Ad

Category: Pakistan

संसद ने पाकिस्तान के विरुद्ध निंदा प्रस्ताव पास किया और कहा ,पी ओ के सहित सम्पूर्ण जे & के भारत का अभिन्न अंग है

 संसद ने पाकिस्तान के विरुद्ध निंदा प्रस्ताव पास किया और कहा ,पी ओ के सहित सम्पूर्ण जे & के भारत का अभिन्न अंग है:

संसद ने पाकिस्तान के विरुद्ध निंदा प्रस्ताव पास किया और कहा ,पी ओ के सहित सम्पूर्ण जे & के भारत का अभिन्न अंग है:

पकिस्तान के निचले सदन में कल पास किये गए भारत के विरुद्ध निंदा प्रस्ताव के जवाब में भारतीय संसद ने भी कडा रुख अख्तियार करते हुए पाकिस्तान के विरुद्ध निंदा प्रस्ताव पारित किया | स्पीकर मीरा कुमार ने निंदा प्रस्ताव पडा और सभी ने मेजें थपथपा कर इसका समर्थन किया|इस प्रस्ताव में पाकिस्तान को चेतावनी दी गई है कि भारत के विरुद्ध आतंकवादी गतिविधियों से अलग रह कर आतंकवाद के विरुद्ध जंग की अपनी वचनबद्धता का पालन करे |इसके अलावा पूरे विस्श्व को भी यह सन्देश दिया गया कि पाक के कब्जे वाले काश्मीर सहित जे &के भारत का अभिन्न अंग है और रहेगा|
इससे पूर्व राज्यसभा में नेता विपक्ष अरुण जेटली ने सरकार से पाकिस्तान के इस प्रस्ताव के खिलाफ संसद में बहस की मांग की |श्री जेटली ने राज्यसभा में कहा कि आधिकारिक तौर पर ये पुष्ट हो गया है कि पाकिस्तान क्या चाहता है| अब समय आ गया है| भारत सरकार को कड़ा फैसला लेना चाहिए। पाकिस्तान से बातचीत का कोई फायदा नहीं है। इस तरह के प्रस्ताव पास करने से दोनों देशों के बीच शांति नहीं बहाल हो सकती है। इसलिए इस मुद्दे पर चर्चा के लिए किसी एक तारीख का चयन कर चर्चा करा लेनी चाहिए। वहीं नेता विपक्ष के चर्चा की मांग पर कांग्रेस के राजीव शुक्ला ने कहा कि सरकार विदेश मुद्दे को लेकर बहस को तैयार है।उन्होंने कहा कि विपक्ष द्वारा तय तारीख पर सरकार बहस के लिए तैयार है। उधर समाजवादी पार्टी के नेता कमाल फारूकी का कहना है कि पाकिस्तान को भारत के अंदरूनी मसले पर दखल देने का कोई हक नहीं है।
वहीं लोकसभा की प्रारम्भिक कार्यवाही को हंगामे के बाद स्थगित करना पड़ा।सपा +बसपा+शिव सेना+भाजपा आदि ने भी मीरा कुमा के प्रस्ताव का समर्थन किया
बीजेपी ने मांग की कि संसद में पाकिस्तान के प्रस्ताव का विरोध होना चाहिए और इस मुद्दे पर बहस कराई जानी चाहिए। यशवंत सिन्हा के अलावा प्रकाश जावडेकर ने भी दोनों सदनों में प्रश्नकाल स्थगित करने का नोटिस दिया।
गौरतलब है कि पाकिस्तान ने अपनी संसद में अफजल को फांसी दिये जाने की निंदा करते हुए एक प्रस्ताव पास किया है |पाकिस्तान की इस हरकत को बीजेपी ने भारत के आंतरिक मामले में हस्तक्षेप बताया है और और संसद से पाकिस्तान को जवाब देने की मांग की है|

पाकिस्तानी संसद ने भारत के विरुद्ध निंदा प्रस्ताव पारित किया : भारतीय संसद में उबाल आया

अन्तराष्ट्रीय छेत्र में भारत की लगातार गिर रही साख से भारतवासियों के दिलों में सुलग रही आग की लपटें विश्व के सबसे बड़े लोक तंत्र के मंदिर

