Ad

Tag: Time Pass Satire

सिद्धू के दिल मे चर्चिल की आत्मा का डेरा (व्यंग)

                                                      झल्लेदीगल्लां

पंजाबीचिंतक

ओए झल्लेया! ये लाफिंग जट्ट नवजोतसिंह सिद्धू को कौन से दिल/हृदय/हार्ट का वरदान मिला हुआ है।एक के बाद दूसरी असफलता मिलने के बावजूद पंजाब की राजनीति में मजबूती से खड़ा हुआ है।पहले बादलों से पंगा,फिर आप के केजरीवाल को ना फिर भजपा के मोदी को टाटा बाय बाय । कैप्टेन अमरिन्दर से अदावत फिर कांग्रेस से बगावत।ये सिलसिला कब खत्म होगा।

झल्ला

ओ भापा जी! सिद्धू के दिल मे ब्रिटेन के प्रधान मंत्री रहे विंस्टन चर्चिल की मजबूत  आत्मा ने डेरा डाल लिया होणा है।तभी विफलताओं में भी सफलता तलाशने में लगे हुए हैं।अरे भाई !चर्चिल ने भी कभी कहा था कि सफलता की परिभाषा है , एक विफलता से दूसरी विफलता इसीलिए अपने लक्ष्य की और लगातार अग्रसर सिद्धू को विफल कहना प्रतिभाओं का अपमान होगा।

पँजांब की सियासत में सिद्धू असफल और राहुल+चन्नी सफल सियासतदां (व्यंग)

                                              झल्लीगल्लां

पंजाबीचिंतक

ओए झल्लेया!आज हसाडे सोने पँजांब की पृष्ठभूमि पर नाकाम सियासतदां और मुक़म्मल सियासतदां में फर्क समझा ।

झल्ला

भापा जी!पँजांब की सियासत में सिद्धू असफल और राहुल+चन्नी सफल सियासतदां (व्यंग)

नाकाम सियासतदां समझो लाफिंग जट्ट नवजोत सिंह सिद्धू।प्रदेश में सबसे लोक प्रिय+सबसे कर्मठ+ईमानदार लेकिन इनसे  पहले मंत्रिपद गया । अब सीएम की कुर्सी मिलते मिलते हाथों से खिसक गई।अब बेचारे ओनली सीएम के संलग्नक बने घूम रहे हैं

और मुकम्मल बोले तो आज की राजनीति में  सफल सियासतदां समझो तो चरणजीत सिंह चन्नी

निर्दलीय विधायक कांग्रेस में लौटे और  दो जट्टों की लड़ाई में मलाई दलित की थाली में आ गिरी।वैसे यहां एक और कहावत चरितार्थ होती है ।बोले तो पंजाबी बिल्लियों की लड़ाई में दिल्ली के बंदर मामा ने अपनी बिसात बिछा ली ।इसीलिएझोट्टों की लड़ाई में झुंडों का तो जो हुआ सो हुआ मगर  सबसे सफल  तो दिल्ली वाले ही हुए

राष्ट्र नायक राजा महेंद्र प्रताप सिंह विश्वविद्यालय से कई सियासी लकीरें छोटी हुई

झल्लीगल्लां

जाटभजपाई

ओए झल्लेया !

इबलो तो घणा मज़्ज़ा आ गया।उरे म्हारे धाकड़ पीएम माननीय नरेंद्र भाई दामोदर दास मोदी जी ने म्हारे भुलाए जा चुके राष्ट्र नायक राजा महेंद्र प्रताप सिंह जी को सम्मान देते हुए राजा जी के नाम पर अलीगढ़ में राज्यविश्वविद्यालय का शिलान्यास कर दिया।म्हारा सीना और चौड़ा हो गया

झल्ला

चौधरी साहब!

आपके मोदी जी ने राष्ट्र नायक राजा महेंद्र प्रताप सिंह विश्वविद्यालय से कई सियासी लकीरें छोटी कर दी

(1)AMU में  पाकिस्तान के संस्थापक और विभाजनविभिषिका के अपराधी मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर की पूजा करने वालों को आईना दिखा दिया

(2)प्रदेश में आपलोगों की 6% आबादी, जिसमे अनेकों विधायक जिताने की क्षमता है ,को अपनी तरफ मौड़ लिया

(3)रालोद के अध्यक्ष जयंत चौधरी को जाट वोटबैंक में भागदौड़ में पछाड़ दिया

(4)अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का नाम बदले बगैर दूसरा नया विश्वविद्यालय खोल कर मुस्लिमो के दिल से भजपा का डर भी कम कर लिया

रक्षा बजट में 16000 करोड़ के उछाल से ₹1500000 की उम्मीद को भी पलीता लग ही गया

                                                    झल्लीगल्लां

भजपाईचेयरलीडर

ओए झल्लेया! मुबारकां !! ओए हसाडी सरकार बहुत जल्द अतिआधुनिक मिसाइल और हेलीकॉप्टर आदि खरीदने जा रही है।इसके लिए ₹ 16000 करोड़ खर्च करने को कमर कस ली गई है।ओये अब हसाडी रक्षा व्यवस्था ने चीन और पाकिस्तान के साथ ही तालिबानियों को नानी और दादी याद करा देणी है

झल्ला

चतुर सेठ जी!

