Ad

Tag: Rehabilitation

मोदीभापे ! हुकूमतों के तमाशाई अहले करम किसके लिए है ?

#मोदीभापे

#दिलकेफफोले

#विभाजनविभीषिकास्मृतिदिवस

कष्ट सहे अपमानित हुई पीड़ितों की तीन पीढ़ियां

हुकूमतों के तमाशाई अहले करम किसके लिए है

#Rehabilitation

यूट्यूब लिंक

मोदीभापे !बुढापे में भी तरस रहे हक के #कम्पनसेशनक्लेम के लिए

#मोदीभापे

#दिलकेफफोले

#विभाजनविभिषिकास्मृतिदिवस

बुढापे में भी तरस रहे हक के  #कम्पनसेशनक्लेम के लिए

,लगता है अर्थी पर साथ ही जाएगी हम पीड़ितों की हसरत

www.jamosnews.com

#Compensation/#Rehabilitation Claim की लूट

 

मोदीभापे !जिनसे फरियाद की वोही टाट में लपेट कर जूते मारते हैं

#मोदीभापे !

#दिलकेफफोले

#विभाजनविभीषिकास्मृतिदिवस

इन्तेहा है !अपने वजीरों की जरा फुरस्त निकाल के देखो,

हुक्मरानों की वादाखिलाफी,हुक़ूम्बरदारों की सीना जोरी,

जिनसे फरियाद की वोही टाट में लपेट कर जूते मारते हैं 

आगाज़ दर्दीला है,जहां छोड़ने से पहले इन्तेहा भी देखेंगे

 

मोदीभापे ! माना कि मरहम दूसरों को है लाज़िम,बचा खुचा ही हमे लगा दो

#मोदीभापे !
#दिलकेफफोले
#विभाजनविभीषिकास्मृतिदिवस
शरीकों ने तो जख्म दिए,मरहम पर तकल्लुफ क्यूँ
दुआएं लो,इस पतवार से भवसागर भी पार होते है
माना कि मरहम दूसरों को है लाज़िम,बचा खुचा हमे लगा दो
ये पीड़ित तो दशकों से पूरा छलनी हैं ,जहां चाहो वही लगा दो
#Compensation/#Rehabilitation क्लेम की लूट

मोदीभापे !तुम्हारी तो प्राथमिकताएं ही बदल गई

#मोदीभापे !

#दिलकेफफोले

#विभाजनविभीषिकास्मृतिदिवस

रूठे होते तो मनाने का प्रयास भी करूं

तुम्हारी तो प्राथमिकताएं ही बदल गई

#रिहैबिलिटेशन/#कम्पेनसशन क्लेम की लूट

 

मोदीभापे !वोह तो जमानेभर में अपनी पीड़ा के किस्से बेचने को मशहूर हैं

#मोदीभापे !

,#दिलकेफफोले

#विभाजनविभीषिकास्मृतिदिवस

जिन्हें अहसास ही नही पीड़ितों की दशकों पुरानी पीड़ा का

वोह जमानेभर में अपनी पीड़ा के किस्से बेचने को मशहूर हैं

www.jamosnews.com

#रिहैबिलिटेशन /#कम्पेनसशन क्लेम की लूट

मोदीभापे!फ़रयाद प्रूफ सियासी चौखट ,पहुंचते ही दम तोड़ देती हैं

#मोदीभापे !

#दिलकेफफोले

#विभाजनविभीषिकास्मृतिदिवस

पीड़ित हूँ सो फरियादी भी हूँ,फरियाद रौजाना भेजता हूँ

फ़रयाद प्रूफ सियासी चौखट,पहुंचते ही दम तोड़ देती हैं

https://t.co/RDaKXAonTk

#रिहैबिलिटेशन/#कम्पेनसशन क्लेम की लूट

@narendramodi @HMOIndia @CsPunjab

@JittegaPunjabNS https://t.co/TBnYf3JSkt

मोदीभापे ! विभाजनविभिषिकास्मृतिदिवस सम्बंधित खुला e निवेदन

मोदीभापे ! विभाजनविभिषिकास्मृतिदिवस सम्बंधित खुला e निवेदन

निवेदन

आदरणीय श्री नरेन्द्रमोदी जी

प्रधानमंत्री भारत सरकार

नई दिल्ली

Claimसर्वप्रथम विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस की घोषणा के लिए धन्यवाद स्वीकार करें