संसद

में भी दिखने लगी हैं|आज शुक्रवार १५ मार्च को संसद के दोनों सदनों में इस विषय को उठाया गया |
संसद पर हमला करने वाले अफजल गुरु की फांसी के विरोध में पाकिस्तानी सरकार ने अपने बचे हुए चंद दिनों को भारत के विरुद्ध इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है इसी कड़ी में कल पाकिस्तान की संसद में भारत के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित करवा कर इन शेष दिनों को अगले चुनावों के लिए इन्वेस्ट करना शुरू कर दिया है|
इटली ने भारतीय मछुआरों के दो हत्यारों[नाविक] को शेल्टर दे कर भारतीय संप्रभुता को चुनौती दे दी है| श्रीलंका +नेपाल+चाईना आदि पहले से ही भारत के खिलाफ जहर उगल रहे हैं|

पाकिस्तानी संसद ने भारत के विरुद्ध निंदा प्रस्ताव पारित किया : भारतीय संसद में उबाल आया

पाकिस्तानी संसद ने भारत के विरुद्ध निंदा प्रस्ताव पारित किया : भारतीय संसद में उबाल आया


भाजपा ने इसे लेकर सरकार को घेरना शुरू कर दिया है। राज्यसभा में नेता विपक्ष अरुण जेटली ने सरकार से पाकिस्तान के इस प्रस्ताव के खिलाफ संसद में बहस की मांग की |श्री जेटली ने राज्यसभा में कहा कि आधिकारिक तौर पर ये पुष्ट हो गया है कि पाकिस्तान क्या चाहता है| अब समय आ गया है| भारत सरकार को कड़ा फैसला लेना चाहिए। पाकिस्तान से बातचीत का कोई फायदा नहीं है। इस तरह के प्रस्ताव पास करने से दोनों देशों के बीच शांति नहीं बहाल हो सकती है। इसलिए इस मुद्दे पर चर्चा के लिए किसी एक तारीख का चयन कर चर्चा करा लेनी चाहिए। वहीं नेता विपक्ष के चर्चा की मांग पर कांग्रेस के राजीव शुक्ला ने कहा कि सरकार विदेश मुद्दे को लेकर बहस को तैयार है।उन्होंने कहा कि विपक्ष द्वारा तय तारीख पर सरकार बहस के लिए तैयार है। उधर समाजवादी पार्टी के नेता कमाल फारूकी का कहना है कि पाकिस्तान को भारत के अंदरूनी मसले पर दखल देने का कोई हक नहीं है।
वहीं लोकसभा की प्रारम्भिक कार्यवाही को हंगामे के बाद स्थगित करना पड़ा।
बीजेपी ने मांग की कि संसद में पाकिस्तान के प्रस्ताव का विरोध होना चाहिए और इस मुद्दे पर बहस कराई जानी चाहिए। यशवंत सिन्हा के अलावा प्रकाश जावडेकर ने भी दोनों सदनों में प्रश्नकाल स्थगित करने का नोटिस दिया।
गौरतलब है कि पाकिस्तान ने अपनी संसद में अफजल को फांसी दिये जाने की निंदा करते हुए एक प्रस्ताव पास किया है |पाकिस्तान की इस हरकत को बीजेपी ने भारत के आंतरिक मामले में हस्तक्षेप बताया है और और संसद से पाकिस्तान को जवाब देने की मांग की है|

श्रीनगर में फिदाईन हमले में शहीद हुए सुरक्षा कर्मियों को संसद ने श्रद्धांजलि दी: अफस्पा पर हंगामा

जे & के में कल हुए आतंकवादी हमले में शहीद हुए पांच सुरक्षा कर्मियों को आज लोक सभा में श्रधाजलि अर्पित की गई| जम्मू कश्मीर के श्रीनगर[बेमिना] में आतंकवादी हमले में कल भारतीय जवानों की शहादत पर लोक सभा ने चिंता व्यक्त की और विपक्ष ने सरकार से बयान दिए जाने की मांग की| भाजपा सदस्यों तथा श्रीलंकाई नौसेना द्वारा गिरफ्तार तमिल मछुआरों की रिहाई की मांग का मुद्दा द्रमुक और अन्नाद्रमुक सदस्यों द्वारा उठाए जाने के कारण हुए हंगामे से लोकसभा की बैठक आज शुरू होने के कुछ ही देर बाद दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गयी।
सुबह सदन की बैठक शुरू होने पर अध्यक्षा मीरा कुमार ने श्रीनगर में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल [C R P F ] ]के शिविर पर हुए आतंकवादी हमले का जिक्र किया और शहीद जवानों को सदन द्वारा श्रद्धांजलि दिए जाने के बाद प्रश्नकाल शुरू करवाया।
विपक्ष की नेता श्रीमती सुषमा स्वराज ने इस घटना पर सरकार से बयान दिए जाने की मांग की। मुख्य विपक्षी दल के अन्य सदस्य भी अपने स्थानों पर खड़े होकर अपनी नेता की बात का समर्थन करते देखे गए।

