Ad

Category: Poetry

#मोदीभापे ! दो कदम रुको , हमारा भी जिक्र हो

#मोदीभापे !
दो कदम रुको , हमारा भी जिक्र हो
उड़ते हो हवा में ,बाज़ की नजर नहीं
कभी थे हम तुम्हारी महफिलों की रौनक
आज सारे चश्मों चिराग ही बदल लिए
www.jamosnews.com
#कंपनसेशन/#रिहैबिलिटेशन क्लेम की सरकारी लूट
#PMOPG/E/2016/0125052

मोदीभापे !सियासतदां तो साँसों को भी गिन कर बख्शने में यकीन रखते हैं

मोदीभापे !
सियासतदानों को कौन समझाए फलसफा इंसाफ का
ये तो साँसों को भी गिन कर बख्शने में यकीन रखते हैं
www.jamosnews.com
#कंपनसेशन/#रिहैबिलिटेशनक्लेम की सरकारी लूट
#PMOPG/E/2016/0125052

मोदीभापे !रोज़ाना तेरा नाम लेकर दिल के फफोले सहलाता हूँ

#मोदीभापे
रोज़ाना तेरा नाम लेकर दिल के फफोले सहलाता हूँ
कयामत के दिन दिखाने को इन्हें जिंदा जरूर रखूंगा
www.jamosnews.com
#कंपनसेशन/#रिहैबिलिटेशन क्लेम की सरकारी लूट
#PMOPG/E/2016/0125052

मोदीभापे !हुकूमतें बदलती आ रही हैं,इंसाफ के लिए पर न्याय नही मिलता

#मोदीभापे
हुकूमतें बदलती आ रही हैं,इंसाफ के लिए पर न्याय नही मिलता
तीन पीढ़ियां गुजर गईं,मगर किसी को भी हक नही मिला
तुमने भी तो वायदा किया था पोंछ दोगे हर आंख का आंसू
अभी तक पीड़ित को इंसाफ का पहला पायदान तक नही दिखा
कंपनसेशन/रिहैबिलिटेशन क्लेम की सरकारी लूट
#PMOPG/E/2016/0125052

मोदीभापे !तरकश में जब तक तीर हों शेष ,उन्हें चलाना न्यायसंगत होगा

#मोदीभापे
भ्र्ष्टाचार के चक्रव्यूह में फंसा है सो पीड़ित को मृत्यु से भय कैसा
तरकश में जब तक तीर हों शेष ,उन्हें चलाना भी न्यायसंगत होगा
www.jamosnews.com
#कंपनसेशन/#रिहैबिलिटेशन क्लेम की सरकारी लूट
#PMOPG/E/2016/0125052

मोदीभापे !जमाना कहता रहा पीड़ितों को इंसाफ नही दोगे

#मोदीभापे!
जमाना कहता रहा पीड़ितों को इंसाफ नही दोगे
ख़ुशी है तुम उनकी ही उम्मीदों पर तो खरे उतरे
www.jamosnews.com
#कंपनसेशन/#रिहैबिलिटेशन क्लेम की सरकारी लूट
#PMOPG/E/2016/0125052

मोदीभापे !ये कोरोना है,कट जाएगा,छोड़ दो मधुर मधु ,सब पराग

#मोदीभापे
अलिकुली हो फिर क्यूँ बिंधयों सों,क्यूँ विरक्ति का भाव
ये कोरोना है,कट जाएगा,छोड़ दो मधुर मधुसब पराग
www.jamosnews.com
#कंपनसेशन, #रिहैबिलिटेशन क्लेम की सरकारी लूट
#PMOPG/E/2016/0125052

मोदीभापे !अफसोस!इंसाफ पाने की भी तमाम कोशिशें नाकामयाब हो रही

#मोदीभापे
अफसोस!इंसाफ पाने की भी तमाम कोशिशें नाकामयाब हो रही
ना मुझे मेरा हक दिया जा रहा और ना ही अपना भूल पा रहा हूँ
#कंपनसेशन/#रिहैबिलिटेशन क्लेम की सरकारी लूट
www.jamosnews.com

मोदीभापे ?काश तुम सेवक ही होते,तो सभी का ज्यादा भला हो जाता

#मोदीभापे
तुम हुक़ूमराने मुल्क हो सो कुछ भी नही हो पीड़ित का भी कल्याण नही होता
काश तुम सेवक ही होते तो बहुत कुछ होते तो सभी का ज्यादा भला हो जाता
#कंपनसेशन/#रिहैबिलिटेशन क्लेम की लूट
#PMOPG/E/2016/0125052
www.jamosnews.com

मोदीभापे !सियासत की बेबसी का कोई दायरा तय नही

#मोदीभापे
सियासत की बेबसी का कोई दायरा तय नही
बढ़ती जाती है पीड़ितों के दुखों को देख कर
#कंपनसेशनक्लेम/#रिहैबिलिटेशनक्लेम की सरकारी लूट
#PMOPG/E/2016/0125052