Ad

Tag: Law Minister Kapil sibal

“आप” पार्टी ने कपिल सिब्बल पर बल्ली मारां में रुपये बांटने का आरोप लगाया

[नई दिल्ली]आम आदमी पार्टी[आप] ने कपिल सिब्बल पर वोटरों में धन बांटने का आरोप लगाया है|
चांदनी चौक के आर ओ/पि सी/ डी ई ओ [नॉर्थ]को लिखे पत्र में आप आपर्ति ने यह आरोप लगाया है कि दिनाक ८ अप्रैल को बल्ली मारान छेत्र में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को वोटर्स में लिफाफे बांटते देखा गया है इन लिफाफों में करेंसी थी आरोप लगाया गया है कि ये धन वोट खरीदने के लिए कांग्रेस प्रत्याशी कपिल सिब्बल कि तरफ से दिए जा रहे हैं |आई पी सी की धारा १७१ ई के अंतर्गत अपराध है और मॉडल कोड ऑफ़ कंडक्ट का घोर उल्लंघन है | आप पार्टी के चांदनी चौक कन्वेनोर अंतरिक्ष पाठक द्वारा हस्ताक्षरित इस आरोप पत्र में इसकी जाँच और रोकथाम की मांग की गई है |इस विषय में केंद्रीय कानून मंत्री कपिल सिब्बल से कोई टिपण्णी प्राप्त नहीं हुई है

Kapil Sibal Is conveniently campaigning His conventional constituency :Chandni Chowk

Law Minister Kapil Sibal Is conveniently campaigning His conventional constituency And Collecting Support

kapilsibalonOn 28march At Shahi IDGAH

kapilsibalonOn 28march At Shahi IDGAH

Kapil Sibal Is Busy In Election Campaign In Chandni Chowk.AAP Party. Ashutosh And B J P’S Dr Harsh vardhan Are Main Contenders Sibal Is Not Leaving Any Stone Un turned His I T Team Is Updating Website And Uploading sibal’s Achievements+services to the electors and the Area .Today sibal Visited Shahi Idgah Where He Received Spontaneous, overwhelming support for Which He Has Conveyed Thanks

Kapil Sibal Condemns senseless Maoist Genocide in Chhatisgarh

Kapil Sibal Condemns senseless Maoist Genocide in Chhatisgarh And Conveys His Deepest Condolences
Kapil says “Yes, Our Federal Structure Has To Be Preserved, but Not At the Cost Of Innocent Lives”
Law Minister Kapil Sibal Conveys His Sentiments In These Words” I am deeply pained at the loss of lives, in the senseless Maoist attack in Chhatisgarh yesterday. My deepest condolences go out to the families of those who lost their lives in this tragedy.We cannot turn back time and get back those whom we lost, but we can certainly take measures to prevent such acts of violence and crimes against the people of India in the future “While ,Diplomatically, Criticizing B J P Ruled State Govt,.Congress Leader Kapil Sibal Says In His Blog “.Let me be clear, I am not blaming the Chhattisgarh government. Dr. Raman Singh probably has his hands full dealing with this tragedy, and the Centre extends whatever support he needs from us.However, I do believe this attack could have been prevented, if at a larger level, there is better Centre-State co-ordination on matters of internal security. The Centre had proposed various measures, including a joint framework, which unfortunately was rejected by the Opposition on the grounds of violating the federal nature of our country.I hope better sense prevails going forward, and concrete steps are taken for a collective Centre-State mechanism to combat insurgency and crimes against the people of India..After all, nothing is worth more than the safety and lives of our citizens”.

मुस्लिम हित में अजीब हवा बहने तो लगी है लेकिन चुनावों के बाद किसी जस्टिस सच्चर कमेटी की रिपोर्ट न आ जाये

