Ad

Tag: अनुसूचित जाति मोर्चा

भाजपा ने अनुसूचित समाज के खिलाफ किये जा रहे षड्यंत्र के विरुद्ध राष्ट्रपति को ४ सूत्रीय ज्ञापन दिया

भाजपा के अनुसूचित जाति मोर्चा का दिल्ली के जंतर मंतर पर धरना

भाजपा के अनुसूचित जाति मोर्चा का दिल्ली के जंतर मंतर पर धरना

भारतीय जनता पार्टी [भाजपा] ने अनुसूचित समाज के खिलाफ किये जा रहे षड्यंत्र की रोक थाम के लिए राष्ट्रपति को ४ सूत्रीय ज्ञापन दिया|
भाजपा के अनुसूचित जाति मोर्चा द्वारा दिल्ली के जंतर मंतर पर २३ अगस्त की प्रातएक दिवसीय धरना देकर केंद्र सरकार के विरोध में प्रदर्शन किया गया |और राष्ट्रपति को एक ज्ञापन भी प्रेषित कियाजिसमे आग्रह किया गया कि असामनता तथा जाति विषमता कि खाई पाटने के लिएयह आवश्यक है कि यूं पी ऐ सरकार द्वारा अनुसूचित जाति के खिलाफ किये जा रहे कार्यों को तुरंत रोका जाये | इस ज्ञापन में प्रस्तुत मांगे इस प्रकार हैं:
[१] सच्चर कमेटी और रंगनाथ मिश्र की रिपोर्ट को अविलम्ब ख़ारिज किया जाये|
[२] सरकारी नौकरियों में अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित पदों को अविलम्ब भरा जाए|
[३]गरीबों को दी जाने वाली सुविधाओं में बिना शर्त के पहला हक़ अनुसूचित जाति वर्ग का हो| एस सी /एस टी के छात्रों को सरकार की तरफ से दी जाने वाली छात्रवृतियों में लागू आय सीमा तुरत खत्म की जाए|
[४]भारतीय प्रशासनिक सेवा [IAS ][IPS ]की भांति भारतीय न्यायिक सेवा[ IJS ] भी शुरू की जाये
यह ज्ञापन मोर्चा अध्यक्ष और पूर्व केन्द्रीय मंत्री डॉ संजय पासवान द्वारा हस्ताक्षरित है|

लालकृष्ण आडवाणी ने अनुसूचित जाति को भाजपा से जोड़ने की शुरुआत की

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में,लगता है कि, पुरानी पड़ी गांठें अब खुलने लग गई तभी पार्टी के पी एम् इन वेटिंग लालकृष्ण आडवाणी ने भी पुनः कमान संभाल ली है उन्होंने अनुसूचित जाति मोर्चा के कार्यक्रम में एलान किया है कि देश में राजनीतिक माहौल पार्टी के रिकार्ड तोड़ परिणाम हासिल करने के लिए बिल्कुल अनुकूल है यह स्थिति कांग्रेस की अगुवाई वाली सरकार के भ्रष्टाचार एवं महंगाई पर काबू पाने में विफल रहने पर बनी है।
भाजपा के अनुसूचित जाति मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में वयोवृद्ध श्री अडवाणी ने कहा कि देश में इससे पहले राजनीतिक स्थिति भाजपा के लिए इससे ज्यादा कभी अनुकूल नहीं रहीं।अनुसूचित जाति मोर्चा के कार्यकर्ताओं के विश्वास को देखते हुए भाजपा लोकसभा चुनाव में रिकार्डतोड़ परिणाम जरूर हासिल करेगी |उन्होंने बहुजन समाज वादी पार्टी [बीएसपी] के पूर्व प्रमुख स्वर्गीय कांशी राम का हवाला दिया और याद दिलाया कि कई साल पहले उनके साथ एक बार बातचीत में उन्होंने (कांशी राम ने) कहा था, ‘जो कुछ सामाजिक रूप से हासिल नहीं किया जा सकता (दलितों द्वारा) उसे राजनीतिक रूप से हासिल किया जा सकता है.उन्होंने अनुसूचित जाति के लगभग १०% वोटों कि शक्ति को अपने संबंधों का स्मरण भी कराया और बताया कि पंजाब में आरएसएस शाखा (बैठक) में सिखों को छोड़कर समाज के सभी तबके इनमें शामिल हुआ करते थे.और अब तो सिख भी शामिल होने लग गए हैं|
गौरतलब है कि आई बी एन ७+सी डी एस के ओपिनियन पोल में भाजपा के पक्ष में जीत दिखाई गई है जिस पर प्रतिक्रिया जताते हुए श्री आडवाणी ने कहा है कि इस बार के नतीजे रिकॉर्ड तोड़ देंगे।उन्होंने कहा कि इससे पहले होने वाले ओपिनियन पोल बीजेपी की सही तस्वीर नहीं दिखाते थे लेकिन ये पोल हमारे पक्ष में दिख रहा है।