Ad

Tag: कांग्रेस

संजय राउत ने इंदिरा गांधी और करीम लाला पर टिप्पणी को वापस लिया

(मुम्बई)संजय राउत ने इंदिरा गांधी और करीम लाला पर टिप्पणी को वापस लिया ,भजपा ने इस यूटर्न को अवसरवादी बताया
प्रकाश जावेडकर ने राउत के यूटर्न पर महाराष्ट्र में कांग्रेस,शिव सेना और एन सी पी की मिलीजुली सरकार को अवसरवादी बताते हुए कांग्रेस और आतंकवाद के रिश्तों की तरफ इशारा किया
शिवसेना नेता संजय राउत ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की गैंगस्टर करीम लाला से मुलाकात वाली अपनी टिप्पणी गुरुवार को वापस ले ली।
राउत ने हालांकि अपना बयान वापस लेने से पहले कहा था कि मुम्बई के इतिहास की समझ ना रखने वालों ने उनके बयान को ‘‘तोड़-मरोड़’’ डाला और करीम लाला पठान समुदाय का प्रतिनिधि करते थे इसलिए गांधी ने उनसे मुलाकात की थी।
कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा और संजय निरुपम ने राउत के बयान की निंदा की और उनसे बयान वापस लेने की मांग भी की थी।
राउत ने बयान वापस लेते हुए कहा, ‘‘ अगर किसी को लगता है कि मेरे बयान से इंदिरा गांधी की छवि को नुकसान पहुंचा या किसी की भावनाएं आहत हुईं, तो मैं उसे वापस लेता हूं।’’
राज्यसभा सांसद ने कहा, ‘‘ मैंने पहले भी उनका (गांधी का) पक्ष लिया है और उन लोगों से लड़ा हूं जिन्होंने उनकी छवि धूमिल करने का प्रयास किया। जबकि कुछ मामलों में तो, कुछ कांग्रेस नेताओं ने भी चुप्पी साधे रखी।’’
गौरतलब है कि पुणे में लोकमत मीडिया समूह के एक कार्यक्रम के दौरान दिए एक साक्षात्कार में राउत ने दावा किया था, ‘‘ जब (अंडरवर्ल्ड डॉन) हाजी मस्तान मंत्रालय आए थे, तो पूरा सचिवालय उन्हें देखने नीचे आ गया था। इंदिरा गांधी पायधुनी (दक्षिण मुम्बई) में करीम लाला से मिला करती थीं।’’
उन्होंने यह भी कहा था कि ‘‘ वे (अंडरवर्ल्ड) ही यह तय करते थे कि मुम्बई पुलिस आयुक्त कौन होगा और कौन मंत्रालय में नियुक्त होगा।’’
करीम लाला, मस्तान मिर्जा उर्फ हाजी मस्तान और वरदराजन मुदलियार मुम्बई के बड़े माफिया सरगना थे, जो 1960 से लेकर अस्सी के दशक तक सक्रिय रहे।
राज्यसभा सांसद ने अन्य एक ट्वीट में शिवसेना विधायक आदित्य ठाकरे, कांग्रेस नेता राहुल गांधी और राजीव सातव को टैग करते हुए कहा, ‘‘ मैं लौह महिला के रूप में इंदिरा गांधी की प्रशंसा करने से कभी नहीं कतराया, जो कड़े निर्णय लेती थीं। ताज्जुब की बात यह है कि जो लोग इंदिरा जी का इतिहास नहीं जानते वे ही हल्ला मचा रहे हैं। ’’
वहीं महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने सवाल उठाया कि क्या (उस समय) यह राज्य में ‘‘राजनीति के अपराधीकरण’’ की शुरुआत थी और क्या कांग्रेस ने मुम्बई में हमला करने वालों का ‘‘ साथ ’’ दिया था।

