Ad

Archive for: April 2013

१९८४ के दंगों के आरोप से सज्जन कुमार बरी हुए:फरियादियों ने छातियाँ पीटी:भाजपा ने एस आई टी की मांग की

1984 के सिख विरोधी दंगों के मामले में कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को बरी किये जाने के दिल्ली की कड कड डूमा में जिला एवं सत्र न्यायाधीश जे आर आर्यन की अदालत के फैसले पर जहां पीड़ित फरियादियों ने छातियाँ पीट कर अफ़सोस मनाया वहीं उनके वकीलों ने उच्च न्यायलय की शरण में जाने की बात कही है| फैसले के वक्‍त कोर्ट रूम में झड़प भी हुई +गुस्‍साई भीड़ ने कांग्रेसी नेता सज्‍जन कुमार पर जूता भी फेंका.|पुलिस ने जूता फेंकने वाले व्‍यक्ति को हिरासत में ले लिया है|. फैसला आने के बाद लोगों ने कोर्ट के बाहर हंगामा भी किया | समर्थको का मानना है कि यह फैसला उनके हक में नहीं हुआ+ सो न्याय की लड़ाई जारी रहेगी| प्रमुख विपक्षी दल भाजपा ने भाजपा ने इस मामले में भी गुजरात दंगों की तरह उच्चतम न्यायालय की निगरानी वाले विशेष जांच दल यानी एसआईटी का गठन किये जाने की मांग की है| भाजपा की वरिष्ठ नेता सुषमा स्वराज ने संवाददाताओं से कहा कि अभी निचली अदालत का फैसला आया है और मामला किसी उच्च अदालत में जा सकता है इसलिए इंसाफ की उम्मीद बची है।उन्होंने कहा कि जिस तरह गुजरात दंगों में शीर्ष अदालत की निगरानी वाली एसआईटी का गठन किया गया, उसी तरह 1984 के सिख विरोधी दंगों के मामले में भी उच्चतम न्यायालय की निगरानी वाली एसआईटी का गठन किया जाना चाहिए।
कानपुर में सज्जन कुमार का सिखों ने संतनगर चौराहे पर पुतला भी फूंका।सज्जन कुमार के बरी होने की सूचना आते ही संतनगर चौराहे पर अकाली जत्था ने केंद्र सरकार और सज्जन कुमार विरोधी प्रदर्शन किया। जत्था के प्रधान सरदार हरचरन सिंह, बलबीर सिंह भाटिया, थे।
सज्जन कुमार पर दिल्ली कैंट में पांच लोगों की हत्या का आरोप था।
इस मामले में अन्य पांच आरोपियों में से तीन पर हत्या की बात साबित हुई है। इसके अलावा दो अन्य पर दंगा का मामला साबित हुआ है।पूर्व पाषर्द बलवान खोकर+ पूर्व विधायक महेन्द्र यादव+ किशन खोकर+ गिरधारी लाल एवं कैप्टन भागमल को दोषी ठहराया है+दो आरोपियों की मृत्यु हो चुकी है|

केस हिस्टरी

आपरेशन ब्ल्यू स्टार से क्षुब्ध दो सिख सुरक्षा कर्मियों ने तत्कालीन प्रधान मंत्री श्रीमती इंदिरा गाँधी की ह्त्या कर दी थी जिसके फलस्वरूप देश भर में सिख विरोधी दंगे फैले थे| दिल्ली कैंट पालम के राजनगर में १ नवम्बर १९८४ को केहर सिंह+ गुरप्रीत सिंह+रघुविंदर सिंह+ नरेंद्र पाल सिंह + कुलदीप सिंह की न्रिशंश हत्या कर दी गई थी|केहर सिंह की पत्नी जगदीश कौर + गुरप्रीत सिंह की माता ने अदालत का रुख किया था|
सीबीआई ने 2005 में जगदीश कौर की शिकायत और न्यायमूर्ति जीटी नानावटी आयोग की सिफारिश पर दिल्ली कैंट मामले में सज्जन कुमार+ कैप्टन भागमल+ पूर्व विधायक महेंद्र यादव+ गिरधारी लाल+कृष्ण खोखर + पूर्व पार्षद बलवंत खोखर के खिलाफ मामला दर्ज किया था|
इसके बाद सीबीआई ने सभी आरोपियों के खिलाफ 13 जनवरी 2010 को अदालत में आरोपपत्र दाखिल किया था. इनमें से सज्जन कुमार को कोर्ट ने बरी किया जबकि बाकी पांचों लोगों को दोषी करार दिया गया है|

प्रभु राम का रूप है – परम कृपा -(Supreme Grace) किन्तु उनका आतंरिक स्वभाव सुख देने वाला मंगल कारी है

