Ad

कोयले से मैले हाथों को धो कर साफ़ कर लेंगे:शिंदे

विपक्ष अगर कमजोर हो +घटक घनघोर हों+समर्थक बिनाजोर हों तो सरकार तो जोरावर हो ही जाती है|इसलिए महंगाई से बने फफोलों पर तानों का नमक मलने से भी बाज नहीं आती |कमोबेश ऐसा ही लोक सभा में सरकार के नेता और गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने कर दिखाया है|श्री शिंदे ने कीमतों के रोल बैक के शोर में कोयला घोटालों की धूल साफ करते हुए कहा है कि जनता की याददाश्त बेहद कमजोर होती है|इसीलिए कोयले को भी बहुत जल्द भूल जायेगी|
श्री शिंदे अपने गृह प्रदेश पुणे में आयोजित एक एवार्ड समारोह में आये हुए थे|यहाँ उन्होंने कहा कि पूर्व में बोफोर्स और पेट्रोल पम्प एलाटमेंट के घोटालों को जनता भुला चुकी है|अब कोयले से मैले हुए हाथों को धो कर साफ कर लिया जाएगा|इसीलिए जनता इसे भी भूल जायेगी|
गौरतलब है कि वर्तमान के गणित के हिसाब से कांग्रेस के घटक उसके साथ हैं|ममता+मुलायम सिंह सरकार को नहीं गिराने के ब्यान दे चुके हैं|लालू प्रसाद यादव खुल कर ऍफ़ डी आई का समर्थन कर रहे हैं|एन डी ऐ भी इस मामले में एक जुट नहीं है ऐसे में सरकार को कोई खतरा नहीं है बेशक प्रधान मंत्री खामोशी पसंद करते हैं मगर आये दिन महंगाई के बड़े बड़े बमों के धमाके कर रहे हैं|उन्हें मालूम है कि सरकार कहीं जाने वाली नहीं है|तब फिर क्यूं फिसड्डी और दब्बू बन कर रहा जाए शायद इसीलिए अब प्रीमियम पेट्रोल भी सवा छह रूपये लीटर बड़ा दिया गया है|

आवाजे मनमोहन को नक्काराए बाज़ार समझो और आमदनी बढाओ

झल्ले दी झाल्लियाँ गल्लां

एक आम नागरिक

ओये झल्लेया ये क्या जुलुम हो रहा है?खामोश सरकार ने अब कान भी बंद कर लिए हैं|देश में महंगाई और ऍफ़ डी आई के खिलाफ मची हाहाकार सुनाई नहीं दे रही|उलटे प्रधान मंत्री ये कहने लग गए हैं कि अगर जाना ही है तो लड़ कर जायेंगें|यह जूमला गाते गाते अब सुपीरियर पेट्रोल के दाम भी बड़ा दिए हैं|ओये इलेक्शन नज़दीक नहीं दिख रहे |राजनीतिक दल इस सरकार को हटाने में फ़ैल है |अब हसाड़ा क्या होगा|लगता है कि आटा गीला करने के लिए आटे में पानी डालने के दिन गए|इस गीली गरीबी में पानी में गीला करने के लिए आटा+चावल+दाल भी विदेशों से मंगवाने पड़ेंगे|

झल्ला

ओ मेरेया मित्र वे हुन बंद करो रौणा|ये महंगाई तो किसी महामारी की तरह फैले ही फैले|इसे रोकने वाले विपक्षी+समर्थक+घटक सभी केवल गाल बजा कर ओपचारिकता निभा रहे हैं|शायद इसीलिए सरकारे आली ने भी चिडाते हुए कह दिया है कि जिसके जो बस में हो करले | अगर जाना ही है तो लड़ कर ही जायेंगे|
इसीलिए आवाजे पी एम् को नक्काराए बाज़ार समझो और आमदनी बढाने की सोचो

दैविक प्रेम अमरत्व का प्रतीक है.

प्रेम भक्ति को पैडो न्यारों, हमकू गैल लगा जा.

संत मीराबाई जी सतगुरु से प्रार्थना करती हुई कहती है, हे सतगुरु! प्रेम और
भक्ति का मार्ग मेरे लिए नितांत अजनबी और कठिन है. तुम मुझे इस पथ पर लगा
दो ताकि मैं सरलता से परमात्मा के दर्शन पा सकूँ.
प्रेम कि महान मूर्ति मीराबाई के जीवन से हमें यह सन्देश मिलता है कि दैहिक प्रेम
क्षणभंगुर है जबकि दैविक प्रेम अमरत्व का प्रतीक है. क्योंकि सच्चे प्रेम को तो
परमात्मा के स्वरुप में समाहित हो जाना है. प्रभु से एकाकार होना ही सबसे बड़ी
आराधना है और उसका एकमात्र रास्ता प्रेम है.
संत मीरा बाई वाणी