श्रीनगर में फिदाईन हमले में शहीद हुए सुरक्षा कर्मियों को संसद ने श्रद्धांजलि दी: अफस्पा पर हंगामा

श्रीनगर में फिदाईन हमले में शहीद हुए सुरक्षा कर्मियों को संसद ने श्रद्धांजलि दी: अफस्पा पर हंगामा


श्रीमति सुषमा ने कहा कि बार बार इस प्रकार की घटनाएं हो रही हैं और केवल सदन में श्रद्धांजलि देकर अपने कर्तव्य की पूर्ति कर ली जाती है।उन्होंने अजमेर शरीफ के दीवान द्वारा पाकिस्तान के पी एम् की विजिट का विरोध करने के लिए उन्हें सलाम किया लेकिन इसके साथ ही सरकार की पाकिस्तान के प्रति ढुल मूल नीति की आलोचना भी की |उन्होंने सुबह श्रद्धांजलि देते समय सत्ता पक्ष के अग्रिम पंक्ति के नेताओं की अनुपस्थिति पर सवालिया निशान लगाते हुए उन पर संवेदना हीन होने का आरोप भी लगाया | नेता प्रतिपक्ष ने आमर्ड फोर्सेस स्पेशल पावर एक्ट [A F S P A] का जिक्र करते हुए कहा के जिस इलाके में यह हमला हुआहै वहां से ही अफस्पा हटाने की सिफारिश की जा रही है|उनके इतना कहने के साथ ही दूसरी तरफ बैठे काश्मीर के सांसदों ने जोर शोर से इसका विरोध किया और अफस्पा हटाने के मांग को बल दिया|गौरतलब है कि कल श्रीनगर के बेमिना इलाके में एक स्कूल के निकट स्थित केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के शिविर पर आतंकवादियों द्वारा किए गए हमले में पांच जवान शहीद हो गए थे।

जे & के की विधान सभा में सियासी अस्थिरता का लाभ उठा कर आतंकवादियों ने सी आर पी ऍफ़ कैम्प पर हमला किया :५ जवान मरे

जम्मू + कश्मीर की विधान सभा में आज कल अफज़ल गुरु के शव को वापिस मंगाने के लिए चल रहे सियासी शोर शराबे का लाभ आतंक वादियों ने उठाया और शहर के बेमिना इलाके में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के एक शिविर पर हमला कर दिया | इस आत्मघाती हमले में पांच जवान शहीद हो गए और कम से कम सात अन्य घायल हुए हैं। दो आतंकवादी भी मारे जाने की पुष्ठी की जा चुकी है |
प्राप्त जानकारी के अनुसार हमलावरों ने हथियारों से भरे स्पोर्ट्स बैग[किट] लेकर कैम्प परिसर में प्रवेश किया था |इस परिसर के एक हिस्से में कुछ युवाओं द्वारा क्रिकेट का गेम खेला जा रहा था| ।
गृहसचिव आरके सिंह के अनुसार शुरुआती जांच से लगता है कि मारे गए दोनों आतंकी पाकिस्तान से आए थे। सीमा पार से कुल चार आतंकवादियों के घुसने की खबर थी शेष दो आतंकवादियों के लिए तलाशी जारी है| सुरक्षा एजेंसियां एलर्ट हैं।

जे & के की विधान सभा में सियासी अस्थिरता का लाभ उठा कर आतंकवादियों ने सी आर पी ऍफ़ कैम्प पर हमला किया :५ जवान मरे

जे & के की विधान सभा में सियासी अस्थिरता का लाभ उठा कर आतंकवादियों ने सी आर पी ऍफ़ कैम्प पर हमला किया :५ जवान मरे


