Ad

Tag: MINISTRY OF HOME AFFAIRS

मोदीभापे !नेता अपने हिस्से के गलकट्टीयन के यार

#मोदीभापे !

#दिलकेफफोले

#विभाजनविभीषिकास्मृतिदिवस

नेता अपने हिस्से के गलकट्टीयन के यार

रोज गला काट रहे कोई ना सुने फरियाद

#रिहैबिलिटेशन/#कंपनसेशन क्लेम की लूट

Afghan Nationals Asked to Travel to India only on e-Visa

(New Delhi)Afghan Nationals Asked to Travel to India only on e-Visa

Keeping in view some reports that certain passports of Afghan nationals have been misplaced, previously issued visas to all Afghan nationals, who are presently not in India, stand invalidated with immediate effect.  Afghan nationals wishing to travel to India may apply for e-Visa

मोदीभापे !हुक्मरां वही पसंदीदा है जो इंसाफ पसन्द होता है

#मोदीभापे !

ना दाढ़ी वाला बढ़ा होता है और नाही जुमलेदाता

हुक्मरां वही पसंदीदा है जो इंसाफ पसन्द होता है

www.jamosnewscom

#कम्पेनसशन/#रिहैबिलिटेशन क्लेम लूट

#MoHA 35/33/2020/R& SO दिनांक 16/11/2020

#PMOPG/E/2016?0125052

ModiBhape

Na Daadhi Vaalaa Badha Hota Hai  Aur Naahi Zumledata

Hukumraa Vahi padandeedaa Hai Jo Insaaf Pasand Hota Hai

 

अफगान नागरिकों को वीजा देते समय शरणार्थी और घुंसपैठियो में बारीकी से जांच जरूरी

(नई दिल्ली) अफगान नागरिकों को वीजा देते समय शरणार्थी और घुंसपैठियो में बारीकी से जांच जरूरी
भारत ने अफगानिस्तान में मौजूदा तख्तापलट को देखते हुए मंगलवार को घोषणा की है कि वहां से आने की इच्छा रखने वाले अफगान नागरिकों के लिए एक आपातकालीन ‘ई-वीजा’ जारी करेगा।किसी भी धर्म के सभी अफगान नागरिक ‘ई-आपातकालीन एवं अन्य वीजा’ के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं और नयी दिल्ली में उनकी अर्जियों पर कार्रवाई होगी। यह छह महीने के लिए वैद्ध रहेगा
गृह मंत्रालय के एक प्रवक्ता के अनुसार  ‘‘गृह मंत्रालय ने अफगानिस्तान में मौजूदा हालात को देखते हुए वीजा प्रावधानों की समीक्षा की है। भारत में प्रवेश के लिए वीजा अर्जियों पर जल्द फैसला लेने के लिए ‘ई-आपातकालीन एवं अन्य वीजा’ की नयी श्रेणी बनायी गयी है।’’ अफगानिस्तान में भारत के मिशनों के बंद होने के कारण वीजा के लिए ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है और नयी दिल्ली में अर्जियों की जांच की जायेगी।अर्जियों पर कार्रवाई करते और अफगान नागरिकों को वीजा देते हुए सुरक्षा मुद्दों पर गौर किया जाएगा। सभी धर्मों के अफगान नागरिक वीजा के लिए आवेदन दे सकते हैं।
शरणागत को शरण देने की भारत मे परम्परा प्राचीन काल से चली आ रही है इसके लिए सदियों तक खामियाजा भी भुगतना पड़ा है। राजा पोरस से लेकर दलाईलामा तक अनेकों उदहारण प्राचीन से लेकर आधुनिक इतिहास में दर्ज है।
इस सब के बावजूद अगर वर्तमान सरकार ने ऐतिहासिक परम्परा को निभाने का साहसिक निर्णय लिया है तो,आने वालों में शरणार्थी और घुंसपैठियो में प्राथमिकता से अंतर ढूंढना होगा ।अफगानिस्तान से जब पहले तालिबान गए थे तब उनके सहयोगी वही अफगानिस्तान में ही रच बस गए थे।जिसके परिणाम अब अमेरिका समर्थित सरकार को झेलना पड़ा है

मोदीभापे लोकतंत्र के हत्यारे चाय पार्टी में इतराते हैं

#मोदीभापे!