सुखदा है शुभा कृपा, शक्ति शांति स्वरूप ।
है ज्ञान आनंदमयी, राम – कृपा अनूप ।
भावार्थ :प्रभु राम का रूप है – परम कृपा -(Supreme Grace) किन्तु उनका स्वरूप (आतंरिक स्वभाव) है – सुख देने वाला , मंगल करनेवाला, हर्ष, हित,
अच्छाई , सौभाग्य प्रदान करने वाला । उनकी कृपा अतुल्य है , वह ज्ञान एवं आनंद का भंडार है , शक्ति-सामर्थ्य , शांति-आनंद का अक्षय स्रोत है । राम कृपा सुख देने वाली है, सब का मंगल करने वाली है , शक्ति व शांति उसके निज रूप हैं , वह आनंद और ज्ञान से परिपूर्ण है अतः अनुपम है ।
रूप-स्वरूप : आभूषण का रूप है – हार, कंगन,कुंडल आदि परन्तु उसका स्वरूप है स्वर्ण । मिश्री चपटी है , दानेदार है – यह मिश्री का दिखाई देने वाला रूप है , परन्तु मिश्री का स्वरूप है- उसकी मिठास । हर प्रकार की मिश्री मीठी होती है ।
स्वामी सत्यानन्द जी महाराज द्वारा रचित अमृतवाणी का एक अंश,
प्रेषक: श्री राम शरणम् आश्रम, गुरुकुल डोरली, मेरठ,
प्रस्तुति राकेश खुराना

मेरठ पब्लिक गर्ल्स स्कूल में गिन्नी और रुपाला को क्रमश हेड गर्ल और वाईस हेड गर्ल चुना गया

[मेरठ] शास्त्रीनगर के मेरठ पब्लिक गर्ल्स स्कूल में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में छात्र समितियों का गठन किया गया|गिन्नी राजवंशी और रुपाला को क्रमश हेड गर्ल और वाईस हेड गर्ल चुना गया|जिलाधिकारी नवदीप रिनवा +निदेशक विक्रम जीत सिंह शास्त्री ने दीप प्रज्वलित करके समारोह का शुभारभ किया| आगाज वेलकम डांस की पर्स्तुती सराहनीय रही| छात्रों को मानवीय मूल्यों की शपथ दिलाई गई प्रधानाचार्य डा. सरोजिनी अनंत +मधु सिरोही+डा. कुञ्ज+कु स्नेहा+अम्बिका आदि ने इस बारहवें समारोह में अपनी उपस्थिति दर्ज़ कराई |ख्याति त्यागी ,श्रेया गोयल,अक्षिता शर्मा,वृंदा शर्मा को क्रमश अहिल्या+सरोजिनी+मैत्रे और गार्गी हाउस के लिए कैप्टेन चुना गया|

राधा गोबिंद में निश्चय चौधरी को हेड बॉय और अराध्या रस्तौगी को हेड गर्ल चुना गया

राधा गोबिंद पब्लिक स्कूल में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में चारों हाउस के पदाधिकारियों का चयन किया गया| निश्चय चौधरी को हेड बॉय और अराध्या रस्तौगी को हेड गर्ल चुना गया|चेलेंजर्स हाउस के लिए उत्कर्ष और रितेश को क्रमश कप्तान और उपकप्तान चुना गया|डेजलर्स के लिए कुनाल और शादाब वेळीयंट के लिए देव ऋषि और तान्या डिफायर्स को आयुष और याशिका क्रमश कप्तान और उपकप्तान मिले|मनन+तुषा+आयुषी+जुनेद+अभिनय+गौरव+अंकित+ अनमोल+को भी महत्पूर्व पद सौंपे गए|योगेश त्यागी ने सबको शपथ दिलाई

सरकार की अवधि कम हो रही है तो हवाई यात्रियों को जारी सुविधाओं में भी कटौती शुरू:हवाई यात्रा महंगी होगी

जैसे जैसे केंद्र सरकार की अवधि कम होती जा रही है वैसे वैसे आम जनता को दी जा रही सुविधाओं में कटौती की जाने लगी है|अब हवाई यात्रा करने वालों को मनपसंद सीट,के अलावा चेक-इन बैगेज+ खाना+स्नैक्स +ड्रिंक+एयर लाइन्स लाउंज आदि के लिए अतिरिक्त भुगतान करना होगा| इसके लिए परिचालन लागत पर नियंत्रण और विमानन कंपनी चलाने के लिए सेवाओं को अलग करना आवश्यक बताया जा रहा है |यह निर्णय एक स्वतंत्र कंसल्टेंट की सिफारिशों पर लिया गया है
एक आधिकारिक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार नागरिक विमानन मंत्री चौधरी अजित सिंह[रालोद] ने एयरलाइंस को कुछ सेवाओं को अलग कर उनके लिए शुल्क वसूलने की इजाजत दे दी है। देसी विमानन कंपनियों ने एक बार पहले भी इस तरह की पहल की थी लेकिन नागर विमानन महानिदेशालय के आदेश के बाद उन्हें तरजीही सीट आवंटन और पेयजल पर शुल्क वापस लेना पड़ा था।मंत्रालय का यह फैसला मलेशिया की किफायती विमानन कंपनी एयर एशिया द्वारा देसी सेवाएं शुरू करने के आवेदन के कुछ दिन बाद ही आया है। यदपि अभी यह स्पष्ट नही है के यह आदेश किन रूट्स और कंपनियों पर लागू होंगे|यदि लाभ वाली कंपनियों को लाभ वाले रूट्स के लिए यह लाभ दिया जाता है तो इस पर अनेकों प्रश्न चिन्ह खड़े हो सकते हैं|

