Ad

Category: Social Cause

इंडिया के विकास चिराग जल रहे हैं उनके नीचे छाए भारत के अँधेरे में असंख्यक दरिद्र नारायन दुबके हैं

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

एक झल्ल्यत प्रेमी

ओये झल्लेया दिवाली दी लख लख वधाईयां +मुबारकां ते कान्ग्रेचुलेश्नाश । देखा दीपावली के पवित्र अवसर पर रविवार की धनतेरस से ही पूरा शहर रोशनी से नहाया हुआ है ।व्यापारियों पर खूब हो रही है धन की वर्षा|
ज्योति से ज्योति जल रही है घर -घर रोशनी में जगमगा रहा है । व्यापारी हो या दरवेश हसाड़े लक्ष्मी+ गणेश काट रहे हैं सबके कलेश|

इंडिया के विकास चिराग जल रहे हैं उनके नीचे छाए भारत के अँधेरे में असंख्यक दरिद्र नारायन दुबके हैं


झल्ला

वधाईयां जी आप जी भी खूब वधो।लेकिन साहब जी ये जो इंडिया के विकास रूपी चिराग जल रहे हैं उनके नीचे छाए भारत के अँधेरे में असंख्यक दरिद्र नारायन दुबके बैठे हैं । कहा जाता है कि दीवाली पर धन की देवी लक्ष्मी की पूजा की जाती है और ये लक्ष्मी देवी चंचला स्वभाव की होने के साथ साथ कर्म प्रधान भी है ।ये माता राणी कर्म करने वालों को ही वांछित लाभ या फल देती है।इसीलिए झल्ले का निवेदन है कि अपने जीवन काल में कम से कम एक दरिद्र नारायणको चिराग के अँधेरे से उठा कर बाहरी विकास की रोशनी के दर्शन कराने से बड़ा कोई दूसरा कर्म नहीं होगा|कर्म करने से माता राणी के प्रसन्न होने के चांस काफी बढ जायेंगें|

सफाई कर्मियों ने नरक चतुर्थी के त्यौहार पर महानगर को नरक बनाने की चेतावनी दी

मेरठ के विजय नगर में आज सफाई कर्मियों ने आर जी डिग्री[कन्या] कालेज के सामने कूडा कचरा डाल कर ट्रैफिक जाम कर दिया|एक सफाई कर्मी की पिटाई के विरोध स्वरुप यह हुआ |महानगर में आज त्यौहार के दिन भी कहीं कचरा नहीं उठा|मार पीट के आरोपी के घर पर मरे हुए चूहे लटका कर और उसकी गिरफ्तारी की मांग के साथ प्रतिशोध लिया| और दीपावली के त्यौहार पर महानगर को कचरे के खत्ते में तब्दील करने की चेतावनी भी दी|
प्राप्त जानकारी के अनुसार विजय नगर में सुभाष सफाई कर रहा था उस समय डेयरी संचालक दीपक से कुछ कहा सुनी हो गई|इस बीच सुभाष के साथ मार पीट के आरोप भी लगाए गए हैं|ईसके बाद सुभाष ने अन्य कर्मचारी साथियों को सूचित किया तो रोष फ़ैल गया |दीपक के घर के साथ ही आर जी [कन्या] डिग्री कालेज के सामने भी कूडा डाल दिया गया| प्रशासन और जन

सफाई कर्मियों ने नरक चतुर्थी के त्यौहार पर महानगर को नरक बनाने की चेतावनी दी

प्रतिनिधि इस समस्या के सामने बौने साबित हुए | शाम तक दोनों पक्षों में समझौता कराने के लिए पोलिस और प्रशासनिक अधिकारी प्रयास रत थे|

नरक चतुर्थी पर स्वर्गीय आनंदों के साथ दीपावली मनाएं

सबको हैप्पी दीपावली

नरक चतुर्थी पर स्वर्गीय आनंदों के साथ दीपावली मनाएं

| लंकापति रावण पर अयोध्यापति श्री राम की विजय के पश्चात श्री राम के घर लौटने पर खुशियाँ बांटने को दीपावली पर्व का नाम दिया गया है| यह त्योहार बुराई पर अच्छाई का प्रतीक और धन धान्य प्रदान करने वाली लक्ष्मी के पूजन से भी जुडा है|धन तेरस +छोटी दिवाली और बड़ी दीपावली पर प्रकाश करने +खरीददारी करने और पूजन का विशेष महत्व है| इसीलिए इन तीन दिनों में अरबों /= का व्यापार होता है|यहाँ तक की शेयर बाज़ार में भी महूरत खरीददारी का चलन है|

