Ad

Category: Pakistan

आस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान से टास और मैच हारा फिर भी सेमी फ़ाइनल में जगह बनाई

श्रीलंका में चल रहे टी-20 विश्व कप के एक मैच में आस्ट्रेलिया ने टास हारा मैच हारा फिर भी ऑस्ट्रेलिया की टीम ने सेमी फ़ाइनल में जगह बना ली है.
अब ग्रुप ए में ऑस्ट्रेलिया के अलावा दूसरी कौन सी टीम सेमी फ़ाइनल में जगह बनाएगी, इसका फ़ैसला भारत और दक्षिण अफ़्रीका के बीच मैच के नतीजे और अंकगणित पर निर्भर करेगा.
पाकिस्तान की जीत के साथ ही दक्षिण अफ़्रीका की टीम प्रतियोगिता से बाहर हो गई है, लेकिन भारत के लिए वो मैच काफ़ी अहम होगा.
कोलंबो में हुए मैच में पाकिस्तान ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 20 ओवरों में छह विकेट के नुक़सान पर 149 रन बनाए थे.
लेकिन 150 रनों का लक्ष्य भी ऑस्ट्रेलिया के लिए भारी पड़ा.
ऑस्ट्रेलिया की टीम 20 ओवरों में सात विकेट पर 117 रन ही बना पाई.
माइकल हसी ने सर्वाधिक 54 रन बनाए.
शून्य के स्कोर पर जीवनदान पाने वाले जमशेद :46 गेंद में 55 रन, चार चौके और दो छक्के: की उम्दा पारी की मदद से पाकिस्तान ने छह विकेट पर 149 रन बनाए.
आस्ट्रेलिया की ओर से माइकल हसी ने 47 गेंद में चार चौकों और एक छक्के की मदद से नाबाद 54 रन बनार्ए। उन्होंने मैथ्यू वेड (13)के साथ छठे विकेट के लिए 5.2 ओवर में 45 रन की साझेदारी भी की.
पाकिस्तान ने इस मैच में स्पिनरों से 18 ओवर गेंदबाजी कराई और इस तरह फरवरी 2010 में जिम्बाब्वे के वेस्टइंडीज के खिलाफ पोर्ट आफ स्पेन में टी20 मैच में सर्वाधिक ओवर स्पिनरों से कराने के रिकार्ड की बराबरी की.|युवा स्पिनर रजा हसन को उनकी शानदार गेंदबाजी के लिए `मैन ऑफ द मैच` चुना गया। रजा ने चार ओवर में 14 रन दे कर दो विकेट झटके

आस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान से टास और मैच हारा फिर भी सेमी फ़ाइनल में जगह बनाई ।

