Ad

Category: Social Cause

#मोदीभापे ! दो कदम रुको , हमारा भी जिक्र हो

#मोदीभापे !
दो कदम रुको , हमारा भी जिक्र हो
उड़ते हो हवा में ,बाज़ की नजर नहीं
कभी थे हम तुम्हारी महफिलों की रौनक
आज सारे चश्मों चिराग ही बदल लिए
www.jamosnews.com
#कंपनसेशन/#रिहैबिलिटेशन क्लेम की सरकारी लूट
#PMOPG/E/2016/0125052

Capt Gives Eidi To Malerkotla;Makes 23rd District of Punjab

(Chd,Pb,May 14) Capt Gives Eidi To Malerkotla;Makes 23rd District of Punjab
Link https://youtu.be/Nm94QFDFuyk
Punjab Chief Minister Capt Amarinder Singh on Friday announced Malerkotla as the state’s new district and noted that a long-pending demand of the people has been fulfilled.
Malerkotla will be the 23rd district of the state.
Addressing a state-level function virtually to greet the people on the occasion of Eid-ul-Fitr, the chief minister also announced a
medical college for Malerkotla,
a women’s college,
a new bus stand and a women police station.
Malerkotla, a Muslim majority town, was till now part of Sangrur district and is located nearly 35 km from the district headquarters in Sangrur.
CM said at the time of the country’s Independence Punjab had 13 districts.
Malerkotla city, Amargarh and Ahmedgarh will also come under the limits of Malerkotla.
According Malerkotla a district status was a pre-poll promise of the Congress

PM Modi Tweet Greetings on Eid & Akshaya Tritiya

(New Delhi,May 14)PM Modi Tweet Greetings on Eid & Akshaya Tritiya
Prime Minister of India Narendra Modi on Friday greeted people on Eid-ul-Fitr, and expressed the wish that the nation overcomes the COVID-19 pandemic and work towards furthering human welfare with collective efforts.
In another Tweet Modi greeted people on the auspicious occasion of Akshaya Tritiya,
“May this festival associated with fulfilling auspicious works strengthen our resolve to overcome the COVID-19 pandemic,”
Modi also greeted people on the occasion of Lord Parshuram’s birth anniversary.
File Photo

मोदीभापे !रोज़ाना तेरा नाम लेकर दिल के फफोले सहलाता हूँ

#मोदीभापे
रोज़ाना तेरा नाम लेकर दिल के फफोले सहलाता हूँ
कयामत के दिन दिखाने को इन्हें जिंदा जरूर रखूंगा
www.jamosnews.com
#कंपनसेशन/#रिहैबिलिटेशन क्लेम की सरकारी लूट
#PMOPG/E/2016/0125052

मोदीभापे !हुकूमतें बदलती आ रही हैं,इंसाफ के लिए पर न्याय नही मिलता

#मोदीभापे
हुकूमतें बदलती आ रही हैं,इंसाफ के लिए पर न्याय नही मिलता
तीन पीढ़ियां गुजर गईं,मगर किसी को भी हक नही मिला
तुमने भी तो वायदा किया था पोंछ दोगे हर आंख का आंसू
अभी तक पीड़ित को इंसाफ का पहला पायदान तक नही दिखा
कंपनसेशन/रिहैबिलिटेशन क्लेम की सरकारी लूट
#PMOPG/E/2016/0125052

मोदीभापे !तरकश में जब तक तीर हों शेष ,उन्हें चलाना न्यायसंगत होगा

#मोदीभापे
भ्र्ष्टाचार के चक्रव्यूह में फंसा है सो पीड़ित को मृत्यु से भय कैसा
तरकश में जब तक तीर हों शेष ,उन्हें चलाना भी न्यायसंगत होगा
www.jamosnews.com
#कंपनसेशन/#रिहैबिलिटेशन क्लेम की सरकारी लूट
#PMOPG/E/2016/0125052

ये कैसा लोकतंत्र?विधायकों को केंद्र तो सीएम को संयुक्तराष्ट्र ही बचाने आएगा क्या ?

झल्लीगल्लां
भजपाईचेयरलीडर
Jamos Cartoon ओए झल्लेया । मजा आ गया।ओए बेशक वेस्ट बंगाल में हसाडी सरकार नही बनी लेकिन हसाडे सारे 77 के 77 विधायकों को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह जी सुरक्षा मुहैया करवा रहे हैं।अब तो सीआरपीएफ और सीआईएसएफ आदि के ज्वान टीएमसी के गुंडों से हसाडे विधायकों की रक्षा कर लेंगे।
झल्लाझल्ला
चतुर सुजाणा! ये कैसा लोकतंत्र है???विधायकों को केंद्र तो सीएम को संयुक्त राष्ट्र ही बचाने आएगा क्या ???