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने आकाश 2 टैबलेट लांच करके शिक्षा के प्रसार के प्रति सरकार की प्रतिबद्द्ता दर्शाई

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने रविवार को ग्रेजुएशन कर रहे छात्रों के लिए कम कीमत में ज्यादा एप्लीकेशन वाला आकाश 2 टैबलेट लांच किया। । धनतेरस के मौके पर सरकार की तरफ से छात्रों को सबसे बड़ा तोहफा मिला है। गौरतलब है कि देश के पहले शिक्षा मंत्री मौलाना अबुल कलाम आज़ाद की 124 वीं जयंती के दिन को भारत में ‘एजुकेशन डे’ के रूप में मनाया जाता है। और इस दिन शिक्षा से सम्बंधित मुद्दों को महत्व देकर सरकार ने

राष्ट्रपति ने आकाश 2 टैबलेट लांच करके शिक्षा के प्रसार के प्रति सरकार की प्रतिबद्द्ता दर्शाई

प्रोडक्ट की विशेषता

बताया जा रहा है कि विश्व का सबसे सस्ता टैबलेट आकाश 2 एंड्रॉयड 4.0 पर चलता है।डाटाविंड कंपनी द्वारा तैयार किया गया आकाश 2 टैबलेट 7 इंच की टचस्क्रीन के साथ लीनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम पर आधारित है इसमें 1 गीगाहर्ट्ज कॉर्टेक्स ए8 प्रोसेसर के साथ 512 एमबी रैम है। इसमें 4जीबी की इंटर्नल मेमोरी है जिसे 32 जीबी तक बढ़ाया जा सकता है। यूएसबी पोर्ट, फ्रंट कैमरा की भी सुविधा दी गयी है।प्रोडक्ट निर्माता कंपनी के मुताबिक इस उपकरण को 2063 रुपये में सरकार को सप्लाई किया जाएगा| सरकार इस पर सब्सिडी देकर 1132 /= में देगी|बाज़ार में प्रोफेशनल प्रोडक्ट 3500 रुपये में लांच किया जाना है|

राष्ट्रीय शिक्षक व शिक्षण मिशन

कपिल सिब्बल से मंत्रालय का चार्ज लेने वाले मानव संसाधन विकास [एचआरडी] मंत्री एमएम पल्लम राजू के अनुसार उनका मंत्रालय जल्द ही राष्ट्रीय शिक्षक व शिक्षण मिशन शुरू करने की तैयारी कर रहा है। कार्यक्रम में राष्ट्रपति ने आकाश के जरिये शिक्षकों के प्रशिक्षण और दक्षता विकास की परियोजना ‘ए-व्यू’ का भी उद्घाटन किया। राजधानी के विज्ञान भवन में आयोजित इस समारोह को देश के 15 हजार शिक्षकों ने अपने आकाश टेबलेट पर देखा। आइआइटी मुंबई की मदद से शुरू किए गए इस प्रोजेक्ट के तहत देश के 250 केंद्रों पर 15 हजार शिक्षकों को आकाश के जरिये पढ़ाने के गुर सिखाए जा रहे हैं। एचआरडी मंत्रालय की योजना शुरू में इसके तहत एक लाख 50 हजार शिक्षकों को तैयार करने की है।
गौरतलब है कि इस वर्ष अक्टूबर में आकाश टैबलेट लांच किया गया था और पूर्व मानव संसाधन विकास मंत्री कपिल सिब्बल के ड्रीम प्रोजेक्ट्स में से यह एक प्रोजेक्ट था|
आकाश बनाने वाली कंपनी डेटाविंड का दावा है कि इस साल दिसंबर तक एक लाख छात्रों को यह टैबलेट बांट दिए जाएंगे
दिनों दिन सस्ते होते जा रहे लेपटाप और टेबलेट्स के सामने इस सरकारी लेपटाप की सफलता तो अभी भविष्य के गर्भ में है लेकिन यह कहना भी जरुरी है कि हमारे देश में प्रतिभाओं कि कमी नहीं है|चित्र में दिखाए गए एक जुगाड़ का उदहारण दिया जा सकता है| इस मशीन से गन्ने का रस निकाल कर जगह जगह बेचा जाता है|सस्ते में बनी इस प्रकार की मशीनों से कई परिवार पल रहे हैं| सरकार का हाथ आम आदमी के साथ का दावा तभी चरित्रार्थ हो पायेगा जब इस प्रकार के छोटे और सस्ते उपकरणों को कानूनी जामा पहनाया जा सकेगा| इससे रेवेन्यु मिलेगा +स्वास्थ्य के प्रति सुरक्षा और गैर कानूनी लेबल हटाने से इनकी तकनिकी सुरक्षा को भी सुनिश्चित किया जा सकेगा| इस प्रकार के उपकरणों को मान्यता देने से शायद भारत और इंडिया के बीच बड रही दूरी को कम किया जा सकेगा|

