Ad

रेलहादसे के जांचकर्ता कमिश्नर ने मंत्री सिद्धू जोड़े के सर लगे इल्जामों को इनके नजदीकी पर डाला

[अमृतसर,पंजाब] अमृतसर में हुए रेल हादसे के जांचकर्ता कमिश्नर ने मंत्री सिद्धू जोड़े के सर पर लगे इल्जामों को इनके नजदीकी पर डाला | विपक्ष ने इस रिपोर्ट प्रेतराज जताते हुए हाई कोर्ट के सिटींग जज से जांच कराये जाने की मांग की है |
गौरतलब हे के अमृतसर के जोड़ा नवजोत कौर सिद्धू की दशहरा मेले में आयोजित एक सभा में घटे दुखद रेल हादसे में १२० लोग मारे गए ते जिसे लेकर शिरोमणि अकालीदल सहित विपक्षी दलों ने सिद्धु दम्पत्ति पर केस चलाये जाने की मांग की थी| इस हादसे की जांच के लिए जालंधर के डिवीजल कमिशनर बी पुरुषार्थ को चुना गया था| अब पंजाब के सीएम और सिद्धू में पनपे तत्कालीन विवाद में सिद्धू के व्यंगात्मक तेवरों के चलते आई जांच रिपोर्ट में सिद्धू दम्पत्ति को क्लीनचिट दे दी गई है लेकिन १८ अक्टूबर को हुए इस हादसे की जिम्मेदार सिद्धू दम्पत्ति के नजदीकी स्थानीय कांग्रेस के मिट्ठू मदान के सर डाल दी गई है |चूँकि इस हादसे में श्रीमती सिद्धू बतौर मुख्य अतिथि के रूप में शामिल थी इसीलिए अकाली दल इसे हाथों से जाने नहीं देने के मूड में है तभी भाजपा और एस ऐ डी ने अब हाईकोर्ट के सेवारत जज से जांच की मांग की है |दलील दी जा रही है के एक डिवीजल कमिशनर रेंक का अधिकारी अपने सरकार के केबिनेट मंत्री की निष्पक्ष जांच कैसे कर सकता है?