Ad

Category: Natural Calamity

PM Modi Takes 1st Dose of COVID-19 Vaccine

(New Delhi) PM Modi takes first dose of COVID-19 vaccine
Prime Minister of India Narendra Modi took his first dose of the COVID-19 vaccine today,at AIIMS New Delhi.
In a tweet, the Prime Minister said, “Took my first dose of the COVID-19 vaccine at AIIMS. Remarkable how our doctors and scientists have worked in quick time to strengthen the global fight against COVID-19. I appeal to all those who are eligible to take the vaccine. Together, let us make India COVID-19 free!”

कोरोना नियमो के अपराधियों के पश्चात आंदोलनकारी किसानों को भी अभयदान मिलेगा ?

झल्लीगल्लां
दिल्लीनिवासी
ओए झल्लेया! ये क्या हो रहा है? ओए कोरोना और किसानों को लेकर वैसै ही आटा गिला है ऊपर से हुक्मरानों ने ट्रैफिक और कोरोना के नाम पर पौने दो सौ करोड़ ₹ का जुर्माना थोप कर गरीबों को आटा गूंथने लायक भी नही छोड़ा ।
झल्ला
झल्लाभापा जी! कोरोना नियमो के अपराधियों के पश्चात आंदोलनकारी किसानों को भी अभयदान मिलेगा ?
इसीको तो कहते है बनाना रिपब्लिक यानि अपनी ढपली अपना राग। नहीं समझे अरे दिल्ली के कानून यूपी में नही चलते ।नही समझे? अरे कोरोना नियमों को तोड़ने वालों से जुर्माना वसूलना तो दूर अब उनके खिलाफ दर्ज हजारों मुकद्दमे वापिस लेने का फरमान योगी जी महाराज निकाल चुके है।अब शायद कुछ समय पश्चात आंदोलनकारी किसानों को भी अभयदान मिल ही जाना है

जस्टिनट्रूडो जी वैक्सीन तो मिल जाएगी ,खालिस्तानियों को हसाडे खिलाफ इस्तेमाल नही करना।

#कैनेडियननागरिक
ओए झल्लेया!भारत को विश्व कल्याण के अपने वायदे को निभाते हुए हसाडे माननीय पीएम जस्टिन ट्रूडो के टेलीफोन पर तुरन्त कार्यवाही करते हुए हमें वैक्सीन की खेप भेज देनी चाहिए
अब तो ट्रूडो ने भारतीय फार्मास्‍युटिकल क्षमता की सराहना कर दी है । अब तो जल्दी करो।
झल्ला
जस्टिनट्रूडो जी वैक्सीन तो मिल जाएगी ,खालिस्तानियों को हसाडे खिलाफ इस्तेमाल नही करना।
भापे ! आगेसे पुनः खालिस्तानियों को हसाडे आगे कभी खड़ा नही करना।

डॉ हर्षवर्धन ने एम्‍स,विश्राम सदन में निराश्रित लोगों में कंबल+मास्‍क+साबुन वितरित किए

(नई दिल्ली) डॉ. हर्षवर्धन ने विश्राम सदन, एम्‍स, नई दिल्‍ली में रह रहे निराश्रित लोगों में कंबल, मास्‍क और साबुन वितरित किए
केन्‍द्रीय स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन के साथ रेडक्रॉस सोसायटी के महासचिव आर.के.जैन, एम्‍स के निदेशक प्रोफेसर आर.गुलेरिया और एम्‍स के अन्‍य वरिष्‍ठ अधिकारी भी इस अवसर पर मौजूद थे।
डॉ. हर्षवर्धन ने इस बात का स्‍मरण किया कि आईआरसीएस वर्ष 1920 से ही जरूरतमंद लोगों की मदद करने के लिए प्रतिबद्ध है। इसका मानवीय प्रयासों का एक समृद्ध इतिहास रहा है। इसका कार्य केवल आपदाओं और आपातकालीन स्थितियों तक ही सीमित नहीं है, बल्कि यह संस्‍था अनेक सामाजिक विकास गतिविधियां भी नियमित रूप से चलाती है। रेडक्रॉस ने लॉकडाउन के दौरान सरकार के प्रयासों में योगदान दिया है और लॉकडाउन में फंसे लोगों की भी मदद की है। इसके अलावा इसने इस महामारी के दौरान रक्‍त की उपलब्‍धता भी सुनिश्चित की है।

