Ad

Tag: New Satire

टीएमसी ने पर्चा फाड़ने के लिए क्या नोटिस दिया था???व्यंग

23/7/2021

झल्ली गल्लां

टीएमसी ने पर्चा फाड़ने के लिए क्या नोटिस दिया था???व्यंग

टीएमसी का छुटभैय्या ;

ओये झल्लेया! देख संसद में  लोकतंत्र का कैसा मजाक उड़ाया जा रहा है। ओये बिना  सदन की कार्यसूची में शामिल किए बगैर हमारे  माननीय सांसद शांतनु सेन जी को निलंबित कर दिया।ओये हमने भी कच्ची गोलियां नही खेली हैं।अगर हमारे सेन दादा को तुरन्त बहाल नही किया गया तो हमने संसद के दोनों सदनो की कार्यवाही ठप्प कर  देनी है 

झल्ला

दादा! बात तो आप खूब भालो बोला।आपको तो  बीच दरिया से मछियां पकडने का हुनर भी मालूम है लेकिन इक गल दस्सो?

जासूसी मामले को भुनाने के चक्कर मे सेन दादा ने वरिष्ठ सदन(राज्यसभा )में जो मंत्री के हाथों से छीन कर वक्तव्य के पुर्जे पुर्जे करके चेयर की तरफ उछाल कर सीना चौड़ा किया,क्या यह टीएमसी के नोटिस में शामिल था?

——/——-/——/——/—–/

वजीफे,मुंहदिखाई,इस्तीफे वाले एपिसोड से पीएमओ की असफलताएं ढंक गई

झल्लीगल्लां
भजपाईचेयरलीडर
ओए झल्लेया!देखा हसाडे धाकड़ मोदी साहब का कमाल।

केंद्रीय मंत्रिमंडल का विस्तार

केंद्रीय मंत्रिमंडल का विस्तार

ओए नए ऊर्जावान 36 मंत्री बना कर मंत्रिमंडल को ब्राह्मण+पिछड़े+ओबीसी+महिलाआदि आदिसे सुसज्जित कर लिया है ।
अब यूपी और पंजाब में हसाडा डंका बजे ही बजे
झल्ला
झल्लाचतुर सेठ जी!बेशक आप इस एपिसोड “स्पेशल 36 ” में नयों को मुंह दिखाई पर दिए वज़ीफों पर फूल के कुप्पा हो जाओ मगर डॉ हर्षवर्धन+रविशंकरप्रसाद सहित 12 मंत्रियों से जो इस्तीफे लेकर पीएमओ की असफलताओं का ठीकरा फोड़ा गया है उस पर मौन क्यूँ???

अयोध्या में बैनामे का गोरखधंधा,कांग्रेस का पाला पोसा

झल्लीगल्लां
उत्साहितकांग्रेसी

Ram Mandir

Ram Mandir

राम! राम !!राम !!!
घोर अनर्थ।ओए झल्लेया !राम के नाम पर इतनी बड़ी लूट।अयोध्या मे बन्न रहे भव्य राम मंदिर के निर्माण के लिए बनाए गए राममंदिरट्रस्ट ने दो करोड़ ₹ की भूमि साढ़े अठारह करोड़ में खरीद डाली।ये तो घोर कलयुग है ।राम के नाम पर केंद्र और यूपी में सत्ता कब्जाने वालों का असली चेहरा सामने आ गया।
झल्ला
चतुरसुजाण जी।
झल्लाचलो मौके की इंतज़ार में बैठे आपलोगों को बैठे बिठाए 2022 तक चिल्लाने के लिए मौका मिल गया लेकिन झल्लेविचारानुसार यह सारा गोरखधंदा बैनामे का है जिसे आपलोगों की सरकारों ने ही पाला पोसा है।
बैनामे रूपी रुमाल रख कर पहले जमीत घेर लो फिर वहां यौजनाएँ बनाओ और मनचाहा लूट लो

