Ad

Tag: Satire.Political Satire

भापा जी प्रॉफिट की हवा में उड़ने वाली एयर लाइन्स के पावँ जमीन की समस्यायों पर नही रह पाते

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

एक दुखी हवाई यात्री

ओये झल्लेया ये एयर लाइन्स वालों ने हसाडा क्या मखौल बना रखा है|ओये एक तरफ तो ये लोग किफायती +तसल्लीबक्श और तुरंत सेवा देने के दावे करने के लिए विज्ञापनी ड्रम पीटते जा रहे हैं लेकिन ग्राउंड पर प्लेन टकरा रहे है जान सुखा रहे हैं + बैग गायब हो रहे हैं और अब तो हद ही हो गई ओये हाईली पेड +टेक्निकली सेफ कम्यूटर सिस्टम भी समस्या देने लग गया है| बीते सप्ताह अन्तराष्ट्रीय स्तर के आई जी आई एयर पोर्ट पर प्लेन्स के डोकिंग सिस्टम की हवा निकल गई और उसने टर्मिनल ३ से शद्युल्ड लगभग २१ फ्लाईट्स के घरेलू और अन्तराष्ट्रीय सैंकड़ों हवाई यात्रियों की डेड़घंटे तक हवा खराब कर के रखे रखी | अधिकाँश सस्ती सेवाओं का दावा करने वाली एयर लाइन्स की क्या यही वास्तविकता है?

भापा जी प्रॉफिट की हवा में उड़ने वाली एयर लाइन्स के पावँ जमीन की समस्यायों पर नही रह पाते

भापा जी प्रॉफिट की हवा में उड़ने वाली एयर लाइन्स के पावँ जमीन की समस्यायों पर नही रह पाते

झल्ला

ओ बाऊ जी साहब पुराने सयाने कह गए हैं कि हर चीज जो चमकती है उसको सोना नहीं कहते |नहीं समझे |अरे भापा जी प्रॉफिट की हवा में उड़ने वाली एयर लाइन्स के पावँ जमीन की समस्यायों पर नही रह पाते |

पी एम् इन वेटिंग का पद भी छीन लेने को उतारू हो रहे हैं ऐसे में अच्छे अच्छों का पार्टी मोह भंग हो जाएगा जी |

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

एक परेशान भाजपाई

ओये झल्लेया ये हसाडी सोणी भाजपा को किसकी बुरी नज़र लग गई |ओये एक तरफ गुजरात के मुख्य मंत्री नरेन्द्र मोदी ने वार्टन फोरम कोजवाब देने के लिए धर्मनिरपेक्षता की परिभाषा को ही बदल दिया | हिदू फर्स्ट हिंदुस्तान फर्स्ट को छोड़ छाड़ कर N R I जमावड़े को विडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये ‘इंडिया फर्स्ट इंडिया फर्स्ट का उपदेश देने लग गए तो दूसरी तरफ वयोवृद्ध [डाडा] लाल कृषण आडवाणी भी कांग्रेस को घेरते घेरते अपनी पार्टी से भी निराशा उछालते जा रहे हैं| कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा +पार्टी के पूर्व अध्यक्ष नितिन गडकरी की खुले आम आलोचना करते फिर रहे हैं |मेग्जीनो में इंटर व्यू देते फिर रहे हैं कि जनता का मूड कांग्रेस के खिलाफ है और इसके साथ ही उनकी [भाजपा]पार्टी से भी लोग निराश हैं। ओये अगर हसाड़े ये दोनों सितारे ऐसे ही चलते रहे तो पार्टी के सितारे कभी भी गर्दिश से बाहर नही आ पायेंगे|

पी एम् इन वेटिंग का पद भी छीन लेने को उतारू हो रहे हैं ऐसे में अच्छे अच्छों का पार्टी मोह भंग हो जाएगा जी

पी एम् इन वेटिंग का पद भी छीन लेने को उतारू हो रहे हैं ऐसे में अच्छे अच्छों का पार्टी मोह भंग हो जाएगा जी


झल्ला

ओह सेठ जी अब देखो ये तो आप भी मानोगे न कि नरेन्द्र मोदी की पुरानी मान्यताओं की आलोचना करके आपके अपने नेताओं द्वारा उनके पी एम् मार्ग में गड्डे खोदे जा रहे हैं अब उन गड्डों को पाटने के लिए अन्तराष्ट्रीय प्लेटफार्म पर स्वीकार्य नई धर्म निरपेक्षता को लाना जरूरी है| जहां तक रहे बात डाडा आडवाणी की तो उम्र के इस पड़ाव में आ कर आप लोग उनसे पी एम् इन वेटिंग का काल्पनिक पद भी छीन लेने को उतारू हो रहे हैंऐसे में तो अच्छे अच्छों का पार्टी मोह भंग हो जाएगा जी |