उद्धव ने विश्वासमत हासिल किया,भजपा ने किया बहिष्कार :महाराष्ट्र सरकार

(मुंबई)उद्धव ने विश्वासमत हासिल किया,भजपा ने किया बहिष्कार :महाराष्ट्र सरकार
#उद्धवसरकार ने #विश्वासमत हासिल किया जबकि भजपा ने सदन की कार्यवाही का बहिष्कार किया पूर्व सी एम #देवेंद्रफडणवीस ने
सदन की कार्यवाही को वन्देमातरम से शुरू नही किये जाने
प्रोटेम स्पीकर को रात 1 बजे बदले जाने
शपथ नेताओं के नाम पर लिए जाने के विरोध में भजपा ने सदन की कार्यवाही का बहिष्कार किया
उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महा विकास आघाडी सरकार ने आज महाराष्ट्र विधानसभा में विश्वास मत साबित किया। यह गठबंधन शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस ने मिलकर बनाया है।
विधानसभा का दो दिवसीय सत्र शनिवार को शुरू होगा। पहले दिन सदन में नए मंत्रियों के परिचय के बाद विश्वास मत हासिल किया जाएगा।
रविवार को #विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव होगा जिसके बाद #राज्यपाल के अभिभाषण पर सदन में धन्यवाद प्रस्ताव पेश किया जाएगा।
नए विधानसभा अध्यक्ष इसके बाद विधानसभा में नेता विपक्ष के नाम की घोषणा करेंगे।
राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने ठाकरे को बहुमत साबित करने के लिये तीन दिसंबर तक का वक्त दिया ,था
राकांपा के वरिष्ठ नेता दिलीप वलसे पाटिल को शुक्रवार को महाराष्ट्र विधानसभा का अस्थायी (प्रोटेम) अध्यक्ष नियुक्त किया गया। उन्होंने भाजपा के कालिदास कोलंबकर की जगह ली जिन्हें विधायकों को शपथ दिलाने के दौरान पूर्व में अस्थायी अध्यक्ष नियुक्त किया गया था।
पाटिल पूर्व में भी विधानसभा के अध्यक्ष रहे हैं।
फोटो अजित पवार

महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन ,शिवसेना पहुंची अदालत,सुनवाई कल

(मुंबई,दिल्ली) महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन ,शिवसेना पहुंची अदालत,सुनवाई कल
महाराष्ट्र में छह माह के लिए राष्ट्रपति शासन लागू हो गया है
बी जे पी के पश्चात दूसरे और तीसरे स्थान पर आई शिव सेना और एन सी पी सरकार बनाने में नाकामयाब हो गई इन सबके पीछे कांग्रेस भी तख्ता पलटने में असफल हो गई है
।शिव सेना ने अदालत का दरवाज़ा खटखटाया
इन तीनों दलों की युक्ति नाकाम हो जाने पर शिव सेना ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया
लेकिन न्यायालय की रजिस्ट्री ने शिवसेना के वकील को सूचित किया कि आज मंगलवार को ही पीठ का गठन संभव नहीं है।
सो महाराष्ट्र विधानसभा फिलहाल निलंबित अवस्था में रहेगी

कांग्रेस के पूर्व एमएलए “सूपा” का निधन :गहलोत ने शोक जताया

(जयपुर) कांग्रेस के पूर्व विधायक बृजेंद्र सूपा का निधन :गहलोत ने शोक जताया
पशुधन विकास बोर्ड के अध्यक्ष रहे सूपा (66) लंबे समय से बीमार थे और उनका निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सूपा के निधन पर शोक जताते हुए उनके परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

सूपा का अंतिम संस्कार बयाना (भरतपुर) के पास उनके पैतृक गांव में किया जाएगा।

Cong MLA Sawhney Joins AAP

(New Delhi)Cong MLA Sawhney Joins AAP
Four-time Congress MLA Parlad Singh Sawhney joined the Aam Aadmi Party on Sunday in presence of Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal.
Sawhney, who was a close aide of former Delhi chief minister Sheila Dikshit, said he has not joined the party for getting a ticket to contest the upcoming assembly polls but to work towards development of Delhi.
Welcoming him to the party fold, Kejriwal said he is extremely happy that Sawhney joined the AAP with his team.
Sawhney was MLA from Chandni Chowk Assembly from 1998 till 2015. In 2015, he was defeated by AAP candidate Alka Lamba.

