Ad

Tag: Facebook

Trump Distances Himself From Cryptocurrency

[Washington]Trump Distances Himself From Cryptocurrency Saying Cryptocurrency is ‘Not Money’
Donald J Trump expressed his mistrust of cryptocurrency Thursday, Tweeting
“I am not a fan of Bitcoin and other Cryptocurrencies, which are not money, and whose value is highly volatile and based on thin air,”
He added that cryptocurrency, whose electronic nature makes it nearly untraceable, could facilitate illegal activity.
Cryptocurrency has flourished since Bitcoin launched in 2009. But when Facebook unveiled plans last month for its own virtual currency, Libra, the announcement rattled financial regulators the world over.
With more than two billion Facebook users, the social media giant’s cryptocurrency — which is slated for a 2020 launch and already has multiple partners — could completely disrupt the financial world.
But Trump said that Libra has “little standing or dependability.” He also warned Facebook and other companies that, should they launch their own cryptocurrency, they would have to abide by both American and international banking regulations.
“We only have one real currency in the USA, and it is stronger than ever,” he tweeted.
“It is called the United States Dollar!”

पीएम मोदी का डिजिटल इंडिया भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ

[न्यू दिल्ली,वाशिंगटन]पीएम मोदी का डिजिटल इंडिया भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ
भारत का युवा वाकई सकारात्मक परिवर्तन चाहता है जिसका जीता जागता उदहारण फेस बुक पर डिजिटल इंडिया की स्पोर्ट में चले तिरंगे के ट्रेंड का वायरल हो जाना|फेस बुक के अपने पेज पर लिंक को क्लिक करने मात्र से अपनी खुद की फोटो प्रोफाइल राष्ट्रीय ध्वज के तीनों रंगों में नहा उठती है |बेशक अब कांग्रेस के नेताओं द्वारा डिजिटल इंडिया को लाने का श्रेय स्वर्गीय राजीवगांधी को दिया जा रहा है |यह ठीक भी है के स्वर्गीय राजीव के कार्यकाल में ही डिजिटल इंडिया के विचार को लाया गया था लेकिन यह भी अक्षरः सत्य है के इस प्रोग्राम को नरेंद्र मोदी के मात्र डेड साल के कार्यकाल में
यह वायरल हो चला है |स्वयं सोशल साइट निर्माता इसे प्रोमोट करने में जुटे हैं |फेस बुक के संस्थापक मार्क जुबेरकर ने भी अपनी पी पी तिरंगे में रंग कर इसका सबूत भी दे दिया है |यह डिजिटल इंडिया के व्यापक समर्थन को भी दिखलारहा है|यह ट्रेंड वायरल हो चला है |
सोशल साइट फेसबुक के संस्थापक युवा मार्क जुकरबर्ग ने नरेंद्र मोदी से मुलाकात में बिलकुल सत्य कहा कि वह भारत को ज्ञान का मंदिर मानते हैं जहां से उन्होंने फेसबुक को फिर से संगठित करने की प्रेरणा ली जब 10 साल पहले कंपनी कठिन दौर से गुजर रही थी और बिकने की कगार पर पहुंच गई थी।इसमें हजारों की संख्या में भारतीय युवाओं का भविष्य जुड़ा हुआ है |अब यह पुनःअपने पावों पर खड़ी हो गई है |इसके बावजूद भी बकौल मार्क एक अरब भारतीय इस सुविधा से दूर हैं वंचित हैं जाहिर है इस चित्र में भी बहुत बढ़ी मार्केट को देखा जा सकता है

Facebook,Countering Twitter’s Dominance,Releases News Tool For Journos

[Houston]Facebook,Countering Twitter’s Dominance,Releases News Tool For Journos
Facebook Too Woos Journalists with News Gathering Tool
Social networking giant Facebook has released a new tool to help journalists find, organise and publish content found on its extensive network, a move seen as an attempt to counter Twitter’s dominance in the media sector.
The tool called Signal, helps journalists find, source, and embed content from 1.5 billion Facebook users and Instagram’s 300 million users for storytelling and reporting.
The tool will be free for journalists.
“We’ve heard from journalists that they want an easy way to make Facebook a more vital part of their newsgathering with the ability to surface relevant trends, photos, videos, and posts on Facebook and Instagram for use in their storytelling and reporting,” Andy Mitchell, director of media partnerships at Facebook wrote in a blog post.
He stated that media organisations had been asking for a strategy to higher use the social community for reporting functions.
Journalist currently use Twitter to track breaking news and they also use it as a platform to share and re-distribute their work.
But Facebook has been trying to challenge Twitter by offering journalists and media outlets a range of tools and services for finding and distributing their content.
This launch comes a week after Facebook made its ‘Mentions’ app available to journalists with verified profiles.

