Ad

Category: Defence

ताजमहल में बम की सूचना अफवाह निकली

(आगरा)ताजमहल में बम की सूचना अफवाह निकली
उत्तर प्रदेश पुलिस के आपात सेवा नंबर 112 नंबर पर एक अज्ञात व्यक्ति ने सुबह करीब नौ बजे फोन कर दावा किया कि ताज महल में बम है।
आगरा के ताज महल में बम होने की सूचना मिलने पर उसे खाली कराया गया, हालांकि फोन पर मिली यह जानकारी बाद में अफवाह साबित हुई।
प्राप्त जानकारी के अनुसार शरारती फोन उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद से किया गया था।
बम होने की झूठी सूचना देने के आरोप में एक व्यक्ति को फिरोजाबाद से हिरासत में लिया गया है
फ़ाइल फ़ोटो

India &Pak DGsMO Join Heads to Melt Ice on Hotline Contact

(New Delhi)India &Pak DGs Join Heads to Melt Ice on Hotline Contact and Border Flag Meetings
The Director Generals of Military Operations of India and Pakistan held discussions over the established mechanism of hotline contact. The two sides reviewed the situation along the Line of Control and all other sectors in a free, frank and cordial atmosphere.
In the interest of achieving mutually beneficial and sustainable peace along the borders, the two DGsMO agreed to address each other’s core issues and concerns which have propensity to disturb peace and lead to violence.Both sides agreed for strict observance of all agreements, understandings and cease firing along the Line of Control and all other sectors with effect from midnight 24/25 Feb 2021.
Both sides reiterated that existing mechanisms of hotline contact and border flag meetings will be utilised to resolve any unforeseen situation or misunderstanding.
File Photo

मोदी के मोदकों का स्वाद निकालने को सोशल साइट्स पर टूलकिट की सप्लाई

जिज्ञासूबुद्धिजीवी
ओए झल्लेया !ये टूलकिट का क्या बखेड़ा खड़ा हो गया? ओए युवाओं से लेकर अधेड़ भी ठक ठक करने लग गए ।
झल्ला
भापा जी! हमारे जमाने मे टूलकिट वाहनों की खराबी दुरुस्त करने के लिए+घर मे नल टोंटी ठीक करने वगैरह वगैरह के लिए डिग्गी+गैराज+स्टोर में सहेजे जाते थे लेकिन अब कुछ खाली घर वालों ने टूलकिट से शैतानियां शुरू कर दी है।पीएम मोदी के मोदकों को बेस्वाद करने के लिए और व्यवस्था को लूज करने के लिए सोशल साइट्स पर इनकी मार्केटिंग शुरू कर दी है

चीन तो सीमाओं से वापिस जा रहा ये किसान आंदोलनकारी कब बॉर्डर छोड़ेंगे

#सीमांतभोटियानागरिक
ओए झल्लेया!शुक्र है चीन को सद्बुद्धि आ गई।युद्ध की संभावनाओं को टालते हुए चीन ने अपनी अतिक्रमणकारी सेनाओं को पेंगोंग झील से वापिस बुलाने शुरू कर दिए।ओए अब इस छेत्र का भी आसानी से विकास हो पायेगा
झल्ला
भापे!ठाकुर राजनाथ सिंह के संसद में ब्यानानुसार चीन तो सीमाओं से अंगुल अंगुल (फिंगर) ही वापिस जा रहा है लेकिन ये किसान आंदोलनकारी कब राजधानी का बॉर्डर छोड़ेंगे?।कब घरों को शांति पूर्वक लौटेंगे??चीन तो चला जायेगा लेकिन संसद में और संसद के बाहर चीन को लेकर चिलपों करने वाले अतिक्रमणकारी जब अपनी अपनी सीटों पर बैठ जाएंगे तभी सही मायनों में विकास के कुछ मायने होंगे।

Journo Arrest: Journos Condemn Police Action

(New Delhi)Journo Arrest: Journos Condemn Police Action
Media bodies on Sunday condemned the police action against two journalists who were picked up during the farmers’ protests at Delhi’s Singhu border for allegedly misbehaving with police personnel.
They said such crackdowns impinge on the media’s right to report freely and interferes with its right to freedom of expression.
Freelance journalist Mandeep Punia and Dharmender Singh (with Online News India) were detained by Delhi Police last evening for allegedly misbehaving with personnel on duty.
While Singh was later released, the police arrested Punia on Sunday.
The Indian Women’s Press Corps, Press Club of India and the Press Association demanded Punia’s immediate release and said no journalist should be disturbed while carrying out their duties at any place.
Police had earlier said some people including the journalist were trying to remove the barricades, the police had alleged, adding the scribe also misbehaved with the police personnel there.