दिल्ली यूनिवर्सिटी के छात्र संघ को एन एस यु आई ने कब्जाया

दिल्ली यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनावों में कांग्रेस के छात्र विंग एनएसयूआई ने बाजी मारी | अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सचिव पद पर एन एस यु आई ने जीत हासिल कर ली है । ज्वाइंट सेकेट्री पर एबीवीपी और एनएसयूआई के बीच टाई हो गया। ठीक दोपहर 1 बजे घोषित हुए रिजल्टों के बाद करारी हार मिलने से बौखलाफ भाजपा की छात्र विंग एबीवीपी के कार्यकर्ता भडक़ गए। एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने चुनावों में गडबडी की शिकायत करते हुए दुबारा मतदान की मांग की विश्वविद्यालय में मुख्य चुनाव अधिकारी कार्यालय+ कैंटीन और डूसू ऑफिस में जमकर तोडफ़ोड़ कर दी। पोलिस ने लाठी फटकारी और प्रदर्शन कारीओं को तीतर बितर किया | कुछ लोगों को हिरासत में लिए जाने की खबर है| पुलिस और गुस्साए कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई। एहतियातन डीयू में धारा 144 भी लागू कर दी गई है । इस लाठीचार्ज में एबीवीपी के अध्यक्ष पद के प्रत्याशी अंकित धनंजय चौधरी समेत कई कार्यकर्ता घायल हो गए, जिन्हें उपचार के लिए हिंदू राव अस्पताल ले जाया गया। । इस तरह डूसू के नए अध्यक्ष अरूण हुड्डा, उपाध्यक्ष पर वरुण खारी, सचिव पर वरुण चौधरी बन गए हैं। । डूसू चुनाव में जीते प्रत्याशी 13 तुगलक लेन स्थित राहुल गांधी के घर गए और वहां से सीधे कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी से मुलाकात करने 10 जनपथ पहुंचे। सोनिया ने इन प्रत्याशियों को बधाई दी। दिल्ली की मुख्य मंत्री शीला दीक्षित भी उपस्थित थी

विराट कोहली बने वन डेयर क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ

भारत के बल्लेबाज विराट कोहली को एक वन डेयर क्रिकेट में साल का सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर चुना गया है। श्रीलंका के कुमार संगाकारा को साल के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर के अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। श्री संगकारा टेस्ट क्रिकेटर ऑफ द इयर का भी अवॉर्ड जीतने में कामयाब रहे।
श्री विराट ने पिछले एक साल के दौरान 31 वनडे मैचों में 66.65 के औसत से 1733 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने 8 शतक और 6 अर्थशतक जमाए। एशिया कप में 18 मार्च को कोहली ने पाकिस्तान के खिलाफ खेलते हुए 183 रन की पारी खेली थी। श्रीलंका के कुमार संगकारा लसिथ मलिंगा और भारत के ही कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ( आईसीसी क्रिकेट टीम कप्तान ) को पचाड़ने में कामयाब रहे।
अवॉर्ड मिलने पर विराट कोहली ने कहा, ‘ मैंने चीजों को सरल से सरल रखने की कोशिश की और यही मेरे काम आया। आपके खेल को अगर सम्मान मिलता है तो अच्छा लगता है। इस तरह के अवॉर्ड्स में मैं पहली बार आया हूं और सम्मान पाकर मुझे बहुत अच्छा लग रहा है।

विश्व के टाप विश्व विद्यालयों में हमक्यूं नहीं : राष्ट्रपति

भारत के राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने आज उच्च शिक्षा में भारत के पिछड़े स्टेटस पर चिंता व्यक्त की|
महामहिम ने आई आई टी खगड़पुर के ५८वे दीक्षांत समारोह में शिक्षा मंत्रालय को आयना दिखाते हुए कहा कि विश्व के टाप २०० विश्व विद्यालयों में किसी भारतीय विश्व विद्यालय का[आई आई टी सहित] नाम नहीं है यह चिंता का विषय है|इस स्थिति से बैचेनी हो रही है|
उन्होंने उभरती आर्थिक महाशक्ति के स्लोगन पर भी टिपण्णी करते हुए कहा कि महत्त्व पूर्ण प्रश्न है कि हम उभरती आर्थिक महाशक्ति होने के बावजूद अपने मानकों को बढाने में सक्षम क्यूं नहीं हैं कि निर्विवाद रूप से टाप १०/५० या टाप १०० में हमारे किसी संस्थान का नाम होता|
उन्होंने शिक्षा के छेत्र में अग्रणी स्थान पाने के गुर बताये उन्होंने बताया कि प्रतिस्पर्धी कीमत पर उत्साह के साथ आधुनिक प्रोद्योगिकी अपना व्यावसाईक और शिक्षा के लिए वरदान होगी|