पकिस्तान में एक चौराहे का नाम शहीदे आज़म भगत सिंह को समर्पित

पाकिस्तान के अधिकारियों ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी शहीदे आज़म भगत सिंह की क्रांतिकारी भावना+ आजादी के लिए दिए गए सर्वोच्च बलिदान और इस उपमहाद्वीप में ब्रितानी शासकों के खिलाफ उनकी भूमिका को स्वीकार करते हुये पूर्वी शहर लाहौर में एक चौराहे का नाम भगत सिंह के नाम पर रखा है । यह उस अविभाज्य भारत के सपूत को सच्ची श्रधान्जली है|
बताया गया है कि शदमान चौक को अब भगत सिंह चौक के नाम से जाना जायेगा ।
उल्लेखनीय है कि मार्च 1931 में लाहौर जेल में भगत सिंह को फांसी दे दी गई थी । यह वही स्थान है जहां बाद में शादमान चौराहा बनाया गया । नाम पर रखा है।
हालांकि लाहौर के कई हिंदू नामों को बदल दिया गया है फिर भी इस बेहद व्यस्त चौराहे का नाम भगत सिंह रखे जाने का स्वागत किया गया है ।
बीते शुक्रवार को लाहौर में भगत सिंह का 105वां जन्मदिन मनाया गया। इस मौके पर ‘भगत सिंह मेमोरियल सोसायटी’ ने दो अलग अलग आयोजन किये। यह सोसायटी 24 राजनीतिक और गैर राजनीतिक संगठनों का समूह हैइस मौके पर अजोका थिएटर में ‘भगत सिंह’ नामक फिल्म भी दिखाई गई।
लाहौर से 80 किमी जारांवाला तहसील का पिंगा गांव भगत सिंह का पैत्रक गांव है।भगत सिंह के दादा ने गांव में उनकी याद में एक प्राथमिक स्कूल बनवाया था। इस स्कूल की हालत अब खराब हो चुकी है।
जिला प्रशासन प्रमुख नूरूल अमीन मेंगल ने हाल ही में सिटी डिस्ट्रिक्ट गवर्नमेंट ऑफ लाहौर (सीडीजीएल) को एक सप्ताह के भीतर चौक का नाम बदलने का निर्देश दिया था।मेंगल ने सीडीजीएल के मुख्य प्रचार अधिकारी नदीम गिलानी को याद दिलाया, आप जानते हैं कि भगत सिंह कौन थे। अंग्रेजों के खिलाफ लड़ते हुए वे इसी जगह (शादमन चौक) पर शहीद हो गए थे।

पाकिस्तान ने काश्मीर के लिए मीर वाईज को फिर आश्वासन दिया

पकिस्तान के राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने एक बार फिर काश्मीर में अलगाव वादी गति विधिओं में संलिप्त आल पार्टी हुर्रियत कांफ्रेंस के अध्यक्ष मीर वाईज मोहम्मद उम्र फारूख से मुलाकात करके काश्मीर के लिए पालिटिकल+मोरल+डिप्लोमेटिक सपोर्ट का आश्वासन दिया | पाकिस्तान के प्रमुख अखबारों ने इसे प्रमुखता से छापा है| दी डान ने इस खबर को फोटो के साथ छापा है| पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार पाकिस्तान के राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने काश्मीर को अलग करने के लिए मीर वाईज को न्युयोर्क में फिर आश्वासन दिया है|

पाकिस्तान के राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने काश्मीर को अलग करने के लिए मीर वाईज को फिर आश्वासन


गौरतलब है कि श्री जरदारी संयुक्त राष्ट्र के सम्मलेन में भाग लेने न्युयोर्क में थे| और उनके साथ विदेश मंत्री हिना रब्बानी खार+ अम्बेसडर शेरी रहमान+मसूद खान भी थे |काश्मीर के मसले को संयुक्त राष्ट्र सम्मलेन में भी उठाया गया था |इसके लिए मीर वाईज ने आसिफ अली को धन्यवाद भी दिया

यूं एन में पाकिस्तान ने फिर कश्मीर का राग अलापा

संयुक्त राष्ट्र महासभा के 67वें सत्र में पाकिस्तान ने एक बार फिर कश्मीर का राग अलापा | भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर लगातार सुप्रीम कोर्ट की तलवार के नीचे सांस ले रहे पाकिस्तान के राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने संयुक्त राष्ट्र में कश्मीर का मुद्दा उठा कर पाकिस्तान में हीरो बनने का प्रयास किया |
राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने संयुक्त राष्ट्र के तहत इस मुद्दे का हल करने की मांग की है ।
संयुक्त राष्ट्र महासभा के 67वें सत्र में 20 मिनट के अपने भाषण में श्री जरदारी ने कहा,

