Ad

Tag: TDP

तेदेपा के स्वयंभू किंगमेकर चंद्रबाबू नायडू के खुद के घर में सेंध,जमीन से दूरी भी उजागर

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

तेदेपा का आक्रोशित नेता

औए झल्लेया! ये क्या हो रहा है?औए भाजपा वालों ने चुनावों के पश्चात भी नेताओं की तिजारत नहीं रोकी |देख तो हसाड़े तीन राज्यसभा सदस्य
[१]वाई एस चौधरी,
[२]सी एम रमेश
[३]टी जी वेंकटेश
खरीद कर सरेआम भाजपा में शामिल कर लिए

झल्ला

आप जी के स्वयंभू किंग मेकर चंद्रबाबू नायडू के खुद के घर में ही सेंध लग गई जिससे जमीन से इनकी दूरी उजागर हो गई है
आंध्रा प्रदेश के पूर्व सीएम नायडू की ये तीन विकेट्स भाजपा के नए कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा के खाते में गई

कांग्रेस खुल कर सामने आई ,खुद लाएगी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव

[नई दिल्ली] कांग्रेस खुल कर सामने आई ,खुद लाएगी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव |
कांग्रेस ने मोदी सरकार के विरुद्ध लोक सभा में अविश्वास प्रस्ताव लाने का मन बना लिया है |कांग्रेस लोक सभा में मंगलवार को अविश्वास प्रस्ताव ला सकती है |मल्लिकार्जुन खड़गे द्वारा प्रस्ताव लाया जा सकता है|मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने अपने सांसदों को सदन में उपस्थित रहने के लिए ३ लाइन का एक व्हिप जारी किया है |इससे पूर्व दक्षिण के प्रमुख दल टीडीपी और वाईएसआर कांग्रेस भी नो कॉन्फिडेंस मोशन प्रस्तुत करने का प्रयास कर चुके हैं लेकिन लगातार हंगामे के कारण उस पर कोई कार्यवाही नहीं हो पाई है|कांग्रेस एक तरफ इसके पीछे सरकार की मिलीभगत का आरोप लगाती आ रही है लेकिन साथ ही उनके प्रस्ताव का समर्थन भी करती दिख रही थी |अब स्वयं कांग्रेस अविश्वास प्रस्ताव लाएगी

PM “Modi” to Look After Civil Aviation Also

[New delhi] PM “Modi” to Look After Civil Aviation Also
Indian Civil Aviation Minister From Ally “TDP” Quota Ashok Gajapati Raju Alongwith YS Chowdary have resigned from their respective ministries.They are protesting for special package for Their Own State AP
As a result of which The President of India, as advised by the Prime Minister, has accepted their resignation from the Union Council of Ministers
Further, as advised by the Prime Minister, The President has directed that the work of the Ministry of Civil Aviation will be looked after by the Prime Minister.

Prabhu From Andhra And Chidambaram From Maha Confirmed Berth For RS

[VijayVada,Mumbai]Prabhu From Andhra And Chidambaram From Maha Confirmed Berth For Rajya Sabha
Railway Minister Suresh Prabhakar Prabhu, Union Minister of State for Science and Technology Y Satyanarayana Chowdary have been elected unanimously to Rajya Sabha from Andhra Pradesh.
Two other candidates T G Venkatesh and V Vijaysai Reddy have also been elected unopposed in the biennial election to the Council of States.
Election Returning Officer and AP Legislature Secretary (in charge) K Satyanarayana Rao formally declared the four nominees elected unopposed as the process for withdrawal ended at 3 PM today.
V Sunanda Reddy, who filed nomination as a dummy candidate on behalf of the YSR Congress, withdrew her papers yesterday, paving the way for the unanimous election of the four main candidates.
Prabhu is a BJP nominee supported by the ruling Telugu Desam Party (TDP).
Chowdary and Venkatesh are TDP candidates, while Vijaysai is the lone opposition YSRC nominee
BJP’s Goyal And Congress’s Upper Leader Chidambaram are elected to Rajya Sabha from Maha
Union Power Minister Piyush Goyal and senior Congress leader and former finance minister P Chidambaram were today elected unopposed to Rajya Sabha from Maharashtra.
The deadline for withdrawal of nominations ended this afternoon. As none of the six candidates for as many RS seats pulled out, all were elected to the Upper House,
Others elected are
former union minister Praful Patel (NCP),
BJP’s Vinay Sahasrabuddhe and
Vikas Mahatme and
Shiv Sena’s Sanjay Raut,
who had filed their papers for the biennial elections.
Chidambaram did not contest the 2014 Lok Sabha polls while his son Karti had unsuccessfully fought from his native Sivaganga constituency in Tamil Nadu.
Meanwhile, 10 candidates, including former Maharashtra Chief Minister Narayan Rane, who had filed nomination papers for 10 seats of the Legislative Council, were also elected unopposed as two others withdrew from the fray.
Those who pulled out today were Prasad Lad and Manoj Kotak, both from BJP.

Congress’s 2 AP Leaders ,From Anam Family, Join Ruling TDP

[Vijayawada, AP] Congress’s AP Leaders Join Ruling TDP
In a setback to the beleaguered Congress in Andhra Pradesh, former state minister and senior leader Anam Ramanarayana Reddy today joined the ruling TDP along with his brother and former MLA Anam Vivekananda Reddy.
TDP Chief and Andhra Pradesh Chief Minister N Chandrababu Naidu welcomed them into the party
Ramanarayana Reddy was a senior minister during the Congress rule in Andhra Pradesh from 2004-2014. He was the finance minister in the Cabinet of N Kiran Kumar Reddy ahead of the state bifurcation in 2014.
Ramanarayana Reddy and Vivekananda Reddy belong to the influential Anam family in Nellore district.
Their exit is seen as a major setback to Congress in Andhra Pradesh, where it does not even have representation in the Legislative Assembly.
Ramanarayana Reddy told reporters that their pleas as ministers to the Congress high command against bifurcation of Andhra Pradesh fell on deaf ears and party leadership showed no signs of regret for its decision during the last 15 months.
The Reddy brothers, who have been staying aloof from active politics since last year’s elections, said they chose to join the TDP in the interest of the state’s development.
Naidu is the only leader with a vision who can steer on Andhra Pradesh in times of ongoing crisis where it does not even have its own capital city and adequate revenues, Vivekananda Reddy said.