आपने हमारे दर्द को महसूस किया उसे स्वीकार किया ,इसके लिए दिल से धन्यवाद

इस संदर्भ में निवेदन है कि अब हमें दशकों से लम्बित हमारे हक के अलॉटमेंट क्लेम दिलवा कर कृतार्थ करें ।इसके लिए 5 सितंबर 2005 को ब्लैक संशोधन एक्ट 38 को समाप्त किया जाए

विश्व की इस सबसे बड़ी दुःखद त्रासदी के हजारों पीड़ित आज भी अपने हक के कम्पेनसशन/रिहैबिलिटेशन क्लेम के लिए दर दर भटक रहे है।जबकि भारत सरकार द्वारा evacuee property के जरिये पाकिस्तान से वसूला जा चुका है राज्य सरकारों एवम अधिकारियों द्वारा केवल लटकाया,टरकाया,भटकाया  जा रहा है। इस कथन के समर्थन में कुछ पत्र ध्यानाकर्षण हेतु  संलग्न है

आपने काले माह अगस्त में राष्ट्र को  तीन  अवसरों पर सम्बोधित करके विभाजनविभिषिका पीड़ितों को कुछ राहत पहुंचाई

(1) ट्विटर

(2)लाल किले की प्राचीर

(3)जलियांवाला बाग का  वर्चुअल लोकार्पण

इन तीनो सम्बोधनों में आपने विभाजनविभिषिका की पीड़ा को सांझा किया।इससे आपकी हमारे कल्याण के प्रति प्रतिबद्धता साफ प्रगट होती है

वर्ष का यह आठवाँ महीना सोलह कला सम्पूर्ण श्री कृष्ण के जन्म  से विभोर कर रहा है ।आपका अमृतमहोत्सव भी जन कल्याणकारी हो रहा है।

इसीलिए आपसे करबद्ध निवेदन है कि इस अमृत महोत्सव में न्याय अमृत की चंद बूंदें विभाजनविभिषिका पीड़ितों को देकर कृतार्थ करें

कृपया

(1)देश  विभाजन से लम्बित हमारा रिहैबिलिटेशन/कम्पेनसशन/अलॉटमेंट क्लेम दिलवा कर हमारी दशकों की तृष्णा को तृप्ति प्रदान करें

(2)5 सितंबर 2005 के काले संशोधन( 38 )को समाप्त कराएं

(3)विभीषिका के पश्चात आज़ाद भारत मे दी गई evacuee property  लूट की आज़ादी को पाठ्यक्रम में शामिल किया जाए।

(!)Evacuee Property (!!)अलोटटेड (!!!)परंतु कब्जा नही दिए गए

आदि प्रॉपर्टी को  on line करवाएँ

(!!!!) रिहैबिलिटेशन / कम्पेनसशन सम्बंधित लम्बित मामलों के निबटारे को एक केंद्रीय संस्था का गठन हो

अपराध/गलती की स्वीकारोक्ति तो आपने कर ली अब इसके प्रायश्चिय स्वरूप कृपया

(A)भारत सरकार द्वारा 14 अगस्त 1947 के निर्णय के लिए क्षमा याचना पश्चाताप करे और संसद में श्वेत पत्र ला कर चर्चा कराएं

