Ad

Category: Jhalli Gallan

ईवीएम के नतीजों के वीवीपैट -पर्ची से ५०% मिलान से तो कई चरणों में चुनाव होंगे

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

कांग्रेसी चेयर लीडर

औए झल्लेया! अब ईवीएम पर हसाडी बात का समर्थन करने के लिए २१ दल एक जुट हो गए हैं | इन सभी २१ दलों ने ई वीएम के ५०% मतों का मिलान वोटर्स वेरिफाइड पेपर्स ट्रेल [वी वी पैट -पर्ची ] से कराये जाने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में दल दल मचा दी है और माननीय कोर्ट ने भी चुनाव आयोग से जवाब तलब कर लिया है |मोदी की मोदी गिरी को भी अब देख लेंगे|

झल्ला

मेरे चतुर सुजान जी! अभी कुछ चरणों में चुनाव कराये जाने को लेकर आपलोगों ने चिल्पों मचानी शुरू करदी | अगर आपकी गल मान ली गई तो कई चरणों में चुनाव होंगे और उससे आपलोगों को ज्यादा कष्ट होगा

मोदीभापे!१९४७ से लंबित रिहैबिलिटेशन क्लेम देने पीड़ितों के घर में भी अवतरित हों

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

भाजपाई चेयर लीडर

औए झल्लेया ! देखा ५६ इंच के सीने वाले का कमाल!
हसाड़े धाकड़ पीएम नरेंद्र भाई दामोदर दास मोदी जी ने पाकिस्तान में पनपाये जा रहे आतंकवादियों को चेतावनी दे डाली है |अब तो उनके घर में घुस कर मारेंगे |

झल्ला

सेठ जी! ठीक हैं !उन्हें जहां चाहो मारो ,लेकिन १९४७ के पीड़ितों को उनके हक का रिहैबिलिटेशन क्लेम देने उनके घर भी तो अवतरित हों

दिग्गी राजा !अच्छा है !!जुबानी हिसाब सही!!! ना खाता ना बही !!!![व्यंग]

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

कांग्रेसी चीयर लीडर

औए झल्लेया! हमारे दिग्गी राजा ने पुलवामा को दुर्घटना क्या कह दिया ये सारे भाजपाई हाथ धो कर उन्हें देश द्रोही साबित करने पर आमादा हो गए | अब राजा जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके विरुद्ध #देशद्रोह का मुकदद्मा दर्ज करने के चुनौती दे दी है

झल्ला

अच्छा है
जुबानी हिसाब सही
ना खाता ना बही

केजरीवाल साहब! कौन से खेत का #खरबूजा खाते हो ???[व्यंग]

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

आम आदमी पार्टी चेयर लीडर

औए झल्लेया! देखा हमारे अरविन्द केजरीवाल साहिब का कमाल!
कांग्रेस समझौते की टेबल पर आ ही गई| अब हमने दिल्ली में लोक सभा की सभी सातें सीटें जीत लेनी है

झल्ला

साहब जी पहले ये बताओ के कौन से खेत का खरबूजा खाते हो ???

योगी जी!आपके कोष से बरस रही आर्थिक सहायता लेकिन मेरठ में सूखा [व्यंग]

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

भाजपाई चेयर लीडर

औए झल्लेया! देखा ! हसाड़े योगी मुख्य मंत्री ने इस महीने भी विभिन्न रोगों से पीड़ित 75 लोगों को 95 लाख 32 हजार रु0 की आर्थिक सहायता प्रदान की है

झल्ला

योगी जी!आपके कोष से बरस रही आर्थिक सहायता लेकिन मेरठ में सूखा [व्यंग]
मेरे चतुर सेठ जी!बेशक आपजी के मुख्यमंत्री जी प्रत्येक माह ये सहायता बाँट रहे हैं लेकिन पश्चिमी यूपी विशेषकर मेरठ में तो सूखा ही नजर आ रहा है

राजस्थान में सुशासनार्थ “कलम” पर पकड़ जरुरी है [व्यंग]

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

राजस्थानी चेयर लीडर

औए झल्लेया! मुबारकां!!औए हसाड़े पर्यटन मंत्री, विश्वेन्द्र सिंह ने पिंक सिटी प्रेस क्लब के सदस्यों लिए टॉप क्लास की टूरिज्म सुविधाओं को सुनिश्चित किया गया है
अब 40 पत्रकारों को (20 पत्रकार प्रति छह माह में) मय परिवार एक दिवस के लिए राजस्थान पर्यटन विकास निगम की होटलों में एक रात्रि आवास व भोजन राजस्थान पर्यटन के अतिथि के रूप में उपलब्ध करवाया जावेगा। भ्रमण उपरान्त पत्रकारों से सुझाव व प्रतिक्रियाएं आमंत्रित कर पर्यटन का प्रचार-प्रसार किया जायेगा।

झल्ला

मेरे चतुर सुजान जी !सुशासन दिखाने के लिए कलम को भी काबू रखना जरुरी है

फर्जीकल स्ट्राइक के नायक को राष्ट्रीय सुरक्षा निति बनाने का दायित्व

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

कांग्रेसी चीयर लीडर

औए झल्लेया! मजा आ गया!! औए उरी सर्जिकल स्ट्राइक के नायक लेफ्टिनेंट जनरल डी एस हुड्डा को हसाडी ऐतिहासिक कांग्रेस में शामिल कर लिया गया है|औए हसाड़े कर्मठ अध्यक्ष राहुल गांधी जी ने अब बना लेनी हैं राष्ट्रीय सुरक्षा की उपयोगी निति

