Ad

Tag: SardaChitfundScam

‘लाल किताब’ को दफ़नाने के लिए “ममता” ने क्रूरता अपनाई

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

चिंतित बुद्धिजीवी

औए झल्लेया ये क्या हो रहा है? अपने ही सोनार बंगाल में प्रदेश सरकार भ्र्ष्टाचारी अधिकारी को बचाने के लिए सडकों पर उत्तर आई है|औए ये लोक तंत्र के कथित रक्षक संवैधानिक संस्थाओं को तोड़ने पर तुले हुए हैं||बंगाल की सडकों को जाम करने के पश्चात टीएमसी के सांसदों ने लोक सभा और राज्य सभा कोभी स्थगित करवा दिया

झल्ला

सर जी ! बेशक बंगाल में फिलहाल लालरंग के पूजकों की सरकार नहीं है लेकिन बुद्धिजीविओं के प्रदेश में लाल रंग का महत्व अभी कम नहीं हुआ है| इसीलिए एक किताब जिसका रंग लाल बताया जा रहा है उसी को ही दफनाने के लिए मुख्य मंत्री ममता ने क्रूरता अपना ली है क्योंकि गरीबों का पैसा हड़पने वाली सारदा चिटफंड के करप्शन से जुडी किताब[लाल] खुल गई तो sabhi राज भी खुल जाएंगे और ममता के गरीबी हितकारी नारों की पोल खुल जाएगी |