Ad

Archive for: April 2019

UNESCO Ready to Reconstruct Medieval Notre Dame Church

[UN] UNESCO Ready to Reconstruct Medieval Notre Dame Church
Two-thirds of the largely medieval roof of the famed Notre Dame cathedral in Paris have gone after the devastating fire,
The Cathedral is part of the World Heritage site
Notre Dame represents a historically, architecturally, and spiritually, outstanding universal heritage.As per UNESCO chief, the inferno which engulfed the cathedral, but appears to have left the medieval stonework intact
The cathedral, where construction began in the 1160s extending for more than a century, is considered to be the finest example of the French Gothic style of architecture, with its groundbreaking use of rib vaults and buttresses, stained glass rosettes and sculpted ornaments.
Courtesy PTI

सिद्धू ने कत्ल के मुकदद्मे से छुटकारा पा लिया तो अब चुनावी एफआईआर क्या चीज है

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

एक उत्तेजित बिहारी भाजपाई

औए झल्लेया !ये क्या हो रहा है? औए लोगों को हंसाते हंसाते इस लाफिंग जट्ट सिद्धू ने देश प्रेमियों के बिहार में देश तोड़ने को मुस्लिम मतदाताओं का ही आह्वाहन कर ड़ाला |अब एफ आई दर्ज हो गई |अब मालूम चल जाएगा बच्चू को

झल्ला

सेठ जी! नवजोत सिंह सिद्धू ने पार्टी बदल कर अपने ऊपर लगे कत्ल के मुकदद्मे से छुटकारा पा लिया तो ये आचार संहिता के उललंघन पर लगी एफआईआर क्या चीज है

केजरीवाल आजकल :दया: का पात्र बनकर सियासी लुभाव लूटने में लगे

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

कांग्रेसी चिंतक

औए झल्लेया ये केजरीवाल को कौन सा कीड़ा काट गया है ?हमारे बार बार मन करने के बावजूद चुनावी समझौते के लिए हसाडी चौखट चूमने आ जाते हैं

झल्ला

माननीय केजरीवाल आजकल :दया: का पात्र बनकर सियासी लुभाव लूटने में लगे हैं
केजरीवाल आजकल दुत्कारे जाने का भी रिकॉर्ड बनाने पर यूंही नही तुले हुए हैं चुनांवों में हारने का ठीकरा फोड़ने को किसी दूसरे का सर् भी तो चाहिए और चुनांवों के पश्चात दया के पात्र बनने! का सौभाग्य मिलेगा लुभाव में

पंजाब के सियासी हमाम में सबकी नंगई निकल ही आई :व्यंग

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

भारतीय चिंतक

औए झल्लेया ये क्या हो रहा है? जलियांवाला बाग नरसंहार के शताब्दी वर्ष पर एक तरफ लंदन के ‘हाऊस ऑफ लार्ड्स’ परिसर में ब्रिटिश सरकार से इस घटना के लिए आधिकारिक रूप से माफी मांगने की मांग की गई तो दूसरी तरफ भारत में पंजाब के सी एम कैप्टेन अमरिंदर सिंह और केंद्र में मंत्री हरसिमरत को बादल एक दूसरे के पुरखों की कब्रें खोदने में लगे हुए हैं|
यारा! 13 अप्रैल 1919 को बैशाखी के दिन अमृतसर के जलियांवाला बाग में हुए नरसंहार से पूरा विश्व आज भी स्तब्ध है । ब्रिटिश इंडियन आर्मी के सैनिकों ने जनरल डायर की कमान के तहत निहत्थी भीड़ पर गोलियां चलाई थी और ये हुकुमरान एक दूसरे पर ही गोलियां चला रहे हैं