Prime minister Of India To Visit Face Book Hqrs On 27th Sept.

[NewDelhi] Prime minister Of India To Visit Face Book Hqrs On 27th Sept.
The Prime Minister, Narendra Modi has invited the questions for Townhall Question and Answer(Q&A) session at Facebook Headquarters on September 27, 2015.
The Prime Minister wrote in his Facebook post:
“I thank Mr. Mark Zuckerberg for the invite to visit the Facebook HQ. I look forward to the Townhall Q&A on Sunday 27th September at 10 PM IST (9:30 AM Pacific time).
The interaction will cover a wide range of issues and will surely be a memorable one.
This programme will be incomplete without your participation! Share your questions on Facebook.
I urge you all to share your questions on the ‘Narendra Modi Mobile App.’ Your questions will make this a programme to be remembered.

नरेंद्र मोदी ने ,द्वार आये, फेस बुक से माँगा महात्मा गांधी की १५० वीं जयंती और टूरिज्म में सहयोग

फेस बुक आया मोदी के द्वार और नरेंद्र मोदी ने फेस बुक से माँगा महात्मा गांधी की १५० वीं जयंती और टूरिज्म में सहयोग |
फेसबुक की मुख्‍य संचालन अधिकारी सुश्री शेरिल सैंडबर्ग ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से की मुलाकात
फेसबुक की मुख्‍य संचालन अधिकारी सुश्री शेरिल सैंडबर्ग ने आज प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी से मुलाकात की। अपनी इस मुलाक़ात में उन्‍होंने कहा कि फेसबुक से जुड़े भारतीयों की बड़ी संख्‍या को देखते हुए भारत फेसबुक के लिए एक बहुत महत्‍वपूर्ण देश है।
प्रधानमंत्री ने सरकार और लोगों के बीच बेहतर संवाद और सुशासन के लिए फेसबुक को एक मंच के रूप में इस्‍तेमाल करने के बारे में सुश्री सैंडबर्ग से चर्चा की। उन्‍होंने फेसबुक के माध्‍यम से भारत में और पर्यटकों को आकर्षित करने की संभावनाओं के बारे में भी विचार-विमर्श किया। श्री नरेन्‍द्र मोदी ने सुश्री शेरिल से यह भी पूछा कि महात्‍मा गांधी की 150वीं जयंती को मनाने में और स्‍वच्‍छता पर विशेष जोर देने में फेसबुक किस तरह मदद कर सकती है। बाद में प्रधानमंत्री ने अपने फेसबुक पर निम्‍नलिखित बातें पोस्‍ट कीं।
”सुश्री शेरिल सैंडबर्ग के साथ मुलाकात बहुत फलदायक रही। उन्‍होंने संकेत दिया कि फेसबुक से जुड़े भारतीयों की बड़ी संख्‍या को देखते हुए भारत फेसबुक के लिए एक बहुत महत्‍वपूर्ण देश है।
सोशल मीडिया का स्‍वयं इस्‍तेमाल कर्ता होने के नाते मैंने सुश्री शेरिल सैंडबर्ग से फेसबुक को सरकार और लोगों के बीच बेहतर संवाद और सुशासन का एक मंच के रूप में इस्‍तेमाल करने के बारे में उपाय जानने चाहे। मैंने फेसबुक के माध्‍यम से भारत में और पर्यटकों को आकर्षित करने की संभावनाओं को भी टटोला।
हम स्‍वच्‍छता पर विशेष ध्‍यान देते हुए महात्‍मा गांधी की 150वीं जयंती मनाना चाहते हैं और मैंने सुश्री सैंडबर्ग से यह भी पूछा कि हमारे इस अभियान में फेसबुक किस तरह मददगार साबित हो सकती है।”

नरेंदर मोदी के मीडिया मंत्र से प्रभावित होकर अरुण जेटली ने भी फेस बुक पर अपने पेज को लांच किया

नरेंदर मोदी के मीडिया मंत्र से प्रभावित होकर अरुण जेटली ने भी फेस बुक पर अपने पेज को लांच किया नरेंदर मोदी ने जब से भाजपा के पी em इन वेटिंग की पदवी ग्रहण की है तभी से पार्टी में उनके मीडिया मन्त्र का जाप होने लग गया है|राज्य सभा में भाजपा के नेता और वरिष्ठ वकील अरुण जेटली ने भी सोशल साईट फेस बुक पर अपने पेज को जग जाहिर कर दिया है| अभी तक भाजपा के वरिष्ठ नेताओं का पसंदीदा साईट ट्विटर ही रहा है| पार्टी के कार्यालय सचिव अरुण कुमार जैन ने बताया है कि श्री जेटली का पेज फेस बुक पर खुल गया है| जिसे देखने के लिए इस लिंक को क्लिक करना होगा| https://www.facebook.com/arunjaitley.

