Ad

Tag: Devaluation of indian rupee

PM Attacks Congress for Abusing his Mother

[Chhatarpur,MP]PM Attacks Cong for Comparing Sliding Rupee with his Mother
Congress,s Star Compaigner Raj Babbar has compared Indian rupee’s slide with the age of PM,s mother, Hitting out at the Congress on Babbar’s remarks, PM Narendra Modi said, “When one doesn’t have issues to talk about, he resorts to abusing somebody else’s mother.
The Congress leader had kicked up a row in Indore Thursday when he compared the falling value of rupee against US dollar with the age of the prime minister’s mother.
The prime minister asked why the Congress was worried about Madhya Pradesh Chief Minister Shivraj Singh Chouhan being called “mama”.
“They are worried Shivraj is called mama…Why, don’t you remember (Ottavio) Quattrocchi mama and Warren Anderson (then chairman of the Union Carbide) mama,” he said, referring to the Bofors scandal and the 1984 Bhopal Gas tragedy.
He said the Congress was voted out of power in Madhya Pradesh 15 years ago because it indulged in the politics of divisiveness.

Indian Rupee Could Not Maintained Yesterday’s Rise So Depreciates 18 Paise Against Dollar

[Mumbai] Indian Rupee Could Not Maintained Yesterday’s Rise So Today Weakens 18 Paise Against Dollar In early Trade
The rupee depreciated by 18 paise to 66.28 against the US dollar at the Interbank Foreign Exchange in early trade today due to fresh dollar demand from importers.
As per Dealers ,The dollar strengthened against major world currencies overseas which impacted the rupee sentiment
The rupee weakened due to fresh demand for the dollar from importers and domestic equity markets opening with losses.
The rupee had appreciated by 55 paise, its biggest single-day gain in over seven months to close at 66.10 against the US dollar in yesterday’s trade on heavy selling of greenback by exporters and banks.

Indian Rupee &Stock Market Crashes,Rajan Assures Sufficient Resources to Deal With

[Mumbai]Indian Rupee And Stock Market Crashes
Sensex, Nifty tumble over 3 % as global equity rout deepens.Stock Market Wealth Crashes Below Rs 100-Trillion Mark
Whereas Indian Rupee Crashes to 66.49 Against Dollar, Plunges by 66 paise But RBI Governor Rajan says rupee has strengthened against yen+euro.He Also Assured That RBI has Resources to deal with Rupee Volatility.
The total investor wealth crashed below the Rs 100 lakh crore mark today while wiping out more than Rs two lakh crore worth valuation within minutes after the day’s trading began.
Listed stocks, fell to Rs 99.15 lakh crore this morning from Rs 102.33 lakh crore at the end of last trading session on Friday.
The investor wealth stood below Rs 100 lakh crore last on June 18, while this milestone was first achieved in November 2014.
The BSE benchmark Sensex crashed by over 1,000 points in intra-day trade amid widespread selling pressure.
When the total market valuation of all listed firms at the BSE first hit Rs 100 trillion on November 28, 2014, it marked ten-times rise in little over a decade.
BSE is among the world’s ten largest exchanges in terms of market value, while it is the largest globally for number of firms listed on its platform. It has over 4,000 actively traded companies and nearly 2.7 crore investors trade on it.
The total market cap is still nearly double the level of about Rs 50 lakh crore in 2009, while it is still about ten-times of the Rs 10 lakh crore level scaled in 2003.

संसद कोयले की फाईलों में दबी रही और रूपया और बाज़ार फिर धडाम हो गए

संसद कोयले की फाईलों में दबी रही और रूपया और बाज़ार फिर धडाम हो गए |
भारतीय संसद आज भी कोयला जैसे घोटालों की फाइलों में उलझी रही और भारतीय अर्थ व्यवस्था आज भी खून के आंसूं बहाती दिखी | एक अमेरिकी डॉलर को खरीदने के लिए जहाँ ६८ रुपये तक का भुगतान करना पडा वहीं शेयर बाज़ार भी धडाम हो गया| सेंसेक्स ने ६५१ पॉइंट्स खोये |इस गिरावट के पीछे सीरिया में आये संकट को भी दोषी बताया जा रहा है|अमेरिकी प्रेजिडेंट बराक ओबामा ने सीरिया पर अटैक करने के लिए अपनी कांग्रेस से इजाजत लेने की बात कही है लेकिन नवीनतम घटना क्रम के अनुसार सेन्ट्रल मेडिटरेनीयन सी [ central Mediterranean Sea. ] में दो मिसाईल लौन्चेस [two missile launches ]मिलने की बात की जाने लगी है| इससे बाज़ार में ज्यादा हड़बड़ी रही|

मुद्रा अवमूल्यन जिन्न गायब करने के लिए पेट्रोल मंत्री ने आँखें मींची और राजनीतिक आकाश काला दिखने लगा