भाजपाई मेयर ने पार्टी लाईन से हट कर सपाई सी एम् से मुलाक़ात की

मुख्य मंत्री के मेरठ कार्यक्रम का बहिष्कार करने वाली भाजपा के मेयर हरिकांत अहलुवालिया ने पार्टी लाइन से हट कर मेरठ के विकास के लिए मुख्य मंत्री अखिलेश यादव से सपा के मंच पर मुलकात की और मेरठ के विकास के लिए आवश्यक धन जल्द रिलीज करवाने का आग्रह किया | मेयर के इस सकारात्मक मूव को सराहा जा रहा है|

भाजपाई मेयर ने पार्टी लाईन से हट कर सपाई सी एम् से मुलाक़ात की

लेकिन मेरठ से कद्दावर मंत्री शाहिद मंज़ूर मंच संचालक थे उन्होंने मेयर का नाम हरिकांत के बजाय रविकांत एनाउंस करके सबको सोचने पर मजबूर कर दिया|गौरतलब है कि सी एम् को शहर में घुमाने का कार्यक्रम नहीं बनाया गया था इसीलिए यहाँ कि सडकों +नालों+नालियों+संविदा कर्मियों के स्थाईकरण जैसे ज्वलंत समस्यायों के प्रति सी एम् का ध्यान आकर्षित किया जाना जरूरी था इसीलिए मेयर ने प्रस्तावित ४०९ करोड़ रुपये जल्द रिलीज करवाने का आग्रह किया| लेकिन इसके साथ ही मेयर एक आलोचना के शिकार भी हो रहे हैं|हरिकांत अहलुवालिया पंजाबी कोटे से मेयर का चुनाव लड़े थे और जीते |मेयर एक पंजाबी मिलन नामक संस्था के अध्यक्ष भी हैं मगर इन्होने सी एम् से आर्थिक रूप से पिछड़े पंजाबियों के कल्याण के लिए कोई यौजना की मांग नहीं की

लिटिल एपेक्स+बचपन प्ले स्कूल+ ब्रिज भूषण स्कूल और सिटी वोकेशनल स्कूल में दीपावली

लिटिल एपेक्स+बचपन प्ले स्कूल+ ब्रिज भूषण स्कूल और सिटी वोकेशनल स्कूल में दीपावली

स्कूलों में त्योहारों का सीजन मनाया जा रहा है| कहीं दीया और थाली सज्जा तो कहीं प्रदर्शिनी लगाई जा रही है|आज मेरठ के लिटिल एपेक्स+बचपन प्ले स्कूल+ ब्रिज भूषण स्कूल और सिटी वोकेशनल स्कूल में भी विभिन्न आयोजन हुए प्रस्तुतु है इन स्कूलों में मनाई जा रही दिवाली की कुछ फोटोस

आला रे आला अब अन्ना बाबू राव हजारे भी आला

भ्रष्टाचार के मुद्दे पर सरकार को घेरने के लिए अब अन्ना बाबू राव हजारे भी दिल्ली लौट आये हैं| उन्होंने सर्वोदय एन्क्लेव में एक आफिस की व्यवस्था कर ली है जिसका उद्घाटन कल[रविवार] को किया जाएगा और एक अराजनैतिक संगठन की घोषणा कर दी है| भ्रष्टाचार के खिलाफ अपनी मुहिम की दोबारा शुरुआत करने से पहले अन्ना ने अपनी कोर कमेटी के नए सदस्यों का नाम तय करने के लिए दिल्ली में बैठक कीइस बैठक में रिटायर्ड जनरल वी के सिंह और कर्नाटका के पूर्व लोकायुक्त संतोष हेगड़े की अनुपस्थिति चर्चा का विषय बनी रही| मीटिंग के बाद समाजसेवी अन्ना हजारे ने प्रेस को संबोधित किया| जनलोकपाल की अपनी पुरानी मांगों को दोहराते हुए उन्होंने कहा कि जनता को जनप्रतिनिधियों को रिजेक्ट करने का अधिकार मिलना चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि सरकारी दफ्तर में किस टेबल पर जरूरी फाइल कितने दिन तक रहती है, इसकी जानकारी भी जनता को होनी चाहिए। अन्ना ने सरकार पर फिर से हमले तेज करते हुए कहा कि जनलोकपाल को लेकर उसकी नीयत साफ नहीं है। हालांकि बैठक के दौरान इसे एक निजी कारण की वजह से बैठक में न आ पाना बताया गया।
बैठक के बाद अन्ना ने कहा कि उनकी कोर कमेटी में कई चेहरे पुराने ही हैं, लेकिन कुछ नए चेहरों को भी इस कमेटी में शामिल किया गया है।