हसाडी बिल्लियाँ हसाड़ी केंद्र सरकार पर ही म्याऊं करने लग गई है

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

एक दुखी कांग्रेसी

ओये झल्लेया ये तो हसाडी बिल्लियाँ हसाड़ी सरकार पर ही म्याऊं करने लग गई है| ओये ये एडिशनल सोलिसिटर जनरल हरेन रावल ने पहले तो सर्वोच्च अदालत में कोयला घोटाले सम्बंधित सील्ड रिपोर्ट देते हुए यह स्वीकार किया कि सी बी आई की रिपोर्ट को सरकारी तंत्र ने शेयर नही किया है लेकिन अब ये रावल हसाड़े सोणे एटोर्नी जनरल जी ई वाहनवती पर ही आरोप मड़ने लग गया है कि सी बी आई की सारी रिपोर्ट्स में सरकार द्वारा छेड़ छाड़ की जाती है| ओये अब तो ये रावल कहने लग गया है कि उसे बलि का बकरा बनाया जा रहा है|ओये ये तो हसाड़े कानून मंत्री और सोणे मन मोहने पी एम् को ही नंगा करने पर तुला है|

झल्ला

ओ मेरे चतुर सुजाण जी आप जी ने वोह कहावत तो सुनी ही होगी कि समुद्र में बहने वाला जहाज जब डूबने लगता है तो सबसे पहले जहाज की तली में राज करने वाले मूषक राज जहाज को छोड़ कर बाहर निकलने लगते हैं|अब ये तो आप भी मानोगे कि आप जी की सरकार का जहाज डोलने लगा है शायद इसी लिए ये आपके राज वाले आपस में ही लड़ने लग गए हैं|

मेथोडिस्ट चर्च की भूमि पर भू माफिया का कहर

[मेरठ]मेथोडिस्ट चर्च के सदस्यों ने अपने लिए आवंटित भूमि को कब्जाए जाने के षड्यंत्र का आरोप लगाते हुए अपनी जान माल की सुरक्षा के लिए आई जी से गुहार लगाई है|
सदस्यों ने आई जी पोलिस को लिखे एक पत्र में यह आरोप लगाते हुए बताया है कि ९६० सिविल लाइन्स मिशन कम्पाउंड में मेथोडिस्ट चर्च के तत्कालीन अधिकारियों ने १९९४ में भूमि आवंटित की थी जिसके लिए एक मुश्त राशि का भुगतान भी किया गया था|अब १९ साल बाद इस भूमि को खाली कराने के लिए जबरदस्ती की जा रही है| भूमि खाली नहीं किये जाने पर भू माफिया द्वारा काबिज ईसाईयों को जान से मारने की धमकी दी जा रही है|

हे प्रभु! मुझे ऐसी विधि दे दो जिससे मैं क्षण मात्र भी आप को भुला न सकूँ:गुरु नानक

काम क्रोध लोभ झूठ निंदा इन ते आपि छडावहु।
इह भीतर ते इन कउ डारहु आपन निकटि बुलावहु ।
अपुनी बिधि आपि जनावहु हरि जन मंगल गावहु ।
बिसरू नाही कबहू हीए ते इह बिधि मन महि पावहु ।
गुरु पूरा भेटिओ वडभागी जन नानक कतहि न धावहु ।

भाव -काम क्रोध लोभ झूठ और निंदा से आप ही छुड़ा सकते हैं । ये सब मुझ से बाहर कर दो और मुझे अपने पास बुला लो । किस तरह आप यह करते हैं यह केवल आप ही जानते हैं । हे प्रभु! मुझे ऐसी विधि दे दो जिससे मैं क्षण मात्र भी आप को भुला न सकूँ । गुरु नानक कहते हैं कि बड़े भारी भागों से वह पूरे सद्गुरु से मिले और उनके मन की भटकन हमेशा के लिए ख़त्म हो गई है।
वाणी: श्री गुरु ग्रन्थ साहिब जी ,
प्रस्तुती राकेश खुराना

