Ad

Tag: Chandigarh

Punjab Govt To Fecilitate Air Ambulance To High Court Judges & Family

[Chd,Pb]Punjab To Fecilitate Air Ambulance To High Court Judges & Family
The Punjab Cabinet, led by Chief Minister Captain Amarinder Singh, on Sunday decided \that Employees of the High Court including High Court Judges, who have adopted Punjab government rules, are provided medical reimbursement by UT Administration, Chandigarh.
Notably, during a meeting in the Punjab and Haryana High Court on January 28, 2019, the Chief Justice and other Judges had sought amendment to the Punjab Services (Medical Attendance) Rule, 1940, for providing facility of air ambulance in case of emergency to sitting and retired Judges and their dependents

चंडीगढ़ पर हक़ को लेकर पंजाब और हरियाणा फिर ताल ठोकने लगे

Haryana Govt[चंडीगढ़] चंडीगढ़ पर हक़ को लेकर पंजाब और हरियाणा फिर ताल ठोकने लगे
पंजाब के सी एम कैप्टेन अमरिंदर सिंह और हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने यूनियन टेरेटरी चंडीगढ़ पर अपना हक दोहराना शुरू कर दिया है|
बीते दिनों खट्टर ने पंजाब यूनिवर्सिटी में हरियाणा के लिए घोषित हक की मांग की और अब पंजाब के सी एम कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने चंडीगढ़ को पंजाब की राजधानी बनाये जाने की पुरानी मांग दोहरा दी है | मालूम हो के फिलवक्त चंडीगढ़ में हरियाणा और पंजाब दोनों राज्यों की राजधानी है और यहाँ अधिकतर यूनियन टेरिटरी कैडर के अधिकारियों की तैनाती होती आई है|
दोनों राज्य चंडीगढ़ को लेकर मय समय पर अपना हक जमाते आ रहे हैं |कैप्टेन ने चंडीगढ़ में पंजाब कैडर के अधिक अधिकारीयों की तैनाती की मांग भी की है

Poll Bound Punjab’s CM Plays Political “Gatka” For Chandigarh

{Muktsar,Pb} Poll Bound Punjab’s CM Plays Political “Gatka” For Chandigarh Saying “Chandigarh was, is and will ever remain capital of Punjab”
Punjab Chief Minister Parkash Singh Badal said that any deviation from existing practice of appointing state Governor as the Administrator of Chandigarh was not at all acceptable.
He said that though as per States Reorganization Act every parent state has sole right over its Capital city but grave injustice had been meted out to Punjab by denying Chandigarh to the state.
Badal said that Punjab has the sole right over its capital and it must be given to the state at every cost.
He said that till Chandigarh was not given to the state around four decades old practice of appointing Punjab Governor as the Administrator of Chandigarh should be continued.
He alleged that Delhi Chief Minister and Aam Aadmi Party (AAP) supremo Arvind Kejriwal was a “chronic non performer” who had “totally failed” to fulfill even a single promise in Delhi.
He said that it was a fact that Kejriwal was suffering from “anti-Punjab syndrome” and his stand on Sutlej Yamuna Link (SYL) canal was contrary to the interests of the state.
Lashing out at Congress and AAP, the Chief Minister alleged that both these parties were “conniving” to turn the state into desert by constructing SYL canal.
He alleged that while the Congress had “planned and executed plan” to snatch water of the state, the AAP was now its toes to get SYL constructed at the earliest.

Thunderstorm Turned Day Of Chandigarh Into Night

[Chandigarh,]Thunderstorm Turned Day Of Chandigarh Into Night
A thunderstorm today hit the city, crippling road traffic and affecting electricity supply in some parts of the union territory.
“Because of western disturbances over Pakistan, light to moderate level of thunderstorm has hit the city this afternoon,” UT Chandigarh Meteorological Department Director Surender Paul said today.
The thunderstorm accompanied by high-speed wind and dust hit the city at around 1:30 pm, resulting into felling of trees and traffic snarls in various parts of the joint capital of Punjab and Haryana.
Since it was followed by heavy rains, the entire city and its peripheral areas like Mohali and Kharar plunged into darkness, throwing life out of gear.
As per MeT Director “This thunderstorm appears to be light to moderate and is expected to dissipate in about 2 hours. It will move towards some parts of Haryana, Himachal Pradesh, Uttarakhand and then north eastern parts,”