झल्ले दी झल्लियां गल्लां

उत्साहित मुस्लिम वोटर

ओये झल्लेया हुन ते मजा ही आ गया |२०१४ के चुनाव आ रहे हैं और सारे राजनीतिक दलों को हसाड़ी याद आ रही है |हमारी वोटों को बटोरने के लिए तीसरा फ्रंट बनने से पहले ही सम्प्रदायिकता के नाम की उलट बाज़ियाँ खाने लग गया है|यहाँ तक कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ठाकुर राज नाथ सिंह भी २००२ के दंगों के लिए माफ़ी मांगने को तैयार हो गए हैं |कांग्रेसी कपिल सिब्बल ने तो दिल्ली की शाही ईद गाहके वार्षिक इत्जमा में कमाल ही कर दिया लाखों अकीदतमंदों की मौजूदगी में इमाम साहब के हाथों सम्मान और आशीर्वाद हासिल कर लिया|जुम्मा जुम्मा आठ दिन की”आप”पार्टी ने भी हमारी बिरादरी को खुश करने के लिए नरेंद्र मोदी को गालियां देनी शुरू कर दी हैं| ओये अब तो मुस्लिम वोटरों की हो जानी है बल्ले बल्ले

झल्ला

मेरे भोले भाई मियाँ हसाडे मुल्क में चुनावों के मौसम में मुस्लिम हित में अजीब हवा बहने लगती है लेकिन चुनावों के बाद जस्टिस सच्चर कमेटी की रिपोर्ट कुछ अलग ही नजारा पेश करती दिखाई देती है| झल्लेविचारानुसार शायद ये इसीलिए है क्योंकि हमारे मुल्क में मुस्लिमों को टोपी पहनाना साम्प्रदाइकता नहीं माना जाता बल्कि उनकी टोपी नही पहनना ही साम्प्रदाइकता की निशानी बना दी जाती हैं|

Kapil Sibal Received Blessings From Delhi Imam In Annual Ijtemah At Shahi Eidgah

[New Delhi]Kapil Sibal Has Started Showing His Political Strength In Delhi.Specially To His New Challenger Ashutosh Of “AAP” Party
Annual Ijtemah at the Shahi Eidgah Was Organised Which Was Attended By [ Near About] 4 Lakhs Of devout Muslims
In This Annual Ijtemah The Bestower Imam Him Self Bestowed Blessings Over Sibal Whie Expressing His Happiness Kapil Sibal Said . “Delighted to have been part of the annual Ijtemah at the Shahi Eidgah in Delhi today. Honoured to have been blessed by the Imam himself, along with around 4 lakh devout Muslims gathered here today”.
Law Minister Kapil Sibal Said “I was also happy to see the results of the wonderful conservation and development efforts undertaken by the Shahi Eidgah committee, with the support of the WAQF Board, the DDA, and several other government organisations and individuals.My compliments, and gratitude to all involved.Yesterday” .

Kapil Sibal Dig out A New Abbreviation For Narendra Modi And That Is Megalomaniacal

Kapil Sibal Has Dig out A New Abbreviation For Narendra Modi And That Is Megalomaniacal
Union Law minister Kapil Sibal Called B J P Nominated P M Candidate Narendra MODI Megalomaniacal love for filmy-style dialogues and on-stage drama,Which has clearly exposes his lack of sensitivity to what people really want, as well as showcases his me-first approach to politics and life.
In His Blog ,Sibal Says “While his moves to eliminate all competition within his own party were well reported in the media, his lack of appreciation of the people’s expectations and respect for their intellect is now also showing clearly.”
His recent choice of acronyms for the Congress, and his analogy for himself, are symptoms of delusion, and the total inability of looking at himself and his own actions.
While Charging Modi Sibal Says “A man who has the shadow of Amit Shah, Bokhiria, Criminals, Danga, Encounters, and Feku on his on his reputation, should not talk of ABCD on XYZ. To add further insult to the people, he talks of being a “chowkidar” against corruption, while his own cabinet ministers (co-chowkidars by his logic) are convicted of crimes against the people and the nation.
The truth is, you can give one-sided speeches from a podium, but the people will see through it all. Picture abhi khatam nahin hui, mere dost… Sab jaante hain ki asli growth ki kahaani, Congress hi likh sakhti hai”.