अपने दिल के इस फफोले के साथ

पुनः धन्यवाद

आपका

जगमोहन सबलोक

185 ग्लोबल सिटी गंगानगर

मेरठ उत्तरप्रदेश 250001

मोदीभापे

“भादों गरज रहा है,कान्हा भी चमक रहा है

तुम हो अमृतमहोत्सव में,पीड़ित तरस रहा है “

यूट्यूब लिंक

https://youtu.be/ZRJLEmI8Tvo

मोदीभापे !अपने #मनकीबात में मेरे दिल का बोझ उतार दो

#मोदीभापे

अपने #मनकीबात में मेरे दिल का बोझ उतार दो

तुम पर भी सियासी कर्ज है तुम तो इसे उतार दो

#कम्पेनसशन/#रिहैबिलिटेशनक्लेम की सरकारी लूट

www.jamosnews.com

#MoHA

ModiBhape

Apne Mann Ki Baat Me Mere Dil Kaa Bojh Utaar Do

Tum Par Bhi Siyasi Karz Hai ,Tum To Ise Utaar Do

भारत मे भारी सरकार ,पीड़ितों के लिए अकर्मण्य शासन की भरमार


Minimum Governance

Minimum Governance

(नई दिल्ली)भारत मे भारी सरकार ,पीड़ितों के लिए शासन का अभाव

दुर्भाग्य से अकर्मण्य अधिकारियों की अकर्मण्यता के फलस्वरूप सात दशकों की दौड़ विभाजनविभिषिका के पीड़ित को फिर  वहीं ले आई जहां से शुरूआत हुई थी।अपने इस कथन के समर्थन में भारत सरकार के गृह मंत्रालय के दो पत्र प्रस्तुत कर रहा हूँ।

1947 की विभीषिका के दर्द को महसूस करके प्रधान मंत्री नरेंद्रमोदी ने लाल किले की प्राचीर से( दुर्भाग्यपूर्ण 14 अगस्त को )विभाजनविभिषिका स्मृति दिवस के रूप में घोषित किया तो  विभीषिका पीड़ितो की सोई उम्मीद जग उठी।हजारों विस्थापित परिजनों कोलगने लगा कि अब  उनके हक के कम्पेनसशन क्लेम मिल जाएंगे।

लेकिन शासन में बैठे अकर्मण्य अधिकारियों की अकर्मण्यता से सब धूमिल होती जा रही है।

एक उदहारण प्रस्तुत है

PMOPG/E/2016/0125052अप्रैल 2016 में PMOPG के पोर्टल पर दुखड़ा रोया गया (PMOPG/E/2016/0125052)जिसे कुशल पोस्ट आफिस की भांति  तत्काल पँजांब सरकार को भेज दिया गया लेकिन शासन में इच्छाशक्ति के अभाव के चलते उसका उत्तर अभी तक प्राप्त नही हुआ है।

PMO और केंद्रीयगृहमंत्रालय से 17 और 21 जून को अलग अलग RTI के माध्यम से अपने हक के क्लेम और उसकी जानकारी मांगी गई

PMO द्वारा RTI को ग्रह मंत्रालय में भेज दिया गया वहां से  जवाब ना आने पर फोन किये तो जवा मिले

कि अभी स्टेनो नही आई हैं

आपकी आरटीआई ट्रेस नही हो रही

एआप एक प्रति भेज देवें

फलां सेक्शन से सम्पर्क करें

दो माह के पश्चात दिनांक शून्य के पत्रक 36/20/2021/R& SO जिसे श्री बलजीत सिंह (डिप्टी सेक्रेटरी व CPIO )द्वारा 16/8/2021 को हस्ताक्षरित पत्र प्राप्त हुआ।गौरतलब है कि हाई वे बनने के फलस्वरूप मेरठ और दिल्ली की दूरी महज एक घण्टे की बताई जा रही है लेकिन इस  स्पीडपोस्ट पत्र को पहुंचने में 10 दिन लग गए ।

इस पत्र में भी पूर्व की भांति ही टरकाया,भटकाया,नकारा गया है। डिप्टी सेक्रेटरी रैंक के अधिकारी ने रिकॉर्ड ट्रेस  कराने में असमर्थता जताई है।जो सरकार  एक लाख करोड़ रु की एनिमी प्रॉपर्टी को ट्रेस सकती है।पूर्व मंत्री आजमखान के वक्फ का पोस्टमार्टम करा सकती है उसी सरकार के लिए विभाजनविभिषिका के पीड़ित के लिए इच्छाशक्तिका सर्वथा अभाव दुख दाई है

यहां गृहमंत्रालय के ही एक और पत्र का उल्लेख जरूरी है 

35/33/2020/R&SO दिनांक 16/11/2020 के माध्यम से पंजाब सरकार से रिपोर्ट मांगी गई जिसके उत्तर अभी भी प्रतीक्षा में है

ऐसे में श्री बलजीत सिंह तथ्यों को परख लेते तो सम्भवत समस्या का हल निकल आता