Ad

मोदीभापे !तुम्हारे दरबार की रौनक पीड़ित की औकात से बाहर होगी

#मोदीभापे
लक्ष्य को पाने के लिए सपने देखना जरूरी है
सपने देखने के लिए नींद आना भी जरूरी है
चैन की नींद के लिए इंसाफ मिलना जरूरी है
तुम्हारे दरबार की रौनक पीड़ित की ओकात से बाहर होगी
मेरे शब्द,भावों में जरूर खास औकात की खामी रही होगी
www.jamosnews.com
#PMOPG/E/2016/0125052
#कम्पेनसशन/#रिहैबिलिटेशन/#Allotmentक्लेम की लूट