अभी ₹ पांच लाख करोड़ की वसूली तो हुई नही कि उसमें छेद शुरू हो गए। आप लोगों के ये  तेवर देख कर लगता है कि ₹ 1500000 की उम्मीद को भी पलीता लग ही गया।

 

रजिस्ट्रेशन प्लेट आई नही,फ्री की सर्विस से फ्री करो (व्यंग)

(#व्यंग) महान मुल्क भारत में बेशक 80 करोड़ लोग मुफ्त के सरकारी राशन को मोहताज़ है लेकिन अच्छी कंडीशन की महज महीने में 20 किलोमीटर चलने वाली पेंशनर की स्कूटी महज 15 वर्ष पुरानी होने पर वाहनकमेले में भिजवा कर हुकूमतें विकासविकास का गान कर गौरान्वित होती है।

व्यंग

व्यंग

अब हमारी स्कूटी किसी आंदोलनरत किसान  के ट्रेक्टर सरीखा तो है नही सो अभयदान का पात्र नही है।इसी अपमानजनक तमगे से निजात दिलाने को श्रीमती जी ने 83 हजार ₹ की नई स्कूटी का वरदान दे दिया।अब चुनांचे नोटबन्दी के पश्चात सब कुछ चल रहा है सो डेबिट कार्ड से भुगतान करने पर 1 %अतिरिक्त का भुगतान लाजमी है।

नए का पूरा सम्मान है।सो कुर्सी और दीवान के मध्य स्थान है।पेट्रोल 100 के पार है सो हौंसले की दरकार है

ईमानदार शासन और प्रशासन को भी सलाम है इसीलिए एक माह से रजिस्ट्रेशन नंबर और प्लेट का धैर्य से इन्तेजार है।वाहन कंपनी की पिल रही है इसीलिए या तो रजिस्ट्रेशन के बगैर वाहन चलाओ और चलान कटवाओ ।और  तो और 15 दिन में गाड़ी चलाओ या ना चलाओ शुरू की फ्री सर्विस से फ्री होना लाजमी है

Vikas

Vikas

जहां तक विकास की बात है तो वाकई में विकास के दावों कोझुटलाया नही जा सकता।मैंने जब सरकारी नॉकरी शुरू की टाओ दूसरी तनख्वाह पर ही एक  साईकल (बिना घण्टी+लाइट) ले पाया था, सुपरनुअशन तक महज साईकल से लूना,स्कूटर,स्कूटी तक ही पहुंच पाया। ।पिछले  दिनों उसी (जो कभी अपना था)विभाग की रिहायशी कॉलोनी में जाने का अवसर मिला तो देखा कि जितने फ्लैट्स हैं उनके सामने उससे ज्यादा चौपहिया खड़े हैं।

आमजन के लिए 1947 के काला अगस्त 21 के अगस्त में और स्याह हो गया

झल्लीगल्लां

भजपाईचेयरलीडर

ओए झल्लेया!

ये क्या हो रहा है? ओये सबसे वडडे लोकतंत्र के महान संसद की महत्वपूर्ण कार्यवाही को चाटपापड़ीं और ढोकला बता कर मजाक उड़ाया जा रहा है।मानसून सत्र में महत्वपूर्ण समस्यायों पर चर्चा ही नही हो पा रही । अगर अपनी जासूसी से त्रस्त सांसदों की आपसी दूरियां यूं ही बढ़ती रही तो हमारी समस्यायों का कौन समाधान निकालेगा ? किसानों को राहत कैसे मिलेगी?? कोरोना के खिलाफ जंग कैसे अंतिम मुकाम तक पहुंचेगी???

झल्ला

चतुर सेठ जी!

