Ad

Tag: Punjab Govt

Punjab to Install 75 Life Saving O2 Plants by July End

(Chd,Pb,June 27)Punjab to Install 75 Life Saving O2 Plants by July End
Chief Secretary Vini Mahajan who has completed one year in the office , said on Sunday that all relevant departments have been asked to complete the installation of pressure swing adsorption (PSA) plants by July end, ensuring pressure and purity of oxygen.
A pressure swing adsorption plant utilises the phenomena of some gases getting attracted to or adsorbed to particular solid surfaces when passing by it under high pressure
File Photo

Punjab Govt also Cancels Class XII Exams ;Pandemic Effect

(Chd,Pb) Punjab Govt also Cancels Class XII Exams
As par State Education Minister Vijay Inder Singla, Punjab School Education Board (PSEB) will declare the results as per the pattern of the Central Board of Secondary Education (CBSE).
3,08,000 students enrolled in Class 12 in government, aided and private schools under the PSEB in the 2020-21 academic session.
PSEB will be drafting the result based on an average 30 per cent theory component of best three performing subjects out of the main five subjects in Class 10 and 30 per cent weightage on the basis of marks obtained by the students in pre-board, practical examination in Class 11 and 40 per cent weightage on the basis marks obtained in pre-board examination, practical examination and internal assessment in Class 12.

Capt Directs Top Cop to Take Action Against Dharna Stager Opposition

(Chd,Pb)Capt Directs Top Cop to Take Action Against Dharna Stager Opposition
Punjab Chief Minister Captain Amarinder Singh on Monday directed the Director General of Police to register cases under the Disaster Management Act against 
Opposition leaders and workers who have been staging dharnas in the state over the past few days.
At a time when people could not gather even for weddings and funerals, leaders and workers of these parties were behaving in a reckless manner, showing no concern for the safety and health of Punjabis, said the Chief Minister, adding that such behaviour could not be allowed or tolerated.
It may be recalled that even before the Covid restrictions in the second wave were imposed by the Chief Minister, he had announced that the ruling Congress in Punjab will not hold any political gatherings.

सांसद परणीत कौर और मुख्यसचिव विनी महाजन के विरोधाभाषी बयान

(चंडीगढ,पँजांब)
#कांग्रेस सांसद और #पंजाब के मुख्यमंत्री #कैप्टेन अमरिन्दर सिंह की पत्नी श्रीमती #परणीतकौर ने आज ट्विटर पर दावा किया है कि उनकी पंजाब में सरकार ने अपने सभी चुनावी वायदे पूरे किए है लेकिन मुख्यसचिव श्रीमती विनीमहाजन ने मात्र 5 विभागों में 38552 रिक्तियों में भर्ती प्रतिक्रिया को गति देने के आदेश देकर इसे झुठला दिया है। #कोविडमहामारी के इस दौर में जब पँजांब में मृत्युदर सबसे अधिक है ऐसे में स्वास्थ्य विभाग में 5834 पद खाली है। दरअसल कैप्टेन सरकार के खिलाफ असंतोष बढ़ता हुआ दिल्ली हाई कमांड तक जा पहुंचा है जहां विधायकों और मंत्रियों केरिपोर्ट कार्ड बनने लगे है। लगता है इस दबाब में मुख्यसचिव और सांसद ने ये बयान जारी कर दिए।
(1)स्कूलों को स्मार्ट बनाने और घर घर छात्रों की वर्दियां पहुंचाने का दावा करने वाली सरकार अभी तक
शिक्षा विभाग में ही 16681 पदों की भर्ती नही कर पाई।
(2क्राइम से जूझते प्रदेश के गृह विभाग में 10387 पद खाली है।इसके अतिरिक्त
(3)बिजली विभाग में 3623,
(4) स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग में 5834 और
(5)सहकारिता विभाग में भी 2027 पदों की अलग-अलग स्तर पर भर्ती की जानी है।
इसके अलावा हाऊसिंग, पब्लिक वर्कस, ट्रांसपोर्ट, पशु पालन विभाग, श्रम विभाग, स्थानीय निकाय विभाग, कृषि, वन, जेल विभाग, मैडीकल शिक्षा, योजना विभाग, खेल और युवक सेवाएं विभाग, सामाजिक सुरक्षा, प्रिंटिंग एंड स्टेशनरी विभाग, चुनाव विभाग, डिफेंस सर्विसिज, पर्यटन विभाग, सिविल एविएशन और सूचना एवं लोक संपर्क विभाग में भी रिक्तियां हैं