इंडिगो ने आंशिक टर्न लेते हुए प्लेन में मिडिल सीटों के लिए एक्स्ट्रा चार्ज नही वसूलने का एलान किया

निजी एयर लाइन्स इंडिगो ने पूर्व घोषणा से आंशिक टर्न लेते हुए प्लेन में मिडिल सीटों के लिए एक्स्ट्रा चार्ज नही वसूलने का एलान कर दिया है|
इंडिगो कंपनी के टाप बॉस आदित्य घोष ने सोशल साईट ट्विटर पर ट्विट किया है कि कंपनी के यात्रियों के फीड बैक पर कंपनी ने ध्यान दिया है और अब मिडिल की सीटों पर प्री बुकिंग पर भी अतिरिक्त चार्ज नही लगेगा | लाईन एक+बारह+तेरह पर कोई वापिसी नही हुई है|एक अन्य सोशल साईट फेस बुक पर भी कंपनी ने दावा किया है के हवाई यात्रा के मार्किट में कंपनी ने २९.८% भागे दारी से पहला स्थान प्राप्त किया है| [अप्रैल २०१३] इसके लिए फ्लायर्स को धन्यवाद भी दिया गया है|जेट एयर वेज़ को २२.६% और स्पाईस जेट के हिस्से में १९.६% यात्री आये हैं|
यदपि हवाई यात्रियों की संख्या में ..०२७% की कमी बताई जा रही है लेकिन इसके बावजूद कंपनी ने अग्रणी स्थान पाया है यह आमदनी के छेत्र में उपलब्धि है

अमेरिका में दस हज़ार लोडेड बन्दूक धारी महात्मा गांधी के सविनय अवज्ञा आन्दोलन का अनुसरण करेंगे

अहिंसा वादी मोहन दास कर्म चंद गांधी की आत्मा दिल्ली के राज घाट शान्ति स्थल स्थित अपनी समाधि में आज कल बेचैनी से करवटें ले रही होगी यह सोशल साईट फेस बुक पर छपी एक पोस्ट को लेकर हो सकता है| अडम कोकेश [ADAMKOKESH ] ने अपने पेज पर बताया है के वर्जिनिया से वाशिंगटन के लिए ४ जुलाई को एक शांति मार्च निकाला जाएगा| जिसमे लगभग दस हज़ार भाग लेने वाले कानूनी और गैरकानूनी आग्नेय अस्त्रों[ GUNS ] से लैस होंगें| इनका कहना है घुटनों के बल जीने से अपने पैरों पर खड़े रह कर मरना अच्छा होगा| अमेरिका में बंदूकों को धारण करने की हिमायत में महात्मा गांधी के नाम का सहारा लेकर बंदूकों के सम्बन्धी कानून को तोड़ने के लिए सविनय अवज्ञा आन्दोलन छेड़ा जा रहा है|इसके लिए एक शान्ति मार्च निकाला जाएगा| यदि मार्ग में इन्हें रोका गया तो महात्मा गांधी के उपदेशों का पालन किया जाएगा और सत्याग्रह किया जा सकता है| यदि बल पूर्वक इन्हें मार्ग से वापिस लौटाया जाएगा तो यह साबित हो जाएगा कि स्वतंत्र लोगों को वाशिंगटन में प्रवेश की आज्ञा नही है|
मोहन दास कर्म चंद गांधी ने हथियारों के उपयोग का विरोध करके देश को आज़ाद कराया और अहिंसावाद का पर्याय बन गए| बेशक उनके अपने भारत में आज उनके आदर्शों को राजनीतिक लाभ के लिए भुनाया जाता है और राष्ट्र पिता का मज़ाक उड़ाया जाता है चूंकि गाँधी की छवि अन्तराष्ट्रीय स्तर पर हैं |इसीलिए अमेरिका में भी अब महात्मा के सत्याग्रह और सविनय अवज्ञा आन्दॉलन को पुनः चित्रित किया जाने वाला है |अब इनसे कोई ये पूछे कि १०००० लोडेड बन्दूक धारियों को मार्ग में रोकने की हिमाकत कौन सी सरकार करेगी खैर कुछ भी हो आज कल अन्ना बाबू राव हजारे और अरविन्द केजरीवाल भारत में महात्मा गाँधी के मार्ग का अनुसरण करके चर्चा में हैं ऐसे में इन बन्दूक धारियों को भी महात्मा गांधी के आशीर्वाद से वंचित नहीं होना पड़ेगा|