आप”की जुबानी जंग का मुकाबिला करने के लिए कपिल सिब्बल का सर्वोच्च अदालत में कानूनी दॉव

झल्ले दी झल्लियां गल्लां

कांग्रेसी चीयर लीडर

ओ मारा पापड वाले नू ओये झल्लेया देखा हसाडे सोणे कपिल सिब्बल साहब ने अपनी चेतावनी को आमली जामा पहनाते हुए गाली गफतौर जनाब अरविन्द केजरीवाल एंड कंपनी को सुप्रीम कोर्ट से मान हानि का नोटिस भिजवा दिया |जब देखो तब वोडा फोन ,वोडाफोन की कॉल टूणे बजाते रहते हैं | अब इनकी बोलती बंद हो जाणी है

झल्ला

झल्ला खुश हुआ |वाकई चतुर सुजाण जी “आप” पार्टी की जुबानी जंग का मुकाबिला करने के लिए कपिल सिब्बल साहब का सर्वोच्च अदालत में यह कानूनी दॉव पसंद आया

महंगी सब्जियों के लिए सारा दोष देसी गरीबों पर ही लगाया ,कोई इनसे पूछे क्यूँ कर खेती की भूमि पर सब्सिडी घटाया

महँगी हुई सब्जी इस हकीकत को ,कांग्रेस ने भी मान लिया
इसके बचाव में कपिल सिब्बल का ताजा तरीन ब्यान आया
कोसा गरीबों को सब्जियां खाने पर ,सब्जी महंगी कराने को
महंगी सब्जियों के लिए सारा दोष देसी गरीबों पर ही लगाया
पहले चावल का संकट आया था जिसके लिए जान बचाने को
गेहूं खाने वाले भी चावल खाने लगे हैं कुछ ऐसा ही कहा गया
अब ये दलील स्वाभाविक रूप से कुछ अपील नहीं कर रही
कोई इनसे पूछे क्यूँ कर खेती की भूमि पर सब्सिडी घटाया

जय नंगई +जय दबंगई +जय जय बी सी सी आई +जय श्रीनिवासन + जय श्रीकांत +सबसे बड़ा पैसा राम

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

बी सी सीआई का चीयर लीडर

ओये झल्लेया देखा हसाडे चेयर मैन एन श्रीनिवासन ने दरियादिली+न्यायप्रियता का कैसा सराहनीय प्रदर्शन किया है |एक तरफ तो अपने प्रिय दामाद को अलग किया दूसरे तुम लोग जो स्पॉट फिक्सिंग का भोंपू बजा रहे हो उसकी भी जांच करवाने के लिए कमेटी का गठन कर दिया गया है|कानून की बात करते हो तो हसाडे उपाध्यक्ष के साथ आई पी एल के चेयर मैन राजीव शुक्ला ने कड़े कानून बनाने की बात कर दी है| ओये अब तो हो जाना है दूध का दूध और पानी का पानी |श्रीनिवासन का इस्तीफा माँगने वालों को याद आ जायेगी उनके आस पास वालों की नानी वानी के साथ मामी शामी |

झल्ला

अरे मेरे चतुर सुजाण जी बकौल पूर्व कप्तान बिशन सिंह बेदी क्रिकेट मनोरंजन के लिए बनाया गया था लेकिन अब इसे पैसे के लिए खेला जाता है और पैसे अगर लोगों को नचाता है तो अनेको को चुप भी कराता है|बी सी सी आई और आई पी एल के अनेकों पदाधिकारी दोषियों को आउट करने लिए अपनी उंगली को छुपाये फिर रहे हैं| आई ओ ऐ की नाक में दम करने वाले स्पोर्ट्स मिनिस्टर+कानून मंत्री [पूर्व कौंसिल ]भी वाईड बालिंग कर रहे हैं |अब जहाँ तक जाँच की बात है तो श्रीमान रवि शास्त्री जी [क्रिकेट के खेलों में ] बरसों से कमेंट्री के मोटे +चहेते कांट्रेक्ट से दबे हुए हैं| माफ़ कीजिएगा मुजरिम को अभी तक अपने लिए वकील माँगने की इजाजत थी लेकिन अब आपके श्रीनिवासन अपने लिए मुंसिफ भी खुद ही चुन रहे हैं
इसीलिए जय नंगई +जय दबंगई +जय जय बी सी सी आई +
जय हो आई पी एल ,जय जय जय मयपन्न गुरुनाथ+
जय गवास्कर+ जय श्रीनिवासन जय जय जय श्रीकांत +
जय सी एस के +जय मुम्बई + सबसे बड़ा पैसा राम

आई पी एल के सर्वोच्च दोषियों को बचाने के लिए नेताओं ने भी शब्दों की वाइड बालिंग शुरू कर दी है