पँजांब में वर्दियों की कमीशन देने वाले वापिसी को दबाब तो नही बना रहे

झल्लीगल्लां
पंजाबीसरकारकाचेयरलीडर
ओए झल्लेया!देखा हसाडी पँजांब सरकार छात्रों की कितनी हमदर्द है।कोरोनासंकट में स्कूली छात्रों के भले के लिए गर्मियों की छुट्टी कर दी गई है और साढ़े तेरह लाख छात्रों को वर्दियां उनके घर पर पहुँचाने की घोषणा कर दी गई है।और तो और अंग्रेजी सुधारने के लिए ऑनलाइन प्रतियोगिता भी शुरू हो रही है
झल्ला
हवा में सरसराहट है कि वर्दियों की कमीशन देने वाले अपनी कमीशन वापिस लेने को दबाब बना रहे है।

साढ़ेतेरह लाख विद्यार्थीयों को घर पर मुफ़्त वर्दी बाँटने के लिए 80 करोड़ ₹ का बजट

(चंडीगढ़,पँजांब)साढ़ेतेरह लाख विद्यार्थीयों को घर पर मुफ़्त वर्दी बाँटने के लिए 80 करोड़ ₹ का बजट
स्कूल शिक्षा मंत्री पंजाब विजय इंदर सिंगला के अनुसार अकादमिक सैशन 2021-22 के लिए सरकारी स्कूलों के लगभग 13,48,632 विद्यार्थियों को उनके घरों में ही मुफ़्त वर्दियाँ उपलब्ध करवाई जाएंगी और इस संबंधी शिक्षा विभाग द्वारा 80.92 करोड़ रुपए का अनुदान जारी किया गया है। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि अपेक्षित अनुदान जारी करने के उपरांत सभी ज़िला शिक्षा अधिकारियों को वर्दियों के उचित प्रबंध करने के लिए विस्तृत निर्देश भी जारी कर दिए गए हैं और विद्यार्थियों को वर्दियों के वितरण दौरान कोविड प्रोटोकॉल का पूर्ण पालन करने के लिए भी कहा गया है। मंत्री के अनुसार वर्दियों की खरीद के लिए यह फंड ज़िला स्तर से सीधे स्कूल प्रबंधन समितियों (एस.एम.सी.) के खाते में डाले जाएंगे।

पढ़ो ते पढ़ाओ अंग्रेज़ी पँजांब:ऑनलाइन ‘शो एंड टेल’ प्रतियोगिता शुरू

(चंडीगढ़) पढ़ो ते पढ़ाओ अंग्रेज़ी पँजांब:ऑनलाइन ‘शो एंड टेल’ प्रतियोगिता शुरू
स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा विद्यार्थियों की अंग्रेजी भाषा की प्रतिभा को उभारने के लिए स्कूल स्तर पर ‘शो एंड टेल’ विषय के तहत मुकाबले शुरू कर दिए गये हैं। यह मुकाबले 25 मई तक चलेंगे
एस.सी.ई.आर.टी. के डायरैक्टर जगतारसिंह कुलड़ीयां के अनुसार छटी से बारहवीं कक्षा तक के विद्यार्थियों के यह स्कूल स्तरीय मुकाबले आज शुरू हो गए हैं और यह 25 मई तक जारी रहेंगे। कोविड -19 महामारी के कारण स्कूल बंद हैं इसीकारण यह मुकाबले आनलाइन करवाए जा रहे हैं। इसका उद्देश्य विद्यार्थियों की अंग्रेजी भाषा के मानक में सुधार लाना है।