मुँडेर पर बैठे जाट वोटबैंक की भरपाई के लिए ख़ानदानी ब्राह्मण चेहरा जितिन

झल्लीगल्लां
भजपाईचेयरलीडर

जितिन प्रसाद

जितिन प्रसाद

ओए झल्लेया!वोह मारा पापडवाले को।ओए विश्व मे सबसे वड्डी हसाडी भारतीयजनतापार्टी में राहुल गांधी के खासुलखास जितिन प्रसाद भी आ गए।अब हमने यूपी में 2022 का विधानसभा चुनाव निर्विघ्नं जीत लेणा है।
झल्ला
अरे चतुर सेठ जी!
झल्लाकृषि कानूनों के विरोध में चल रहे किसान आंदोलन से विशेषकर पश्चिमी उत्तर प्रदेश का जाट वोट बैंक खिसक कर मुँडेर पर आ बैठा है।चुनांवों में करवट बदल सकता है।ऐसे में इसकी भरपाई के लिए प्रदेश के लगभग 13% ब्राह्मण वोटों को रिझाने के लिए जितिन प्रसाद सरीखे चुम्बक भी तो जरूरी है।

1947 से शुरू हुए अवैद्ध कब्जे रोके जाते तो शायद अरावली कांड नही होता

झल्लीगल्लां
पर्यावरणविद
अरावली में अवैद्ध निर्माणओए झल्लेया! ये क्या हो रहा है?ओए ये अतिक्रमणकारियों ने मुल्क के पर्यावरण को पलीता लगाने की ठान ली है।हुकूमतें भी इन्हें रोकने में कोई रुचि नही दिखा रही।अब देख राजधानी से सटे फरीदाबाद के अरावली के जंगलों को काट करके अवैद्ध निर्माणों को समय रहते रोका नही गया जिसके फलस्वरूप अब 10000 अवैद्ध घर बस चुके हैं।सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के पालन में भी फरीदाबाद निगम +हरियाणा सरकार का ढीला ढाला रवैय्या दिख रहा है।अवैद्ध खनन से त्रस्त इस वन छेत्र में अवैद्ध घरों के निर्माण में बैंक भी कर्ज देने में उदारता का परिचय देते रहते है।ओए ऐसे में कैसे मिलेगी हमे ऑक्सीजन +बचेगा हसाडा पर्यावरण और ओज़ोन लेयर ???
झल्ला
झल्लाभापा जी!ये अवैद्ध कब्जे तो 1947 से ही शुरू हो गए थे।जो बेचारे मुस्लिम भाई पाकिस्तान गए उनकी प्रॉपर्टी पर नाजायज कब्जे हुए फिर जो अभागे पाकिस्तान से हिन्दू आये उनके नाम पर लूट मचाई गई।इस अवैद्ध कब्जे के व्यवसाय को समाप्त करने के लिए 1947 से शुरुआत हो तो शायद यह काला गोरखधंदा बन्द हो सकेगा

कोविड के नाम पर 12वी की परीक्षाएं टालो,विदेशों से वैक्सीन मंगाने का ख्वाब पूरा करो

झल्लीगल्लां
आपपार्टीचेयरलीडर
cartoon cheeyar leader aap partyओए झल्लेया!ये क्या हो रहा है?ये केंद्र सरकार पूरे देश के युवाओं को असुरक्षित परीक्षा केंद्रों में ला कर कोविड की कौन सी नई लहर थोपना चाह रही है।इसके लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्रमोदी स्वयम मीटिंग की अध्यक्षता करने में लगे हैं।ओए हसाडे माननीय मुख्यमंत्री श्री अरविंदकेजरीवाल जी ने साफ साफ कह दिया है कि जब तक 12 कक्षा के परीक्षार्थियों को वैक्सीन नही लग जाती तब तक ये परीक्षाएं नही होनी चाहिए।
झल्ला

चतुरायण जी! परीक्षाओं के स्थगन से आप लोगों को स्पुतनिक इम्पोर्ट करने को पर्याप्त समय मिल जाएगा।और हो जाणी है पौबारह

टीएमसी सरकार ने बंगाल में मादा क्रोकोडाइल को बचाया,चलो अब आंसूओं का ज्ञान मि जाएगा

