Ad

Tag: AdjounmentOfRajyaSabha

‘लाल किताब’ को दफ़नाने के लिए “ममता” ने क्रूरता अपनाई

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

चिंतित बुद्धिजीवी

औए झल्लेया ये क्या हो रहा है? अपने ही सोनार बंगाल में प्रदेश सरकार भ्र्ष्टाचारी अधिकारी को बचाने के लिए सडकों पर उत्तर आई है|औए ये लोक तंत्र के कथित रक्षक संवैधानिक संस्थाओं को तोड़ने पर तुले हुए हैं||बंगाल की सडकों को जाम करने के पश्चात टीएमसी के सांसदों ने लोक सभा और राज्य सभा कोभी स्थगित करवा दिया

झल्ला

सर जी ! बेशक बंगाल में फिलहाल लालरंग के पूजकों की सरकार नहीं है लेकिन बुद्धिजीविओं के प्रदेश में लाल रंग का महत्व अभी कम नहीं हुआ है| इसीलिए एक किताब जिसका रंग लाल बताया जा रहा है उसी को ही दफनाने के लिए मुख्य मंत्री ममता ने क्रूरता अपना ली है क्योंकि गरीबों का पैसा हड़पने वाली सारदा चिटफंड के करप्शन से जुडी किताब[लाल] खुल गई तो sabhi राज भी खुल जाएंगे और ममता के गरीबी हितकारी नारों की पोल खुल जाएगी |

राज्यसभा में हिटएंडरन के खेल में कांग्रेस स्वयं फंसी,कांग्रेस भ्रष्टाचार पर चर्चा से भागी

[नई दिल्ली]राज्य सभा में हिट एंड रन के खेल में कांग्रेस स्वयं फंसी,आईपीएल के दागी मुग़ल ललित मोदी पर चर्चा से भागी|आज सुबह कांग्रेस के हंगामे के चलते राज्य सभा तीन बार एडजर्न हुई |कांग्रेस के नेता आनंद शर्मा ने आई पी एल के दागी मुग़ल ललित कुमार मोदी को लेकर सरकार को घेरने का प्रयास किया |उन्होंने इस विषय में चर्चा की पुरजोर मांग की इस पर अरुण जेटली ने तत्काल चर्चा की मांग स्वीकार करके चर्चा कराये जाने को कहा इस अप्रत्याशित जवाब से आनंद शर्मा चर्चा के लिए तैयार नही दिखे और केवल हंगामा ही करते रहे |
इससे पूर्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि विपक्षी दल कुछ कार्यो को प्राथमिकता के आधार पर करने के पिछले सत्र में किए गए अपने आश्वासन को पूरा करेंगे और सभी सांसद अच्छे फैसले करने में योगदान देंगे।
आज से शुरू हुए संसद सत्र से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने पत्रकारों के सवालों के जवाब में मौन प्रदर्शन करके पॉइंटेड प्रश्ों का मजाक उड़ाया और संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा, ‘‘ मुझे आशा है कि सत्र में अच्छा काम होगा, अधिक काम होगा और संसद देश की आशा और आकांक्षाओं के अनुरूप काम कर सकेगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ गत सत्र में कुछ राजनीतिक दलों ने यह आश्वासन दिया था कि अगले सत्र में कुछ काम प्राथमिकता के आधार पर पूरे किये जायेंगे। इसलिए मुझे आशा है कि सत्र में अच्छा काम होगा।’’ मोदी ने कहा कि अब तक सबका सहयोग मिला है और इसके लिए सबका आभार व्यक्त करता हूं। आगे भी सभी सांसदों का उत्तम योगदान रहेगा।
प्रधानमंत्री ने कहा कि कल सर्वदलीय बैठक में सकारात्मक माहौल में बातचीत हुई। 13 अगस्त तक स़त्र चलना तय हुआ है। देश को आगे बढ़ाने के लिए महत्वपूर्ण निर्णय सब मिलकर करें, यह हमारा प्रयास रहेगा।
इसके अतिरिक्त भाजपा ने आक्रामक रूख अपनाते हुए आज कहा कि वह ‘दामाद’ और ‘क्वात्रोक्की’ सहित कांग्रेस शासित राज्यों में ‘घोटालों’ के मुद्दों पर चर्चा के लिए तैयार है।
आज से शुरू हुए संसद के मानसून सत्र के बीच संसदीय कार्य मंत्री एम वेंकैया नायडू ने संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा, ‘‘ सरकार सभी मुद्दों पर चर्चा के लिए तैयार है। हमारे पास छिपाने के लिए कुछ भी नहीं है, चिंता करने के लिए कुछ भी नहीं है।’’ उन्होंने कहा कि भाजपा के कई सांसदों ने कांग्रेस शासित राज्यों में घोटालों के बारे में चर्चा कराने के लिए नोटिस दिया है।
संसदीय कार्य राज्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कांग्रेस पर चुटकी लेते हुए कहा कि वे सभी मुद्दों पर चर्चा कराने के लिए तैयार हैं लेकिन विपक्षी दल केवल व्यवधान पैदा करना चाहते हैं।
विवादित भूमि सौदों के संबंध में चर्चा में आए सोनिया गांधी के दामाद राबर्ट वाड्रा और बोफोर्स घोटाले का जिक्र करते हुए नकवी ने कहा, ‘‘ कांग्रेस के भ्रष्टाचार के कंकाल से अधिक मुखर और कुछ भी नहीं है। हम दामाद से लेकर क्वात्रोक्की तक सभी लंबित मुद्दों पर चर्चा कराने को तैयार हैं।’’ उन्होंने कहा कि सरकार केरल में चारा घोटाले, गोवा के वाटरगेट परियोजना घोटाले, उत्तराखंड के बाढ़ घोटाले और हिमाचल प्रदेश के स्टील घोटाले पर चर्चा कराने को तैयार है।
भाजपा के सांसदों द्वारा इन घोटालों के बारे में चर्चा कराने के नोटिस का जिक्र करते हुए नकवी ने कहा कि सरकार कांग्रेस के आरोपों के जवाब के साथ तैयार है।सम्भवत इसीलिए चचा की मांग करने के पश्चात कांग्रेस चर्चा से हटी लेकिन कांग्रेस का सड़कों पर प्रदर्शन जारी है