Ad

Tag: TMC

टीएमसी सरकार ने बंगाल में मादा क्रोकोडाइल को बचाया,चलो अब आंसूओं का ज्ञान मि जाएगा

झल्लीगल्लां
तृणमूल कांग्रेस का चेयरलीडर
TMC Cartoonओये झल्लेया!हमने कड़ी मेहनत से सुंदरबन से एक जिंदा मादा क्रोकोडाइल को बचा लिया ।पौनेदसफीटा यह जीव तूफान याश में बह कर भटक गया था
झल्ला
आपकी सीएम सुश्री ममता बनर्जी ने पीएम नरेंद्र मोदी की मीटिंग से अनुपस्थित रहने पर जो आंसू बहाये थे अब उन आंसूओं और इस बेजान के आंसुओं मेंअंतर खोजने केवलिये रिसर्च हो पाएगी।।हमे भी कुछ ज्ञान मिल पायेगा।

ममता के मंत्रियों पर शिवसेना बिफरी,नारदा फ्रॉड की अदृश्य तार महाराष्ट्र में तो नही ?

झल्लीगल्लां
Shiv Sena Supports TMCशिवसैनिकचेयरलीडर
ओए झल्लेया! ये क्या झाला है?पश्चिम बंगाल में हमारी शेरनी ममता दीदी को गवर्नर जगदीप धनकड़ ख्वामखाह तंग करके अस्थिरता पैदा करने के प्रयास कर रहे है ।ओए हमारी पार्टी के अखबार सामना में भी लिख दिया गया है कि ममता दीदी की तृणमूल के चार नेताओं की सीबीआई द्वारा गिरफ्तारी से राजनीतिक बदले की बू आती है।इसीलिए लोक तन्त्र की रक्षा के लिए गवर्नर को तुरन्त हटाया जाना चाहिए
ओए 2014 के नारद स्टिंग ऑपरेशन में वे रिश्वत लेते कैमरे पर नजर आए थे। बाकी के दो आरोपी मुकुल रॉय और शुभेंदु अधिकारी जो अब भाजपा के साथ हैं उनके खिलाफ कोई कार्रवाई क्यों नहीं की गई। भाजपा के साथ आने से और ममता बनर्जी के खिलाफ चुनाव लड़ने से क्या वे बेदाग हो गए?
झल्ला
झल्लाभले मानुष !बंगाल के भ्र्ष्टाचार पर आपका मुम्बई में बौखलाना कुछ समझ से परे है।कही नारदा फ्रॉड की अदृश्य तार महाराष्ट्र में तो नही दिख रही

ये कैसा लोकतंत्र?विधायकों को केंद्र तो सीएम को संयुक्तराष्ट्र ही बचाने आएगा क्या ?

झल्लीगल्लां
भजपाईचेयरलीडर
Jamos Cartoon ओए झल्लेया । मजा आ गया।ओए बेशक वेस्ट बंगाल में हसाडी सरकार नही बनी लेकिन हसाडे सारे 77 के 77 विधायकों को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह जी सुरक्षा मुहैया करवा रहे हैं।अब तो सीआरपीएफ और सीआईएसएफ आदि के ज्वान टीएमसी के गुंडों से हसाडे विधायकों की रक्षा कर लेंगे।
झल्लाझल्ला
चतुर सुजाणा! ये कैसा लोकतंत्र है???विधायकों को केंद्र तो सीएम को संयुक्त राष्ट्र ही बचाने आएगा क्या ???

काहे की होली? काहे की हमजोली ??जब दो गज की दूरी और मास्क भी जरूरी!

झल्लीगल्लां
भजपाईचेयरलीडर
ओए झल्लेया!रंगों के मस्त त्यौहार होली दियाँ लख लख मुबारकां।
ओए कल होलिका के दहन से बुराईओं का खात्मा हो चुका अब खुल के रंग बरसाओ।बरसाने से अयोध्या या फिर काशी नहाओ।
झल्ला

