Ad

हत्या के मुकदद्मों का फैंसला दबाने वाले माननीय जुडिशरी पर चिंतित हैं

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

कांग्रेसी माननीय वकील

औए झल्लेया ये मोदी सरकार में जुडिशरी के साथ क्या खिलवाड़ हो रहा है?
कोलेजियम की रिकमेन्डेशन को भी केंद्र सरकार दरकिनार कर रही है |ये तो जुडिशरी की सम्प्रभुता पर सीधे सीधे आघात है

झल्ला

ओ मेरे चतुर सुजान ! आपके ये कथित कोलेजियम वाले माननीय न्यायाधीश महोदय पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के विरुद्ध हत्या के मुकदद्मे का फैंसला दबा कर बैठे है|प्रमोशन के लिए जोसफ जैसे जूनियर जजों के नाम फॉरवर्ड कर रहे हैं |यहाँ तक के न्यायालयों में माननीय जजों रिक्तियों से बेहद कम ,वोह भी चुनिंदा,जजों के नामों की सिफारिश कर रहे हैं | औजी कमल हो गया, राष्ट्रपति के आदेशों को उलटने वाले और हत्या के मुकदद्मों का फैंसला दबाने वाले माननीय जुडिशरी पर चिंतित हैं