इस घटना की जानकारी राज्य विधान सभा में शेयर करते हुए मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने सदन को बताया कि सुबह हुए हमले में तीन नागरिक भी घायल हो गए। तीनों को अस्पताल पहुंचाया गया जहां उनकी हालत खतरे से बाहर है।उन्होंने पांच जवानों की शहादत की जानकारी भी दी|
आईजीपी (कश्मीर) अब्दुल गनी मीर द्वारा घटनास्थल पर संवाददाताओं को उपलब्ध कराई गई जानकारी के अनुसार इस हमले में पांच [सी आर.पी ऍफ़]जवान शहीद हो गए हैं और सात घायल हुए हैं। घायलों में चार से पांच सीआरपीएफ के जवान हैं।
उन्होंने कहा कि यह स्पष्ट नहीं है कि हमला करने वाले दो आतंकवादी थे या तीन, जिन्होंने सीआरपीएफ के शिविर पर ग्रेनेड फेंके और अंधाधुंध गोलीबारी की। अभी तक किसी ने भी इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।
बेमिना स्थित सीआरपीएफ शिविर के इर्द..गिर्द पुलिस पब्लिक स्कूल तथा कई सरकारी इमारतें हैं। हालांकि, संसद हमले के दोषी अफजल गुरु के अवशेष लौटाने की मांग को लेकर अलगाववादियों द्वारा आहूत हड़ताल की वजह से स्कूल बंद था।इससे पहले जनवरी 2010 में इस तरह की घटना हुई थी। अब तक
जम्मू-कश्मीर की सियासी पार्टियों ने आतंकी हमले की निंदा की है। पीडीपी ने कहा कि हिंसा से किसी समस्या का हल नहीं हो सकता | रक्षा विशेषज्ञ सुशांत सरीन ने राज्य में आर्म्ड फोर्सेस स्पेशल पॉवर एक्ट को जरूरी बताया है |इस घटना से एक बात कहनी जरुरी है के केंद्र की संसद और जे &के विधान सभा में आये दिन असंतोष से सियासी स्थिरता पर प्रश्न चिन्ह लगना स्वाभाविक है |ऐसे में मौके की घात लगाए आतंकवादी अपने छोटे मोटे मकसद में कामयाबी हासिल कर ही लेते हैं|यदि राज्य में आर्म्ड फोर्सेस स्पेशल पॉवर एक्ट जरुरी है तो उसे सख्ती से लगाया जाना ही चाहिए |

भारत के एक छोटे प्राईवेट प्लेनकी कराची एयर पोर्ट पर इमरजेंसी लैंडिंग

भारत के एक छोटे प्राईवेट प्लेनकी कराची एयर पोर्ट पर इमरजेंसी लैंडिंग

भारत के एक छोटे प्राईवेट प्लेनकी कराची एयर पोर्ट पर इमरजेंसी लैंडिंग

स्तान के मीडिया के अनुसार भारत के दुबई से दिल्ली की उड़ान वाले एक छोटे प्राईवेट प्लेन को आज १२ मार्च , मंगल वार को कराची एयर पोर्ट पर लैंड करने को बाध्य होना पड़ा है प्लेन के हायड्रोलिक सिस्टम में खराबी आने के कारण इमरजेंसी लैंडिंग की गई है| पाकिस्तान के मीडिया के अनुसार इस प्लेन में ३ स्टाफ सदस्यों सहित कुल १० लोग सवार थे |प्लेन की मालिक कम्पनी के नाम का खुलासा नहीं किया गया है|

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री राजा परवेज अशरफ ने अजमेर शरीफ में पाकिस्तान के लिए अमन चैन की दुआ मांगी

 पाकिस्तान के प्रधानमंत्री राजा परवेज अशरफ ने अजमेर शरीफ में पाकिस्तान के लिए अमन चैन की दुआ मांगी

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री राजा परवेज अशरफ ने अजमेर शरीफ में पाकिस्तान के लिए अमन चैन की दुआ मांगी

