Ad

Tag: jds

कर्नाटक में तो सीएम से डिप्टी सीएम बढ़ा होता है जी [Satire]

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

कांग्रेसी चेयर लीडर

औए झल्लेया मुबारकां!औए हसाड़े राहुल गाँधी जी ने कर्नाटक में भाजपा को बाहर का रास्ता दिखा ही दिया और डिप्टी सी एम का पद भी हासिल कर लिया |हसाड़े रणनीतिकारों की क़ाबलियत मानता है के नहीं

झल्ला

वाकई चतुर सुजान जी ,आपजी ने 78 विधायक ला लेकर कर्नाटक में कमल को बाहर करके कमाल कर दिया |आपजी ने ३८ विधायकों वाली जेडीएस को सी एम पद देकर सोने पे सुहागा कर दिखाया |१०४ सीटों वाली भाजपा को पछाड़ कर आप डिप्टी सीएम का पद ले रहे हैं शायद आपलोगों ने सोचा होगा के सीएम में केवल १३ लेटर हैं जबकि डिप्टी सी एम में तो पुरे १९ लेटर हैं |जाहिर हैं १३ से १९ बढ़ा ही होता है

कांग्रेस को खरीदने वाले कुमारास्वामी ने भाजपा पर खरीदफरोख्त का ठीकरा फोड़ा

[बेंगलुरू] कांग्रेस को खरीदने वाले कुमारास्वामी दूसरों पर खरीदफरोख्त का ठीकरा फोड़ने में लग गए हैं
वइसे रब्ब झूट ना बुलवाये कुमारास्वामी के पिताश्री एच डी देवेगौड़ा भी कभी इसी रास्ते कुछ दिनों के पीएम बने थे ये और बात है
कांग्रेसी सीताराम केसरी [ OldMan ]ने उनके नीचे से कुर्सी खींच ली थी |
देवेगौड़ा के ३८ विधायकों वाले पुत्र एच डी कुमारास्वामी अब कर्नाटका में सी एम् पद की दौड़ में हैं| चुनावों में बहुमत खो चुकी कांग्रेस ने अब इन्ह्ने सी एम् बनाने का ऑफर दे दिया है|कांग्रेस के ७८ विधायक हैं
कुमारवामी ने अब १०४ विधायकों वाली भाजपा पर विधायकों की ‘खरीद-फरोख्त’ का आरोप लगाया है|
जद ( एस ) नेता एचडी कुमारस्वामी ने आज भारतीय जनता पार्टी ( भाजपा ) पर आरोप लगाया कि संख्या बल में कम होने के बावजूद उसे कर्नाटक में सरकार बनाने की ‘‘ जल्दी ’’ है और इसके लिए वह उनकी पार्टी के विधायकों को पैसे का लालच दे रही है और उनकी ‘ खरीद फरोख्त ’ करने की कोशिश कर रही है। यही डायलॉग तब इनके पिता देवेगौड़ा ने भी सीता राम केसरी पर भी लगाया था |उन्होंने संसद में विदेशी अखबार दिखते हुए कहा था के “ओल्ड मेंन इज इन हर्री ”
जद ( एस ) विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद यहां संवाददाताओं से बातचीत में उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा उनकी पार्टी के विधायकों को पैसे का लालच दे रही है।
कुमारस्वामी ने आरोप लगाया कि केंद्र में सत्ता रूढ़ भाजपा अपनी ताकत का गलत इस्तेमाल करने की कोशिश कर रही है।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस – जद ( एस ) गठबंधन के पास 116 विधायकों के समर्थन के साथ ‘ स्पष्ट बहुमत ’ है।
उन्होंने पूछा , ‘‘ विधायकों की संख्या कम होने पर वह ( भाजपा ) सरकार कैसे बना सकती है ?’’
कुमारस्वामी ने कहा कि वह सत्ता के लिए उतावले नहीं हैं।
विधानसभा चुनाव में खंडित जनादेश मिला है। ऐसे में जद ( एस ) और कांग्रेस साथ आ गए हैं। उन्होंने राज्यपाल वजूभाई वाला से इस गठबंधन को सरकार बनाने की इजाजत देने का अनुरोध किया है।प्राप्त जानकारीके अनुसार कांग्रेस अपने विधायकों को सेफ प्लेस में ले जाने की योजना बना रही है|