भारतीय संसद की सोमवार की कार्यवाही भी कोयला घोटाले की कालिख से बाहर नही निकल पाई :संसद की कार्यवाही ठप्प

भारतीय संसद के दोनों सदन सोमवार को भी हंगामे की भेंट चड गए|यानि आज भी लोक तंत्र को १.९७ करोड़ का चूना लगा ही दिया गया| प्रतिदिन की कार्यवाही पर १.९७ करोड़ का खर्च आता है| उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार पहली और वर्तमान संसद की कार्यवाही लगभग १/३ रह गई है|यह अपने आप में चौंकाने वाला तथ्य है|संसदीय कार्यमंत्री कमल नाथ ने विपक्ष से संवाद स्थापित करते हुए मंगलवार को संसद के सुचारू रूप से चलने की उम्मीद व्यक्त की है लेकिन आज की कार्यवाही या तेवर देख कर कहा जा सकता है कि प्रमुख विपक्षी भाजपा इस विषय में कोई रियायत देती नज़र नही आ रही|
प्रमुख विपक्षी दल भाजपा ने वेल को कब्जा कर कोयला घोटाले और उसमे सी बी आई की कार्यप्रणाली में दखल को लेकर में प्रधान मंत्री डाक्टर मन मोहन सिंह के इस्तीफे की मांग जारी रखी| लोक सभा की स्पीकर मीरा कुमार और राज्य सभा में हामिद अंसारी सोमवार को भी हंगामे के सामने असहाय नज़र आये |इसीलिए पहले १२ बजे + २ बजे और फिर मंगल वार तक के लिए सदस स्थगित किये गए|लोक सभा में भाजपा का सोमवार का नारा रहा कोयला की दलाली है पूरी कांग्रेस ही काली है|
लेकिन समाजवादी पार्टी ने हमेशा की तरह केंद्र सरकार की ढाल बनते हुए चीन द्वारा १९ किलोमीटर अतिक्रमण का मुद्दा उठाया| सपा सुप्रीमो और पूर्व रक्षा मंत्री मुलायम सिंह यादव ने केंद्र सरकार की कार्यवाही को डरपोक +अक्षम बताया | उन्होंने कहा कि भारतीय फौज चीन को जवाब देने में सक्षम है लेकिन सरकार का कायरता पूर्ण व्यवहार रुकावट पैदा कर रहा है| सपा सांसदों ने भी वेल में आकर चीन की घुसपैंठ की तरफ ध्यान खीचने का प्रयास किया|
समाजवादी पार्टी प्रमुख ने तो विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद के आगामी माह में चीन दौरे पर ही सवाल उठा दिए.उन्होंने चीन को सबसे बड़ा दुश्मन बताते हुए कहा कि हम कब से चेतावनी दे रहे हैं कि चीन ने हमारे क्षेत्र पर कब्जा करना शुरू कर दिया है. लेकिन सरकार है कि सुनने को तैयार नहीं है|
पूर्व रक्षा मंत्री ने दावा किया कि चीन भारत के एक लाख वर्ग किलोमीटर भूभाग पर कब्जा कर चुका है और भारत सरकार कुछ नहीं कर रही है.|
कोयला घोटाले जैसे मुद्दे पर सरकार की प्रतिष्ठा दावं पर हो सकती है इसीलिए इस विषय पर बहस को टाला जाना समझ में आता है लेकिन चीन जैसे राष्ट्रवादी मुद्दे पर भी बहस से बचा जा रहा है इस गंभीर राष्ट्रवादी मुद्दे को मात्र अपनी सुरक्षा के लिए इस्तेमाल किया जाना अपने आप में चिंताजनक है|

शीला दीक्षित अपने घर में सोती रह गई और आप के पांच ने साडे दस लाख पत्र डिलीवर भी कर दिए

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

आम आदमी पार्टी का एक चीयर लीडर

ओये झल्लेया देखा हसाडी टोपी और लाठी का कमाल \ओये दिल्ली की मुख्य मंत्री श्रीमती शीला दीक्षित अपने घर में सोती रह गई और हसाड़े पञ्च बड़ों ने असहयोगियों के साडे दस लाख पत्र डिलीवर भी कर दिए ओये अब तो हसाडी राजनीति को मानता है की नही?

झल्ला

हाँ चतुर सुजान जी बेशक आप साडे दस लाख पत्रों की डिलीवरी पर जश्न मना सकते हो लेकिन अब एक तो मुद्दा आपके हाथ से निकल गया |बाल दिल्ली की सरकार के पाले में आ गई है| कोई शक नहीं अब वहां इन पत्रों का पोस्ट मार्टम शुरू कर दिया जाए|