Ad

Category: Politics

आज़म खान ने मेरठ के मंत्री शाहिद मंज़ूर को निशाने पर लिया

उत्तर प्रदेश के काबिना मंत्री आज़म खान ने आज मेरठ के विधायक और मंत्री शाहिद मंज़ूर को निशाने पर लिया | एक न्यूज़ चेनल को दिए इन्टरवियू में श्री आज़म ने मेरठ के प्रभार मंत्री पद से हटाये जाने पर इस्तीफे की बात को सिरे से नकार दिया और इसे [बिना नाम लिए]शाहिद मंज़ूर की शरारत बताया |
उन्होंने कहा की मेरठ में तीन बार बने पार्टी के एक विधायक और उनका परिवार और समर्थक विभिन्न अपराधिक गतिविधिओं में लिप्त है और पार्टी के नाम को बदनाम किया जा रहा है इस से पीड़ित होकर मुख्यमंत्री को पत्र लिखा था मगर उनकी शःरारत पर ही पत्र लीक किया गया है इससे उन्होंने अपनी सारी हदें पार कर दी हैं|
पत्र लिखना एक संवैधानिक प्रतिक्रिया है और इस्तीफ की बात करना बात को बड़ा चड़ा कर पेश किया जा रहा है\

अन्ना हजारे ने दी प्रणव मुख़र्जी को राष्ट्रपति की बधाई

अन्ना टीम का जंतर मंतर पर अनशन आज दूसरे दिन भी जारी है |आज अन्ना हजारे ने अप्रत्याशित रूप से प्रणव मुख़र्जी को राष्ट्रपति बनाने की बधाई दी और भ्रष्टाचार के आरोपों पर बोलने से इनकार कर दिया|
श्री प्रणव मुख़र्जी का अनशन मंच पर भ्रष्ट मंत्रिओं के साथ लगा चित्र भी हटा लिया गया है | बीते दिन शपथ ग्रहण समारोह के बाद श्री प्रणव के चित्र को कपडे से ढक दिया गया था |इसे सरकार के साथ समझौते की तरफ पहला कदम माना जा रहा है|

इस्तीफे की बात से मुकरे आज़म खान

उत्तर प्रदेश के काबिना मंत्री आज़म खान ने सरकार से इस्तीफे की खबर से इनकार किया है और उनके पत्र को लीक करने वालों को अपनी हद में रहने की चेतावनी भी दे दी हैअपनी सुपरिचित अंदाज़ में श्री आज़म ने प्रदेश में दंगों के लिए भाजपा और आर एस एस पर निशाना साधा और गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंदर मोदी को जालिम तानाशाह बताया |
पिछले दिनों मेरठ के प्रभारी मंत्री पद से हटाये जाने पर इनके द्वारा मुख्यमंत्री को लिखे गए पत्र के आधार पर इनके इस्तीफे की खबरें छप रही थी इन सभी खबरों को निराधार बताते हुए यह स्वीकार किया कि उन्होंने पत्र तो लिखा था मगर उसे लीक करके तमाम हदें पार कर दी गई हैं||
प्रेस कांफ्रेंस में बातों बातों में डाक्टर को चांटा मारने वाले नेताओं की भी आलोचना कर गए उन्होंने कहा कि पार्टी में सभी डाक्टरों को चांटा मारने वाले नहीं हैमगर इसके साथ ही इस काण्ड पर मेरठ के सी एम् ओ के तबादले पर कुछ नहीं बोले
श्री आज़म ने बरेली दंगों पर बोलते हुए कहा कि कांग्रेस इस समय कमज़ोर है और इसका फ़ायदा भाजपा और आर एस एस उठाना चाहते हैं तभी १९९२ जैसे हालत पैदा करने की कौशिश की जा रही है

यूं पी में एनेर्जी और अनुभव आमने सामने

null

  1. Read more

शरद पवार और सोनिया में आया राजनितिक सूखापन समाप्त

एनसी पी प्रमुख शरद पवार और यूं पी ऐ प्रमुख श्रीमती सोनिया गांधी के बीच आये राजनितिक सूखे पन के समाप्ति की घोषणा कर दी गई है|संयुक्त ब्यान में कहा गया है कियूं पी ऐ के दलों के बीच बेहतर समन्वय बनाने के लिए जल्द ही कोअर्डीनेशन कमिटी[महाराष्ट्र में भी] का गठन कर लिया जाएगा\
एनसीपी नेता और कैबिनेट मंत्री प्रफुल्ल पटेल ने कहा कि एन सी पी सरकार में थी और सरकार में है तथा २०१४ तक यूपीए में ही रहेगी|आज उनकी भाषा और वाणी में सूखा पन या पहले जैसा रूखा पन नहीं था|
बताया जा रहा है कि शरद पवार ने श्रीमती सोनिया गांधी और डाक्टर मन मोहन सिंह से मुलाकात कि और बातचीत में सभी मसाले सुलझा लिए गए हैं सतही तौर पर तो समन्वय समिति के गठन पर राजीनामा हो जाने कि बात कही गई है मगर अन्दर खाने हुई डील का खुलासा होने में कुछ समय तो लगेगा |
वैसे प्रधान मंत्री ने स्वयम कहा था कि गठबंधन कि सरकार में लेन देन तो होता ही है|खैर कुछ भी हो फ़िलहाल यूपीए कि केंद्र और महाराष्ट्र कि सरकार पर छाए खतरे के बादल छंट गए हैं|