Holi

Holi

चतुर सेठ जी!हमारी काहे की होली??? काहे की होली? काहे की हमजोली ??जब दो गज की दूरी और मास्क भी जरूरी!
संग खड़ी हमजोली!फिर भी दो गज की दूरी ऊपर से मास्क भी जरूरी।हाँ तुम लोगों ने तो महाराष्ट्र के फार्म हाउस में एन सी पी वालों से होली मिलन कर ही लिया।बंगाल में ममता और आसाम में कांग्रेस के गाल बिना गुलाल के ही लाल कर लिए।
बुरा ना मानो
होली के हुलियारे बेचारे ,तुम्हारी कोरोना चेतावनियों के मारे
ढूंढ रहे रघुबीरा,लेकर सोने का बीड़ा,दिख नही रहा हुड़दंगी कन्हाई
किलस किलस गुलाल से कर रहे अपने ही दोनों गाल लाल
काहे की खुशियां ?काहे के रंग ?? होली हुई बदरंग

Frustrated MP Dinesh Trivedi Announces Resignation from RS

(New Delhi)Frustrated MP Dinesh Trivedi Announces Resignation from RS
TMC MP Dinesh Trivedi announced his resignation from the Rajya Sabha on Friday, saying he feels suffocated in the House as he is unable to do anything for the violence going on in his state, West Bengal.
“If you sit here quietly and cannot do anything, then it is better that you resign from here and go to the land of Bengal and be with people,” he said in the Upper House of Parliament.
Trivedi said the world looks at India when something happens.
“What I mean to say is the way violence is taking place in our state. Sitting here, I am feeling perplexed as to what should I do
The Trinamool Congress (TMC) MP said he is unable to bear various incidents that are happening in West Bengal.
Rajya Sabha Deputy Chairman Harivansh Narayan Singh said there is a due process for resigning from the House and asked Trivedi to submit his resignation in writing to the chairman.

Mamata Starts Bating For Kejriwal in Delhi Assembly Polls

(New Delhi)Mamata Starts Bating For Kejriwal in Delhi Assembly Polls
The Mamata Banerjee-led Trinamool Congress has thrown its weight behind the Aam Admi Party for the Delhi polls, with its national spokesperson Derek O’ Brien uploading a video endorsing not just Chief Minister Arvind Kejriwal but all AAP candidates.

भजपाई कमल ने टीएमसी फूल के निवास पर काली मां का पूजन किया

(कोलकाता) भजपाई कमल ने टीएमसी फूल के निवास पर काली मां का पूजन किया
तृणमूल कांग्रेस और भाजपा के बीच चल रहे राजनीतिक तनाव के बीच पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ रविवार को काली पूजा में शामिल होने के लिए अपनी पत्नी के साथ मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के आवास पहुंचे और वहां करीब दो घंटे तक रहे।
ममता ने घर से बाहर आकर धनखड़ और उनकी पत्नी का अभिवादन किया और उन्हें अपने साथ आवास के भीतर ले गईं। मुख्यमंत्री और राज्यपाल दोनों सौहार्दपूर्ण ढंग से बातचीत करते हुए दिखाई दिए।
राज्यपाल धनखड़ ने मुख्यमंत्री के गीतों की सीडी भी मांगी
मुख्यमंत्री ने राज्यपाल और उनकी पत्नी सुदेश धनखड़ को काली पूजा के मौके पर अपने आवास पर आमंत्रित किया था।
इससे पहले राज्यपाल ने ‘भाई दूज’ के मौके पर ममता के आवास जाने की इच्छा जताई थी।

Chandan Mitra Resigns from BJP,May Join TMC

[New Delhi]Chandan Mitra Resigns from BJP
Two-term former Rajya Sabha member Chandan Mitra has resigned from the BJP amid speculation that he may join the Trinamool Congress.
Mitra is likely to be present at the party’s ‘martyrs’ day’ rally in Kolkata on July 21.
Considered close to veteran BJP leader L K Advani, Mitra was nominated to the Upper House in 2003 when the BJP-led NDA was in power at the Centre and again elected to the House in 2010 from Madhya Pradesh on the party’s ticket.
However, his political stock within the party plunged under Prime Minister Narendra Modi and BJP president Amit Shah, and he was left with little organisational responsibility.
He was fielded as the party’s candidate from Hooghly in West Bengal in the 2014 Lok Sabha election and came a distant third.