जेंटल मैन के गेम क्रिकेट में सुधार के नाम पर राजनीतिज्ञों में राजनीति का आई पी एल शुरू हो गया है| जबसे बी सी सी आई के सुप्रीमो एन श्रीनिवासन के दामाद एम् गुरुनाथ का नाम बेटिंग या फिक्सिंग में आया है तब से नेताओं पर भी सवाल उठने लगे हैं दिल्ली पोलिस द्वारा अपनी जांच को सिमित किये जाने के बावजूद अब कमान मुम्बई पोलिस ने संभाल ली है और गुरुनाथ को पूछ ताछ के लिए हिरासत में ले लिया है इसीलिए फेस सेविंग के लिए अब दलों ने शब्दों की/बयानों की बालिंग शुरू कर दी है लेकिन अधिकाँश बालिंग वाईड ही जा रही है| अर्थार्त वर्तमान समस्यायों को हल करने के लिए भविष्य में यौजनाएं बनाए जाने पर बल दिया जा रहा है| उदहारण देखिये
[१] सबसे पहले कांग्रेस के केंद्रीय कानून मंत्री कपिल सिब्बल ने क्रिकेट को लेकर एक नए कानून की आवश्यकता पर बल दिया|
[२]स्पोर्ट्स मिनिस्टर जीतेन्द्र सिंह ने आई पी एल को लेकर हो रहे खुलासों पर शर्मिंदगी दिखाई|
[३] संसद में विरोधी मगर क्रिकेट में साथ साथ भाजपा के राज्य सभा में नेता और बी सी सी आई के उपाध्यक्ष अरुण जेटली तथा कांग्रेस के संसदीय कार्य मंत्री और आई पी एल के चेयर मैन राजीव शुक्ला ने कानून मंत्री कपिल सिब्बल के यहाँ जा कर क्रिकेट में एक सशक्त कानून की मांग करके अपना विरोध जताने के ओपचारिकता पूरी कर दी है|गौरतलब है की कपिल सिब्बल पहले ही इसके लिए आदेश दे चुके हैं|वास्तव में राजीव शुक्ल शुरू से ही श्रीनिवासन के बचाव में रवि वसानी कमिटी की रिपोर्ट की प्रतीक्षा करने की बात कहते रहे हैं|जेटली शुरू से ही मामले पर चुप्पी साधे हुए हैं|
[४]क्रिकेट जगत के एक और महायौद्धा शरद पवार की राजनितिक पार्टी एन सी पी के प्रवक्ता डी पी त्रिपाठी ने और उत्तर प्रदेश में सत्ता रुड समाजवादी पार्टी के नेता नरेश अग्रवाल ने श्रीनिवासन के तत्काल इस्तीफे की मांग कर डाली है| इसके अलावा कांग्रेस के ही एक अन्य सहयोगी लालू प्रसाद यादव और बिहार के मुख्य मंत्री नितीश कुमार ने बड़े हलके स्वभाव में आई पी एल की आलोचना करके पल्ला झाड लिया है|
[५]सहारा श्री सुब्रोतो रॉय ने पुणे वारियर से अपनी फ़्रेञ्चाईसी को समाप्त कर दिया है और अपनी सिक्यूरिटी जब्त किये जाने से क्षुब्ध होकर रॉय ने श्रीनिवासन के अवगुण गिनाते हुए तत्काल हटाये जाने की मांग करने शुरू कर दी है| टाइम्स नॉव के एंकर अरनव गोस्वामी को दिए इंटर व्यू में रॉय ने श्रीनिवासन को नकारा साबित किया है|
जेंटल मैन गेम क्रिकेट में स्पॉट +मैच फिक्सिंग और बेटिंग के माध्यम से राष्ट्र विरोधियो के हाथ मजबूत किये जा रहे हैं ऐसे में बी सी सी आई के कर्णधार अपने सुप्रीमो को बचाने के लिए दुनिया भर की दलीलें देते फिर रहे हैं| दिल्ल्ली और मुम्बई पोलिस में भी फुटबाल शुरू हो गया है यहाँ तक के नेताओं ने वाईड बालिंग शुरू करके समय लिया जा रहा है ऐसे में यह कहना अनुचित नही होगा के जेंटल मैन का यह गेम अब असभ्य लोगों का खेल बन चुका है|