२९वे राज्य के पहले सीएम को १६वी संसद में आये १५वे पी एम ने शुभ कामनाएं और सहयोग का आश्वासन दिया

भारत के २९वे राज्य के पहले सीएम को १६वी संसद में पहुंचे देश के १५वे पी एम ने शुभ कामनाओं के साथ विकास के लिए सहयोग का आश्वासन दिया |सी एम चंद्रशेखर राव के पुत्र केटी रामाराव और भतीजे टी हरीश राव समेत ग्यारह मंत्रियों ने भी शपथ ली। इस पर पी एम ने ट्वीट किया कि हम 29वें राज्य के रूप में तेलंगाना का स्वागत करते हैं। आने वाले वर्षो में यह राज्य हमारी विकास यात्रा में ताकत बढ़ाएगा। कई लोगों के संघर्ष और त्याग के बाद तेलंगाना का जन्म हुआ है। आज हम उन्हें श्रद्धांजलि देते हैं। उन्होंने तेलंगाना के लोगों और राज्य सरकार को आश्वस्त करके कहा कि राज्य को विकास की नई ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए केंद्र हरसंभव मदद देने को तैयार है।
29वें राज्य के रूप में आज तेलंगाना अस्तित्व में आ गया| इसके साथ ही आंध्रप्रदेश से अलग होने के लिए चल रहा दशकों पुराना संघर्ष समाप्त हो गया। पहले सी एम ने सिकंदराबाद के स्टेडियम में परेड[ GuardOfHonour ] की सलामी भी ली |
TRSप्रमुख के चंद्रशेखर राव के नेतृत्व में नवगठित तेलंगाना की सरकार को शपथ दिलवाने के लिए एकीकृत आंध्रप्रदेश में लागू राष्ट्रपति शासन को आंशिक रूप से हटा दिया गया है हालांकि केंद्रीय शासन शेष आंध्रप्रदेश में तब तक जारी रहेगा, जब तक TDPप्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू मुख्यमंत्री के रूप में शपथ नहीं ले लेते।
गौरतलब है कि आंध्र प्रदेश से अलग तेलंगाना राज्य के गठन के बाद हुए पहले विधानसभा चुनाव में टीआरएस ने 119 सीटों में से 65 सीटें जीतकर बहुमत हासिल किया था।
तेलंगाना के गठन के साथ ही सीमांध्र ने भी अलग राज्य का आकार ले लिया। अगले 10 वर्षो तक दोनों प्रदेशों की राजधानी हैदराबाद ही रहेगी। सीमांध्र में तेलुगू देसम पार्टी ने 175 सीटों में 106 सीटें जीतकर बहुमत हासिल किया है।

.
.

लोकसभा का दूसरा दिन भी तेलंगाना की भेंट चढ़ा

तेलंगाना मुद्दे को लेकर आज[बृहस्पति] लगातार दूसरे दिन लोकसभा भी नहीं चल पायी।
तेलंगाना के अलावा विभिन्न दलों के सदस्य अपने अपने मुद्दों को लेकर आसन के समक्ष[वेल] आकर नारेबाजी करते रहे जिसके कारण सदन में व्यवस्था नहीं बन पायी और एक बार के स्थगन के बाद कार्यवाही लगभग सवा 12 बजे दिनभर के लिए स्थगित कर दी गई|
शीतकालीन सत्र की बीते दिन से शुरू हुई विस्तारित [Extended]बैठक में आज दूसरे दिन भी हंगामे के कारण प्रश्नकाल नहीं हो सका। लोक सभा तेलंगाना मुद्दे और तमिलनाडु के मछुआरों की स्थिति को लेकर लोकसभा में आज विभिन्न दलों के हंगामे के कारण कार्यवाही शुरू होने के कुछ देर बाद ही सीमांध्र क्षेत्र के कांग्रेस,तेदेपा और जगनमोहन रेड्डी के नेतृत्व में वाईएसआर कांग्रेस के सदस्य एकीकृत आंध्रप्रदेश की मांग करते हुए अध्यक्ष के आसन के समीप आ गए।उनके हाथों में तख्तियां थी जिस पर लिखा था, आंध्रप्रदेश को एकजुट रखें।
’तेलंगाना प्रोटेस्टर्स सांसदों के हंगामे के चलते सुबह ११ बजे संसद के दोनों सदनों को एक घंटे के लिए स्थगित कर दिया गया|राज्य सभा और लोक सभा को बारह बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया है सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार इस समस्या को सुलझाने के लिए राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी सवयम अपरान्ह एवं संध्या में प्रयासकर सकते हैं शीत कालीन इस सत्र का पहला दिन भी हंगामे की भेंट चढ़ गया था और आज सुबह भी शुरूआती घंटा बर्बाद हो गया | गौरतलब है कि कांग्रेस के ही मुख्य मंत्री किरण कुमार रेड्डी ने पृथक तेलंगाना के गठन के विरोध की कमान संभाल रखी हैजबकि विपक्षी दलों ने विभाजन का स्वागत किया है