Ad

Tag: KarnatakaElections

कर्नाटक पर फैंसला संविधान की जीत और लोकतंत्र की बहाली :कांग्रेस

[नयी दिल्ली] एससी का कर्नाटक पर फैंसला संविधान की जीत और लोकतंत्र की बहाली :कांग्रेस
उच्चतम न्यायालय द्वारा कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा को कल बहुमत साबित करने का आदेश दिए जाने के बाद कांग्रेस ने आज कहा कि संविधान की जीत हुई और लोकतंत्र बहाल हुआ।
पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने आज कहा कि येदियुरप्पा ‘एक दिन के मुख्यमंत्री’ साबित होंगे।
सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा, ‘‘संविधान की जीत हुई, लोकतंत्र बहाल हुआ।’’
उन्होंने कहा, ‘‘बीएस येदियुरप्पा एक दिन के मुख्यमंत्री होंगे। संविधान एक गैरकानूनी मुख्यमंत्री तथा कर्नाटक के राज्यपाल के असंवैधानिक निर्णय को भी खारिज करता है।’’
इसी प्रकार के एक रोचक घटना क्रम में जगदम्बिकापाल भी तीन दिवस तक सीएम पद सुख भोग चुके हैं |कांग्रेस के थिंक टैंक और तत्कालीन गवर्नर रोमेश भंडारी[अब स्वर्गीय] ने भाजपा के कल्याण सिंह को मुख्य मंत्री पद से हटा कर नई लोकतांत्रिक कांग्रेस के जगदम्बिकापाल को मुख्य मंत्री बनाया था | जिसके फलस्वरूप २१ फरवरी १९९८ से २३ फरवरी १९९८ तक जगदम्बिका पाल मुख्य मंत्री रहे | उसकेपश्चात वे कांग्रेस में रहे और आजकल भाजपा के सांसद हैं|
गौरतलब है कि शीर्ष अदालत ने आज कहा कि येदियुरप्पा कल शाम चार बजे सदन में बहुमत साबित करें।
कर्नाटक राज्य में विधानसभा चुनाव में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है। प्रदेश की
224 सदस्यीय विधानसभा में
222 सीटों पर हुए चुनाव में
भाजपा को 104,
कांग्रेस को 78 और
जदएस+ को 38 सीटें मिली हैं।
फिलहाल, बहुमत के लिए जादुई आंकड़ा 112 है।

कांग्रेस को खरीदने वाले कुमारास्वामी ने भाजपा पर खरीदफरोख्त का ठीकरा फोड़ा

[बेंगलुरू] कांग्रेस को खरीदने वाले कुमारास्वामी दूसरों पर खरीदफरोख्त का ठीकरा फोड़ने में लग गए हैं
वइसे रब्ब झूट ना बुलवाये कुमारास्वामी के पिताश्री एच डी देवेगौड़ा भी कभी इसी रास्ते कुछ दिनों के पीएम बने थे ये और बात है
कांग्रेसी सीताराम केसरी [ OldMan ]ने उनके नीचे से कुर्सी खींच ली थी |
देवेगौड़ा के ३८ विधायकों वाले पुत्र एच डी कुमारास्वामी अब कर्नाटका में सी एम् पद की दौड़ में हैं| चुनावों में बहुमत खो चुकी कांग्रेस ने अब इन्ह्ने सी एम् बनाने का ऑफर दे दिया है|कांग्रेस के ७८ विधायक हैं
कुमारवामी ने अब १०४ विधायकों वाली भाजपा पर विधायकों की ‘खरीद-फरोख्त’ का आरोप लगाया है|
जद ( एस ) नेता एचडी कुमारस्वामी ने आज भारतीय जनता पार्टी ( भाजपा ) पर आरोप लगाया कि संख्या बल में कम होने के बावजूद उसे कर्नाटक में सरकार बनाने की ‘‘ जल्दी ’’ है और इसके लिए वह उनकी पार्टी के विधायकों को पैसे का लालच दे रही है और उनकी ‘ खरीद फरोख्त ’ करने की कोशिश कर रही है। यही डायलॉग तब इनके पिता देवेगौड़ा ने भी सीता राम केसरी पर भी लगाया था |उन्होंने संसद में विदेशी अखबार दिखते हुए कहा था के “ओल्ड मेंन इज इन हर्री ”
जद ( एस ) विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद यहां संवाददाताओं से बातचीत में उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा उनकी पार्टी के विधायकों को पैसे का लालच दे रही है।
कुमारस्वामी ने आरोप लगाया कि केंद्र में सत्ता रूढ़ भाजपा अपनी ताकत का गलत इस्तेमाल करने की कोशिश कर रही है।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस – जद ( एस ) गठबंधन के पास 116 विधायकों के समर्थन के साथ ‘ स्पष्ट बहुमत ’ है।
उन्होंने पूछा , ‘‘ विधायकों की संख्या कम होने पर वह ( भाजपा ) सरकार कैसे बना सकती है ?’’
कुमारस्वामी ने कहा कि वह सत्ता के लिए उतावले नहीं हैं।
विधानसभा चुनाव में खंडित जनादेश मिला है। ऐसे में जद ( एस ) और कांग्रेस साथ आ गए हैं। उन्होंने राज्यपाल वजूभाई वाला से इस गठबंधन को सरकार बनाने की इजाजत देने का अनुरोध किया है।प्राप्त जानकारीके अनुसार कांग्रेस अपने विधायकों को सेफ प्लेस में ले जाने की योजना बना रही है|