टीम अन्ना को न्याय के लिए संयुक्त राष्ट्र में चले जाना चाहिए =खुर्शीद

अन्ना हजारे टीम के अनशन मंच पर एन एस यूं आई के छात्रों के हंगामे के बाद केन्द्रीय कानून मंत्री सलमान खुर्शीद का कटाक्ष भरा ब्यान आया है की अन्ना टीम को भारत में न्याय नहीं मिलेगा इसीलिए उन्हें अब संयुक्त राष्ट्र में गुहार लगानी चाहिए | भाजपा ने इसकी निंदा की है|
एन एस यूं आई के हंगामे और सलमान खुर्शीद के कटाक्ष भरे ब्यान की भाजपा ने निंदा की है| तीन बजे की ब्रीफिंग में राजीव प्रताप रूडी ने चेतावनी देते हुए कहा की ऐसे कृत्य और ब्यान खुर्शीद और कांग्रेस को भरे पड़ेंगे |
केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अम्बिका सोनी ने तो टीम अन्ना के १५ मंत्रिओं पर लगाये गए भ्रष्टाचार के आरोपों को सिरे से ही खारिज कर दिया है\
इसके साथ साथ ही पी एम् ओ राज्यमंत्री सामी ने स्थिति को संभालने के लिए सरकार की स्थिति स्पष्ट करते हुए बताया की लोकपाल का बिल राज्य सभा में लटका हुआ है और राज्य सभा में यूं पी ऐ की मेजोरिटी नहीं है|
उधर अनशन मंच पर अरविन्द केजरीवाल ने आज शाम ५ भ्रष्ट मंत्रिओं के खिलाफ सबूत पेश करने का एलान किया है\

टीम अन्ना के अनशन में एन एस यूं आई का हंगामा

टीम अन्ना का दिल्ली जंतर मंतर पर अनशन शुरू हो गया है अपरान्ह ११ बजे के करीब कुछ युवकों ने हंगामा खड़ा कर दिया युवकों ने टीम अन्ना और विशेषकर अरविन्द केजरीवाल के विरुद्ध जम कर नारे लगाए और केजरीवाल को हनी पहुंचाने की कौशिश भी की गई|मंच इन यूवकों की एन एस यूं आई[कांग्रेस समर्थित छात्र संघ] के सदस्य बताया गया और इस हंगामे को प्रायोजित बताया गया लेकिन इन युवकों ने टीवी चेनलों के कमरों के सामने आ कर इस आरोप को झुठला दिया और स्वयम को आम आदमी बताया \थोड़ी देर के पश्चात हंगामाई युवकों को बाहर निकाल दिया गया |

प्रणव मुख़र्जी बन गए भारत के महामहिम

प्रणव मुखर्जी आज महामहिम बन गए उन्होंने राष्ट्र के १३ वें राष्ट्रपति के पद की शपथ ली|संसद के सेन्ट्रल हल में आयोजित एक गरिमापूर्ण समारोह में प्रणव मुखर्जी को देश के पहले नागरिक होने का सम्मान भी मिला|समारोह में पश्चिम बंगाल की बहु चर्चित मुख्य मंत्री ममता बेनर्जी भी उपस्थित थी
इस अवसर पर महामहिम ने अपने मर्यादित भाषण में शिक्षा +शांति को सम्रद्धि की कुंजी बताया |उन्होंने गरीबी को दूर करने +शिक्षा काप्रसार और शान्ति को आज की आवश्यकता बताया |श्री प्रणव ने आतंकवाद के विरुद्ध लड़ी जाने वाली चौथी लड़ाई पर भी टिप्पणी की \इसके पश्चात मोहम्मद हामिद अंसारी ने हिंदी में महामहिम के भाषण का अनुवाद पडा |महामहिम की अनुमति से समारोह का समापन किया गया |अंत में बाहर आ कर नए राष्ट्रपति को गार्ड आफ आनर भी दिया गया

भाजपा ने की अमरनाथ यात्रा की अवधि बढाने की मांग

भारतीय जनता पार्टी के एक डेलिगेशन ने गृह मंत्री पे चिदम्बरम से मुलाक़ात की और श्री अमर नाथ श्राईन की यात्रा की अवधि बडाये जाने की मांग की\
श्रीमती शुष्मा स्वराज के न्रेतत्व में अरुण जेटली +७ सदस्यों के इस डेलिगेशन ने यात्रियों की मौतों की संख्या में दिनों दिन वृधि की रोक थाम के लिए मेडिकल सुविधायों की मांग भी की|
४०००० से ४२००० यात्रिओं के प्रतिदिन पहुँचाने के समाचार हैं| ६० दिन के बजाय ३९ दिन की यात्रा किये जाने से यह समस्या उत्पन्न हुई है|

तोड़ फोड़ के आधार पर राजनितिक पार्टी की मान्यता रद्द नहीं हो सकती

सार्वजानिक संपत्ति को नुक्सान पहुंचाने वाली राजनितिक पार्टी की मान्यता रद्द करने का अधिकार चुनाव आयोग के पास भी नहीं है \यह स्पष्टीकरण केंद्र सरकार द्वारा सुप्रीम कोर्ट को दिया गया है|
17 जुलाई को सर्वोच्च अदालत द्वारा केंद्र से पूछा गया था कि किसी भी तरह के आन्दोलन के दौरान सार्वजनिक संपत्ति को हानि पहुंचाए जाने पर चुनाव आयोग उस राजनितिक दल की मान्यता रद्द कर सकता है \ केंद्र सरकार ने इस प्रकरण में मान्यता रद्द करना चुनाव आयोग और न्यायपालिका दोनों के अधिकार छेत्र से बाहर बताया \राजनीति दल के सदस्यों के हस्तक्षेप होने पर भी राजनितिक दल कि मान्यता रद्द नहीं की जा सकती\