Punjab Records 2 More Deaths,207 New Cases :Covid 19

(Chd,Pb)Punjab Records 2 More Deaths,207 New Cases :Covid 19
Punjab on Sunday reported Two more deaths took the toll to 5,642,
Five critical patients are on ventilator support, while 97 are on oxygen support,
According to a medical bulletin.207 fresh coronavirus cases, bringing the infection count to 1,74,646.
There are 2,176 active COVID-19 cases in the state, as of now.
SBS Nagar reported 51 new cases,
Ludhiana 23 and
Jalandhar 21 among fresh COVID-19 cases witnessed in the state.
A total of 185 coronavirus patients were discharged after recovery, taking the number of those recovered to 1,66,828, as per the bulletin.

Sewers Took Lives of 340 Cleaners in Last Five Yrs

(New Delhi)Sewers Took Lives of 340 Cleaners in Last Five Yrs
Social Justice and Empowerment Minister Ramdas Athawale Responding to a question in the Lok Sabha,shared data on the number of such deaths reported by states and UTs in the last five years.
According to the data, the highest number of deaths have been reported from
Uttar Pradesh at 52 followed by
Tamil Nadu at 43,
Delhi at 36,
Maharashtra at 34 and
Gujarat and Haryana each at 31.

COVID-19 Tally of Death Mounted to 153847

(New Delhi) COVID-19 Tally of Death Mounted to 153847
The death toll increased to 1,53,847 with 123 daily new fatalities, the data updated at 8 am
India’s COVID-19 tally of cases crossed 1.07 crore with 11,666 new coronavirus infections being reported in a day, while the national recovery rate climbed to 96.94 per cent, according to the Union Health Ministry data updated on Thursday.
The number of people who have recuperated from the disease surged to 1,03,73,606 pushing the national COVID-19 recovery rate to 96.94 per cent. The COVID-19 case fatality rate stands at 1.44 per cent.
The COVID-19 active cases remained below 2 lakh for the ninth consecutive day.
There are 1,73,740 active coronavirus infections in the country which comprises 1.62 per cent of the total caseload, the data stated.
According to the ICMR, 19,43,38,773 samples have been tested up to January 27 with 7,25,653 samples being tested on Wednesday.
New fatalities include
32 from Maharashtra,
20 from Kerala,
10 from Punjab and
9 from Delhi.
A total of 1,53,847 deaths have been reported so far in the country including
50,894 from Maharashtra followed by
12,333 from Tamil Nadu,
12,207 from Karnataka,
10,829 from Delhi,
10,139 from West Bengal,
8,636 from Uttar Pradesh and,
7,152 from Andhra Pradesh.
The health ministry stressed that more than 70 per cent of the deaths occurred due to comorbidities.