झल्ला

चतुर सुजान जी!पहले आप सर्जिकल स्ट्राइक को फर्जीकल स्ट्राइक बताने में अपनी सांस फुलाये जा रहे हैं थे और बिना पानी पिए मरकजी हुकूमत को कोसे जा रहे थे|अब फर्जीकल स्ट्राइक के नायक को राष्ट्रीय सुरक्षा निति बनाने का दायित्व सौंप दिया |वाकई “हर कोई चाहता है ईक मुट्ठी आसमान “

कांग्रेस शासित राजस्थान ने केन्द्र से महानरेगा के लिए एक हजार करोड़ रूपये मांगे

[जयपुर]कांग्रेस शासित राजस्थान ने केन्द्र से महानरेगा के लिए एक हजार करोड़ रूपये मांगे
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केन्द्र सरकार से चालू वित्तीय वर्ष (2018-19) की शेष रही अवधि के लिए महानरेगा योजना के तहत एक हजार करोड़ रूपये की राशि जारी करने की मांग की है।
सीएम ने केन्द्रीय ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर को लिखे पत्र से अवगत कराया है कि राजस्थान में महानरेगा के तहत केन्द्र सरकार की ओर से
सामग्री मद में 543 करोड़ रूपये तथा
श्रम मद में 260 करोड़ रूपये बकाया हैं।मालूम हो के राजस्थान के साढ़े पांच हजार अभावग्रस्त गावों में ५० दिन का अतिरिक्त मनरेगा रोजगार देने की घोषणा की जा चुकी है
पूर्व में भी प्रदेश के उप मुख्यमंत्री श्री सचिन पायलट की ओर से 23 जनवरी, 2019 को केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय को पत्र लिखा गया है।
मुख्यमंत्री ने अपने पत्र के माध्यम से इस वित्तीय वर्ष में राजस्थान के लिए महानरेगा के तहत श्रम मद में 400 करोड़ रूपये और सामग्री मद में 600 करोड़ रूपये जल्द से जल्द जारी करने का आग्रह किया है।
श्री गहलोत ने बताया कि महानरेगा योजना की क्रियान्विति में राजस्थान देश के अग्रणी राज्यों में है और प्रदेश में वर्तमान वित्तीय वर्ष में 42.33 लाख ग्रामीण परिवारों को महानरेगा के तहत काम दिया गया है। इससे कुल 1972.23 लाख मानव दिवस सृजित हुए हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने वर्ष 2018-19 के लिए अब तक महानरेगा योजना के लिए जारी सम्पूर्ण राशि का उपयोग कर लिया है। इस योजना के लिए अब तक कुल 4 हजार 555 करोड़ रूपये खर्च हुए हैं। उन्होंने बताया कि राज्य के मुख्य सचिव तथा अतिरिक्त मुख्य सचिव ग्रामीण विकास ने भी नवम्बर, 2018 और जनवरी, 2019 में केन्द्रीय मंत्रालय को पत्र लिखकर वर्ष 2018-19 के लिए महानरेगा के तहत राशि जारी करने का अनुरोध किया था।

सपा ने सडकों से लेकर विस और संसद[बजट सेशन]में तांडव मचाया उससे क्या लोक तंत्र बचा

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

समाजवादी चेयर लीडर

औए झल्लेया ये यूपी में क्या हो रहा है?
हसाड़े सोणे प्रदेश में दिनदहाड़े +खुलेआम लोक तंत्र का गला घौटा जा रहा है |हसाड़े संभ्रांत अध्यक्ष श्रीमान अखिलेश यादव जी को अपने ही प्रयागराज नहीं जाने दिया गया |औए अलाहाबाद विश्वविद्यालय के कार्यक्रम में ही नहीं जाने दिया गया| झल्लेया! लोक तंत्र खतरे में है

झल्ला

पहलवान जी !आपके अध्यक्ष जी को कानून व्यवस्था को बनाये रखने के लिए वर्तमान में अतिसंवेदनशील अलाहाबाद नहीं जाने दिया गया |प्रबंधन के आग्रह पर छात्र असंतोष में सुलगते विश्व विद्यालय में नहीं जाने दिया गया तो तो लोक तंत्र खतरे में आ गया |
लेकिन जरा सोचो के समाजवादियों ने सरेआम +खुलेआम+सुबह शाम सडकों से लेकर विधानसभा और संसद के दोनों सदनों में चल रहे बजट सेशन में तांडव मचाया | ड्यूटी बजा रहे पुलिस और पत्रकारों को पीटा |उससे क्या लोक तंत्र बचा ???

देशद्रोह की परिभाषा तय करने के लिए केजरीवाल ने भी चुनावी मौसम पर ही नजरें गढ़ाई

झल्ले दी झल्लियाँ गल्लां

आम आदमी पार्टी चेयर लीडर

औए झल्लेया! ये तो सरासर अलोकतांत्रिक है
देख तो! चुनावी फायदे के लिए कन्हैया कुमार के खिलाफ देश द्रोह की चार्जशीट दायर कर दी गई है |क्या ऐसे चुनाव जीते जाते है?

झल्ला

मेरे चतुर साहिब जी! आप भी तो देश द्रोह की परिभाषा तय करने के लिए चुनावी मौसम पर ही नजरें गढ़ाए हुए हो