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

एक बेचारा आम आदमी

ओये झल्लेया ये नेताओं ने हमें किस भम्भड़ भूसे में डाल दिया है ? ओये पहले तो रुपये में गिरावट और डीजल +पेट्रोल में उछाल से बौदलाये[बोखलाए] केंद्रीय मंत्री वीरप्पा मोइली ने अजीबो गरीब तरीके से तेल कंपनियों के नुकसान को कम करने के लिए पेट्रोल पर रात के समय ताला लगाने की बात उड़ा दी |जाहिर हैं पेट्रोल पम्पो पर लाइने लगनी ही थी विपक्ष भी स्वाभाविक रूप से माचिस की तीलियाँ ले कर सरकार के पीछे पड़ गया | पेट्रोल की काला बाजारी +होर्डिंग्स+फायर एक्सीडेंट की संभावनाओं से डराया जाने लगा |इतनी सारी कथा रचने के पश्चात अब पेट्रोलियम व प्राकृतिक गैस मंत्रालय ने कदम पीछे हटाते हुए स्वयम की रचि कथा पर पूर्ण विराम लगा दिया अब कहा जा रहा है कि पेट्रो‍ल पंपों को रात 8 बजे से सुबह 8 बजे तक काम बंद रखने के आदेश दिए ही नही गए हैं |

झल्ला

ओ मेरे भोले बादशाहों दरअसल पेट्रोल मंत्री वीरप्पा जी मोइली ने आँखें बंद करके मुद्रा अवमूल्यन के जिन्न को गायब करने की सौची लेकिन अपनी ही गद्दीगेड में फंसे माननीय को आँखें बंद करते ही राजनीतिक आकाश भी काला ही दिखने लगा सो घबरा कर आँखें खोलनी ही पडी |

नागरिक उड्डयन मंत्रालय,निजि एयर लाइन्स और एयर इंडिया को आर्थिक संकट से बाहर निकलने का रास्ता नहीं सूझ रहा

नागरिक उड्डयन मंत्रालय+निजि एयर लाइन्स और एयर इंडिया को वर्तमान आर्थिक संकट से बाहर निकलने का रास्ता नहीं सूझ रहा है संभवत इसीलिए अब राज्यों पर दबाब बनाया जाने लगा है| नागरिक उड्डयन मंत्रालय + निजि एयर लाइन्स और सरकारी उपक्रम एयर इंडिया आज कल आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं|सरकारी नीतियों के कारण यौजनाएं अपेक्षित परिणाम नही दिखा रही है यहाँ तक कि इस लाइन की साख पर भी प्रश्न चिन्ह लगना शुरू हो गया है|
[१] एयर इंडिया के मुंबई महानगर स्थित 23 मंजिले भवन को किराये पर लेने के लिए कोई आवेदन नहीं आया है|इस विफलता के पश्चात ऐ आई ने अब अपनी कुछ आवासीय संपत्तियों को ई नीलामी के लिए रखा है।एयर इंडिया ने अब ई.नीलामी प्रक्रिया के जरिये मुंबई और गुड़गांव के प्रमुख स्थानों पर स्थित अपनी आवासीय संपत्तियों को बेचने का प्रस्ताव रखा है।एयरलाइन्स की वेबसाइट पर जारी बोली दस्तावेज में कहा गया है”एयर इंडिया ई.नीलामी प्रक्रिया के जरिये मुंबई और गुड़गांव के प्रमुख स्थानों पर स्थित अपनी आवासीय संपत्तियों को बेचने का प्रस्ताव करती है”
[२] इंडिगो और स्पाईस जेट आदि जैसी ७ एयर लाइन्स से कर्जे का २१११ .४३ करोड़ रूपया वसूलने में अभी तक असमर्थ रहे नागर विमानन मंत्रालय द्वारा अब विमान कंपनियों को राहत देने के लिए राज्यों पर दबाब बनाया जाने लगा है|नागर विमानन मंत्रालय द्वारा अब राज्य सरकारों को हवाई जहाज़ों के तेल[ ATF ] के टैक्स में कमी करने को दबाब बनाया जाने लग गया है| नागर विमानन मंत्रालय के हवाले से भाषा ने कहा है कि मंत्रालय द्वारा विमान ईंधन पर करों में कमी लाने के लिए राज्य सरकारों को राजी करने का प्रयास जारी रखा जाएगा|इससे नकदी के संकट से जूझ रही विमानन कंपनियों को कुछ राहत मिल सकेगी|विमानन कंपनियां इस समय रुपये में गिरावट और कच्चे तेल की कीमतों में तेजी की मार से ग्रस्त हैं।

आर बी आई ने पी एस यूं को तेल खरीदने के लिए सीधे डॉलर मुहैय्या करवाने की घोषणा करके ना केवल रुपये की ढलान को रोक कर ६६.५५ पर भी खिसकाया

