Ad

Category: World

Capt Kicks Drug Menace Into Centre’s Court

[Chd,Pb]Capt Kicks Drug Menace Into Centre’s Court
In a letter to Prime Minister Narendra Modi on Sunday, Capt Amarinder Singh urged him to advise ministries of Home, Social Justice and Empowerment, and Health and Family Welfare to address the issue.
The chief minister sought Modi’s personal intervention for the formulation of a national policy focusing on three components — enforcement, de-addiction and prevention — to tackle the menace of drug abuse in the country.Singh said a national policy would enable all states to follow a similar, if not the same, approach on drug abuse, which, he said, “has substantially hampered the health of the people, particularly the youth”.
The chief minister expressed his state’s willingness to associate with the officers concerned of the Centre not only to evolve the policy but also to put in place an effective mechanism for its implementation.
In his letter to Modi, Singh also touched upon several steps which the Congress government in Punjab has taken during the past two years to check the drug menace and to expand its outreach at the grassroots to make towns and villages “drug-free”.
He also sought financial support from the Centre to increase the number of Outpatient Opioid Assisted Treatment (OOAT) clinics in Punjab, which he said, are currently being run on “meagre state resources”.

Center Makes “Body Scanners” Mandatory For 84 Airports

[New Delhi]Center Makes “Body Scanners” Mandatory For 84 Airports
The Centre has directed 84 airports across the country to install body scanners by March 2020, replacing existing door frame metal detectors and hand-held scanners besides pat-down searches of passengers to detect metallic objects, according to an official document.
“Walk-through metal detectors and hand-held metal detectors cannot detect non-metallic weapons and explosives. Body scanners detect both metallic and non-metallic items concealed on the body,” states the circular sent by Bureau of Civil Aviation Security (BCAS) to all airports in April this year.
Of around 105 operational airports in the country at present, 28 are classified as hypersensitive, including those in big cities like Delhi, Mumbai, Kolkata, Chennai and in conflict areas like Jammu and Kashmir and the Northeast while 56 airports are categorized as sensitive.
These 28 hypersensitive and 56 sensitive airports would have to install body scanners by March 2020 while the remaining airports can install it by March 2021, as per the circular.

पूर्व विदेश सचिव एस जयशंकर अपने ही मंत्रालय के बने मंत्री

[नयी दिल्ली]पूर्व विदेश सचिव एस जयशंकर अपने ही मंत्रालय के बने मंत्री
जयशंकर को चीन एवं अमेरिका मामलों का विशेषज्ञ माना जाता है और नये विदेश मंत्री के रूप में उन पर खास नजर होगी कि वह इन दोनों महत्वपूर्ण देशों के साथ पाकिस्तान के साथ निपटने में भारत के रूख को किस प्रकार से आगे बढ़ाते हैं ।
64 वर्षीय जयशंकर न तो राज्यसभा और न ही लोकसभा के सदस्य हैं । उनके नेतृत्व में मंत्रालय के अफ्रीकी महाद्वीप के साथ सहयोग प्रगाढ़ बनाने पर जोर देने की उम्मीद है जहां चीन तेजी से प्रभाव बढ़ा रहा है।
देश के प्रमुख सामरिक विश्लेषकों में से एक दिवंगत के . सुब्रमण्यम के पुत्र जयशंकर ऐतिहासिक भारत-अमेरिका परमाणु समझौते के लिए बातचीत करने वाली भारतीय टीम के एक प्रमुख सदस्य थे।
इस समझौते के लिए 2005 में शुरूआत हुयी थी और 2007 में मनमोहन सिंह की अगुवाई वाली संप्रग सरकार ने इस पर हस्ताक्षर किए थे।
जनवरी 2015 में जयशंकर को विदेश सचिव नियुक्त किया गया था और सुजाता सिंह को हटाने के सरकार के फैसले के समय को लेकर विभिन्न तबकों ने तीखी प्रतिक्रिया जतायी थी।
64- वर्षीय जयशंकर जनवरी 2015 से जनवरी 2018 तक विदेश सचिव रहे हैं।

Indo-American Judge Mehta Jolts White House : Trump A/C Firm

[Washington] Indo-American Judge Mehta Jolts White House : Trump A/C Firm Hand Over Records to Congress :Indo-American Judge To Trump A/C Firm
As per CNN Reports Judge Amit Mehta told the accounting firm that it will need to turn over Trump’s accounting records from before he was president to the Democratic-controlled House Oversight Committee,
The Trump administration recently issued a blanket denial of all Democrats’ subpoena requests, saying the information they seek is politically motivated. Democrats, on the other hand, say the administration’s actions amount to an unprecedented attempt to block Congress from its constitutionally mandated oversight.
Mehta noted that in the past 50 years, Congress had twice investigated a sitting president for alleged criminal activity before starting impeachment proceedings Richard Nixon during the Watergate scandal, and Bill Clinton during the Whitewater scandal.
Mehta’s opinion, coming not even a week after a hearing in the case, will kickstart a race to appeals courts.
File Photo
White House