Pakistan Has Raised Kashmir Issue In U N


पाकिस्तानी राष्ट्रपति ने कहा, ‘हमें लगता है कि इन मुद्दों का हल सिर्फ सहयोग के माहौल में हो सकता है। हम जम्मू-कश्मीर के लोगों द्वारा शांतिपूर्ण तरीके से अपना भविष्य चुनने के अधिकारों का समर्थन करना जारी रखेंगे। सभागार से बाहर निकलने पर जब श्री जरदारी से पूछा गया कि उनकी कश्मीर को संयुक्त राष्ट्र प्रणाली की नाकामी का एक प्रतीक बताने का क्या मतलब है तब जरदारी ने न तो इसे स्पष्ट किया और ना ही इस बारे में कुछ और कहा। पाकिस्तान की विदेश मंत्री हिना रब्बानी खार ने भी कश्मीर पर राष्ट्रपति की टिप्पणी पर ज्यादा कुछ नहीं बताया।
बताते चलें कि पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र के मंच पर कश्मीर मुद्दे को बार-बार उठाया है, वहीं भारत इस बात पर जोर देता रहा है कि यह उसका अंदरूनी मामला है। अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भी जुलाई में दिए एक इंटरव्यू में कश्मीर मुद्दे का कोई ‘बाहरी’ समाधान बताने से इनकार करते हुए कहा था कि भारत और पाकिस्तान के बीच विवादों का हल सिर्फ उनके बीच ही हो सकता है।

सैफीना की शादी के चर्चे पकिस्तान में भी आम हुए


सैफीना [सैफ अली खान+करीना कपूर]की शादी की आज कल चर्चा में अपने देश के साथसाथ पड़ोसी देशों में भी रूचि ली जा रही है|पाकिस्तान के बड़े अखबार डान ने सैफीना की शादी के विषय में खबर छापी है इस खबर के अनुसार करीना ने शादी के बाद अपने नाम में ट्रिपल के [करीना+कपूर +खान] का प्रयोग किये जाने से उत्साहित हैं|इससे शादी के बाद धर्म बदलने की सारी अटकलें समाप्त हो जाती हैं|
जहां तक शादी की तारीख का सवाल है अखबार ने करीना की बड़ी बहन करिश्मा और ड्रेस डिजानर मनीष मल्होत्रा के हवाले से शादी के लिए १६-१७ अक्टूबर की तारीख निकाली है|
भारतीय फिजाओं में तैरती खबरों के अनुसार नौशे मियां की माँ शर्मिला ने किसी भी निमंत्रण पत्र बांटे जाने की तक अभी पुष्ठी नहीं की है|उन्होंने हर सवाल के जवाब में इसे सैफीना का पर्सनल मामला बता कर पल्ला झाड़ लिया है|स्वयम करीना भी धर्म परिवर्तन पर पूछे गए सभी सवालों को निर्दयता से टालती आ रही हैं|मौजूदा समय में सबसे खूबसूरत ऐक्ट्रेस के तौर पर सफलतम अभिनेत्री की शादी की अफवाहें पहले भी उड़ चुकी हैं और शहीद कपूर के साथ ब्रेक अप भी हो चुका हैइनकी आयु में भी १० वर्ष का अंतर बताया जा रहा है|उधर सैफ की पहली बेगम अमृता से पैदा बेबी आज मिस बन चुकी हैं||अब सैफ के साथ करीना की एजेंट विनोद भी टिकट खिड़की पर कोई चमत्कार नहीं कर पाई है ऐसे में दोनों के सितारे बोलीवुड के आसमान में कहाँ तैर रहें हैं यह तो एक महीने के समय के बादल साफ होने पर ही पता चल पायेगा|

पाकिस्तान में हिन्दू मंदिर के ध्वस्तीकरण पर अदालती रोक

पकिस्तान की सिंध हाई कोर्ट ने एक नजीर पेश करते हुए कराची बंदरगाह के इलाके में २०० साल पुराने हिन्दू लक्ष्मी नारायण मंदिर के ध्वस्तीकरण के आदेश पर रोक लगा दी है|मंदिर के ध्वस्तीकरण के लिए कराची पोर्ट ट्रस्ट द्वारा कार्यवाही की जा रही है|
चीफ जस्टिस मुशीर आलम ने नजीर पेश करते हुए कोर्ट के नाजीर को मंदिर के निरीक्षण के आदेश दिए हैं|नजीर द्वारा एक सप्ताह में यह रिपोर्ट दी जानी है|
गौरतलब है केयह मंदिर देश विभाजन से पहले बना था यहाँ चन्द्ररात +रक्षा बंधन गणेश पूजा आदि उत्सव मनाये जाते है| यहाँ मृत्यु के पश्चात के संस्कार भी कराये जाते हैं|यहाँ रोजाना लगभग २५० लोग विजिट करते हैं आर्थिक तंगी से जूझ रहे इस एतिहासिक मंदिर का बाहरी भवन खंडहर होता जा रह है|
.