PAU Ludhiana Not Implementing Reservation So Stop Grants

(Chd,Pb)PAU Ludhiana Not Implementing Reservation So Stop Grants
The Punjab State Commission for Scheduled Castes today issued an order directing the Punjab Government not to release grants/funds to the Punjab Agricultural University Ludhiana until it does not implement the reservation policy of the state Government.
As per Chairperson of Punjab State Commission for Scheduled Castes Mrs. Tajinder Kaur this action is bases on complaints from campus ,
http://diprpunjab.gov.in/?q=content/stop-grants-pau-ludhiana-sc-commission-punjab-government

पँजांब में माहिरों का विलक्षण समूह फिर भी मृत्यु दर सबसे अधिक

झल्लीगल्लां
पंजाबसरकारकाचेयरलीडर
ओए झल्लेया!हसाडे मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिन्दर सिंह जी की दूरदर्शिता में सीएस विनी महाजन और डॉ के के तलवार की निगरानी में बनाये गए माहिरों के विलक्षण समूह ने कोरोना मरीजों की देखभाल सम्बन्धी उल्लेखनीय कार्य करते हुए एक साल पूरा कर लिया।ओए इनके सुझावों से बहुत लाभ हुआ है।
यह समूह नियमित तौर पर हर मंगलवार, गुरूवार और रविवार शाम 7.30 बजे प्रशिक्षण और विचार-विमर्श संबंधी सैशन करवाता है। अब तक 50 से अधिक सैशन किये जा चुके हैं।
इन सैशनों के दौरान माहिरों द्वारा अमृतसर और पटियाला के जी.एम.सीज़, जी.जी.एस.एम.सी. फरीदकोट, डी.एम.सी. लुधियाना, सी.एम.सी. लुधियाना और निजी अस्पतालों में दर्मियाने से लेकर गंभीर मरीज़ों बारे विचार-विमर्श किया गया और मरीज़ों के स्वास्थ्य में सुधार लाने के लिए विचारों का आदान-प्रदान किया गया।झल्ला
ओ भा जी!
मन मे दूने मन मे तीने मन मे रह गए आधे
वोह आधे भी कोविड अस्पतालों में नही दीखे
इतने माहिरों के होते हुए भी किसान आंदोलन से फैले कोविड को भांपा नही जा सका।ऑक्सीजन के उत्पादन में पँजांब को आत्म निर्भर नही बनाया जा सका।चिकित्सकों की कमी को पूरा नही किया गया।कोविड से हुई मृत्यु दर देश मे सबसे अधिक और आप माहिरों की महारत की गल कर रहे हो
भा जी!पँजांब में माहिरों का विलक्षण समूह फिर भी मृत्यु दर सबसे अधिक ऑक्सीजन उत्पादन में शून्य
टीकाकरण में फिसड्डी।

पँजांब के छप्पड़ों में बच्चे डूब कर मर रहे,सफाई का फण्ड कहां जा रहा है

(चंडीगढ़,पँजांब) पँजांब के छप्पड़ों में बच्चे डूब कर मर रहे,सफाई का फण्ड कहां जा रहा है
#पँजांब में #छप्पड़ में 5 प्रवासी बच्चे डूब गए और छठा बचाने वाला स्वयम भी डूब गया
पँजाब सरकार गावों में छप्पड़ आदि की सफाई वगैरह के लिए करोड़ों रु का #बजट घोषित करती है।मनरेगा से भी खर्चा बुक किया जाता है।अब लुधियाणां में इन मौतों से उस बजट के सदुपयोग के दावों पर प्रश्नचिन्ह लगना स्वाभाविक है ।
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने शुक्रवार को लुधियाना के गाँव माँगर्ड में हुयी इस दुखद घटना में छप्पड़ में 10 वर्ष तक कि आयु के पाँच बच्चों समेत छह व्यक्तियों की डूबने के कारण हुई मौत पर गहरा दुःख व्यक्त करते हुये हर परिवार को 50,000 रुपए एक्स ग्रेशिया देने का ऐलान किया। इस दुखद घटना में छटा व्यक्ति इन बच्चों को बचाता हुआ अपनी जान गंवा बैठा।