ISRO Decorated with Another Feather By Launching RISAT-2B

[ISriharikota] SRO Decorated with Another Feather By Launching RISAT-2B
India’s Polar Satellite Launch Vehicle (PSLV-C46) today successfully launched the RISAT-2B satellite from Satish Dhawan Space Centre (SDSC) SHAR, Sriharikota in Andhra Pradesh. This was the 72nd launch vehicle mission from SDSC SHAR, Sriharikota and 36th launch from the First Launch pad.
RISAT-2B is a radar imaging earth observation satellite weighing about 615 kg. The satellite is intended to provide services in the field of Agriculture, Forestry and Disaster Management.
A total number of 5,000 visitors witnessed the launch live from the Viewer’s Gallery, which is opened to the public.
ISRO is now gearing up for the launch of Chandrayaan-2 onboard GSLV MkIII during the window of July 09, to July 16, 2019, with an expected Moon landing on September 06, 2019.

US Restricts Visa Of Three Pakistani Ministry Officials

US Restricts Visa Of Three Pakistani Interior Ministry Officials
As per Dawn ,The officials who are facing the visa restrictions are an
additional secretary and a
joint secretary of the interior ministry as well as the
director general passports,
The sanctions on the officials have been put in place after a row between Pakistan and America over deportation of dozens of Pakistanis, currently in the US, because of visa overstay and other allegation
The US has over the past 18 months deported over 100 Pakistanis, all of whom were accepted back.
It is the first time that Pakistani authorities have insisted on a verification of the credentials of the deportees.

ब्रिटेन ने अपनी ग्रेटनेस बचाने को १९४७ में कत्लेआम करवा दिया था

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

भारतीय उपेक्षित ईसाई

औए झल्लेया ! आज़ादी के बाद तो हमें गुलामों से भी बदत्तर जिंदगी जीने को मजबूर किया जा रहा है| अब ब्रिटेन सरकार ने मंगलवार को कह दिया है कि वह भारत में हम पर हो रहे जुल्मों के मुद्दे को उठाएगी।
ये बात हवा में नहीं कही गई है बल्कि हाउस ऑफ कॉमन्स में विदेश और राष्ट्रमंडल कार्यालय के लिए सवाल-जवाब के निर्धारित सत्र के दौरान ब्रिटेन के विदेश कार्यालय के मंत्री मार्क फील्ड द्वारा कहा गया है

झल्ला

आपको नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ अपनी भड़ास निकालने के लिए पूरा हक है लेकिन ब्रिटेन ने अपनी ग्रेटनेस बचाने को भारत में १९४७ में कत्लेआम करवा दिया था और देश छोड़ कर जाते समय इन्ही अंग्रेजों ने भारतीय धन को स्विस बैंकों में छुपा दिया था अब अगर वह वापिस आ जाता है तो देश की जी डी पी बढ जाती
इस ब्रिटैन ने १९४७ में देश को विभाजित करवा कर दोनों तरफ के लाखों निर्दोषों का कत्ल कराया और उनकी प्रॉपर्टी को लुटवाया|इसका मुआवजा अभी तक नहीं मिला है

5 Rohingya Muslims Arrested in Guwahati Railway Station

[Guwahati]5 Rohingya Muslims Arrested in Guwahati Railway Station
During routine checking, a GRP team found the woman carrying a court order granting her bail, following her arrest in Manipur.
The men had train tickets to Delhi while the woman had a platform ticket.
Documents for obtaining Refugee Certificates from the United Nations High Commissioner for Refugees (UNHCR) office in New Delhi were recovered from them
Fake Aadhaar cards,
cigarettes,
white coffee,
made in the neighbouring country, were also recovered from their possession,
The five persons were identified as
Assam Finance Minister Himanta Biswa Sarma had recently claimed that a “systematic process” was on to push Rohingya Muslims into the state by “some vested interests” who were making concerted efforts to settle them in Assam and developing a network to raise donations for them

UNESCO Ready to Reconstruct Medieval Notre Dame Church

[UN] UNESCO Ready to Reconstruct Medieval Notre Dame Church
Two-thirds of the largely medieval roof of the famed Notre Dame cathedral in Paris have gone after the devastating fire,
The Cathedral is part of the World Heritage site
Notre Dame represents a historically, architecturally, and spiritually, outstanding universal heritage.As per UNESCO chief, the inferno which engulfed the cathedral, but appears to have left the medieval stonework intact
The cathedral, where construction began in the 1160s extending for more than a century, is considered to be the finest example of the French Gothic style of architecture, with its groundbreaking use of rib vaults and buttresses, stained glass rosettes and sculpted ornaments.
Courtesy PTI

