Ad

व्हाइट हाउस की इफ्तार पार्टी में गुरुद्वारे पर हमले की निंदा

राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अपने सरकारी निवास व्हाइट हाउस में रोजा इफ्तारी का कार्यक्रम का आयोजन किया इस अवसर पर विस्कॉन्सिन में गुरुद्वारे पर हुए हमले की निंदा की और इस हमले को अमेरिकी स्वतंत्रता पर हमला करार दिया है।
श्री ओबामा ने इस हमले में मारे गए लोगों के प्रति अपनी संवेदना भी व्यक्त की। ओबामा ने कहा है कि किसी भी धर्म पर हमला सभी अमेरिकी नागरिकों की स्वतंत्रता पर हमला है। इस तरह के कृत्यों का अमेरिकी समाज में कोई स्थान नहीं है।
व्हाइट हाउस में आयोजित इफ्तार पार्टी से इतर ओबामा ने कहा कि किसी भी धर्म मानने वाले लोगों पर हमला सभी अमेरिका के सभी नागरिकों की स्वतंत्रता पर हमला है। अपने धार्मिक स्थल पर सुरक्षा को लेकर किसी भी अमेरिकी को डरने की जरूरत नहीं है। सभी अमेरिकी नागरिक को खुले और स्वतंत्र होकर अपने धार्मिक काम करने का अधिकार है।
ओबामा ने दोहराया कि हिंसा का अमेरिकी समाज में कोई स्थान नहीं है। उन्होंने कहा कि धार्मिक स्थल पर मारे गए और घायल लोगों के प्रति हम शोक व्यक्त करते हैं। ओबामा ने जोर दिया कि धार्मिक स्वतंत्रता के वैश्विक अधिकार की सुरक्षा के लिए अमेरिका प्रतिबद्ध है।
ओबामा द्वारा आयोजित इफ्तार पार्टी में पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बाग्लादेश सहित कई देशों के राजदूत शामिल थे। लेकिन भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए अमेरिका में भारत के राजदूत निरुपमा राव और उनके पूर्ववर्ती राजदूत मीरा शकर वहा उपस्थित नहीं थी।