Ad

मेरठ/मुजफ्फर नगर/शामली में एयर पोर्ट है नहीं पी एम् के प्लेन में जगह नहीं थी तभी चौ.अजित सिंह पहले नहीं आ पाए

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

रालोदाई चीयर लीडर

ओये झल्लेया देखा म्हारे छोटे चौधरी का कमाल ओये मुजफ्फर नगर+ शामली के दंगों में अलग हुए जाट और मुस्लिम भाइयों को एक झटके में एक जुट कर दिया| ओये ये तो पहले सपा और भाजपा ने मिल कर छोटे चौधरी अजित सिंह और उनके सुपुत्र जयंत को दंगा पीड़ित छेत्रों में घुसने नहीं दिया वरना तो आग भड़काने से पहले ही बुझा दी जाती ओये बड़ा कहता फिरता है कि म्हारी न तीन रहेंगी न तेरह ओये ईब तो मानता है न कि २०१४ में तीन सीटों की तेरह हो जायेंगी |

झल्ला

अरे मेरे भोले चौधरी उम्मीद पर दुनिया कायम है लेकिन जो बातें उन्होंने रेस्ट हॉउस में बैठ कर की हैं वोही बातें दिल्ली में भी कही जा सकती थी मेरी मानो तो मेरठ / मुजफ्फर नगर/ शामली में एयर पोर्ट बना नहीं है और इसके अलावा पी एम् और सोनिया गाँधी के प्लेन में छोटे चौधरी को जगह नहीं मिली होगी तभी वोह पहले यहाँ नहीं आ सके होंगे जहांतक तीन की तेरह का सवाल है तो कांग्रेस इन्हें २० देगी तभी तो तेरह की उम्मीद लगाई जा सकती है