इंडिगो एयरलाइन ने सीएम ममता बनर्जी के प्राण खतरे में डाले

[नई दिल्ली]इंडिगो एयरलाइन ने सीएम ममता बनर्जी के प्राण खतरे में डाले
नो फ्रिल +प्रॉफिट मेकिंग निजी एयरलाइन्स इंडिगो ने कोहरे के दिनों में अपर्याप्त ऐ टी एफ के साथ एक घंटे की उड़ान भरी
उसमे सवार बंगाल की सीएम् ममता बनर्जी और १०० अन्य यात्रियों के प्राण खतरे में डाले । टी एम् सी के डेरेक+कांग्रेस के गुलाम नबी आज़ाद+सुश्री मायावती+ प्रोफ़ेसर राम गोपाल यादव+शरद यादव आदि ने सरकार को घेरने का प्रयास किया
जिसे लेकर समूचे विपक्ष ने संसद के दोनों सदनों में जबरदस्त हंगामा किया लेकिन आश्चर्यजनक रूप से किसी भी नेता ने
इंडिगो एयरलाइन्स का नाम नही लिया केवल सरकार पर ही षड्यन्त्र रचने का आरोप लगाते रहे |
चूँकि इंडिगो अन्य निजी एयरलाइन्स के साथ मिल कर मिलकर सरकार की विमानन नीतियों का विरोध करती आ रही है
ऐसे में इस एयरलाइन्स की विपक्ष के साथ सरकार के विरुद्ध मिलीभगत की संभावना से इनकार नही किया जा सकता
बीते दिन इंडिगो की एक फ्लाइट से पश्चिम बेंगाल की मुख्य मंत्री ममता बनर्जी फ्लाई कर रही थी| कोलकता एयरपोर्ट पर इंडिगो के पायलट ने फ्यूल कम होने की दुहाई देते हुए शीघ्र लैंडिंग की परमिशन मांगी जिसपर ग्राउंड स्टाफ की तरफ से कुछ देरी की गई जिसके फलस्वरूप प्लेन को हवा में कुछ चक्कर लगाने पड़े |सरकार की तरफ से जयन्त सिन्हा द्वारा इमरजेंसी लैंडिंग के लिए ग्राउंड पर समूचे सुरक्षा इंतेजाम किये जाने की भी बात कही गई और राज्य सभा में बताया गया के एयर इंडिया और स्पाइस जेट के भी विमान उसी समय हवा में थे|

ममता को टीएमसी का नेता चुनने के लिए विधायक दल ने की ओपचारिकता पूर्ण

[कोलकाता] ममता को टीएमसी का नेता चुनने के लिए विधायक दल ने की ओपचारिकता पूर्ण
ममता बनर्जी को तृणमूल कांग्रेस का नेता चुनने के लिए सत्तारूढ़ तृणकां विधायक दल ने ओपचारिकता पूर्ण की
आज हुई एक बैठक में ममता बनर्जी को सर्वसम्मति से तृणमूल कांग्रेस का नेता चुना गया।
बेलाहा पश्चिम सीट से फिर से निर्वाचित होने वाले तृणमूल कांग्रेस के महासचिव पार्थ चटर्जी ने उनके नाम का प्रस्ताव रखा जिसका पार्टी के नव-निर्वाचित विधायकों ने समर्थन किया।
जिसके पश्चात ममता बनजी राज्यपाल से मिल कर सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए राज भवन गयीं
गौरतलब हे के जनता ने एक बार फिर ममता बनर्जी के नाम जनादेश दिया है और तृणमूल कांग्रेस ने दो तिहाई बहुमत के साथ बंगाल की बादशाहत हासिल की है ।
चुनाव में वाममोर्चा. कांग्रेस गठजोड़ ममता की लहर में लगभग उड़ गया ।
पश्चिम बंगाल के चुनावी इतिहास का अब तक का संभवत: सबसे लंबा विधानसभा चुनाव संपन्न होने के बाद से ही सबकी नजर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भविष्य पर टिक गयी थी और आज नतीजें सामने आने के साथ ही यह तय हो गया कि ममता ‘दीदी’ की पार्टी की बंगाल पर पकड़ बनी हुई है। वाममोर्चा एवं कांग्रेस गठबंधन की रणनीति सफल नहीं रही और यह ‘परिवर्तन’ की बयार लाने में नाकाम साबित हुई ।
चुनाव में पहली बार ऐसे 9776 मतदाताओं को अपने मताधिकार के प्रयोग का हक मिला जो भारत और बांग्लादेश के बीच क्षेत्र की अदला बदली के बाद भारत के नागरिक बने।
फाइल फोटो
सी एम ममता पी एम मोदी के साथ