अमेरिकी संसद में सिखों के योगदान की प्रशंसा+ हमले की निंदा

अमेरिकी प्रतिनिधि सभा में पहली बार सिखों [अमेरिकी]के अमेरिका में योगदान की प्रशंसा की गईऔर सिखों और उनके धार्मिक स्थलों पर हो रहे घर्णा अपराधों की निंदा की गई|सभा में ८० सांसदों ने पार्टी लाईन से ऊपर उठते हुए इस विषय में प्रस्ताव प्रस्तुत किया गया|जो क्राउली और हावेर्ड़ के साथ बड़े सांसदों ने पेश किया|यह प्रस्ताव पाल रियान द्वारा प्रस्तुत निंदा प्रस्ताव के बाद आया
उपराष्ट्रपति के लिए रिपब्लिकन उम्मीदवार पाल रियान ने अपने प्रस्ताव में विस्कोंसिन ओक क्रीक गुरुद्वारे में ५ अगस्त को मारे गए ६ सदस्यों की मौत की घटना की निंदा की इसके पश्चात कांग्रेस के नए प्रस्ताव में न्याय विभाग से कहा गया है की वह सिखों के विरुद्ध नफरत जुर्मो को एकत्रत करना प्रारम्भ करे|
गौरतलब है की वर्तमान में नफरत हिंसा के कारण सिखों और उनके धार्मिक स्थलों पर अटैक हो रहे हैं|इसका रिपब्लिकन और डेमोक्रेट्स दोनों के द्वारा निंदा की गई है| ओक क्रेक के गुरुद्वारे पर हमले के विरोध में संभवत पहली बार अमेरिका में सरकारी झंडे झुका दिए गए थे और स्वयम राष्ट्रपति ने हिंसा की निंदा की थी

ममता +माया+मुलायम + करुणा मोह पगड़ी उछालता ही है|

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

एक कांग्रेसी

ओये झल्लेया इन समर्थक दलों ने क्या भसुडी डाल रखी है|हासाडी सरकार को भांबढ भूसे में गिरा रहे हैं|हसाड़े सोणे ते मन मोहने पी एम् ने अपनी चली चलाई सरकार को दावं पर लगा दिया | राष्ट्र हित में दूरगामी फैसले लेकर ऍफ़ डी आई को मंजूरी दे दी यानि गद्दी घेड़ मौल ले ली|कल तक बिना डकार लिए चिकनी चोपड़ी खाने वाले समर्थक दल आज आँखें दिखा रहे हैं|अल्टीमेटम दे रहे हैं|

झल्ला

भोले बादशाहों आप जी को मालूम होना चाहिए की पी एम् डाक्टर मन मोहन सिंह की राशि म से मिलाते हुए आपने ममता+माया+करुना|और मुलायम से राजनीतिक पींगें बडाई और ये भूल गए की सयाने कह गए हैं की ममता+माया के साथ मुलायमियत और करुना जरुरत से ज्यादा दुःख देती है|इनका मोह सरे बाज़ार पगड़ी उछालता है|

मुम्बई मिरर में छपी एक खबर का पी एम् ओ का जोरदार खंडन

किया गया है|
मुम्बई मिरर में एक स्टोरी छापी गई है जिसके अनुसार यूं पी ऐ की चेयर पर्सन श्रीमति सोनिया गाँधी की पोलिटिकल सेक्रेटरी के कहने पर ही डाक्टर मन मोहन सिंह ने कोयला खदान के आवंटन क्लीयर किये थे|और इसकी सूचना यूं पी ऐ अध्यक्ष को दे दी गई है| इस स्टोरी को पूर्णतया असत्य बताते हुए गैर जिम्मेदाराना और शरारत से भरपूर बताया गया है|. मीडिया से इसप्रकार की खबर को नहीं छापने को कहा गया है
The attention of the Prime Minister’s Office has been drawn to a news story published in Mumbai Mirror today, 15 September, 2012. The allegation that the Prime Minister talked to the UPA Chairperson and communicated to her that his office had cleared the coal block allotment on the recommendation of her political secretary is completely untrue. This is a scurrilous, irresponsible and mischievous report. It is hoped that other newspapers or media outlets do not reproduce or repeat the baseless story.

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पूर्व सरसंघचालक के.एस. सुदर्शन नहीं रहे

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पूर्व सरसंघचालक के.एस. सुदर्शन का आज रायपुर में ८१ वर्ष की आयु में निधन हो गया|टेलि कम्युनिकेशन में स्नातक होने के उपरान्त उन्होंने आर आर एस के माध्यम से समाज सेवा को जीवन समर्पित कर दिया|पिछले दिनों स्मरण शक्ति के क्षीण होने से काफी परेशां थे |एक बार जबलपुर में याददास्त भूलने के कारण सैर करते समय ग़ुम हो गए |आज सुबह भी सैर करके लौटने के बाद हर्ट अटैक से उनकी मौत हो गई|एक किताब के विमोचन के सिलसिले में अपने जन्म स्थली रायपुर गए थे