मोदीभापे !जमाना कहता रहा पीड़ितों को इंसाफ नही दोगे

#मोदीभापे!
जमाना कहता रहा पीड़ितों को इंसाफ नही दोगे
ख़ुशी है तुम उनकी ही उम्मीदों पर तो खरे उतरे
www.jamosnews.com
#कंपनसेशन/#रिहैबिलिटेशन क्लेम की सरकारी लूट
#PMOPG/E/2016/0125052

चंडीगढ़ के समीप बेशकीमती जमीन के राजस्व रिकार्ड में हेराफेरी का पर्दाफाश

(चंडीगढ़)चंडीगढ़ के समीप बेशकीमती जमीन के राजस्व रिकार्ड में हेराफेरी का पर्दाफाश
पंजाब विजीलैेंस ब्यूरो ने चंडीगढ़ के साथ लगते एस.ए.एस. नगर जिले के गाँवों की बेशकीमती जमीन पर लैंड माफिया के द्वारा राजस्व अधिकारियों के साथ मिलीभगत के द्वारा राजस्व रिकार्ड में हेराफेरी करके कब्जा करने या लाभ कमाने के लिए किये बड़े घपले का पर्दाफाश किया है। इस सम्बन्धी चार राजस्व अधिकारियों समेत सात प्राईवेट व्यक्तियों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करके चार दोषियों
इकबाल सिंह पटवारी समेत प्राईवेट व्यक्तियों में से
रवीन्द्र सिंह,
परमजीत सिंह और
हँसराज को गिरफ्तार करके तीन दिनों का पुलिस रिमांड ले लिया गया है जबकि बाकी दोषियों की तलाश जारी है।
इस सम्बन्धी जानकारी देते हुये विजीलैेंस ब्यूरो के मुख्य डायरैक्टर-कम-डी.जी.पी. श्री बी.के. उप्पल ने बताया कि प्रापर्टी डीलरों और भू माफियों के साथ जुड़े कुछ व्यक्तियों ने
गाँव माजरियां, सब तहसील माजरी, जिला एस.ए.एस नगर की जमीन के तक्सीम के इंतकाल मौके पर राजस्व अधिकारी के साथ मिलीभगत के द्वारा राजस्व रिकार्ड में हेराफेरी करके खेवट नंबर में मल्कीयत तबदील की गई और गलत मुखत्यारनामों के द्वारा आम लोग के नाम और तबदील कर दी गई जिससे बड़ा लाभ कमा जा सके। उन्होंने बताया कि इससे पहले भी नवंबर 2020 में विजीलैेंस ब्यूरो ने इसी इलाके में स्थित गाँव करोरां की बेशकीमती जमीन को ऐसी मिलीभगत के द्वारा मल्कीयत तबदील करके आगे बेचे जाने का पर्दाफाश किया था।
अन्य विवरण देते हुये उन्होंने बताया कि गाँव माजरियां के राजस्व रिकार्ड की जांच के बाद भ्रष्टाचार रोकथाम कानून की धारा 7, और आई.पी.सी. की धाराओं 409, 420, 465, 467, 468, 471, 477 -ए, 201, 120-बी के अंतर्गत थाना विजीलैस ब्यूरो, उडऩ दस्ता -1, पंजाब में मुकदमा दर्ज किया गया है जिनमें दोषियों के तौर पर
वरिन्दरपाल सिंह धूत नायब तहसीलदार,
रुपिन्दर सिंह मणकू ज्वाइंट सब-रजिस्ट्रार,
दौलत राम और इकबाल सिंह (दोनों राजस्व पटवारी),
श्याम लाल और हंस राज दोनों वासी गाँव माजरियां (पत्ती गूड़ा) जिला एस.ए.एस. नगर, रब्बी सिंह वासी गाँव करोरां, जिला एस.ए.एस. नगर, धर्म पाल निवासी अमलोह जिला फहेतगढ़ साहिब, सुच्चा राम वासी गाँव कैम्बाला, यू.टी. चंडीगढ़, परमजीत सिंह वासी गाँव हरदासपुरा, जिला पटियाला, रवीन्द्र सिंह गाँव सौढा जिला फतेहगड़ साहिब शामिल हैं।