जीतन राम मांझी जैसे नेताओं के कारण अगड़ों पिछड़ों के कष्ट कम होने के बजाय बढ़ते ही जा रहे हैं

झल्ले दी झल्लियां गल्लाँ

जे डी [यूं] का चीयर लीडर

ओये झल्लेया ये तो हसाडे दलितों दे नाल बढ़ा जुल्म हो रहा है |ओये अनुसूचित जाति के लोगों के साथ आज भी भेदभाव किया जा रहा है|ओये हसाडे सोणे बिहार के मुख्य मंत्री जीतन राम मांझी के कारन तो मधुबनी में भगवान की मूर्ति को धुलवा कर हसाडे सी एम का घोर अपमान किया गया| मांझी जी ने स्वयं भी यही दुखड़ा भोला राम पासवान शास्त्री जयंती पर रोया है |उन्होंने तो यहां तक कह दियाहै कि अनुसूचित जाति में जन्म लेने में उनका क्या कसूर है

झल्ला

ओ मेरे चतुर सुजान आप जी के यही मुख्य मंत्री दलित उत्थान के नाम पर चुनाव जीतते आ रहे हैं और कांग्रेस+आर जे डी वगैरह से होते हुए जे डी यूं तक पहुंचे हैं यहाँ भी नितीश कुमार की खडायूँ रख कर सरकार चला रहे हैं| अब लालू प्रसाद का पल्ला भारी देख कर नितीश कुमार के विकास अजेंडे को छोड़ कर लालू प्रसाद यादव के जाति वाद के अजेंडे को अपना कर चुनावी वैतरणी पार करना चाह रहे हैं |अगड़ों और पिछड़ों का रोना रोने वाले जे डी [यूं] के नेता श्री के सी त्यागी जाटों के वास्तविक दुखों का निदान करने के बजाय दिल्ली में सरकारी भवन पर स्मारक के नाम पर कब्ज़ा कराने पे तुले हुए हैं| सियासतदानों की इसी करनी के कारण ही अगड़ों पिछड़ों के दुःख दर्द बढ़ते ही जा रहे हैं

राज्य सभा में समाजवादियों को छोड़ कर सभी ने ध्वनि मत से लोकपाल विधेयक पारित किया

राज्य सभा में आज समाज वादी पार्टी को छोड़ कर अन्य सांसदों ने ध्वनिमत से संशोधनों के साथ लोकपाल विधेयक को पारित किया |प्रधान मंत्री डॉ मन मोहन सिंह और अन्य सदस्यों ने कानून मंत्री कपिल सिब्बल को सदन में बधाई दी |
कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी समेत लगभग सभी पार्टियों ने एक सुर में इस बिल का समर्थन किया|इस पर लेफ्टिस्ट नेता सीता राम येचुरी ने भी चुटकीलेते हुए कहा कि कांग्रेस और भाजपा में आँखों आँखों में इशारा हो गया और लोक पल बिल पास हो गया |.
लोकपाल के लिए अनशन पर बैठे अन्ना बाबू राव हज़ारे ने लोकपाल बिल पारित किए जाने पर खुशी जताई और राहुल गांधी के साथ ही राज्य सभा के सांसदों को [समाज वादी पार्टी को छोड़ कर]|बधाई और धन्यवाद दिया |
राले गण सिद्धि में सजे उनके अनशन मंच पर जश्न का माहौल हो गया|
लोकसभा लोकपाल बिल को पहले पास कर चुकी है अब संशोधन के साथ ये बिल लोक सभा में रखा जाएगा.
जनलोकपाल के आंदोलन से निकली “आप” पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल ने इस बिल का विरोध किया हैं.
सीता राम येचुरी केप्रस्तावित संशोधनों को १९ के मुकाबिले १५१ मतों से नकार दिया गया

योग गुरु बाबा राम देव ने केंद्र सरकार पर भड़ास निकाली और अधिकांश कांग्रेसियों को समलैंगिक बता डाला

[नई दिल्ली]योग गुरु बाबा राम देव ने अपनी भड़ास निकालते हुए अधिकांश कांग्रेसियों को समलैंगिक बता डाला| कांग्रेस के खिलाफ बाबा रामदेव ने कहा है कि लगता है अधिकांश कांग्रेसी समलैंगिक हैं इसीलिए वे समलैंगिकता का समर्थन कर रहे हैं |बाबा राम देव की पतंजलि योग पीठ पर आये दिन नए मुकद्दमे कायम किये जा रहे हैं जिन्हे लेकर भाजपा के पी एम् के उम्मेदवार नरेंदर मोदी ने भी बाबा का उत्तराखंड की रैली में समर्थन किया उसके बाद बाबा राम देव की कांग्रेस के प्रति यह बेहद तीखी टिपण्णी आई है|
गौरतलब है कि हाई कोर्ट के फैसले को पलटते हुए सुप्रीम कोर्ट ने धारा ३७७ को मान्यता देते हुए समलैंगिकता को अपराध साबित किया था और इस विषय में कानून बनाने की प्रक्रिया के लिए केंद्र सरकार को सक्षम बताया था जिसके उत्तर में कांग्रेस के टॉप ब्रास श्री मति सोनिया गांधी और राहुल गांधी आदि अनेक नेताओं ने कानून में संशोधन करने का आश्वासन भी दिया था| भाजपा ने समलैंगिक रिश्तों को अपराध की श्रेणी में रहे जाने की वकालत की है और बाबा राम देव भी इसे बीमारी बता चुके हैं|