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री राजा परवेज अशरफ ने आज अजमेर शरीफ पहुंचकर विश्व प्रसिद्द ख्वाजा मुइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर अपने मुल्क पाकिस्तान के लिए अमन चैन की दुआ मांगी।यदपि श्री अशरफ निजी यात्रा पर परिवार के साथ आए लेकिन उनकी की अगवानी केन्द्रीय विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने जयपुर में की और उन्हें ५ सितारा होटल में भोज दिया|।कहा जा रहा है कि इस दौरान कोई औपचारिक बातचीत नहीं हुई।
पाकिस्तान के पीएम की इस शासकीय आवभगत के विरोध में जयपुर और अजमेर समेत कई शहरों में प्रदर्शन हुए। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री राजा परवेज अशरफ का विमान जैसे ही भारत की धरती पर उतरा, जयपुर से लेकर अजमेर और भोपाल तक विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए। एक तरफ जयपुर एयरपोर्ट पर विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद पाक पीएम का स्वागत कर रहे थे। तो दूसरी तरफ जयपुर में ही कर्णी सेना के समर्थक सड़कों पर नारेबाजी कर रहे थे।
पाक पीएम जयपुर से अजमेर हेलीकॉप्टर से पहुंचे, लेकिन उससे पहले ही अजमेर में विरोध शुरू हो गया। वकीलों ने दुकानें बंद करवा दीं। प्रदर्शनकारियों को खदेड़ने के लिए पुलिस को हल्का लाठीचार्ज करना पड़ा। वकीलों के अलावा अजमेर में शिवसैनिकों और भाजपा ने भी प्रदर्शन किया।
एक दिन पहले ही दरगाह के सज्जादानशीन मुस्लिम धर्मगुरु और दरगाह प्रमुख के दीवान सैयाद जैनुल आबेदीन अली खान ऐलान राजा परवेज अशरफ की जियारत के बहिष्कार का ऐलान कर चुके थे। लेकिन दरगाह चिश्ती के अनुसार कोई भी दरगाह में जियारत के लिए आ सकता है|
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की भारत यात्रा के विरोध में भोपाल में भी प्रदर्शन हुए। बीजेपी ने इन विरोध प्रदर्शनों को जायज ठहराया। बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा ने कहा कि देश के विदेश मंत्री जो कर रहे हैं मेरे हिसाब से देश की भावना के खिलाफ है। मेरा मानना है कि विदेश मंत्री का वहां जाना बिल्कुल ठीक नहीं है। मेहमान नवाजी कि ओपचारिकता राजस्थान सरकारद्वारा पूरी की जा सकती थी|सपा के नरेश अग्रवाल ने भी इस आवभगत का विरोध किया|
गौरतलब है कि जनवरी में जम्मू कश्मीर की सरहद पर पाकिस्तानी फौज ने भारतीय सैनिकों का सिर काटने की बर्बर घटना को अंजाम दिया था। इसके बाद दोनों मुल्कों के बीच तनाव का माहौल बन गया था। लेकिन भारत के कड़े विरोध के बाद भी पाकिस्तान ने इस वारदात के लिए जिम्मेदार पाक फौजियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है। योग गुरु बाबा रामदेव ने विरोध करते हुए कहा कि उन्हें अजमेर शरीफ ही नहीं बल्कि देश के किसी भी तीर्थ स्थान जाने का अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि एक तरफ तो पाक सैनिक भारतीयों जवानों के सिर काटते हैं दूसरी पाकिस्तान के पीएम जियारत करने आते हैं।वापिसी पर भी भारी विरोध के चलते बताया जा रहा है कि पाकिस्तान के पी एम् का रूट बदला गया|कांग्रेस ने पी एम् को दिए गए इस भोज के बचाव में कर्टसी शब्द का इस्तेमाल किया |जबकि भारतीय पी एम् संसद में इसके उलट बयाँ दे चुके हैं|

पाकिस्तान के लिए जासूसी करने के आरोप में केन्द्रीय गृह मंत्रालय का अनुभाग अधिकारी पकड़ में आया

पाकिस्तान के लिए जासूसी करने के आरोप में केन्द्रीय गृह मंत्रालय का अनुभाग अधिकारी पकड़ में आया

पाकिस्तान के लिए जासूसी करने के आरोप में केन्द्रीय गृह मंत्रालय का अनुभाग अधिकारी पकड़ में आया

