरह के नेता को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
यह पूछे जाने पर कि क्या वह खुद को भविष्य के प्रधानमंत्री के तौर पर देखते हैं, उन्होंने टालते हुए कहा कि वह गुजरात पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। मैं इससे आगे की नहीं सोच रहा।

सहयोगी सपा भी संसद में कल धरना देगी

कोयले की लड़ाई में अभी तक तटस्थ रहे सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव भी कूद पड़े हैं|३१ अगस्त को प्रात दस बजे संसद पर धरना देने का एलान कर दिया है|सपा के साथ सी पी आई +सी पी एम् और तेलगू देशम भी होंगें|
गौरतलब है कि केंद्र सरकार को बाहर से समर्थन दे रहे मुलायम सिंह यादव अभी तक कोयले के हंगामे से तटस्थ ही रहे हैं मगर पिछले दिनों यूं पी ऐ अध्यक्षा श्रीमति सोनिया गाँधी ने संसद में मुलायम सिंह से संक्षिप्त मुलाक़ात की जिसके बाद से सपा के स्टेंड में यह परिवर्तन देखा जा रहा है|
राजनीतिक पंडितों का मानना है कि सपा और कांग्रेस में कोई समजौता हुआ है जिसके फलस्वरूप सपा ने भाजपा द्वारा संसद में लाए गए गतिरोध का जवाब देने या फिर देश की एट्रेक्शन [ध्यान]भाजपा से हटाने के लिए यह धरना दिया जाना है|
सपा मुखिया श्री यादव ने मांग की है कि कोयला घोटाला और संसद में गतिरोध कि जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट के सिटिंग जज को नियुक्त किया जाए|

संसद के गतिरोध से साड़े सत्रह करोड़ बर्बाद

बारह बजे प्रारम्भ हुए सेशन के चलने के १० मिनट पश्चात राज्य सभा और १३ मिनट के बाद लोक सभा स्थगित कर दी गईसंसद कल ३१ अगस्त तक के लिए स्थगित की गई है|जबकि राज्यसभा का निर्णय २ बजे होगा |
संसद की कार्यवाही आज दसवें दिन भी नहीं चली दोनों सदनों को १२ बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया है|
कोल आवंटन पर कैग रिपोर्ट आने के बाद उग्र हुए विपक्ष ने आज भी संसद की कार्यवाही नहीं चलने दी और आज भी लोकसभा और राज्यसभा को 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।
सरकार अब मुलायम सिंह पर भी डोरे डाल रही है। इसके अलावा यह खबर भी छन कर बाहर आ रही है कि कांग्रेस लोकसभा में बीजेपी के खिलाफ जल्द ही धरना प्रदर्शन कर सकती है|
संसद की कार्यवाही पे एक दिन में पौने दो करोड़ का खर्च आता है दस दिन के साडे सतरह करोड़ का नुकसान हो चुका है