आर बी आई ने पी एस यूं को तेल खरीदने के लिए सीधे डॉलर मुहैय्या करवाने की घोषणा करके ना केवल रुपये की ढलान को रोक वरन ६६.५५ पर भी खिसकाया
लगता है कि रुपये की ढलान रोकने के लिए केंद्र सरकार को बैरियर[ Hurdles ]मिल गए हैं तभी रूपया आज भी न केवल लुदकाने से रुका वरन कुछ आगे बढ़ने में सफल हुआ |२२५ पैसे का अंतर ले कर डॉलर के मुकाबिले ६६.५५ पर पहुंचा|आर बी आई द्वारा पी एस यूं के लिए डॉलर मुहैय्या करवाने की घोषणा के फलस्वरूप यह सुधार आया है|
सेंसेक्स ने भी ४०० पॉइंट्स की छलांग लगाई है|

भारतीय रूपया आज भी रोते हुए ही 66.90 पर खुला,शुरूआती दौर में एक डॉलर के लिए रुपये ६७.४२ का भुगतान हुआ

भारतीय रूपया आज भी रोते हुए ही 66.90 पर खुला|
रुपये और बाजार दोनों का संकट आज भी बरक़रार है| बुधवार को शुरुआती कारोबार में एक डॉलर की खरीद के लिए ६७.४२ रुपये तक का भुगतान आवश्यक हुआ| 118 पैसे की इस गिरावट के साथ रुपया 67.42 प्रति डॉलर के अब तक के सबसे निचले स्तर पर आ गया।
सरकार की कोशिशों और दावों के उपरांत भी रुपये की कमजोरी थमने का नाम नहीं ले रही है। रुपये की इस कमजोरी के कारण सेंसेक्स लगभग 200 अंक नीचे कारोबार कर रहा है।
बाजार का माहौल सुधारने के लिए मंगलवार को 1.75 लाख करोड़ से ज्यादा की योजनाओं का ऐलान किया गया जिनका असर आज दिखाई नहीं दिया|
बीते दिन मंगलवार को रुपया पहली बार डॉलर के मुकाबले 66 के नीचे जा कर 66.24 पर बंद हुआ था।
इससे पहले 22 अगस्त को कारोबार के दौरान रुपये ने 65.66 के न्यूनतम स्तर का रिकॉर्ड बनाया था।रुपये ने खुलते ही अब तक का सबसे निचला स्तर छू दिया है। साफ जाहिर है कि रुपये की गिरावट थमने का नाम नहीं ले रही है। आज डॉलर के मुकाबले रुपया 66 पैसे की भारी गिरावट के साथ 66.90 पर खुला।
हालांकि शुरुआती कारोबार में ही डॉलर के मुकाबले रुपया और टूट गया। शुरुआती कारोबार में ही डॉलर के मुकाबले रुपया 67.42 के रिकॉर्ड निचले स्तर पर आ गया है। वहीं मंगलवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 66.24 पर बंद हुआ था।

खाद्य सुरक्षा के बोझ से भारतीय रूपया आज फिर रोया और सेंसेक्स भी सिसका

खाद्य सुरक्षा के बोझ से भारतीय रूपया आज फिर रोया और सेंसेक्स भी सिसका|
शेयर बाजार में पिछले तीन दिन के दौरान रुपये ने डॉलर के मुकाबिले कमर सीधी करने का प्रयास किया लेकिन आज फ़ूड सिक्यूरिटी बिल के दबाब से डालर के मुकाबले रुपये में भारी गिरावट देखी गई|एक डॉलर को खरीदने के लिए ६६.३० भारतीय रुपये का भुगतान किया गया|
इससे शेयर भी औंधे मुंह गिरे | बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 590 अंक से अधिक का गोता लगा गया।

रिवर्स गेयर में डाले गए भारतीय रुपये की गिरावट में आज भी ब्रेक नहीं लगा:डॉलर के मुकाबिले ६५ से भी नीचे गिरा

रिवर्स गेयर में डाले गए भारतीय रुपये की गिरावट में आज भी ब्रेक नहीं लगा:डॉलर के मुकाबिले ६५ से भी नीचे गिरा
रिवर्स गेयर में डाले गए भारतीय रुपये की गिरावट में आज भी ब्रेक नहीं लगा | गुरुवार को शुरुआती कारोबार में ही भारी गिरावट के साथ भारतीय रुपया डॉलर के सामने ६५/= के स्तर से भी नीचे गिर गया|
बीते दिन [बुधवार] को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 64.11 के स्तर पर बंद हुआ था और आज शुरूआती सत्र में 1.4 % की गिरावट के साथ रुपया ६५/= के स्तर को भी पार कर गया।
भारतीय रिजर्व बैंक[ RBI ] ने मंगलवार को 8,000 करोड़ रुपये के बांड पुनर्खरीद सहित नकदी नरम करने के कई उपायों के रूप में ब्रेक लगाने का प्रयास किया था लेकिन इसके बावजूद रुपये में गिरावट नहीं रुक पाई|
रुपये की कमजोरी से भारतीय शेयर बाजार भी लगातार औंधे मुंह गिर रहे हैं। आज भी शेयरा बाजार की शुरुआत गिरावट के साथ हुई, हालांकि बाद में बाजार थोड़ा संभलता दिखा