झल्लीगल्लां
तृणमूल कांग्रेस का चेयरलीडर
TMC Cartoonओये झल्लेया!हमने कड़ी मेहनत से सुंदरबन से एक जिंदा मादा क्रोकोडाइल को बचा लिया ।पौनेदसफीटा यह जीव तूफान याश में बह कर भटक गया था
झल्ला
आपकी सीएम सुश्री ममता बनर्जी ने पीएम नरेंद्र मोदी की मीटिंग से अनुपस्थित रहने पर जो आंसू बहाये थे अब उन आंसूओं और इस बेजान के आंसुओं मेंअंतर खोजने केवलिये रिसर्च हो पाएगी।।हमे भी कुछ ज्ञान मिल पायेगा।

कोरोनिलबाबा भगवाधारी को (आईएमए से) माफी मांगने में कैसी शर्म

झल्लीगल्लां
एलोपैथीसमर्थक
ओए झल्लेया!हमने इस व्यवसायी बाबा को सबक सिखा देणा है।इस कोरोनिल बाबा ने हमारे चिकित्सा धर्म और व्यवसाय को गाली दी है।अब हमने इस बाबा को छोड़ना नही।आईएमए देहरादून ने तो मानहानि का नोटिस भी भिजवा दिया।यदि बाबा ने माफ़ी योग नही किया तो इसे शीर्षासन करा के ही मानेंगे।प्रति सदस्य को 50 लाख ₹ की मानहानि राशि देकर ही छूटेगा।
झल्ला
डॉक्टरसाहब!आपके राज्य में आपलोगों का ध्यान क्यूँ भटक रहा है?अरे भाई
उत्तराखण्ड में अब तक कुल 6113 कोरोना संक्रमित अपनी जान गंवा चुके हैं और 43520 मामले उपचाराधीन हैं।कहीं आप लोग अपने उन साथियों को आर्थिक सहायता तो नही पहुंचाना चाहते जो बेचारे कैपिटेशन फी देकर मेडिकल कॉलेज में घुसे थे और आजकल क्लीनिक में मखियाँ मार रहे है।रहा सवाल माफ़ी का तो भगवाधारी को मांगने में कैसी शर्म देर सबेर मांग ही लेंगे

दिल्ली,पँजांब सरकारें (अ)विश्वसनीयता के चलते विदेशी टीके नही ले पाए

झल्लीगल्लां
नवयुवक
ओए झल्लेया! हसाडे नाल ये क्या मख़ौल हो रहा है ? केंद्र टीके नही दे रही और मोडर्ना फाइजर जैसी व्यवसायिक कम्पनियां भी राज्यों को टीके नहीबेच रही।कहती हैं कि सीधे केंद्र सरकार से ही सौदा करेंगी।ऐसे तो हमे टीके लगण से रहे ।महामारी जाणे से रही।
झल्ला
झल्ला
यारा!ये दिल्ली,पँजांब,राजस्थान वाले कुछ ज्यादा ही चतुराई दिखा रहे हैं।लगता है कमीशनखोरी के चक्कर मे पहले केंद्र के टीकाकरण अभियान का विरोध किया फिर विदेशों से सीधे आयात करने का जुगाड़ लगाया मगर विदेशों में अपनी प्रश्नवाचक विश्वसनीयता के चलते औंधे मुंह गिरे।माया मिली ना राम।मुझे विश्वास है कि टीके लगेंगे और सबको लगेंगे।

लोजी!अब भारतीय भी चाँद पर प्लाट खरीदने लगे

झल्लीगल्लां
बुद्धिजीवी
Jhalla Cartoonओए झल्लेया!
ये हिंदुस्तानियों को कौन सा कीड़ा काटने लग गया ? देख तो अब हिंदुस्तानियों ने भी दाग वाले चाँद पर प्लाट खरीदने शुरू कर दिए।सहारनपुर के बिल्डर श्री अश्विनी सखूजा तो प्लाट के लिए 5 लाख ₹ की ऑनलाइन रजिस्ट्री का भी दावा कर रहे है।बेचने वाले का नाम लूना सोसाइटी बताया है।
झल्ला
इसे कहते है “सूत ना कपास जुलाहों में लठ्म लठ “वैसे यह जांच केविषय है।कही ये साइबरकरेंसी/क्रिप्टोकरेंसी जैसा ही तो कोई खेल नही ???अगर ऐसा हुआ तो भापा जी “मन मे दूने मन मे तीने मन मे रह गए अधे,अक्लमंद वोही कहलाया जिस बेच पल्ले नालबन्धे “