गोआ पोलिस,अधीनस्थ पत्रकार का बलात्कार करने के मुख्य आरोपी तहलकाई तेजपाल को टच किये बगैर ही टहल गई

झल्ले दी झल्लियां गल्लां

आक्रोशित कांग्रेसी एनजीओ

ओये झल्लेया ये मुल्क में कनून कि कैसी धज्जियाँ उड़ाई जा रही हैं देख तो गोआ में भाजपाई सरकार ने पोलिस भेजी और महिला पत्रकार के बलात्कार की सारी जाँच पड़ताल करने के बावजूद अधीनस्थ पत्रकार का बलात्कार करने के मुख्य आरोपी तहलकाई तेजपाल को टच किये बगैर ही टहल गई|अरे भई तहलका की शोमा चौधरी से पोलिस ने बंद कमरे में ८ घंटे की पूछ ताछ की तो उस दौरान मात्र पत्रकारिता के गुर का आदान प्रदान ही हुआ था क्या?

झल्ला

अरे चतुर सुजाण जी ये भाजपाई भी लगता है आप ही के रास्ते पर चल निकले हैं| लॉन्ग रोप पा कर आप जी के तरुण तेजपाल गलतियां करने लग गए हैं |पहले पीड़िता अकी माँ को धमकाया जब बात नहीं बनी तो अपना ही ब्यान बदल डाला अब अग्रिम जमानत की अर्जी लगा कर भाजपा को षड्यंत्रकारी बताया |इससे लगता है कि श्रीमान जी की महिमा तार तार होनी शुरू हो गई है इनके मातहत पत्रकार तहलका से तौबा करने लग गए हैं |कपिल सिब्बल जैसे धुरंधर केंद्रीय मंत्री भी पीछे हटने लग गए हैं|इसके अलावा माननीय जी ये गोआ पोलिस वाले तहलका से हार्ड और न जाने कौन कौन सी डिस्कें ले गए हैं अब इनमे से भी सांप /बिच्छू तो निकलेंगे ही इससे हो सकता है शोमा जो तरुण का बचावकरती फिर रही हैं उसका सच्चा कारण भी उजागर हो जाये

कोंग्रेस ने मोदी पर लड़की की जासूसी का चार्ज लगाया भाजपा ने रिचार्ज होकर कांग्रेस को घेरा मगर मुद्दे डिस्चार्ज हो कर रह गए