आला रे आला अब अन्ना बाबू राव हजारे भी आला


गौरतलब है कि अरविंद केजरीवाल से अलग होने के बाद अन्ना पहली बार अपनी नई कोर कमेटी के सदस्यों का नाम तय करने के लिए बैठक कर रहे थे। दिल्ली में हो रही इस बैठक में मेधा पाटेकर, किरण बेदी समेत कई अन्य चेहरे मौजूद रहे। आज की बैठक में अन्ना ने अपने करीबियों के साथ भविष्य की रणनीति पर चर्चा की। उनकी नई टीम में किरण बेदी, मेधा पाटकर, अखिल गोगोई और पूर्व महानिदेशक [पंजाब जेल] शशि कांत शामिल हैं। आज हुई इस पहली बैठक के बाद हजारे टीम का विस्तार करेंगे। इनमें उन लोगों को शामिल किया जाएगा जो पूर्व में उनके साथ काम कर चुके हैं। पीवी राजगोपाल, राजेंद्र सिंहऔर अविनाश धर्माधिकारी जैसे अन्य नाम भी टीम से जुड़ सकते हैं|
किरण बेदी के मुताबिक नई टीम में नए और पुराने दोनों तरह के सदस्य हैं। नए सदस्यों में पूर्व आइएएस अधिकारी अविनाश धर्माधिकारी, कृषि विशेषज्ञ विश्वजीत और ब्रिगेडियर [सेवानिवृत्त] ब्रिजेंद्र शामिल हैं।।गुवाहाटी में कुछ कार्यक्रमों में हिस्सा लेने के बाद शुक्रवार को हजारे राजधानी पहुंचे। आज की बैठक में अन्ना ने अपने करीबियों के साथ भविष्य की रणनीति पर चर्चा की।
एक तरफ तो अरविन्द केजरीवाल आये दिन प्रेस कन्फ्रेसं करके नए नए भ्रष्टाचार के मुद्दे उठा कर सरकार की किरकिरी कर रहे है अब अराजनीतिक अन्ना हजारे भी इसी मुद्दे के साथ सम्पूर्ण परिवर्तन [राईट टू रिजेक्ट और राईट टू रिकाल] के लिए ग्रामीण आंचलों से सरकार को घेरने के लिए डेड साल तक अभियान छेड़ेंगे | बेशक भाजपा और अन्य राजनितिक दल विपक्ष की भूमिका के लिए कोई प्रभाव नहीं छोड़ पा रहे हैं इसीलिए आई ऐ सी और अन्ना हजारे की फाईट टू करप्शन जैसी संस्थाओं को ग्राउंड मिल रही है|इस अवसर पर आदतन कई पत्रकारों ने आई ऐ सी और फाईट टू करप्शन में किसी विरोधाभास को तलाशने का प्रयास करते हुए प्रश्न पूछे मगर किसी कुशल नेता की भांति इन सभी प्रश्नों को हंस कर टाल दिया गया |इससे लगता है की ये दोनों संगठन अब अलग अलग दिशाओं से सरकार को घेरने का प्रयास करेंगे | यानि आला रे आला अब अन्ना बाबू राव हजारे भी आला

इन्सान पूर्ण हैं क्योंकि उनके अन्दर खुदा का नूर है

माटी एक अनेक भान्ति , कर साजी साजनहारे ।
न कुछ पोच माटी के भांडे , न कुछ पोच कुम्हारे ।

न्सान पूर्ण हैं क्योंकि उनके अन्दर खुदा का नूर है

भाव : एक ही कुम्हार है और एक ही माटी है , उस मिट्टी से कुम्हार अनेक प्रकार के बर्तन बनाता है इसी प्रकार परमात्मा एक ही है परन्तु उसके बनाए हुए इंसान की सूरत जुदा -जुदा है।परमात्मा पूर्णता का प्रतीक है और उसके बनाए हुए इन्सान भी पूर्ण हैं क्योंकि उनके अन्दर खुदा का नूर है ।
प्रस्तुती राकेश खुराना

नसबंदी के राजनीतिक दुष्प्रभाव की एल पी जी के रूप में पुनरावर्ती की संभावना दिखने लग गई है

