Ad

चिदम्बरम जी बजट में नई यौजनाओं के पैर उतने ही फैलाना जितनी वित्तीय क्षमता की चादर हो

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

एक चीयर लीडर कांग्रेसी

ओये झाल्लेया देखा आज हसाड़े वित्त मंत्री पी चिदम्बरम स्पेशल बजट ब्रीफ केस लेकर आ रहे हैं ओये आने से पहले उन्होंने राष्ट्रपति भवन और केबिनेट का दौरा भी कर लिया है ओये अब तो रेल बजट की तरह ये हसाडा ९वा बजट पास हो ही जाएगा|

चिदम्बरम जी बजट में नई यौजनाओं के पैर उतने ही फैलाना जितनी वित्तीय क्षमता की चादर हो

चिदम्बरम जी बजट में नई यौजनाओं के पैर उतने ही फैलाना जितनी वित्तीय क्षमता की चादर हो


झल्ला

ओ चतुर सुजन जी अपने वित्त मंत्री जी को यह जरूर बता देना कि नई यौजनाओं के लिए नए भारी भरकम टैक्स लगाने से पहले अपनी दिल्ली की मुख्य मंत्री श्रीमती शीला दीक्षित का वोह भाषण यद् रखें जिसमे उन्होंने कहा था कि बिजली का बिल नहीं भर सकते तो बिजली कम जलाओ |अर्थार्त जितने चादर हो उतने हे पैर फ़ैलाने चाहिए |झल्लेविचारानुसार नई यौजनाएं उतनी ही लाओ जितनी क्षमता हो