कोंग्रेस ने नरेंद्र मोदी पर लड़की की जासूसी का चार्ज लगाया भाजपा ने इससे रिचार्ज होकर कांग्रेस को घेरा मगर राष्ट्रीय मुद्दे डिस्चार्ज हो कर रह गए |
कांग्रेस की महिला नेत्रियों ने आज भारतीय जनता पार्टी के पी एम् के उम्मीदवार नरेंदर मोदी को घेरते हुए गुजरात में एक महिला की जासूसी कराने का चार्ज लगाया जिससे भाजपा रिचार्ज हो गई और जासूसी के बजाय उसे पीड़िता को सुरक्षा प्रदान कराने की बात कह कर चुनावी मुद्दा बनाने का प्रयास किया लेकिन इस सबके बीच महंगाई+भ्रष्टाचार+रुपये के अवमूल्यन+सीमा पर अशांति जैसे ज्वलंत मुद्दे डिस्चार्ज हो कर गए |
गुजरात सरकार द्वारा एक महिला की कथित जासूसी कराए जाने के मामले की जांच की मांग कर रही कांग्रेस पर भाजपा ने आज यह कहकर पलटवार किया कि कांग्रेस और उससे जुड़े लोगों ने मामले को अनावश्यक रूप से सार्वजनिक कर एक गम्भीर अपराध किया है ।
भाजपा प्रवक्ता मीनाक्षी लेखी ने कहा कि मामले से जुड़ी महिला और न ही उसके परिवार के सदस्यों ने इस बारे में कुछ कहा है तो फिर कांग्रेस को जांच की मांग करने का कोई अधिकार ही नहीं है ।उन्होंने कोंग्रेस को ख्वाहमखःकांग्रेस बताया | उन्होंने इसे गुलेल + कोबरा+तहलका+आदि न्यूज़ पोर्टल्स के सहयोग से कांग्रेस की साजिश बताया |उन्होंने कहा कि लड़की के पिता ने मुख्य मंत्री से अपनी बेटी की सुरक्षा की मांग की थी जिसके जवाब में यह सुरक्षा प्रोवाइड कराई गई|उन्होंने टेलेग्राफ एक्ट+प्राइवेसी एक्ट के उलंघन का आरोप कांग्रेस पर लगाया |इसके साथ ही सी बी आई के कब्जे वाली सी डी का प्रयोग गुलेल द्वारा किये जाने की जांच की मांग भी उठा दी| इसके साथ ही मीडिया की तरफ ऊँगली उठाते हुए कहा कि पोर्टल की वेबसाइट पर बचाव के लिए लिखा गया है कि यह सी डी प्रमाणित नहीं है इसके बावजूद इसे चैनलों पर दिखाया जा रहा है|
नरेंदर मोदी जब बेंगलुरु रैली में भाषण देने के लिए मंच पर तैयार बैठे थे, तब दिल्ली में उन पर कांग्रेस की महिला नेताओं द्वारा हमला बोला गया । कांग्रेस की शीर्ष चार महिला नेता कथित तौर पर एक युवती का पीछा [जासूसी]करवाने के लिए मोदी द्वारा सरकारी मशीनरी के दुरुपयोगों को लेकर सवाल दाग रही थीं।
कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित इस प्रेस कांफ्रेंस में केंद्रीय मंत्री गिरिजा व्यास+ जयंती नटराजन+ महिला कांग्रेस प्रमुख शोभा ओझा+ उत्तर प्रदेश कांग्रेस की पूर्व प्रमुख रीता बहुगुणा जोशी ने चार्ज लगाया कि गुजरात पुलिस के समूचे आतंकवाद निरोधक दस्ते द्वारा युवा महिला का पीछा करने और जासूसी करने से हर महिला का सम्मान और मर्यादा दांव पर है।नेत्रियों ने कहा कि यदि सरकारी तंत्र का दुरूपयोग किया गया है, तो निश्चित तौर पर मोदी के पास गुजरात में शासन करने का कोई नैतिक और राजनैतिक अधिकार नहीं है।
कांग्रेस की इस प्रेस कांफ्रेंस के बाद मीनाक्षी लेखी ने भाजपा का रुख स्प्ष्ट किया
गौरतलब है कि खोजी वेबसाइट कोबरापोस्ट + गुलैल ने 15 नवंबर को दावा किया था कि गुजरात के पूर्व गृह मंत्री और मोदी के करीबी सहायक अमित शाह ने ‘साहब’ के इशारे पर एक महिला की निगरानी[जासूसी] का आदेश दिया था।इस पर भाजपा राष्ट्रिय अध्यक्ष राज नाथ सिंह ने कहा था कि लड़की के पिता के आग्रह पर यह सुरक्षा मुहैय्या करवाई गई थी
इस दावे की पुष्टि के लिए शाह और एक आईपीएस अधिकारी के बीच बातचीत का टेप [सी डी]जारी किया था। लेकिन इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा था कि इसकी प्रामाणिकता की पुष्टि नहीं की जा सकती।
वर्त्तमान में अमेरिकी $ के मुकाबिले भारतीय रुपया लुढ़क रहा है,। एक्सपोर्ट नहीं हो पा रहा है। सरकारी नीतियों के चलते देश का पशुधन खतरे में है। इन सभी मुद्दो पर चर्चा कराने के बजाय देश कि दोनों बड़ी पार्टियां केवल एक दुसरे पर आरोप प्रत्यारोपों के बल पर ही चुनावी वैतरणी पर करने के लिए प्रयास रत दिख रही हैं