Ad

Category: Natural Calamity

पँजांब में 5 राजनीतिक दल भी कोरोना के ख़िलाफ़ एक जुट नही

(चंडीगढ़,पँजांब)पँजांब में 5 राजनीतिक दल भी कोरोना के ख़िलाफ़ एक जुट नही
#कोरोना ने एक दिन में 64 #पंजाबियों के जीवन को ग्रास बनाया। कोरोना से मरने वालों की संख्या 2990 पर पहुंच चुकी है।
#कृषिबिलों में उलझे #पँजांब में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या चिंताजनक 103464 पर पहुंच चुकी
है । सत्तारूढ़ कांग्रेस +विपक्ष में आये शिरोमणि अकालीदल,सहयोगी भजपा और मुख्यविपक्ष के रूप में उभरी आप पार्टी के अलावा अनेक राजनीतिक जत्थेबंदियों ने सुर्खियां बटौरने के लिए अलग अलग बहना स्वीकर कर लिया है अब स्थिति यह हो गई कि ऑक्सीजन के लिए भी केंद्र से गुहार लगाई जा रही है।
5 राजनीतिक दल मिल कर भी पँजांब को महामारी से बचाने के बजाय
सुर्खियां बटौरने, दूसरे की जड़ों में प्रहार करने में व्यस्त हैं
#कोरोना ने दिन में 64 #पंजाबियों के जीवन को ग्रास बनाया ,मरने वालों की संख्या 2990 पर पहुंची
नेता #कृषिबिलों में उलझे हैं

Manish Sisodia Hospitalised in LNJP Due to COVID-19

(New Delhi) Deputy CM Sisodia hospitalised due to COVID-19
Deputy Chief Minister Manish Sisodia was admitted to the ICU of the Delhi government-run LNJP Hospital on Wednesday due to coronavirus infection, and his condition is stable
The 48-year-old Aam Aadmi Party leader was admitted to the Lok Nayak Jai Prakash Narayan Hospital at around 4 PM after he complained of fever and low oxygen level, an official said, adding that he is under observation.
According to officials, Sisodia is being kept in the Intensive Care Unit as a precautionary measure and is on oxygen support.
Sisodia had tested positive for the infection on September 14 and was in home isolation.
He was unable to attend the one-day assembly session on September 14 since he had tested positive.
Sisodia is the second Cabinet minister in the Arvind Kejriwal government to get COVID-19 infection after Health Minister Satyendar Jain.

Vini Mahajan Asks Oxygen Manufacturers to Ramp up Production

(Chd,Pb)Vini Mahajan Asks Oxygen Manufacturers to Ramp up Production in Punjab
Punjab Chief Secretary Vini Mahajan on Saturday asked Oxygen manufacturers in the state to ramp up production, while directing the concerned government departments to ensure 24X7 power availability and adequate supply of empty cylinders to ensure uninterrupted and seamless manufacturing.
At a Video Conference (VC) with the state’s Oxygen manufacturers working closely with the government to save lives, Vini assured of full support from the government to address their concerns

संसद में #प्रश्नकाल समाप्त किये जाने पर विपक्ष भड़का

संसद में #प्रश्नकाल समाप्त किये जाने पर विपक्ष भड़का
#संसद में #प्रश्नकाल समाप्त किये जाने पर विपक्ष भड़का
कल तक जो विपक्ष क्वेश्चनऑवर में हंगामा करके सदन भंग कराता आया है वोही विपक्ष आज क्वेश्चन ऑवर को इस विशेष सत्र के लिए समाप्त किये जाने पर एक जुट दिखा
कांग्रेस के अधिरजंन चौधरी और मनीष तिवारी के साथ ही असीदुद्दीन ओवैसी के स्वर भी समूहगान बने
रक्षामंत्री राजनाथसिंह ने सरकार की तरफ से मोर्चा सम्भालते हुए कहा कि शून्यकाल में कोई भी अतारांकित प्रश्न पूछे जा सकते है उन्होंने विपक्ष को घेरते हुए बताया कि क्वेश्चनऑवर समाप्त किये के विषय मे विपक्षी दलों की सहमति ले ली गई थी

Capt Rolls Out Smart Ration Card Scheme for 1.41 Crore Punjabis

(Chd,Pb)Capt Rolls Out Smart Ration Card Scheme for Punjab
Punjab Chief Minister Captain Amarinder Singh on Saturday rolled out a smart ration card scheme for providing subsidised foodgrains to 1.41 crore beneficiaries in the state.
He also announced a separate state-funded scheme to provide subsidised rations to nine lakh beneficiaries not covered under the National Food Security Act (NFSA).
The CM said the Centre has capped the maximum number of beneficiaries to 1.41 crore and, despite repeated requests, has not agreed to provide subsidised rations to the deserving nine lakh people not covered under the NFSA.
His government has therefore decided to cover all such left out eligible persons under a state-funded scheme, details of which will be announced shortly, he said.
The CM lashed out at the BJP-led central government for attempting to destroy through three farm ordinances the spirit of Punjab’s farmers, who, he said, have toiled for the country and fed the nation.
In a symbolic gesture, the CM handed over the smart ration cards to four beneficiaries here, after which all ministers and MLAs distributed cards in their respective districts and constituencies
The Smart cards will enable the beneficiaries to take ration from any shop, thus ending the monopoly of the ration depots.
One card will suffice for the entire family