जलियांवाला हत्याकांड शताब्दी वर्ष में भी भारत 1 मंच साझा नहीं कर सका :नमन

[अमृतसर,दिल्ली] #शहीदोंकोनमन
जलियांवाला हत्याकांड शताब्दी वर्ष में भारत 1 मंच साझा नहीं कर सका
पंजाब के सीएम के अमरिंदर सिंह की आगवानी में कांग्रेसाध्यक्ष राहुलगांधी ने पुष्पचक्र चढ़ाए लेकिन भाजपा नीत केंद्रीय प्रतिनिधित्व अनुपस्थित रहा|
भारत के उपराष्ट्रपति वेंकैय्या नायडू ने शताब्दी की स्मृति में स्मारक सिक्का+ टिकट जारी किया तो प्रदेश के सीएम नदारद रहे
आम आमदी पार्टी [आप] और एसएडी एक दुसरे पर आरोप प्रत्यारोपों में सीमित रहे |
गौरतलब हे के ब्रिटेन के 80 सांसदों ने ब्रिटिश सरकार से इस नृशंस हत्याकांड पर माफी मांगने को कहा हैं लेकिन भारत से मृतकों को शहीद का दर्जा देने को फुसफुसाहट भी सुनाई नही देरही|
जो अंग्रेज किसीको गलती से छू जाने पर भी सॉरी कह कर निकल जाते हैं उन्ही का न्रेतत्व इतने बढे हत्याकांड पर खेद तो प्रगट कर रहा है लेकिन सॉरी कहने को तैयार नहीं |इसके पीछे उनकी अपनी विवशता हो सकती हैलेकिन भारत के राजनितिक दल अपने किस फायदे के लिए इस तरफ केवल औपचारिकता को ही पूर्ण करने तक ही सिमित है जोकि जांच का विषय हो सकता है|
अमृतसर के जलियांवाला बाग में बैसाखी के दौरान 13 अप्रैल 1919 को यह नरसंहार हुआ था जब ब्रिटिश भारतीय फौज के सैनिकों ने कर्नल रे डायर की कमान में वहां स्वतंत्रता की मांग के लिए जुटे निहत्थे लोगों पर गोलियां चलवा दी थी। इस जनसंहार में सैंकड़ों लोग मारे गए थे जबकि कई घायल हो गए थे।
उप-राष्ट्रपति नायडू ने शनिवार को जलियांवाला बाग में स्मारक पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की और सिख ग्रंथियों द्वारा गाए जा रहे शबद सुने। इस कांड के 100 साल पूरे होने के अवसर पर उन्होंने एक स्मृति सिक्का और एक डाक टिकट भी जारी किया।
प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, “आज, जब भयावह जलियांवाला बाग नरसंहार के 100 साल पूरे हो रहे हैं, भारत सभी शहीदों को विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता है…उनकी बहादुरी और बलिदान को कभी भूला नहीं जाएगा। उनकी स्मृति हमें एक ऐसे भारत के निर्माण के लिये और पुरजोर तरीके से प्रेरित करती है, जिस पर उन्हें गर्व हो।”
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जलियांवाला बाग नरसंहार के 100 वर्ष पूरे होने के मौके पर जलियांवाला बाग स्मारक स्थल पर श्रद्धांजलि अर्पित की और कहा कि स्वतंत्रता की जो कीमत चुकाई गई है उसे भुलाया नहीं जाना चाहिए।
राहुल के साथ पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ,सुनील जाखड़ सहित कांग्रेस के अन्य नेता भी मौजूद थे।
कांग्रेस अध्यक्ष ने यहां आगंतुक पुस्तिका में लिखा, ‘‘आजादी की कीमत को कभी भुलाया नहीं जाना चाहिए। हम भारत के लोगों को सलाम करते हैं जिन्होंने आजादी के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर कर दिया।’’
भारत में ब्रिटेन के उच्चायुक्त डोमिनिक एस्क्विथ भी अलग से शनिवार को जलियांवाला बाग स्मारक स्थल गए।
उन्होंने आगंतुक पुस्तिका में लिखा, ‘‘आज से 100 साल पहले की जलियांवाला बाग घटना ब्रिटिश भारतीय इतिहास की एक शर्मनाक घटना है। जो कुछ भी हुआ और उससे उपजी पीड़ा से हमें बेहद दुख है।’’
बाद में पत्रकारों से बातचीत में डोमिनिक ने कहा कि ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरेसा मे ने बुधवार को जलियांवाला बाग कांड को ब्रिटिश भारतीय इतिहास पर ‘‘शर्मनाक धब्बा’’ करार दिया।
हालांकि, टेरेसा मे ने इस घटना पर माफी नहीं मांगी। उन्होंने सिर्फ खेद प्रकट किया था।
यह पूछे जाने पर कि ब्रिटिश सरकार ने माफी क्यों नहीं मांगी, इस पर डोमिनिक ने कहा, ‘‘मैं जानता हूं कि यह वाकई एक अहम सवाल है। मैं आपसे सिर्फ इतना कहूंगा कि मैं यहां जो करने आया हूं उसका सम्मान करें, यह उन्हें याद करना है जिन्होंने 100 साल पहले अपनी जान गंवाई। और यह ब्रिटिश सरकार एवं ब्रिटिश जनता का दुख व्यक्त करने के लिए है।’’