गृह मंत्रालय के एक अनुभाग अधिकारी को हिरासत में लिया गया है| इस अधिकारी पर पाकिस्तान को सूचना देने के आरोप हैं |
बताया जा रहा है कि इस अधिकारी ने पोखरण के बारे में पैसे लेकर पाकिस्तान को कई खुफिया सूचनाएँ साईफन की है.
इस अधिकारी पर हाल ही में पोखरण में भारत-पाक सीमा से सटे इलाके में भारतीय वायुसेना द्वारा किए गए अभ्यास ‘आयरन फिस्ट’ की जानकारियां पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी इंटर-सर्विसेज़ इंटेलिजेंस (आईएसआई) को देने का आरोप है|.
चिन्हित इस अधिकारी [सेक्शन अफसर] का नाम चंद्रशेखर बताया जा रहा है और इसे आईबी द्वारा पकड़ा गया है| ये अधिकारी पाकिस्तानी एजेंट सुमेर खान को जानकारी देता था. आई एस आई द्वारा ट्रेंड सुमेर खान तीन बार पाकिस्तान जाकर भारतीय रक्षा मंत्रालय की जासूसी कर चुका है|हिंदुस्तान की अलग-अलग जेलों में बंद केदियों की लिस्ट इसके पास से बरामद हुई बताई गई है|बीते वर्ष जून में इसी मंत्रालय के भवन में भीषण आग भी लग चुकी है

पकिस्तान ने कुत्ते उलीच कर हमारे द्वारा उपेक्षित विद्वानों के आदर्शों का पालन किया है

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

एक भारतीय सिपाही

ओये झल्लेया ये पाकिस्तान को क्या हो गया है ?जब देखो उलटे काम ही करता है|भड़काने वाले काम करता रहता है|अब देखो गलती से एक आवारा कुत्ता समझौता एक्सप्रेस में घुस गया और सबकी नज़रें बचा कर पकिस्तान के लाहौर पहुँच गया|अब इस गलती के जवाब में उन्होंने हिमाकत करते हुए उसी गाड़ी से ५० भूखे +खूंखार कुत्ते हसाड़े मुल्क में भेज दिए|ओये अभी तक तो लड़ाई में इंसान ही भेजे जा रहे थे अब क्या कुत्तों की लड़ाई लड़ी जायेगी|?

पकिस्तान ने कुत्ते उलीच कर हमारे द्वारा उपेक्षित विद्वानों के आदर्शों का पालन किया है

पकिस्तान ने कुत्ते उलीच कर हमारे द्वारा उपेक्षित विद्वानों के आदर्शों का पालन किया है


झल्ला

ओये जवाना तेरी चिंता वाजिब है लेकिन ये भी तो देख कि हम लोगों ने अपने पूर्वजों की सीख को भुला दिया है लेकिन ये पाकिस्तान ने हसाड़े उपेक्षित पूर्वजों के सिद्धांत का ही पालन किया है “

जल बाड़े नाव में घर में बाड़े दाम ,दोनों हाथ उलीचिये यही सयानो काम

“अब उनके यहाँ कुत्ते ज्यादा हैं तो उन्हें ही उलीच रहे हैं|वैसे अगर आप बुरा नहीं मानो तो एक बात कहना जरुरी है कि आप एक कुत्ता नहीं पकड़ पाए और अगर एक आतंकवादी कुत्ता बन कर गाडी में आ जाये तो……. ?

Afzal Guru hanged अफजाल गुरु को सुबह तिहाड़ में फांसी पर लटका कर दफनाया गया:कांग्रेस को राजनीतिक लाभ तो भाजपा को हानि

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

एक कांग्रेसी चीयर लीडर

ओये झल्लेया देखा हसाडी कांग्रेस दा कमाल ओये बेशक बारह साल बाद ही सही भारतीय संसद पर १३ दिसंबर २००१ में हमला करने वाले अफजाल गुरु को आज सुबह तिहाड़ जेल में फांसी पर लटका कर वहीं दफना दिया गया| इससे यह साबित हो गया है कि हस सॉफ्ट स्टेट नहीं है और ना ही हमारी पार्टी वोट बैंक की राजनीति ही करती है|हमारे लिए हिन्दू और मुस्लमान सब बराबर हैं|भारतीय संसद और लोक तंत्र ही सर्वोच्च है|इस पर भी हामारी आलोचना हो रही है ये भाजपाई गला फाड़ फाड़ कर देर से लिया गया निर्णय बता रहे हैं|

झल्ला

हाँ भाई चतुर सुजाण जी १३ दिसंबर २००१ में मारे गए दिल्ली पुलिस के पांच कर्मी+ केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की एक महिला कर्मचारी+ संसद के वाच एंड वार्ड स्टाफ के दो कर्मी+ एक माली और एक पत्रकार की आत्माओं को शांति जरूर मिली होगी| वैसे ये अफज़ल नाम का ही गुरु है | आतंकवाद के गुरु और गुरु घंटाल तो कहीं और बैठे ऐश कर रह हैं|
वैसे आप जी एक बात तो मानोगे कि कसाब के बाद अफज़ल को दी गई फांसी विलंबित न्याय है | चतुराई से आप जी ने अपने २०१४ के चुनावों में करप्शन के मुकाबिले आतंवादियों को फांसी का क्रेडिट लेने की तैय्यारी कर ली है परन्तु इसके साथ ही विपक्षी भाजपा से अब एक अहम राजनितिक मुद्दा भी छीन लिया है| इससे आपने क्या समझा था कि विपक्ष खुश होगा शाबाशी देगा क्यूं ?