कॉरोनानुसरों से पस्त पँजांब “कांग्रेस” और “आप” मे नूरा कुश्ती

#कोरोनापीड़ित पंजाबी
ओए झल्लेया! ये क्या हो रहा है?
#कॉरोनानुसरों से अस्पताल वाले धनाढ्य हो रहे हैं हम लोग एक लाख ₹ रौजाना देकर भी शव लाने को अभिशिप्त है। मोये #कोरोना प्रोटोकॉल के नाम पर अपने प्रियजनों को विदाई छोड़ो घर मे पंडित+काम वाली बाई भी आने को तैयार नही है ।इस महामारी में ये कांग्रेस और आम आदमी पार्टी कुछ सकारात्मक करने के बजाय आपस मे ही उलझ रहे हैं और हमारे जख्मो पर नमक छिड़क रहे हैं।खाक हो जाएंगे हम इनको खबर होने तक।
#झल्ला
भापा जी!आप जी का यह दर्द जायज है।दरअसल पंजाब और दिल्ली प्रदेश में हालात पर सरकारों का नियंत्रण नही दिख रहा। कैप्टेन साहिब आखरी सियासी पारी खेल रहे हैं।हर तरफ भयावह आपदा को सुनहरी अवसर में तब्दील करने की हौड़ है यूपी भी इस दौड़ में आगे है।
ऐसे में हमारा ध्यान भटकाने के लिए सीमा पर चीन और भारत की तरह मुल्क में भी नूराकुश्ती जरूरी है

पेंशन के लिए लाइफ सर्टिफिकेट जमा करने की समय-सीमा 31 दिसम्बर तक बढ़ाई

पेंशन के लिए लाइफ सर्टिफिकेट जमा करने की समय-सीमा 31 दिसम्बर तक बढ़ाई
केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने बुजुर्ग लोगों को बड़ी राहत देते हुए जीवन प्रमाण-पत्र (लाइफ सर्टिफिकेट) जमा करने की मौजूदा समय-सीमा में ढील दी है।
केंद्र सरकार के सभी पेंशनभोगी 1 नवंबर, 2020 से 31 दिसंबर 2020 तक जीवन प्रमाण पत्र प्रस्तुत कर सकते हैं। पहले पेंशन की निरंतरता बनाए रखने के लिए जीवन प्रमाण पत्र जमा करने का काम नवंबर के महीने तक ही हुआ करता था। हालांकि,80 वर्ष या उससे अधिक आयु वर्ग के पेंशनभोगी 1 अक्टूबर, 2020 से 31 दिसंबर, 2020 तक जीवन प्रमाण पत्र प्रस्तुत कर सकते हैं। इस विस्तारित अवधि के दौरान पेंशन प्रदाता प्राधिकरण (पीडीए) द्वारा निर्बाध भुगतान जारी रखा जाएगा।

Capt Amarinder Govt Failed to Handle Pandemic: SAD

(Chd,Pb)Capt Amarinder Govt Failed to Handle Pandemic: SAD
Shiromani Akali Dal (SAD) president Sukhbir Singh Badal on Friday claimed that the Amarinder Singh government in Punjab had failed “miserably” in handling the COVID-19 pandemic.
Badal said the state has the highest fatality rate (2.95%) in the country and asked the chief minister to take stock of the situation on the ground.

“The Congress government’s strategy to counter COVID had been criticised by its own Health Advisor Dr K K Talwar, who had indicted the government for not tracing contacts of COVID cases in July and failure to manage micro-containment zones,” Badal said.
“Hospitals are facing a huge shortage of liquid oxygen with the demand going up to 100 metric tonnes against a supply of only 15 metric tonnes. Instead of raising this supply and ensuring oxygen supply to hospitals is put on the priority list, Capt Amarinder Singh is indulging in theatrics about the distribution of oximeters,” Badal added.

Punjab Ministers Saddles Their Horse For Bars

(Chd,Pb)Punjab Ministers Saddles Their Horses For Bars
A Group of Punjab Ministers has decided to recommend to the Chief Minister waiver of annual license fee of the Bars for the years 2020-21,
Similarly, quarterly assessed fee for the first two quarters i.e. April-June and July-September, 2020 to be charged from the Bars may be waived off, they have decided to suggest to the Chief Minister.
Bar Associations made their representation to the Group, comprising Finance Minister Manpreet Singh Badal, Housing & Urban Development Minister Sukhbinder Sarkaria and Forests and Printing & Stationery Minister Sadhu Singh Dharamsot.
Due to the Covid-19 pandemic, the hotels, restaurants and marriage palaces are closed since March, 2020, due to which the Associations said they were suffering heavy losses. Till date, business activity was at a standstill, they represented to the Group of Ministers.

मुल्क कोरोना से त्रस्त ,नेतागण पाद मारने में या फिर भौंकने में व्यस्त

#चिंतितसमाजिकचिन्तक
ओए झल्लेया! ये क्या हो रहा है?
ओये जिधर देखो कॉरोनानुसरों ने उधम मचा रखा है ।अस्पतालों मे इस आपदा को अवसर बना डाला है ।अस्पतालों में रिपोर्ट का नेगेटिव पॉजिटिव खेल चल रहा है ।
एक लाख ₹ तक रौजाना वसूले जा रहे हैं फिर भी मरीज वापिस घर के बजाय श्मशान पहुंचाए जा रहे है
#झल्ला
Clipart-Cartoon-Design-14वाकई! भापा जी!!
कोरोना को तो लोगों ने मख़ौल समझ रखा है और ये जालिम #लुधियाणां से #मेरठ तक मरीजों को निगलता जा रहा है और कमबख्त डकार भी नही ले रहा
।नेतागण या तो पाद मारने में या फिर एक दूसरे पर भौंकने में ही व्यस्त हैं