मोदीभापे !आंतरिक व्यवस्था का पतनाला तो अभी भी अराजकता ही गिरा रहा है।

FB_IMG_1611286829887#भजपाईचेयरलीडर
ओये झल्लेया! अब भारत बदल चुका है।शत्रुओं के समक्ष झुके रहने वाला हसाडा मजबूर मुल्क अब महामारी फैलाने वाले वायरस के खिलाफ या फिर पाकिस्तान और चीन जैसे बीमार मुल्कों से लगी सीमाओं पर मजबूती से खड़ा है।ओए !अब एनसीसी के 100000 कैडेट्स को सीमावर्ती इलाकों में तैनात करके सीमाओं को और मजबूत किया जाएगा। हसाडे राफल को संयुक्त अरब अमीरात जैसे मुल्क हवा में फ्यूल भर रहे हैं
#झल्ला
IMG_20210123_110130_539भापा जी!आप की सारी गल्लां सिर मत्थे लेकिन आंतरिक व्यवस्था का पतनाला तो अभी भी अराजकता ही गिरा रहा है।
सोर्स लिंक https://pib.gov.in/PressReleseDetailm.aspx?PRID=1692926

योगीजी!2022 से पहले मेरठ छावनी का बजट तो बढ़वा दो

FB_IMG_1611286829887#भजपाईचेयरलीडर
ओए झल्लेया!देखा हसाडे व्योवर्द्ध विधायक #सत्यप्रकाशअग्रवाल जी ने जवानों वाली एनर्जी का प्रदर्शन करके #मेरठछावनी में 11 स्थानों पर वसूले जाने वाले #टोलटैक्स पर बोर्ड को घुटनों पर ला दिया।ओए विधायक जी ने अपने स्वभाव और अनुभव से सदस्यों को भी एक कर लिया और आंदोलन छेड़े बगैर ही 3 स्थानों से टोलनाके हटवा दिए और हमारे विपक्षी बेफालतू में विधायक बदलने की रट लगाए हैं
#झल्ला
चतुर सेठ जी! बाहर से आने वाले व्यवसायिक वाहनों से वसूले जाने वाला टोलटैक्स छावनी की भलाई में ही खर्च होता।खैर 2022 से पहले अब अपनी प्रदेश सरकार से इस कटौती को तो पूरा करवा दो

किसान+कोरोना वायरस से त्रस्त दिल्ली में अवैद्ध हथियारों का जखीरा पकड़ा

(नयी दिल्ली)किसान+कोरोना वायरस से त्रस्त दिल्ली में रिपब्लिक डे परेड से पूर्व अवैद्ध हथियारों का जखीरा पकड़ा गया।
दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने अवैध तौर पर हथियारों की आपूर्ति करने वाले उत्तरप्रदेश निवासी आशीष को गिरफ्तार किया है।
पुलिस के अनुसार आशीष की कार से 35 अर्द्ध-स्वचालित पिस्तौल और 60 राउंड जीवित कारतूस जब्त किए गए।

अमेरिकी कांग्रेस ने 740 अरब $ के रक्षा विधेयक पर ट्रंप के वीटो को किया खारिज

अमेरिकी कांग्रेस ने 740 अरब $ के रक्षा विधेयक पर ट्रंप के वीटो को किया खारिज
कार्यकाल के अंतिम दिनों में यह बड़ा झटका है।
नव वर्ष के दिन आयोजित विशेष सत्र में रिपब्लिकन बहुल सीनेट ने राष्ट्रपति के वीटो को आसानी से खारिज कर दिया और 740 अरब डॉलर के विधेयक को लेकर ट्रंप की आपत्ति को दरकिनार करते हुए उन्हें ऐसे समय में झटका दिया है, जब उनका कार्यकाल महज कुछ ही सप्ताह में समाप्त होने जा रहा है।
सीनेट ने 81-13 के बहुमत वोट से ट्रंप के वीटो को खारिज कर दिया। इस विधेयक में अमेरिकी सैनिकों के वेतन में तीन फीसदी बढ़ोतरी और रक्षा नीति से संबंधित नियम हैं जिससे सैनिकों की संख्या, नई हथियार प्रणाली, सैन्य तैयारियों और सैन्यकर्मियों से जुड़ी नीतियों और अन्य सैन्य लक्ष्यों से जुड़े फैसलों पर मुहर लगाई गई है।
इस विधेयक को मंजूरी मिलने पर ही सैन्य निर्माण समेत कई अन्य कार्यक्रम प्रभावी होते हैं।
फ़ाइल फोटो

Govt Amends Pension Rules; Disability Compensation for All Disabled Employees

(New Delhi)Govt Extends Disability Compensation for All Serving Employees
Union Minister Dr. Jitendra Singh today informed of the government decision to extend “Disability Compensation” for all serving employees, if they get disabled in the line of duty while performing their service and are retained in service in spite of such disablement.
This order will particularly provide a huge relief to young Central Armed Police Force (CAPF) personnel like CRPF, BSF, CISF, etc since disability in performance of duties is generally reported in their case due to constraints of job requirement as well as hostile or difficult work – environment.
if a government servant gets disabled while performing his duties and this disablement is attributed to government service, in that case if he is still retained in the service in spite of disablement, a lump sum compensation will be paid to him by arriving at the capitalized value of the disability element, with reference to the Commutation Table in force from time to time.
In another employee-friendly decision, the Ministry of Personnel recently did away with minimum qualifying service of 10 years for pension, if a government servant is incapacitated due to bodily or medical infirmity and retired from government service. Accordingly, Rule 38 of CCS (Pension) Rules was amended to provide Invalid Pension at 50% of the last pay, even if the employee had not completed minimum qualifying service of 10 years.
In addition to above, in yet another reform in the Pension Rules, a decision was also taken to amend the rule and provide pension at enhanced rate to the family of an employee who died during service before completing the requisite service of minimum 7 years. As a result, now the family pension of 50% of the last pay is also admissible to the family of employees who die even before completing 7 years of service.
File Photo