विदेश मंत्री ने आतंकवाद पर पाकिस्तान में नरमी दिखाई

भारत के विदेश मंत्री एस एम् कृष्णा ने आज पकिस्तान में प्रेस के प्रश्नों का सामना किया \इस अवसर पर उनके पुराने रुख में नरमी देखी गई| एक पत्रकार ने जब उनसे पूछा कि कहा जा रहा था कि सिआचिन और काश्मीर जैसे पुराने कोर इशुस को नहीं टच किया गया| इसके उत्तर में श्री कृष्णा ने कहा कि उन्होंने कभी भी ऐसी प्री कंडीशन नहीं रखी और उनके मात्र चार घंटे के दौरे में दशकों पुराने मसले सुलझाए नहीं जा सकते हाँ इनके लिए रास्ता जरुर बन गया है|
भारतीय प्रधान मंत्री की पाकिस्तान यात्रा पर पूछे गए एक अन्य प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि पाकिस्तान द्वारा कुछ कारगर करके दिखाने की शर्त नई रखी|
इस अवसर पाकिस्तान कि विदेश मंत्री हिना रब्बानी खार ने पकिस्तान में हिन्दुओं पर अत्याचार उनका पलायन और धर्मांतरण पर जवाब देते हुए कहा कि इस दिशा में संसद सदस्यों की एक कमेटी बना दी गई है लेकिन इस दिशा में अभी भी पुराणी सोसायटी की कट्टर मान्यताओं को तोड़ा जाना जरुरी है|लेकिन इसके साथ ही उन्होंने भारत में मुस्लिमों पर अत्याचार से इसे जोड़ते हुए इसके महत्त्व को कम कर दिया
भारत और पाकिस्तान में आने जाने के लिए वीजा नियमों का आसान करने के लिए आज एक ऐतिहासिक समझौता हो गया है। भारत की ओर से विदेश मंत्री एस एम कृष्णा और पाकिस्तान की ओर से आंतरिक सुरक्षा मंत्री रहमान मलिक ने इस समझौते पर हस्ताक्षर किए। श्री कृष्णा इन दिनों पाकिस्तान दौरे पर हैं। इस समझौते से आगे संबंधों को सुधारने का रास्ता साफ़ हो गया है|
विदेश मंत्री एस एम कृष्णा और पाकिस्तान की विदेश मंत्री हिना रब्बानी खार के बीच शनिवार को हुई बातचीत के बाद दोनों ओर से इस समझौते पर हस्ताक्षर किए गए। इससे पहले दोनों देशों के विदेश सचिवों की बैठक में ही वीजा समझौते के तहत 8 वर्ग के वीजा जारी करने पर सहमति बन गई थी।