कांग्रेस के कर्नाटक में भी भाजपाई भगवा फहराया

[बेंगलुरू]कांग्रेस के कर्नाटक में भी भाजपाई भगवा फहराया
यह कांग्रेस की अपने इस दक्षिणी राज्य में भी अपमान जनक हार और भाजपा के लिए उत्साहवर्धक जीत है
कर्नाटक में सुबह 11 बजे तक की दलीय स्थिति इस प्रकार है:
दल आगे
भाजपा 112
कांग्रेस 57
जद(एस) + बसपा 39
अन्य 02

सिद्धारमैय्या ने पूरा कर्नाटक जाता देख आधे पर समझौते का चारा डाल दिया

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

कांग्रेसी चेयर लीडर

औए झल्लेया देखा हसाड़े नेताओं की त्याग भरी भावना!
औए कर्नाटका के हसाड़े मुख्य मंत्री सिद्धारमैय्या जी ने फर्माया है के बेशक ये उनका अंतिम चुनाव है फिर भी चुनावों के नतीजों के पश्चात् यदि कांग्रेस पार्टी दलित कोमुखी मंत्री बनाना चाहेगी तो वोह सीएम पद के लिए अपनी दावेदारी त्यागने को तैयार हैं

झल्ला

ओ मेरे चतुर सुजान!चुनाव के पश्चात् प्रकाशित एक्सिटपोल्स के अनुसार कर्नाटका में त्रिशंकु बहुमत आएगा| ऐसे में सिद्धारमैय्या की अपनी कुर्सी खतरे में हैं इसीलिए उन्होंने काइंयापन का इस्तेमाल किया और सारी सत्ता जाती देख आधी पर समझौते का चारा फेंक दिया है |इससे जे डी एस पर भी कांग्रेस में पीला में आने के लिए स्वाभाविक दवाब बनेगा

राहुल के मोदी से कर्णाटक में दागियों पर सवाल,शाहकोट में खुद के केंडिडेट दागी

[चंडीगढ़,पंजाब] राहुल के मोदी से कर्णाटक में दागियों पर सवाल,शाहकोट में खुद के केंडिडेट दागी
राहुल गाँधी ने कर्णाटक चुनावों के लिए प्रचार के दौरान नरेंद्र मोदी से भाजपा के दागी कैंडिडेट्स पर सवाल दागे मगर पंजाब के शाहकोट में होने जा रहे उपचुनाव में कांग्रेस के ही केंडिडेट दागी निकले |
कर्णाटक में चुनावी प्रचार अपने चरम पर पहुँच चूका है और राहुल गाँधी प्रदेश में अपनी सरकार को बचाने के लिए एड़ीचोटी का जोर लगा रहे हैं |प्रधन मंत्री नरेंद्र मोदी पर उनके हमले लगातार धार पकड़ रहे हैं |इसी कड़ी में आज राहुल ने कर्णाटक में दागी कैंडिडेट्स को टिकट देने पर नरेंद्र मोदी से ट्विटर पर सवाल दागे हैं |उन्होंने भाजपा के मुख्य मंत्री केंडिडेट पर भी विडिओ अपलोड किया है|
लेकिन दूसरी तरफ उनके अपने पंजाब के शाहकोट में होने जा रहे उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी हरदेव सिंह लाड्डी शेरोवालिया के खिलाफ सार्वजनिक रूप से मोर्चाबंदी होने लग गई है | अवैध रेतखनन मामले में लाड्डी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराये जाने के समाचार हैं | लाड्डी की माईनिंग माफिया के साथ सांठगांठ सम्बन्धी वीडियो भी वाइरल हो चूका है |
इस घटना क्रम से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी के कर्णाटक में चुनावी अभियान के दौरान भ्र्ष्टाचार के मुद्दे पर भाजपा को घेरने के प्रयासों पर पानी फिर सकता है |