Dethroned Siddaramaiah Resigns

[Bengaluru]Dethroned Siddaramaiah Resigns
Karnataka Chief Minister Siddaramaiah today resigned from his post after the Congress was voted out of power in the Assembly elections.
He met Governor Vajubhai Vala and handed over his resignation
The chief minister went to Raj Bhavan after announcing the Congress’ support to the JDS to form the government as the state headed for a hung assembly.
Siddaramaiah, who contested from two constituencies, won Badami, but lost Chamudeshwari in Mysuru

जनता परिवार के छह सदस्यों ने दिल्ली की ठिठुरती सर्दी में भावी समीकरणों की गर्मी तापी

[नई दिल्ली]जनता परिवार के छह सदस्यों ने दिल्ली की ठिठुरती सर्दी में समीकरणों की गर्मी तापी
दिल्ली में जनता परिवार के बचे खुचे छह सदस्यों ने सर जोड़ कर बैठक की और आगामी चुनावों के लिए एकता के समीकरण बैठाये और सर्दी में भी गर्मी का अहसास किया
अच्छा है बहुत ही अच्छा है शायद लालू +नितीश अपने बिखरे बिहार को बचा जाएँ और मुलायम अपने परिवार के लिए यूंपी ।
अगर लाटरी निकल गई तोये लोग केंद्र में प्रभावी घटक बन कर उभर भी सकते हैं।और जेलों से दूरी बनाये रखने में सफल हो सकते हैं लेकिन इस सरजोड़ में ममता+माया+ललिता+वाम +अजित चौधराहट के मोह से बचा गया है इसके अलावा पहली जनता पार्टी की सरकार को केवल कांग्रेस का विरोध कराएं था लेकिन अब कांग्रेस और भाजपा दोनों से सामान दूरी बनाये रखने का दिखावा किया जा रहा है ऐसे में किसी बढ़ी सफलता की उम्मीद करना जल्दबाजी होगी
झल्लेविचारनुसार जनता पार्टी की सफलता का इतिहास रिपीट हो भी गया तो असफलता का इतिहास भी जल्द ही दोहराया जाएगा क्योंकि ये परिवार सत्ता पर काबिज तो होजाते हैं मगर उसे चलाते समय फिसल जाते हैं बिखर जाते हैं |
बिगड़ैल इनैलो+हारे हुए राजद+घबराये हुए समाजवादी पार्टी (सपा) + बिखर रहे जे डी {यूं }+जद (एस) सहित इन पार्टियों ने २२ दिसंबर को जंतर-मंतर पर एक धरना दिया| इसके अधिकांश नेताओं ने संसद के मौजूदा सत्र में प्रोक्सी अटेंडेंस लगा कर भत्ता बने और उसके बाद यहाँ आ गए|
नेताओं के निशाने पर नरेंद्र मोदी ही रहे |विदेशी बैंकों से काले धन की वापिसी+पुन्रधर्मांतरण को आकर्षक शैली में उठाया गया
वयोवृद्ध मुलायम सिंह यादव ने केन्द्र सरकार पर नौजवानों और किसानों को धोखा देने का आरोप लगाते हुए कहा कि पीएम अपने वादों को लेकर झूठ बोल रहे हैं। लालू प्रसाद यादव ने दावा किया कि जनता परिवार में अहं की लड़ाई समाप्त हो गई है और जल्द ही एक पार्टी+एक झंडा का एलान करने का भरोसा भी दिलाया उन्होंने सीमा पर पाकिस्तान की गतिविधियों को भी इंगित किया
शरद यादव ने मोदी सरकार से गद्दी छोड़ने की मांग भी कर डाली