आपके प्रधान सेवक जी ने भी विपक्ष के व्यवहार को देश और लोकतंत्र का अपमान बता कर पल्ला झाड़ लिया ।मानसून सत्र में कैक्टस रूपी तीन बिल पास करा कर सीना ठोक  लिया। आमजन की समस्या 1947 के काले अगस्त से शुरू हुई जो 2021 के काले अगस्त में और स्याह हो गई

1947 के हजारों रिफ्यूजी आज भी अपने हक के रिहैबिलिटेशन क्लेम के लिए दर दर भटक रहे है लेकिन हसाडे अलिकुली संसद ठप्प करने में महारत हासिल करने में जुटे है।

By धर्म या By कर्म यूपी में गद्दी बचानी हैं (व्यंग)

                                               झल्ली गल्ला

By धर्म या By कर्म  यूपी में गद्दी बचानी हैं (व्यंग)

सपाई चीयरलीडर 

ओए झल्लेया!ये क्या हो रहा है?इन भजपाइयों ने तो गुरुपूर्णिमा जैसे पवित्र उत्सव का भी मजाक बना कर रख दिया। देख तो एक एक गुरु के दस दस छुटभैयों ने पैर पकड़ कर फोटो खिंचवा कर सोशल मीडिया भर दिया।और  तो और मंदिरों में विग्रहों को भी नही छोड़ा।

झल्ला

पहलवान जी! 2022 में आपको पछाड़ने के लिए ये पार्टी लाइन होगी । अब तो सियासत में सब जायज है। By धर्म या By कर्म  यूपी में गद्दी बचानी हैं (व्यंग)

वजीफे,मुंहदिखाई,इस्तीफे वाले एपिसोड से पीएमओ की असफलताएं ढंक गई

झल्लीगल्लां
भजपाईचेयरलीडर
ओए झल्लेया!देखा हसाडे धाकड़ मोदी साहब का कमाल।

केंद्रीय मंत्रिमंडल का विस्तार

केंद्रीय मंत्रिमंडल का विस्तार

ओए नए ऊर्जावान 36 मंत्री बना कर मंत्रिमंडल को ब्राह्मण+पिछड़े+ओबीसी+महिलाआदि आदिसे सुसज्जित कर लिया है ।
अब यूपी और पंजाब में हसाडा डंका बजे ही बजे
झल्ला
झल्लाचतुर सेठ जी!बेशक आप इस एपिसोड “स्पेशल 36 ” में नयों को मुंह दिखाई पर दिए वज़ीफों पर फूल के कुप्पा हो जाओ मगर डॉ हर्षवर्धन+रविशंकरप्रसाद सहित 12 मंत्रियों से जो इस्तीफे लेकर पीएमओ की असफलताओं का ठीकरा फोड़ा गया है उस पर मौन क्यूँ???

टीएमसी सरकार ने बंगाल में मादा क्रोकोडाइल को बचाया,चलो अब आंसूओं का ज्ञान मि जाएगा

झल्लीगल्लां
तृणमूल कांग्रेस का चेयरलीडर
TMC Cartoonओये झल्लेया!हमने कड़ी मेहनत से सुंदरबन से एक जिंदा मादा क्रोकोडाइल को बचा लिया ।पौनेदसफीटा यह जीव तूफान याश में बह कर भटक गया था
झल्ला
आपकी सीएम सुश्री ममता बनर्जी ने पीएम नरेंद्र मोदी की मीटिंग से अनुपस्थित रहने पर जो आंसू बहाये थे अब उन आंसूओं और इस बेजान के आंसुओं मेंअंतर खोजने केवलिये रिसर्च हो पाएगी।।हमे भी कुछ ज्ञान मिल पायेगा।

दिल्ली,पँजांब सरकारें (अ)विश्वसनीयता के चलते विदेशी टीके नही ले पाए

झल्लीगल्लां
नवयुवक
ओए झल्लेया! हसाडे नाल ये क्या मख़ौल हो रहा है ? केंद्र टीके नही दे रही और मोडर्ना फाइजर जैसी व्यवसायिक कम्पनियां भी राज्यों को टीके नहीबेच रही।कहती हैं कि सीधे केंद्र सरकार से ही सौदा करेंगी।ऐसे तो हमे टीके लगण से रहे ।महामारी जाणे से रही।
झल्ला
झल्ला
यारा!ये दिल्ली,पँजांब,राजस्थान वाले कुछ ज्यादा ही चतुराई दिखा रहे हैं।लगता है कमीशनखोरी के चक्कर मे पहले केंद्र के टीकाकरण अभियान का विरोध किया फिर विदेशों से सीधे आयात करने का जुगाड़ लगाया मगर विदेशों में अपनी प्रश्नवाचक विश्वसनीयता के चलते औंधे मुंह गिरे।माया मिली ना राम।मुझे विश्वास है कि टीके लगेंगे और सबको लगेंगे।