कोरोना से उत्पन्न आर्थिक संकट से उबरने को बाइडेन कृषि मार्ग अपनाएं;मनप्रीतबादल

(चंडीगढ़/बठिंडा,पँजांब) कोरोना से उत्पन्न आर्थिक संकट से उबरने को बाइडेन कृषि मार्ग अपनाएं;मनप्रीतबादल
पँजाब के वित्त मंत्री ने कृषि संकट से उभरने के लिए दोतरफा हल सुझाए हैं। पहला, कृषि कानूनों को रद्द किया जाए और दूसरा, भारतीय आर्थिकता को मज़बूत करने के लिए विश्वव्यापी तजऱ् पर कृषि में व्यापक निवेश की शुरुआत की जाये। उन्होंने कहा कि अगर हमारे मूलभूत और कृषि क्षेत्र में विकास नहीं होता तो निर्माण और सेवा क्षेत्र का विकास भी संभव नहीं है।पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने कहा है कि कोरोना महामारी के कारण उभरी आर्थिक मंदी से बाहर निकलने के लिए भारत को अमरीकी राष्ट्रपति द्वारा बनाई योजना की तरफ ध्यान देना चाहिए। भारत के प्रधानमंत्री को बाइडन के रिकवरी प्लान से प्रेरणा लेनी चाहिए, जिसने पहले ही अमरीका के कृषि विभाग को उनके खाद्य क्षेत्र पर ध्यान केंद्रित करने के निर्देश जारी कर दिए हैं।
आर्थिकता को फिर रेखा पर लाने की (रिकवरी योजना) अमरीका की योजना का हवाला देते हुए पंजाब के वित्त मंत्री ने कहा कि अमरीका में लगभग तीन करोड़ लोगों को भूख का सामना करना पड़ रहा है और इसमें 1 करोड़ 20 लाख बच्चे शामिल हैं। उनकी सहायता के लिए नये अमरीकी प्रशासन ने अन्य सभी मुद्दों की अपेक्षा कृषि और भोजन को प्राथमिकता दी है। पाँच-नुक्ता एजंडे में उन्होंने कृषि को पहली प्राथमिकता दी है, इसके बाद वित्तीय सहायता, बुज़ुर्ग और बेरोजग़ार हैं।
आज बठिंडा में पत्रकारों को संबोधन करते हुए पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सभी देश कोविड के स्वरूप पैदा हुए आर्थिक संकट से बाहर आने के लिए किसानों और कृषि क्षेत्र पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत के कृषि मंत्रालय को किसानों और कृषि क्षेत्र पर ध्यान केंद्रित करके विश्व स्तरीय रणनीति से प्रेरणा लेनी चाहिए।
भारत में अमरीका के मुकाबले स्थिति अधिक खऱाब है। अमरीका में दो करोड़ के मुकाबले भारत में 20 करोड़ लोग खाद्य असुरक्षा का सामना कर रहे हैं। भारत की खाद्य असुरक्षा प्रणाली नेपाल, बांग्लादेश, श्रीलंका और पाकिस्तान से भी नीचे दर्ज की गई है और कोरोना महामारी के दौरान इसमें और पतन आया है। मनप्रीत बादल ने कहा कि ऐसी स्थिति में यह लाजि़मी है कि भारत सरकार किसान की रोज़ी-रोटी पर हमला करने की बजाय उनको सहायता प्रदान करे।

Punjab Booked 10 Corona Deaths & 212 Fresh Cases

(Chd,Pb) Punjab Booked 10 Corona Deaths & 212 Fresh Cases
This has pushed the overall figures to 5,553 fatalities and 1,71,733 infections
Mohali accounted for 39,
Hoshiarpur 31 and
Ludhiana 29.
As many as 11 patients are on ventilator support ,while 77 are on oxygen support
A total of 232 coronavirus patients were discharged in a 24-hour period after recovering from the infection, taking the number of recoveries to 1,63,887, as per the bulletin.

कोरोना योद्धाओं का स्वैछिक टीकाकरण;अवसादी विपक्ष करे उई उई

#उत्साहितभजपाई
ओए झल्लेया! ये मुल्क में कैसी उल्टी हवा बहाई जा रही है। हसाडे कर्मठ प्रधानमंत्री नरेंद्रमोदी और समर्पित स्वास्थ्यमंत्री डॉ हर्षवर्धन जी के अथक मार्गदर्शन और प्रोत्साहन से विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान सफलतापूर्वक प्रारम्भ हो गया। फ्रंट लाइनर कोरोना योद्धा स्वेच्छा से संजीवनी रूपी वैक्सीन लगवा कर टीकोत्सव मना रहे है लेकिन ये विपक्ष वाले ख़्वाहमखा उई उई किये जा रहे हैं।
#झल्ला
सेठ जी! ये बेचारे मानसिक दबाब से अवसाद की स्थिति में आ पहुंचे हैं इसीलिए इन बेचारों से घृहणा नही वरनइनके प्रति सहानुभूति दिखाएं