विश्वप्रसिद्ध रॉक गार्डन निर्माता नेकचंद ने ९०वे जन्मदिन के बाद दुनिया को अलविदा कहा

[चंडीगढ़]विश्वप्रसिद्ध रॉक गार्डन के निर्माता नेक चंद ने अपना ९० वां जन्म दिन मना कर दुनिया को अलविदा कहा|
तीन राज्यों की राजधानी रहे चंडीगढ़ में पुरानी कबाड़ चीजों से पत्थरों का बाग़ रॉक गार्डन बनाने वाले नेक चंद का गुरुवार की रात निधन हो गया|कैंसर से जूझ रहे नेक चंद ने अभी कुछ दिन पूर्व ही अपना ९० वां जन्म दिन मनाया था| नेक चंद का जन्म 15 दिसंबर 1924 बरियाला कलां [अब ]पाकिस्तान में हुआ था.
पी डब्लू डी में रोड इंस्पेक्टर रहे नेकचंद को पद्म श्री से भी सम्मानित किया जा चूका है|
इन्होने 1958 से टुटा-फूटा सामान एकत्रित करने का काम शुरू किया था|विश्व प्रसिद्द रॉक गार्डन को इन्ही टूटी फूटी चीजों से तैयार किया गया है|इन्होने पत्थरों को तराश कर कला की दुनिया के खुदाओं में अपनी विशेष जगह बनाई |.
अमेरिका के टोनी रॉजर ने यूएसए में नेक चंद फाउंडेशन बनाया था अब बंगलोर में भी इसी तर्ज पर रॉक गार्डन बनाये जाने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी हैइसके अलावा चंडीगढ़ और मुंबई एयरपोर्ट्स पर भी उनकी इस अद्भुत कला ने शोहरत हासिल की है

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री के कबीर सहित ४४७० संदिग्ध गैर सरकारी संगठनों पर गाज गिरी

[नयी दिल्ली]दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया के कबीर सहित ४४७० संदिग्ध गैर सरकारी संगठन पर गाज गिरी |
गैर सरकारी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई को आगे बढ़ाते हुए केंद्र सरकार ने आज 4470 संस्थानों के लाइसेंसों को रद्द कर दिया है | अब वे विदेशी धन प्राप्त नहीं कर सकेंगे । ऐसे संस्थानों में शीर्ष विश्वविद्यालय+सुप्रीम कोर्ट बार ऐसोसिएशन+ एस्कोर्ट हार्ट इंस्टीट्यूट जैसे संस्थान भी शामिल हैं ।
विदेशी योगदान नियमन अधिनियम “एफसीआरए”के तहत केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इनकी गतिविधियों की जांच के बाद इनके पंजीकरण को रद्द करने का फैसला किया । इन संस्थानों ने कथित रूप से अपना वाषिर्क रिटर्न नहीं भरा था तथा इनकी गतिविधियों में कुछ अन्य अनियमितताएं भी थीं ।
गृह मंत्रालय के विदेशी प्रभाग ने इन सभी संगठनों के एफसीआरए लाइसेंस रद्द करने से पूर्व इन्हें अपना जवाब देने के लिए पर्याप्त समय दिया था।
जिन प्रमुख संगठनों के एफसीआरए लाइसेंसों को रद्द किया गया है उनमें पंजाब विश्वविद्यालय+चंडीगढ़+गुजरात नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी+गार्गी कालेज +दिल्ली, लेडी इर्विन कालेज दिल्ली+विक्रम साराभाई फाउंडेशन और दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया द्वारा स्थापित कबीर संगठन शामिल हैं ।

चंडीगढ़ में आज ४०% बिजली आपूर्ति हुई बाधित

[चंडीगढ़]चंडीगढ़ में ४०% बिजली आपूर्ति हुई बाधित
शहर में बिजली पारेषण में कुछ तकनीकी गड़बड़ी आने के कारण बिजली आपूर्ति बाधित हो गयी जिससे लोगों कोभीषण गर्मी में बेहद परेशानी का सामना करना पढ़ा|
बिजली विभाग के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार मोहाली,पंजाब से पारेषण आपूर्ति में तकनीकी गड़बड़ी आ गयी थीपंजाब राज्य बिजली निगम लि. के मोहाली बिजली उपघर में ब्रेकडाउन हो गया था जिसके फलस्वरूप शहर के विभिन्न हिस्सों में बिजली आपूर्ति बाधित हुई| ३८+४६+४७ सहित दक्षिणी सेक्टर प्रभावित हुए
इस उप बिजली घर से चंडीगढ़ की बिजली जरूरतों का करीब 40 प्रतिशत पूरा किया जाता है।
खबर लिखे जाने तक बिजली आपूर्ति बहाल करने के प्रयास किये जा रहेथे