श्री उप्पल ने बताया कि जांच के दौरान सामने आया कि गाँव माजरियां हसबसत नंबर 343 के राजस्व रिकार्ड की जमाबंदी साल 1983-1984 में गाँव माजरियां के कुल क्षेत्रफल में से तकरीबन 29,000 कनाल जमीन शामलात दिखाई गई थी। साल 1991 में यह जमीन चकबंदी अफसर के हुक्मों अनुसार इंतकाल नंबर 2026 तारीख 07.05.1991 के द्वारा इसकी मल्कीयत आम लोगों के नाम पर तबदील की गई। इस जमीन में से 7113 कनाल क्षेत्रफल की तक्सीम इंतकाल नंबर 3159, तारीख 21.05.2004 के द्वारा किया जाना पाया गया है। जांच के दौरान पाया गया है कि उक्त तक्सीम के इंतकाल नंबर 3159 में छेड़छाड़ करके 14 व्यक्तियों के नाम फर्जी दर्ज किये और उनके नामों पर तकरीबन 558 एकड़ जमीन लगाई गई है। आगे से इस जमीन को साल 2010-11 में प्रापर्टी डीलर और भू माफिया का काम करने वाले दोषी श्याम लाल और हँसराज दोनों निवासी गाँव माजरियां, जिला एस.ए.एस. नगर, सुच्चा राम निवासी कैम्बवाला (चंडीगड़), ईश्वरीय सिंह निवासी गाँव करोरां, एस.ए.एस नगर और धर्मपाल निवासी अमलोह के द्वारा राजस्व विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों, जिनमें इकबाल सिंह पटवारी, नायब तहसीलदार रुपिन्दर मणकू आदि शामिल थे, की मदद से साल 2010 -2011 में अपने नामों परन्तु मुखत्यारे आम बनाऐ गए और इन मुखत्यारनामों के द्वारा उपरोक्त जमीन आम व्यक्तियों को बेच दी गई।
उन्होंने यह भी बताया कि इसके अलावा तारीख 18.06.2014 और तारीख 19.06.2014 को केवल 2 दिनों में ही तकरीबन 578 एकड़ जमीन के 10 तबादले फर्जी किये जाने पाये गए जिनके सह दस्तावेजों की पड़त पटवार और पड़त सरकार के साथ यह दस्तावेज, जिनके आधार पर यह तबादले किये गए थे, राजस्व विभाग के रिकार्ड में से खुर्द-बुर्द कर दिए गए। इन फर्जी तबादलों के इंतकाल पटवारी दौलत राम और उस वक्त के नायब तहसीलदार वरिन्दरपाल सिंह धूत के द्वारा तस्दीक किये गए हैं। इन तबादलों के द्वारा फर्जी मल्कीयतें बनाकर बनारसी पुत्र बाबू राम, रवीन्द्र सिंह पुत्र जरनैल सिंह, परमजीत सिंह पुत्र पाल सिंह, श्याम लाल पुत्र कालू राम आदि के द्वारा आम व्यक्तियों को यह जमीनें अलग-अलग वसीकों के द्वारा बेच दी गई।
विजीलैेंस ब्यूरो के प्रमुख ने बताया कि उपरोक्त के अलावा 43 व्यक्तियों का फर्जी तक्सीम केस तैयार करके उसका फैसला दौलत राम पटवारी, वरिन्दरपाल सिंह धूत, नायब तहसीलदार और प्रापर्टी डीलर और भू माफिया श्याम लाल निवासी गूड़ा माजरियां की मिलीभगत से तारीख 20.12.2017 को मंजूर किया जाना पाया गया है। इस फर्जी तक्सीम केस में किसी भी पटीशनर या रिसपोडैंट को कोई सूचना नहीं करवाई गई, न ही किसी वकील का वकालतनामा नत्थी किया गया और अखबार में तारीख 14.04.2014 को छपे एक फर्जी इश्तिहार का प्रयोग किया गया है। इसके बावजूद इस तक्सीम सम्बन्धी इंतकाल नंबर 4895 तारीख 21.12.2017 को फैसले के अगले दिन ही दौलत राम पटवारी के द्वारा दर्ज कर दिया गया है जिसको तारीख 27.12.2017 को नायब तहसीलदार वरिन्दरपाल सिंह धूत के द्वारा मंजूर किया गया। उन्होंने बताया कि इस मामले में आगे जांच जारी है और दोषियों को किसी भी कीमत पर नहीं बक्शा जायेगा।

कोरोना के भमबड़भूसे से त्रस्त सियासतदां मुल्क को लॉक डाउन की गदिघेड़ में डाल रहे

झल्लीगल्लां
चिन्तितनागरिक
Corona Lock Downओए झल्लेया! ये क्या हो रहा है? सियासतदां तो हसाडे सोण मुल्क को किस गदिगेड़ में डाले जा रहे हैं??
पहले कहते तो कि लॉकडाउन नही लगेगा ,और अब दिल्ली,उत्तरप्रदेश,हरियाणा,पंजाब ,राजस्थान आदि में किसी न किसी छद्म नाम से 17 मई तक लॉक डाउन बढ़ा दिया गया।ओये मजदूर बेचारे फिर पलायन को मजबूर होने लग गए
झल्ला
भापाझल्ला जी! कोरोना किसी के भी काबू में नही आ रहा शायद इसीलिए भम्भडभूसे में डाले रखना चाहते हैं।