देश विभाजन के पश्चात भारत आये आडवाणी, गुजराल और डाक्टर मन मोहन सिंह की देश भक्ति का अपमान

वरिष्ठ सिन्धी नेता लालकृष्ण आडवाणी [सिन्धी] ([laˑl kiɕəntɕən̪d̪ aˑᶑʋaˑɳiˑ] لعل ڪرشنا آڏواڻي);,को लेकर एक बार फिर से देश विभाजन के जख्मों पर सियासी बयानों से नमक छिड़का जाने लगा है| कांग्रेस प्रवक्ता शकील अहमद ने बीजेपी के पी एम् इन वेटिंग लालकृष्ण आडवाणी के सम्बन्ध में विवादित बयान दिया है.बीजेपी ने कांग्रेस से यह स्पष्ट करने को कहा है कि वह शकील के इस विवादित बयान का समर्थन करती है या नहीं। इस ब्यान बाज़ी से स्वर्गीय पी एम् इन्द्र कुमार गुजराल,वर्तमान पी एम् डाक्टर मन मोहन सिंह और बीजेपी के पी एम् इन वेटिंग लालकृष्ण आडवाणी की देश भक्ति पर प्रश्न चिन्ह लगाने लग गए हैं|
राजस्थान के सीकर में एक किसान सम्मेलन में शकील अहमद ने कहा कि लालकृष्ण आडवाणी सेवा के बदले मेवा खाने की खातिर विभाजन के बाद पाकिस्तान से भारत आ गए| आडवाणी पीएम बनने के लिए पाकिस्तान से भारत आ गए|शकील अहमद के मुताबिक, ‘सिर्फ पैदा ही नहीं हुए वरन उनकी बीए तक की शिक्षा भी पाकिस्‍तान की है| अगर सचमुच आडवाणीजी को हिंदू समाज की सेवा करनी थी तो अपने घर में करते मगर वहां सेवा के बदले मेवा नहीं मिलता. एमपी, एमएलए, मंत्री और प्रधानमंत्री के उम्‍मीदवार नहीं होते.’
बीजेपी के वरिष्ठ प्रवक्ता रविशंकर प्रसाद ने शकील अहमद के इस बयान को स्तरहीनबताते हुए इस पर कड़ी नाराजगी जाहिर की है|. उन्होंने सीधे सोनिया गांधी और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से सफाई मांगते हुए सवाल किया है कि क्या ये कांग्रेस पार्टी का बयान है?गौरतलब है कि देश विभाजन के पश्चात लाखों हिन्दुओं को जब भारत सरकारसुरक्षा मुहैय्या नहीं करवा पाई तब उन्होंने वहां से पलायन किया और विस्थापित या शरणार्थी कहलाये मगर अपने परिश्रम से पुरुषार्थी बन कर देश के विकास में योगदान दिया|संतरी से मंत्री और फिर प्रधान मंत्री तक बने हैं|
देश विभाजन के पश्चात भारत आये आडवाणी, गुजराल और डाक्टर मन मोहन सिंह की देश भक्ति पर सवाल उठा कर लाखों विस्थापितों के भारत प्रेम को निशान बनाया जा रहा है|यह दुर्भाग्य पूर्ण है|और संभवत मुख्य ज्वलंत मुद्दों से ध्यान हटाने वाला है|राजनितिक हलकों में यह भी चर्चा है कि बीते दिन भाजपा के प्रवक्ता मुख्तार अब्बास नकवी ने कांग्रेस और जे डी यु को जवाब देते हुए कहा था कि देश के संत अगर पी एम् का चनाव नहीं करेंगे तो कया पकिस्तान में बैठा हाफ़िज़ सईद करेगा|इसके उत्तर में आज कांग्रेस प्रवक्ता शकील अहमद ने जे डी यु का हौंसला बढाने के लिए यह बयाँ दिया है