भारत और पाकिस्तान में वीजा नियम आसान हुए

भारत और पाकिस्तान में आने जाने के लिए वीजा नियमों का आसान करने के लिए आज एक ऐतिहासिक समझौता हो गया है। भारत की ओर से विदेश मंत्री एस एम कृष्णा और पाकिस्तान की ओर से आंतरिक सुरक्षा मंत्री रहमान मलिक ने इस समझौते पर हस्ताक्षर किए। श्री कृष्णा इन दिनों पाकिस्तान दौरे पर हैं। इस समझौते से आगे संबंधों को सुधारने का रास्ता साफ़ हो गया है|
विदेश मंत्री एस एम कृष्णा और पाकिस्तान की विदेश मंत्री हिना रब्बानी खार के बीच शनिवार को हुई बातचीत के बाद दोनों ओर से इस समझौते पर हस्ताक्षर किए गए। इससे पहले दोनों देशों के विदेश सचिवों की बैठक में ही वीजा समझौते के तहत 8 वर्ग के वीजा जारी करने पर सहमति बन गई थी।
प्राप्त जानकारी के अनुसार इस समझौते में वीजा के जिसमें आठ वर्ग शामिल किए गए हैं। ये हैं – राजनयिक, गैर राजनयिक, 36 घंटे का ट्रांजिट विजिट, ३० के ग्रुप को टूरिस्ट वीजा, सिविल सोसाइटी, मीडिया और ३ साल के लिए बिजनेस वीजा।
टूरिस्ट वीजा केवल पांच जगहों के लिए ही मान्य होगा। इसकी अवधि छह महीने के लिए होगी। इस बैठक में वीजा मसले के अलावा आतंकवाद और जम्मू कश्मीर के अलावा आर्थिक और व्यापारिक संबंधों पर भी चर्चा हुई।

इस अवसर पर राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने सभी भारतीय मछुआरों की पाकिस्तान जेलों से रिहाई के आदेश भी दे दिए|

काश्मीर में घुसपैठियों ने एक भारतीय सैनिक को शहीद किया

एक तरफ तो पकिस्तान लगातार भारत के साथ संबंधों में सुधार लाने के आश्वासन दे रहा है मगर दूसरी तरफ काश्मीर बार्डर पर घुसपैठ भी जारी है| बीते रात एक और घुसपैठ की कौशिश को नाकाम कर दिया गया|
कश्मीर के कुपवाडा जिले के तंगधार सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास सेना ने घुसपैठ की कोशिश को नाकाम कर दिया। प्र्राप्त समाचारों के अनुसार इस घटना में सेना का एक जवान और एक आतंकवादी मारा गया।
मीडिया को दी गई जानकारी के अनुसार तंगधार सेक्टर में पिछली रात को घुसपैठ की कोशिश को नाकाम कर दिया गया। इसमें एक आतंकवादी मारा गया जबकि अन्य घायल अवस्था में नियंत्रण रेखा के पार भागने में सफल रहे।
घुसपैठियों के साथ हुई गोलीबारी में एक सैनिक भी शहीद हुआ है| कश्मीर घाटी में पिछले तीन दिनों में घुसपैठ की यह दूसरी घटना है

पी ओ के पकिस्तान का हिस्सा नहीं ?

केवल भारत ही नहीं पाकिस्तान में भी शिक्षा का स्तर चर्चा का विषय बन रहा है|भूगोल और सामान्य ज्ञान की अज्ञानता से वहां भी नीति निर्माताओं की किरकिरी हो रहे हैं|हाल ही में वहां पंजाब प्रान्त की सरकार ने एक नक्शा प्रकाशित करवाया है इस नक्शे में पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर [पीओके] और गिलगित-बाल्टिस्तान को भारत का हिस्सा दिखाया गया है। इस नक़्शे को अब तक 15 हजार स्कूलों को भेजा जा चुका है।ये नक्शे जर्मनी से मिली दो करोड़ 50 लाख डॉलर की वित्तीय सहायता से प्रकाशित और वितरित किए गए थे।
भारत को इसमें ज्यादा खुश होने की जरुरत नहीं है|एक तो पाकिस्तान ने इन छेत्रो पर अपनी दावे दारी छोडी नहीं है दूसरे वहां के शिक्षा विभाग ने यह नक्शा सभी स्कूलों से वापस मंगाने की कवायद भी शुरू कर दी है। तीसरे प्रकाशक को सही नक्शे के साथ एटलस दोबारा छापने के निर्देश दे दिए गए हैं
पंजाब के मुख्यमंत्री शाहबाज शरीफ की सरकार को इसके लिए आलोचना का सामना करना पड़ा है।
शिक्षा विभाग ने इसके लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही है