Ad

लालकिले का रखरखाव डालमिया को ही क्यों दे दिया

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

पर्यटन मंत्रालय के चेयर लीडर

औए झल्लेया ये क्या हो रहा है? हमने इतनी मेहनत करके लाल किले की धरोहर को सहेजने के लिए डालमिया जैसे देश सेवक ढूढ़ निकाले लेकिन ये कांग्रेसी हुए उनके सहयोगी वामपंथी बात का बतंगड़ बनाने पे तुले हुए हैं| औए २५ करोड़ रु लगा कर डालमिया साहिब लालकिले में पांच साल तक स्वच्छ पेयजल+बैठने के लिए बेंच+गाइड मेप+और ना जाने क्या क्या सुविधाएँ देने जा रहे हैं |इस पर भी लालकिले पे झंडा तो हमने ही फहराना है |इससे हसाड़े मुल्क का नाम विश्व भर में रौशन होगा के नहीं होगा?

झल्ला

ओ मेरे चतुर बादशाहो!बेशक यह अच्छा प्रयास है हो सकता है के कांग्रेस का झुकाव दूसरे बिडर इंडिगो की तरफ हो लेकिन इसके साथ ही अपने ऑफिस के डस्टबिन में भी झांक लो उसमे न जाने कितने ऐसे ही प्रपोजल डंप पढ़े हुए हैं |