दिल के फफोले

काला अगस्त

हमारे मुल्क का निज़ाम भी बेहद अजीब है

माननीय रोज खुद संसद ठप्प कराते हैं

इल्ज़ाम सामने वालों के सिर ठोकते हैं

काले अगस्त का घिनौंना इतिहास दोहरा

लोकतंत्र के हत्यारे चाय पार्टी में इतराते हैं

www.jamosnews.com

#PMOPG/E/2016/0125052 of 4/2016

#MoHA 35/33/2020/R&SO दिनांक 16/11/2020

#RTIs

BJP MLAs in WB to Have Security Cover From Central Forces

(New Delhi,May 10)BJP MLAs in WB to Have Security Cover From Central Forces
All the newly elected 77 BJP MLAs in West Bengal are being provided a cover of central security forces(CISF+CRPF) in view of potential threats to them,
The Union Home Ministry has approved the cover after taking into cognisance a report prepared by central security agencies and the inputs of a high-level team of officers that was sent to the state by the ministry in the wake of post-poll violence against the workers of the BJP

पँजांबसरकार नाकामियां छुपाने को अवार्ड हासिल करने में जुटी

(चंडीगढ़) #पँजांबसरकार आजकल अपनी नाकामियां छुपाने को अवार्ड हासिल करने में जुटी।
पंजाब की मुख्यसचिव सुश्री विनीमहाजन (1987 बैच आईएएस)आजकल एवार्ड हासिल करके अपने प्रशासनिक काबलियत के झंडे गाड़ने में व्यस्त है।दुर्भाग्य से इस कथित उपलब्धि पर प्रश्न चिन्ह लगाते कुछ पत्राचार प्रस्तुत हैं ।पँजांब सरकार की कार्यप्रणाली भी घेरे में आ जाती है और अवार्ड देने वालों की विश्वसनीयता भी। पत्राचार से स्पष्ट है कि राज्य सरकार द्वारा ना तो पीड़ित को उसके हक का कंपनसेशन क्लेम दिया जा रहा है और ना ही केंद्र सरकार की चिट्ठियों का जवाब दिया जा रहा है।!मालूम हो कि पँजांब के रेवेन्यू विभाग और हाई कोर्ट में ऐसे हजारों केस पेंडिंग हैं ।इस पर भी चीफ सेक्रेटरी ने कुशल प्रशासक का अवार्ड हासिल कर लिया
फोटो
पँजांब की मुख्य सचिव विनीमहाजन चार्ज लेते हुए

MHA is Against Human Trafficking Syndicates ,Not Blaming Punjab

(Delhi,Chd)MHA is Against Human Trafficking Syndicates ,Not Blaming Punjab
Ministry Of Home Affairs said
A section of the media has erroneously reported that this Ministry has written to the Punjab Government allegedly levelling grave charges against the farmers of the state. These news reports are misleading and present a distorted and highly editorialized opinion of a simple observation about a socioeconomic problem emerging from four sensitive border districts of Punjab over a period of two years, which has been brought to the attention of this Ministry by the concerned CAPF.
Firstly, no motive can be ascribed to a letter issued by this Ministry to a particular State or States as this is part of routine communication over Law and Order issues. This letter has also been forwarded to Secretary, Union Ministry of Labour & Employment with a request to carry out a sensitization exercise in all States, with an aim to check the duping of vulnerable victims at the hands of unscrupulous elements.
Secondly, some of the news reports about the letter have juxtaposed in a totally unrelated context to conclude that the MHA has framed “grave charges” against the farmers of Punjab and has also connected this with the ongoing farmers’ agitation. The letter clearly and only states that “human trafficking syndicates” hire such labourers and they are “exploited, paid poorly and meted out inhuman treatment” besides luring them with drugs to extract more labour affecting their “physical and mental health”.
Keeping in view the multi-dimensional and overwhelming enormity of the problem, this Ministry has only requested the State Government(s) to “take suitable measures to address this serious problem”.
Earlier Dr Baljeet Singh Cheema Slashed Central Govt Alleging that this letter is an attempt to defame Punjab’s Farmers

मोदीभापे ?तुम्हारी हुकूमत में बची सांसें भी ज़ाया हो जाएंगी

#मोदीभापे
चंद सांसें बचा रखी है पीड़ित ने न्याय की खोज में
लगता है तुम्हारी हुकूमत में भी ये ज़ाया हो जाएंगी
#कंपनसेशन/#रिहैबिलिटेशन क्लेम की सरकारी लूट
#PMOPG/E/2016/0125052

मोदीभापे !पीड़ित है मील के भारी पत्थर,हमे ठोकर मार के ही निकल

#मोदीभापे
धूआँ उठ रहा है हमारे दिलोजिगर से ,इधर की भी सुध लो
आसमाँ भी रोता है,सुण कर नाले मेरे,तू भी तो थोड़ा पिघल
पकड़ी है जो नई राह, उसके ऊपर ही बनी है हमारी कब्र
पीड़ित है मील के भारी पत्थर,हमे ठोकर मार के ही निकल
#कंपनसेशन/#रिहैबिलिटेशन क्लेम की सरकारी लूट
#PMOPG/E/2016/0125052