झल्ला

भापा जी!ये सियासी हमाम हैं यहां सबकी नंगई निकल आती है

जलियांवाला हत्याकांड शताब्दी वर्ष में भी भारत 1 मंच साझा नहीं कर सका :नमन

[अमृतसर,दिल्ली] #शहीदोंकोनमन
जलियांवाला हत्याकांड शताब्दी वर्ष में भारत 1 मंच साझा नहीं कर सका
पंजाब के सीएम के अमरिंदर सिंह की आगवानी में कांग्रेसाध्यक्ष राहुलगांधी ने पुष्पचक्र चढ़ाए लेकिन भाजपा नीत केंद्रीय प्रतिनिधित्व अनुपस्थित रहा|
भारत के उपराष्ट्रपति वेंकैय्या नायडू ने शताब्दी की स्मृति में स्मारक सिक्का+ टिकट जारी किया तो प्रदेश के सीएम नदारद रहे
आम आमदी पार्टी [आप] और एसएडी एक दुसरे पर आरोप प्रत्यारोपों में सीमित रहे |
गौरतलब हे के ब्रिटेन के 80 सांसदों ने ब्रिटिश सरकार से इस नृशंस हत्याकांड पर माफी मांगने को कहा हैं लेकिन भारत से मृतकों को शहीद का दर्जा देने को फुसफुसाहट भी सुनाई नही देरही|
जो अंग्रेज किसीको गलती से छू जाने पर भी सॉरी कह कर निकल जाते हैं उन्ही का न्रेतत्व इतने बढे हत्याकांड पर खेद तो प्रगट कर रहा है लेकिन सॉरी कहने को तैयार नहीं |इसके पीछे उनकी अपनी विवशता हो सकती हैलेकिन भारत के राजनितिक दल अपने किस फायदे के लिए इस तरफ केवल औपचारिकता को ही पूर्ण करने तक ही सिमित है जोकि जांच का विषय हो सकता है|
अमृतसर के जलियांवाला बाग में बैसाखी के दौरान 13 अप्रैल 1919 को यह नरसंहार हुआ था जब ब्रिटिश भारतीय फौज के सैनिकों ने कर्नल रे डायर की कमान में वहां स्वतंत्रता की मांग के लिए जुटे निहत्थे लोगों पर गोलियां चलवा दी थी। इस जनसंहार में सैंकड़ों लोग मारे गए थे जबकि कई घायल हो गए थे।
उप-राष्ट्रपति नायडू ने शनिवार को जलियांवाला बाग में स्मारक पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की और सिख ग्रंथियों द्वारा गाए जा रहे शबद सुने। इस कांड के 100 साल पूरे होने के अवसर पर उन्होंने एक स्मृति सिक्का और एक डाक टिकट भी जारी किया।
प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, “आज, जब भयावह जलियांवाला बाग नरसंहार के 100 साल पूरे हो रहे हैं, भारत सभी शहीदों को विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता है…उनकी बहादुरी और बलिदान को कभी भूला नहीं जाएगा। उनकी स्मृति हमें एक ऐसे भारत के निर्माण के लिये और पुरजोर तरीके से प्रेरित करती है, जिस पर उन्हें गर्व हो।”
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जलियांवाला बाग नरसंहार के 100 वर्ष पूरे होने के मौके पर जलियांवाला बाग स्मारक स्थल पर श्रद्धांजलि अर्पित की और कहा कि स्वतंत्रता की जो कीमत चुकाई गई है उसे भुलाया नहीं जाना चाहिए।
राहुल के साथ पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ,सुनील जाखड़ सहित कांग्रेस के अन्य नेता भी मौजूद थे।
कांग्रेस अध्यक्ष ने यहां आगंतुक पुस्तिका में लिखा, ‘‘आजादी की कीमत को कभी भुलाया नहीं जाना चाहिए। हम भारत के लोगों को सलाम करते हैं जिन्होंने आजादी के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर कर दिया।’’
भारत में ब्रिटेन के उच्चायुक्त डोमिनिक एस्क्विथ भी अलग से शनिवार को जलियांवाला बाग स्मारक स्थल गए।
उन्होंने आगंतुक पुस्तिका में लिखा, ‘‘आज से 100 साल पहले की जलियांवाला बाग घटना ब्रिटिश भारतीय इतिहास की एक शर्मनाक घटना है। जो कुछ भी हुआ और उससे उपजी पीड़ा से हमें बेहद दुख है।’’
बाद में पत्रकारों से बातचीत में डोमिनिक ने कहा कि ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरेसा मे ने बुधवार को जलियांवाला बाग कांड को ब्रिटिश भारतीय इतिहास पर ‘‘शर्मनाक धब्बा’’ करार दिया।
हालांकि, टेरेसा मे ने इस घटना पर माफी नहीं मांगी। उन्होंने सिर्फ खेद प्रकट किया था।
यह पूछे जाने पर कि ब्रिटिश सरकार ने माफी क्यों नहीं मांगी, इस पर डोमिनिक ने कहा, ‘‘मैं जानता हूं कि यह वाकई एक अहम सवाल है। मैं आपसे सिर्फ इतना कहूंगा कि मैं यहां जो करने आया हूं उसका सम्मान करें, यह उन्हें याद करना है जिन्होंने 100 साल पहले अपनी जान गंवाई। और यह ब्रिटिश सरकार एवं ब्रिटिश जनता का दुख व्यक्त करने के लिए है।’’