After Punjab Now UT Chandigarh Also Imposed a Ban on Nicotine[Cigarettes]Sale

[Chandigarh]After Punjab Now UT Chandigarh Also imposed a ban on nicotine[Cigarettes] sale.
The Chandigarh Administration has imposed a ban on sale of loose cigarettes, and other tobacco products that do not carry specified health warnings on it.
As per an official release This ban has been imposed in public interest with immediate effect,
The step has been taken under the provisions of Section 7 of the Cigarettes and Other Tobacco Products (Prohibition of Advertisement and Regulation of Trade and Commerce, Production, Supply and Distribution) Act, 2003
Earlier, Punjab was the only state where there was a complete ban on nicotine. The decision came to light on Tuesday when the Punjab and Haryana High Court was informed in this regard.
Two years back, the high court had issued directions to the Chandigarh administration to monitor the abuse of nicotine in hookah bars. A notification to impose the ban was issued on May 21 under the provisions of the Poison Act of 1919 and Poison (Possession and Sale) Rules of 2015.

ओड़िशा में भी बनेगा एक रॉक गार्डन

चंडीगढ़ की तर्ज पर ओड़िशा में भी एक रॉक गार्डन बनेगा जिस के निर्माण पर ७ करोड़ रुपयों की लागत आएगी|
प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रस्तावित रॉक गार्डेन अंबापुआ इलाके में बनाया जाएगा जिसके लिए राज्य सरकार ने पहले ही 50 लाख रूपए मंजूर कर दिए हैं।
बरहमपुर विकास प्राधिकरण [बीडीए] द्वारा इस परियोजना का कार्यान्वयन होगा
चंडी गढ़ को रॉक गार्डन की सौगात देने वाले ९० वर्षीय पद्मश्री नेकचंद के लिए यह निश्चित ही प्रसन्नता का विषय होगा कि उनके द्वारा स्थापित रॉक गार्डन कि तर्ज पर एक और नायाब शाहकार बनने जा रहा है |गौरतलब है कि चंडीगढ़ के रॉक गार्डनको बनवाने में औद्योगिक +शहरी कचरे का इस्तेमाल किया गया है। पर्यटक यहाँ की मूर्तियों+मंदिरों +महलों आदि को देखकर अचरज में पड़ जातें हैं।हर साल इस गार्डन को देखने हजारों पर्यटक आते हैं। गार्डन में झरनों और जलकुंड के अलावा खुला मंच भी है जहाँ सांस्कृतिक गतिविधियाँ होती रहती हैं

आलोचनाओं से घिरी भाजपा की”खट्टर”सरकार अब हरियाणा में ग्राम सचिवालय स्थापित करेगी

[चंडीगढ़] हरियाणा सरकार ने राज्य में ‘ग्राम सचिवालयों’ की स्थापना का फैसला किया
पार्टी के अंदर और बाहर आलोचनाओं से घिरी भाजपा की हरियाणा में खट्टर सरकार ने प्रदेश भर में ‘ग्राम सचिवालयों’ की स्थापना का फैसला किया है
इससे ग्राम पंचायत एवं ग्राम स्तर के सभी विभागों के कर्मियों को एक ही छत के नीचे लाया जा सकेगा
सरकार द्वारा आज कहा गया कि इस कदम का मकसद ग्राम पंचायत और ग्रामीण विकास की प्रक्रिया में शामिल अन्य एजेंसियों के बीच बेहतर समन्वय, कामकाज, दक्षता, पारदर्शिता एवं जवाबदेही सुनिश्चित करना है|इसके आलावा पंचायत घर योजना के अंतर्गत ३००० गावों को अपग्रेड किया जायेगा
Apart from this, in nearly 3,000 villages will be upgraded.