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

एक कांग्रेसी
ओये झाल्लेया देखा हसाडी अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गांधी जी की लीडरशिप का कमाल ।सूरज कुण्ड में संवाद बैठक का आयोजन करके उन्होंने कांग्रेसी मंत्रियों को जनता से संवाद स्थापित करके 2014 के मार्ग को आसान करने को कह दिया है । ऍफ़ डी आई को इंडिया में लाकर जहाँ सड़े गले देसी उद्योगों में जान डाली जा रही हैं वहीं अमेरिका में डेमोक्रेट बराक ओबामा को भी जितवा दिया है और तो और सूरज कुण्ड तक बस में सफ़र किया और मित्वियतता के खिलाफ सीधा मोर्चा खोल दिया है ।ओये अब तो 2014 में हसाडी सरकार फिर बने ही बने।

नसबंदी के राजनीतिक दुष्प्रभाव एल पी जी के रूप में

झल्ला
मेरे चतुर सुजान जी यह ठीक है कि आपजी की लीडर वाकई लोह महिला की छवि बनाने में लगी है मगर इनकी सरकार की नीतियाँ कुछ उलटा ही सन्देश दे रही है। उदहारण के तौर पर इसी संवाद बैठक में कांग्रेसियों ने एल पी जी कैपिंग के विरुद्ध चेतावनी दे दी है।इससे पहले एन सी पी भी आप की सरकार को आम आदमी की रसोई से दूर रहने की सलाह दे चुकी है। और तो और राय बरेली में श्रीमती प्रियंका गाँधी को भी रसोई गैस से होने वाले राजनितिक नुक्सान के विषय में बताया जा रहा है।मुझे याद आता है कि इमरजेंसी के दौरान देश की आबादी कम करने के लिए नस बंदी का अभियान चलाया गया था बेशक यह देश हित में था मगर जिस प्रकार जबरदस्ती से यह अभियान चलाया गया उसके नकारात्मक नतीजे मिले और अच्छे अच्छों की कुर्सियां खिसक गई।अब ये एल पी जी की कैपिंग कर दी गई है| महंगी करने के बावजूद भी आम आदमी की पहुँच से दूर की जा रही है| संयुक्त परिवार को कई टुकड़ों में दिखाने को विवश किया जा रहा है| इस विशेष शाक थेरेपी नीति से आम परिवार त्रस्त हैं ।ऐसे में एतिहासिक नसबंदी के राजनीतिक दुस्प्रभाव की २०१४ में पुनरावर्ती की संभावना तो दिखने लग गई है।

आन्दोलन कारी वकीलों को शीशे में उतारने के लिए प्रशासनिक प्रयास तेज हुए

हाई कोर्ट की बेंच के लिए जारी दो दिवसीय धरने के दौरान आज शुक्रवार को भी वकीलों के तेवर नरम नहीं हुए|कचहरी परिसर से पोलिस फ़ोर्स को बाहर खदेड़ कर रोज़गार दफ्तर पर भी ताला जड़ दिया गया| उधर दोपहर बाद पूर्व घोषणा के अनुसार बेगम पुल पर भी धरना प्रदर्शन करके चक्का जाम किया गया|यहाँ छुटपुट झड़पें भी हुई |आज अनेकों संगठनों ने आन्दोलन को सहयोग देने की घोषणा भी की | संयुक्त युवा |व्यापार मंडल+शिव सेना+मेरठ ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन +संयुक्त व्यापार संघ+रालोद+के अलावा मंत्री शहीद मंज़ूर[ जो की स्वयम भी वकील हैं] ने भी समर्थन की बात कही और संघर्ष की आवाज़ मुख्य मंत्री तक पहुंचाने का आश्वासन भी दिया|

>वकीलों को मनाने को प्रशासनिक प्रयास तेज हुए

,

आन्दोलन कारी वकीलों के प्रयास तेज हुए


मुख्य मंत्री का घेराव नहीं हो इसके लिए प्रशासनिक प्रयास शुरू हो गए हैं|मंत्री शहीद मंज़ूर [जो की स्वयम भी वकील हैं ने मुख्य मंत्री तक वकीलों की बात पहुंचाने का आज आश्वासन दिया|इसके अलावा प्रदर्शन कारियों के एक छोटे प्रतिनिधि मंडल को सी एम् से मिलवाने को प्रशासनिक अधिकारी वकीलों को शीशे में उतारने का प्रयास करते देखे गए मगर सूत्रों की माने तो संघर्ष समिति अपनी शाखाओं के प्रतिनिधिओं के साथ ही मुख्य मंत्री से मिलने पर अड़े रहे|