Ad

Tag: CongressDelhiStatePresidentArvinderSinghLovely

अरविन्द केजरीवाल ने वैलेंटाइन “डे” पर दिल्ली की सत्ता को डाइवोर्स[इस्तीफा]दिया

प्रेम प्रतीक वैलेंटाइन डे पर अरविन्द केजरीवाल ने दिल्ली की सत्ता को डाइवोर्स[इस्तीफा] दे कर दिल्ली विधान सभा को भंग करने की सिफारिश कर दी है|गृह मंत्रालय ने विधान सभा को भंग करने की सिफारिश ठुकरा दी है| आम आदमी पार्टी के अरविन्द [केजरीवाल]ने कांग्रेस के अरविंदर[लवली] से समान दूरी बनाये रखने के लिए अपने इस्तीफे के लिए कांग्रेस और भाजपा को निशाना बनाया और दोनों पार्टियों को उद्योगपति मुकेश अम्बानी की कठपुतली बताया ||
४१ हनुमान रोड पार्टी स्थित कार्यालय से समर्थकों को सम्बोधित करते हुए केजरीवाल ने अपने इस्तीफे की जानकारी देते हुए अपनी ४९ दिवसीय सरकार का रिपोर्ट कार्ड भी प्रस्तुत किया| बीते दिन सदन के माइक तोड़े गए और कागज़ फाड़े गए और आज भी आज सुबह से ही सदन की कार्यवाही बाधित की जाती रही शोर शराबे के कारण सदन की कार्यवाही कई बार स्थगित की गई| शोर शराबे के बीच सी एम् ने अपना महत्वकांक्षी जन लोक पल बिल सदन के पटल पर रखा लेकिन भाजपा के ३२+कांग्रेस के ८+ निर्दलीय २ विधायकों ने एक जुट होकर “आप” के २७ विधायकों के स्पोर्ट को अल्प मत में साबित करके बिल को गिरा दिया इससे आहत होकर केजरीवाल ने सत्ता की कुर्बानी देकर कांग्रेस और भाजपा को एक्सपोस करने का प्रयास किया |केजरीवाल ने बताया कि संवैधानिक प्रक्रिया की दुहाई देने वाले भाजपाई और कांग्रेस विधायकों ने सदन के माइक तोड़े कागज़ फाड़े और अम्बानी के हितों की रक्षा करने के लिए असंवैधानिक प्रक्रिया अपनाई |
उन्होंने बताया कि मात्र २९ दिन की सरकार में बिजली कंपनियों का आडिट करवा दिया+भ्रष्टाचार कम करवा दिया+पूर्व सी एम् शीला दीक्षित+मुकेश अम्बानी+केंद्रीय मंत्री मोइली आदि के खिलाफ ऍफ़ आई आर दर्ज करवाई|अब जन लोक पाल भी प्रस्तुत कियाजिसे कांग्रेस और भाजपा ने मिल कर गिरा दिया |
आज सुबह एक विज्ञप्ति जारी करके “आप” पार्टी ने प्यार के त्यौहार वैलेंटाइन डे पर प्यार बांटा लेकिन शाम होते होते अरविन्द और अरविंदर के बीच ४९ दिनों की प्रेम पींगे टूट गई | कांग्रेस और भाजपा एक पाले में दिखाई देने लगे | “आप” के नेता योगेन्द्र यादव ने इसे बड़े प्रयोग की शुरुआत बताया

“दिल्ली” की सत्ता गवाने के बावजूद बरस रही “आप” की गालियों से बेमजा होने लगी कांग्रेस:लवली पलट वार

[नई दिल्ली]”आप” पार्टी के बढते नकारात्मक रुख के प्रति कांग्रेस का धेर्य जवाब देने लग गया है | अर्थार्त दिल्ली का तख़्त गवाने के बावजूद “आप” की गालियां खा कर बेमजा होने लग गई है |
इसकी झलक आज अरविंदर सिंह लवली के ब्यान में दिखाई दी |
दिल्ली प्रदेश के नए अध्यक्ष बने कांग्रेसी विधायक अरविंदर सिंह लवली ने आम आदमी पार्टी पर हमला बोलना शुरू कर दिया है |
अभी तक आप पार्टी को कांग्रेस बिना शर्त समर्थन देने का दावा करती आ रहे थी आज पलटते हुए लवली ने कहा कि “आप” पार्टी को नही बल्कि “आप” के मेनिफेस्टो को समर्थन है। और यह समर्थन सरकार से बाहर रह कर दिया जायेगा |
लवली का कहना है कि अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी ने दिल्ली की जनता से झूठे वायदे किए हैं और उसके झूठ की पोल खोलने के लिए ‘आप’ को समर्थन दिया है। उधर, जवाब में ‘आप’ नेता कुमार विश्वास ने ट्वीट करके कांग्रेस को धोखेबाज करार दिया और कहा कि वह दो मुंहे सांप की तरह है।इसके साथ ही दो मुंहें सांप की तस्वीर भी अप लोड की गई है| आप पार्टी के प्रवक्ता और विधायक मनीष सिशोदिआ ने भी एक चैनल के कैमरे के सामने कहा है कि कांग्रेस से समर्थन मिलने पर कांग्रेस की बुराईयों को उजागर करना बंद नहीं किया जा सकता |बुरे को बुरा कहा ही जाता रहेगा| बीते दिन संजय सिंह ने भी कहा था कि उनकी पार्टी केंद्रीय गृह मंत्री के प्रति जवाब देह नहीं है |