कांग्रेस को १९४७ में मानव निर्मित त्रासदी के लिए देश से माफ़ी मांगनी चाहिए

[नई दिल्ली] कांग्रेस को १९४७ में कराये गए कत्लेआम+लूटमार के लिए देश से माफ़ी मांगनी चाहिएअब समय आ गया है जब कांग्रेस को माफ़ी मांग लेनी चाहिए |ब्रिटैन के ८० संसद जब भारत में १०० वर्ष पूर्व जलियांवाला बाग़ में किये गए कत्ले आम के लिए अपनी ही सरकार से माफ़ी की मांग कर सकते हैं और वहां की प्रधान मंत्री खेद व्यक्त कर सकती हैं तो भारत में १९४७ के घृणित अपराध पर विभाजन के लिए जिम्मेदार और उसके नतीजों को झेलने में असफल रहे कांग्रेस को माफ़ी मांग कर उस के लिए प्रायश्चित करलेनी चाहिए |
1947 में कराए कत्लेआम की अब #कांग्रेस को माफी मांग कर प्रायश्चित कर लेना चाहिए
देश विभाजित करा कर दोनों तरफ ना केवल
कत्लेआम कराया गया वरन
लूटमार मचाई गई
छोड़ी गई जमीनों को हथियाया गया
रिहैबिलिटेशन के नाम पर फ्रॉड किये गए
अब समय आ गया है जब इसके लिए उत्तरदायी दल को सार्वजनिक रूप से माफी मांग कर प्रायश्चित कर लेना चाहिएक्योंकि विभाजन से अपराधों की ज्वाला उठी उसे समेटने में तत्कालीन सरकार अक्षम रही |इसे विश्व की सबसे बढ़ी मानव निर्मित त्रासदी बताया गया है|

AAP Turned Down Possibility Of Alliance With Congress In Punjab

[New Delhi]AAP Turned Down Possibility Of Alliance With Congress In Punjab
There is no possibility of any alliance with the Congress in Punjab and the Aam Aadmi Party is presently working on a three-state equation in Delhi, Haryana and Chandigarh
A meeting of the party’s Punjab unit was Tuesday held at the residence of Deputy Chief Minister Manish Sisodia and the three names of candidates who would contest from Punjab were decided.
“The names for Bathinda, Khadoor Sahib and Ludhiana would be announced in the next one or two days,”
Sisodia held the meeting at his residence with AAP Punjab chief Bhagwant Mann and Leader of Opposition in the Punjab Vidhan Sabha Harpal Singh Cheema.
The party has till now declared the names of candidates for 10 of the 13 seats.
Polling will be held in Punjab in single phase on May 19 and results will be announced on May 23.

नोटबंदी पश्चात् आये नए नोटों में चिप की बात सत्य तो नहीं हैं:आईटी के छापे

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

भाजपाई चेयर लीडर

औए झल्लेया ! देखा हसाड़े मोदी जी का कमाल !! ना खाएंगे और ना ही खाने देंगे!!!
कांग्रेस के मध्य प्रदेश में सी एम कमल नाथ के पेट में हाथडॉल कर निकाल लिए करोड़ों अवैध रु| इस पर भी इनके राहुल गाँधी काळा धन पर चर्चा के लिए चुनौती देते फिर रहे हैं

झल्ला

मेरे चतुर सेठ जी ! वाकई इनकम टैक्स के छापे सटीक जगहों पर पढ़े हैं | और छापेमारों ने हाथोंहाथ अपनी उपलब्धि को मीडिया में दिखा भी दिया लेकिन एक बात दिमाग का दही किये जा रही है के कहीं नोट बंदी के बाद आये नए नोटों में चिप की बात सत्य तो नहीं हैं !

No Political Advertisements on Poll Day:EC

[Guwahati] No Political Advertisements on Poll Day:EC
According to a press release from the office of the Chief Electoral Officer of Assam on Sunday, no political party or candidate shall publish any advertisement in print media on poll day or one day prior to the poll day in all the phases.
However, the advertisements can be published if these are are pre-certified from the Media Certification and Monitoring Committee (MCMC) at the state or district level
The ECI has directed that in order to facilitate publication of the newspaper advertisements, MCMC at state and district level must examine and pre-certify all such advertisements received from the political parties, candidates and others, it added.

एमपी में कांग्रेस के सीएम कमलनाथ के नजदीकियों के 50 ठिकानों पर आईटी के छापे

[भोपाल,दिल्ली] एमपी में कांग्रेस के सीएम कमलनाथ के नजदीकियों के 50 ठिकानों पर आईटी के छापे
आयकर विभाग ने कर चोरी के आरोप में रविवार सुबह मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ से जुड़े लोगों के दिल्ली और मध्य प्रदेश स्थित 50 ठिकानों पर छापेमारी की।
प्राप्त जानकारी के अनुसार आयकर अधिकारियों ने इंदौर, भोपाल और दिल्ली (ग्रीन पार्क) में छापेमारी की। जिन लोगों पर छापेमारी की गई उनमें कमलनाथ के पूर्व
विशेष कार्याधिकारी (ओएसडी) प्रवीण कक्कड़,
पूर्व सलाहकार राजेंद्र मिगलानी और उनके रिश्तेदार से जुड़ी कंपनी
मोजर बेयर और उनके
भांजे रातुल पुरी की कंपनी शामिल है।
लोकसभा चुनाव की घोषणा होने से पहले ही अचार संहिता के अंतर्गत कक्कड़ और मिगलानी ने इस्तीफा दे दिया था।
इससे पहले संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार के समय वह पूर्व केंद्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया के ओएसडी थे।
फाइल फोटो